मुंबई वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स बीएफ मूवी

तस्वीर का शीर्षक ,

कुत्र्याच्या जाती: मुंबई वीडियो बीएफ, मुझे अपनी इस शृंखला की यह कड़ी को लिखने में बहुत वक्त लग गया, पर ये बहुत ही रोमांच से भरी हुई कहानी तैयार हुई है.

अंग्रेजी में बीएफ सेक्सी

इसके 2 दिन बाद उसका ऑफिस के फ़ोन पे कॉल आई, पर वो तब भी मुझसे कुछ कह न पायी. बीएफ फिल्म देहातीभाभी बहुत सटीकता से लंड चूस रही थीं और कुछ ही पलों में ही उन्होंने मेरा पानी छुड़वा दिया.

कविता की नजर मुझ पर 2 सेकेंड बाद जब पड़ी, तो वो जल्दी से लड़के को हटा कर शर्ट को नीचे करने लगी. गांव वाली भाभी की चुदाई वीडियोमुझे डॉक्टर की दवा की जरूर नहीं है मेरी दवाई तो‌ तुम्हारे पास है, मगर तुम हो कि देती ही नहीं हो.

राज अंकल मेरी तरफ आए और बहुत धीरे से मेरे कान में बोले- सोनू, नीचे स्कर्ट टाइप का कुछ पहन लेना.मुंबई वीडियो बीएफ: बहुत नियंत्रण है खुद पे। सामने लड़की का जिस्म देख कर भी टूट नहीं पड़ रहे।”उम्र और मैच्योरिटी इंसान को समझदार बना देती है.

वो मुझसे कहने लगी- क्या देख रहे हो? पहले कभी लड़की नहीं देखी क्या?मैंने गाना गुनगुनाते हुए जवाब दिया- यूं तो हमने लाख हसीन देखे हैं, तुम सा नहीं देखा.अब नीरू की शादी हो चुकी है लेकिन वह जब भी मायके आती है हम तीनों साथ में ही चुदाई का मजा लेते हैं.

नागी सेक्स - मुंबई वीडियो बीएफ

’ निकल गई। मेरा आधा लण्ड शगुन की चूत में समा चुका था। तो मुझे साफ पता लग गया कि मेरी बहन पहले भी अपनी चूत चुदवा चुकी है.इतना बोलने के बाद पूजा ने फिर से मेरा लंड अपने मुँह में भरकर चूसना शुरू कर दिया.

इसके बाद वन्द्या की नाभि चूमते हुए और बूब्स दबाने और पीने की खींचना! उसके बाद इसकी बहुत मस्त सेक्सी नाक चूमते चूमते और नाक चूसते की जरूर लेना. मुंबई वीडियो बीएफ थोड़ी देर बाद वो अब अपने पैरों से मेरे घुटने तक की टाँग को अपने पैरों से सहला रहा था.

रजत- क्या तुमने पापा के सिवा किसी और मर्द से कभी नहीं चुदवाया?शीतल- नहीं मेरे बेटे, अभी तक मैं एकदम पतिव्रता औरत थी पर अब पुत्रव्रता भी हो गयी… अब मैं तुम दोनों की भी पत्नी हूँ आज से… तुम दोनों जब चाहो मुझे आकर चोद सकते हो.

मुंबई वीडियो बीएफ?

मैंने बोला- नहीं यार … मैं तेरे साथ सेक्स क्लब नहीं जा सकती, कोई मेरे पहचान वाला मिल गया तो प्रॉब्लम हो जाएगी … लेने के देने पड़ सकते हैं. स्कूल से ही उन लड़कियों के साथ मेरी दोस्ती थी, जो मुझसे बड़े घर से थीं. उस दिन के बाद सिर्फ हमने टयूशन में सिर्फ ह्यूमन प्रोडक्शन का ही चैप्टर्स पढ़ाई की थी.

अब तक अंधेरा हो गया था, पर दिल्ली की सड़कें इस वक्त मुझे बहुत प्यारी लगा रही थीं. जैसा तू बोल वन्द्या, नहीं तो अगर बोलेगी तो हम लोग तुझे पहुंचा देंगे. फिर धीरे धीरे मैंने उनके कपड़े उतारे और उनके स्तनों को चूमने चूसने लगा.

मेरा वीर्य पीने के बाद उसने मेरा लंड चूस चूस कर साफ़ कर दिया और मुझे अपनी बांहों में पूरी ताकत से भर लिया और मुझे किस करने लगी. तो वह बोला- कोई दिक्कत नहीं है, मुझे पता है कि रात में कोई ना कोई साथ चलेगा ही. मैंने नीरू से कहा- ठीक है … लेकिन इसकी चूत की दरार को चौड़ा करके फैला ना … तभी तो अंदर जाएगा!मेरे कहते ही नीरू ने सविता की चूत की दरार को दोनों उंगलियों से फैलाया तो अंदर से चूत बिल्कुल गुलाबी नजर आ रही थी.

जिन लौड़ों के जरा से घुसने से दर्द हो रहा था, वे ही लंड अब छोटे लगने लगे और अपने आप मजा महसूस होने लगा, मेरा मन करने लगा कि हर जगह लंड घुस जाए और जमकर अन्दर डाल कर मुझे मसल दें. इतने में देखा कि वो भाभी (मैडम) रेलिंग पर खड़ी थी और उनकी आँखों में आंसू थे.

भाभी की चूचियां एकदम टाइट थीं, मनीष उन्हें सहला रहा था और अब झुक कर भाभी को चूमने लगा.

इसके बाद पूजा ने मुझे अपनी बांहों में लपेट लिया और अपना एक पैर मेरी कमर पर चढ़ा दिया.

मेरी आंखों में देखते हुए वो अपनी कमर को कसकर मेरी कमर पर दबा करके बैठ गयी. गांड चुदाई की कहानी बाद में लिखूंगा, तब तक के लिए सभी चूत और लंड वाले भैया भाभियों, माल आइटमों को मेरे लंड का सलाम. लाइट बंद करने के बाद मैंने उनका हाथ अपने लंड पर रख दिया था, वे थोड़ी देर रखे रहीं, फिर हटा लिया.

हम दोनों ने अपने अपने लंड बाहर निकाल कर उन दोनों की चुत पर सैट कर दिए. लाइट बंद करने के बाद मैंने उनका हाथ अपने लंड पर रख दिया था, वे थोड़ी देर रखे रहीं, फिर हटा लिया. शाम को ऑफिस से छुट्टी होने के बाद वो मेरे पास आ कर बोली- मैं निकल रही हूँ तुम उसी होटल में 10 मिनट के बाद आ जाना, जहां उस दिन कॉफी पी थी.

ऐसा करने से वह भी गर्म होने लगी, तो मैंने अपने हाथ से उसका दाहिना हाथ लेकर अपने लंड पर रख दिया और उसके हाथ को अपने हाथ से दबाने लगा.

उसके लिंग ने जैसे ही चलना शुरू किया, मेरी योनि के भीतर मेरी कम होती अग्नि फिर से भड़कने लगी. अगली सुबह वो चले गए, जाने से पहले उन्होंने कहा- तुम अपना ख्याल रखना कुछ काम हो, तो कॉल कर लेना बाकी तो जग है ही, वो सब संभाल ही लेगा. ये लो तुम भी देख लो जो देखना है?” कहते हुए मैंने नेहा के एक हाथ को पकड़ कर अपने उत्तेजित लंड पर रखवा दिया.

उसकी बात सुनकर मैं ऊपर को उठ कर आया और अपना 7 इंच का लंड बुर पे सैट कर दिया. वह समझ नहीं पाई कि उसकी मां क्यों चीख रही है।लेकिन अब तो सुशीला को हम लोग किसी रंडी की तरह से चोद रहे थे, रंडी की गांड में भी दो लंड एक साथ नहीं घुस सकता लेकिन मैंने सुशीला की गांड में दो दो लंड घुसा दिये थे। उसकी गांड से खून बहने लगा था लेकिन वह बहुत गर्म हो रही थी इतना कुछ होने के बाद भी वह अपने गांड को हिला रही थी।मैं समझ गया कि यह कुतिया कितनी गर्म है. यह क्या … वो एक बैग लायी थी और उन्होंने घर पर बताया था कि ऑफिस के काम से बाहर जा रही हैं.

किस करते करते ही मैं अपना हाथ थोड़ा नीचे उनके चुचियों तक लेकर आया और हल्के से दबाना शुरू कर दिया और वो हल्की हल्की सिसकारियाँ लेने लगी.

तब मौसी ने मम्मी को बोला- बहन तू होकर आजा, मैं अब शादी के बाद ही कहीं जाऊंगी. मैं भी रुका नहीं, मैं उनकी चुत में से बार बार अपना लंड निकालता और फिर तुरंत उनकी चुत में पेल देता था.

मुंबई वीडियो बीएफ मेरी चूत और गांड दोनों जगह ऐसी आग लगी, ऐसा कुछ हुआ कि बता नहीं सकती. हम दोनों चिपक कर लेटे रहे, वो खुश लग रही थीं, वो बोलीं- पहली बार इतना मजा आया है.

मुंबई वीडियो बीएफ उसने शायद घाघरे के जैसा कुछ पहना हुआ था, जो कि काफी खुला हुआ भी था. मैंने आंटी को बोला- आज आप लोग कहां घूमने जा रहे हैं?तो उन्होंने बताया- बेटा, हम लोग दिल्ली से आए थे.

कम्मो, मेरी बात का बुरा तो नहीं लगा न?” पता नहीं अचानक मुझे वो क्या हो गया था.

हिंदी बीएफ वीडियो सेक्सी मूवी

अगले दिन श्यामा ने मुझसे कहा- बोलो क्या हाल हैं?मैंने कहा- वो तो तुमको पूरी तरह से पता है. इस पर वो बोलीं- क्या तुमने कभी अपनी उम्र की लड़की के साथ सेक्स किया?तो मैंने जबाब दिया- नहीं, चांदनी जी मेरी साथ सेक्स करने वाली पहली हैं और मुझे अपने से बड़ी या शादीशुदा ही पसंद आती हैं क्योंकि वो मुझसे ज्यादा अनुभवी या समझदार होती हैं, जो किसी गलती को संभाल सकें. सच कहूं मुझे बहुत दर्द हो रहा था, जब वो मेरी चूची दबा रहा था मगर उस दर्द से कहीं ज्यादा मज़ा भी आ रहा था.

मैंने कहा कि अगर तुम्हारे घर के अगल बगल कोई है, जो तुम्हें चोदने के चक्कर में हो. मैंने सोचा कि अगर ये कोट, स्वेटर वगैरह गर्म कपड़े पहन लेंगी तो फिर इनके जेवर, इनके कपड़े, इनके बूब्स इनकी जवानी कैसे दिखेगी सबको?मैंने तमाम सर्दियों के शादियाँ अटेंड की हैं और सभी में देखा है कि कितनी भी तेज सर्दी हो, ठंडी हवाएं चल रहीं हों पर ये महारानियां गर्म कपड़े कभी नहीं पहनेंगी चाहे बीमार पड़ जायें बाद में. तो दोस्तो, कैसी लगी आपको ये हॉट कहानी … मुझे मेल से बताएं या मेरे लिए कोई सुझाव या परामर्श हो, तो जरूर भेजें.

माँ मुझे अपनी निगरानी में रखती, तो मैं बाथरूम में खुद ही उंगली से फुद्दी को रगड़ रगड़ कर, अपने मम्मे दबा दबा कर खुद को शांत कर लेती.

आओ मेरे बहनचोद भाइयो… चोद दो अपनी बहन को… और इतना चोदो कि मैं तृप्त हो जाऊँ… मेरी जवानी की प्यास बुझ जाये. इधर मैं तो हमेशा की तरह हाथ से लंड हिलाने में खोया हुआ था, मुझे पता ही नहीं चला कि कब वो अन्दर आ गई. तुझे भी मज़ा आएगा, एक बार करवा कर देख!” माँ ने कामुक आवाज़ में मुझसे कहा.

मौसी के संग चुदाई की कहानी आगे भी है … आपके इस सेक्स स्टोरी पर मेल मिलने के बाद मैं उसे भी लिखूँगा. तो राज अंकल बोले- सोनू तुम तो बहुत गर्म हो चुकी हो तुम्हारी चूत बह रही है. मुझको बहुत मजा आ रहा था और मैं भी अपनी कमर हिला हिला के अपना लौड़ा उनके मुँह में डाल रहा था.

खैर … जब तक वो वीडियो खत्म हुआ मुनीर और मेरे बीच अच्छी मित्रता हो गयी और हम दोनों काफी खुल गए. तो राज अंकल बोले- अरे वो जो दो हमारे मित्र हैं, जिनकी यह गाड़ी लेकर आए हैं वे भी चल रहे हैं ना, तो वो भी बैठेंगे.

उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया और सरसराते हुए मुझसे बोली- मुझको तो नंगी कर दिया, तुम अपने कपड़े नहीं उतारोगे?मैंने भी मौके का फायदा उठाते हुए कहा- तुम खुद ही नंगा कर दो ना. जब उसने कहा कि दर्द कम हुआ है, तब मैंने एक और झटका लगाया और मेरा पूरा लंड उसकी चुत में समा गया. इस बीच मैंने अपने दोस्त की विधर्मी गर्लफ्रेंड को कैसे पटा कर चोदा था, वो कहानी भी बताने का मन है लेकिन वो बाद में लिखूंगा.

खाने के बाद मैंने उसे फिर से तैयार किया और वह बिना कुछ कहे नंगी हो गयी.

बीच बीच में कभी अवसर मिलता तो हम चूमाचाटी कर लेते थे लेकिन मन और शरीर की प्यास को बुझाने का अवसर हमें अभी तक नहीं मिला था. वो जैसे ही फ्रेश होने के लिए खड़ी हुई तो उसको नीचे बुर में बहुत दर्द हो रहा था. मैं भी उनकी संभोग क्रिया देख कर, अब बहुत व्याकुल हो चली थी और अब मुझसे भी नहीं रहा गया.

सुबह उठ कर ख़ुशी की चुदाई की, हिमिका के साथ नहाया और उसे बाथरूम में चोदा. जब वे दरवाजा खोल कर पलट कर मुझे अन्दर आने को कहने के लिए घूमी तो मेरे लंड में तो मानो आग लग गई, उनकी आधे से ज्यादा चूचियां ब्लाउज से बाहर दिख रही थीं क्योंकि उन्होंने पल्लू नीचे ही गिरा रहने दिया था.

अब तक हम लोग काफी घुल मिल गए थे और अब तो उसकी बेटी भी मुझ में इंटरेस्ट दिखाने लगी थी. उसने बताया के लोग अब केवल संभोग मात्र तक सीमित नहीं रह गए … बल्कि संभोग का मजा बढ़ाने के तरीकों पे जोर देने लगे हैं. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:अपने चोदू को माँ का पति बनवाया-3.

बीएफ वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो सेक्सी

प्रशान्त का घर मेरे घर के पास ही में है। जिन दीदी(दुल्हन) की शादी में मैं आयी थी, उनकी मम्मी का प्रशान्त के घर आना जाना है, प्रशान्त भी कभी-कभी दीदी के घर आ जाता था.

मैंने भी देर न करते हुए अपना लंड उसकी चिकनी चूत पर लगा दिया और ऊपर नीचे करने लगा. मैंने सुना है कि तेरे पापा ने तेरी मम्मी को दो तीन बार रंगे हाथों पकड़ा है. मुन्ना तू अपना लंड इसके मुँह में डाल और फ्रेंच चुदाई कर इसके मुँह की.

मैं खिंचाव के साथ मेरी योनि की भीतरी दीवारों से लिंग के सुपाड़े का रगड़ना महसूस करने लगी. बातें सुन कर ही मैंने अंदाजा लगाया कि दीमा ने क्लासमेट्स साईट से नताशा को ढूंढ निकाला था और मोबाइल नंबर पाकर फोन मिलाया था. बीएफ दिखाइए चोदा चोदी वालामैंने चूत की चुदाई जारी रखी और उनकी गांड में उंगली करना चालू कर दी.

मैंने मनीषा के बारे में ऐसा पहले कभी नहीं सोचा नहीं था, लेकिन ना जाने क्यों उस दिन के बाद मैं हर समय मनीषा के बारे में सोचने लगा. लेकिन मैंने तय कर रखा है कि अगली बार वो जब भी मिलेगी तो मैं उसकी चूत में अपना लंड डाल कर ही रहूंगा.

उसने मुझे सीधे कह डाला- मैं आज औरत बनना चाहती हूँ, क्या तुम मुझे औरत बना सकते हो. उसके अंगड़ाई लेने से उसके चिकने पेट और खमदार पतली कमर की मादकता और बढ़ गयी और उसके पेट के पोर पोर पर मैंने अपने चुम्बनों की छाप अर्पित कर दी. तभी मेरे दिल में प्रिया का ख्याल आ गया, रंग के मामले में तो दोनों बहनें समान ही थीं मगर नेहा की चूचियां प्रिया से काफी बड़ी, भरी हुई और मस्त थीं‌.

मैं अपने हाथों से पूजा की चूचियों को पकड़ कर दबाने लगा और कभी कभी जोर जोर मसलने लगा. उसने बिल्कुल नयी गुलाबी रंग की ही ब्रा पैंटी पहनी थी जो शायद आज ही पहनने के लिए ही ख़रीदी थी।मैंने उसको गोदी में उठा कर डबलबैड पर लिटा दिया. कल रात में दीदी के मुँह में लंड चुसवा कर पानी उनके मुँह में छोड़ा था, अब उनकी सहेली के मुँह में मेरा लंड था.

फिर बहुत जल्दी ही उनकी टांगें काँप उठीं और उनकी चुत का सारा माल निकल गया.

मेरा लन्ड तुम्हारी चूत में मैं तो अपनी तरफ से ना घुसा रहा आज!”चलो फिर तय रहा यह हमारे बीच!”!बाकी हम सारा प्यार का का खेल खेलेंगे ही, बस चुदने का फैसला लन्ड और चूत ही करें आज तो!”ठीक है मेरे राजा!” मेरे लन्ड को अपने हाथ में लेकर मुठियाते हुए मीता बोली. फिर उसने मेरे निप्पल चूसने शुरू किए और चूस चूस कर उनको खड़ा कर दिया.

उसने बताया कि जब उसने मुझे जब पहली बार देखा था, वो तभी से मुझे पसंद करती थी. उन्होंने मेरी बात अपने पति से करवाई और मुझे कमरा देने के लिए वो राज़ी हो गए. मॉम से दोस्ती होने के कारण आंटी का हमारे घर हमेशा से आना जाना लगा रहता था.

मयूरी- आप बुरा तो नहीं मानोगी?शीतल- अरे… तेरे साथ नंगी पड़ी हूँ… अभी तेरी चूत चाटी है… किस बात से डर रही है? बता न… कुछ बुरा नहीं मानूंगी. फिर अचानक से ही वे मेरे दोनों मम्मों को पकड़ के दबाने और मसलने लगे. दो पल बाद तो मैं चाह रही थी कि अंकल का लंड पूरा घुस जाए, पर शर्म के मारे बोल भी नहीं पा रही थी.

मुंबई वीडियो बीएफ मैंने तुरंत साइड में कर रोक कर कार की सारी लाइटें बंद करके कार को साइड में लगा दिया. कोई हलचल नहीं देखी तो मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैं चुचियों को मसलने लगा.

बीएफ बीएफ फोटो बीएफ

प्रिया ने भी अपनी पूरी ताकत से मुझे धकेलकर अलग कर दिया‌ और मुझसे दूर होकर खड़ी हो गयी. मैं- चोद लो जीजा जी … जल्दी से चोद लो … आधे घंटे में मेरी चूत का भोसड़ा बना दो. मेरा मन हुआ कि चूम लूं इसे! अबकी बार मैंने पूछा नहीं और लंड पर तीन चार चुम्मे दिए.

फिर अचानक से ही वे मेरे दोनों मम्मों को पकड़ के दबाने और मसलने लगे. तुम्हें वैसे अच्छा लगता है न खाना?मैं थोड़ी सकपका गयी कि तभी शिवानी बोल पड़ी- मम्मी तुम हमेशा भैया की गोदी में बैठ कर ही खाना खाया करो. इंडियन बीएफ कॉमहो तो सबकुछ वैसे ही रहा था जैसे वो कई दिनों से चाहते थे पर अचानक से होने से सब के सब अवाक् रहे गए.

तभी रीना ने बाहर से मेरी गोरी गोरी टांगों को पकड़ा और बोली- साली माल तो मस्त है.

नहीं तो मैं तुम्हारे मुँह में ही झड़ जाउंगा और तुम्हारी चूत प्यासी रह जाएगी. मयूरी भाभी को मैंने ऊपर उठा कर किस किया और उनके गले को चूमते हुए चाटने लगा, जिससे वो और गर्म हो गईं और उन्होंने खुद ही अपने कपड़े उतार फेंके.

कुछ देर संगीत पर उनसे चर्चा की और उनसे कुछ गजलें अपने मोबाइल में लेकर अपने घर आ गया. उसने ऊपर से नीचे ब्रांडेड कपड़े पहने हुए थे, एप्पल के दो मोबाइल थे, फुल मेकअप, गॉगल्स, बड़े बड़े चुचे, बड़ी गांड, मेरा तो लंड खड़ा हो कर सलामी देने लगा था. मैंने स्टीव को कहा- आ जा, मेरी बीवी की फूल जैसी चूत को स्वीकार कर और अपने लंड से इसका भेदन कर.

वो बोला- देख कुछ दिन बाद तू भी कोशिश करना, तुझसे भी भाभी पक्का चुदवा लेगी.

जब मेंहदी की रस्म हो रही थी तो रेखा ने मेरे हाथों पर मेंहदी से अपना नाम भी लिख दिया. आगे नीरू ने पूछा- ब्वॉयफ्रेंड तक ही है या कभी मजा भी लिया है?तो सविता ने बताया- नहीं, हाय हेलो और फोन पर बात हो जाती है, बाकी आगे कुछ नहीं हो पाया. चुदाई की प्यासी पूजा मेरी बातों को सुनकर बोली- अरे यार कल का कल देखा जाएगा, आज तो मुझे जी भरकर अपनी चूत चुदवाने दो.

ससुर बहु के बीएफमैं डैड की बात भी नहीं टाल सकता था क्योंकि भाभी इस हालत में नहीं थीं और अगर वे जाने की बात करतीं, तो डैड को अच्छा नहीं लगता. वो बोली- मुझे पता है … तुम्हारी दीदी ने बताया था कि रात में तुमने उसके साथ लगभग सेक्स किया था.

सेक्सी बीएफ हिंदी में चुदाई वाला

उन्हें नंगा देखा है, उन्हें चोदा है लेकिन अब तक कोई भी ऐसी लड़की मेरे नीचे से नहीं गुजरी जो इतनी ज्यादा दुबली पतली हो कि दिमाग में ख्याल आये कि इसका कुल वजूद जैसे बस दो छेद भर हो और उभारने पर वे छेद कैसे दिखते होंगे।”दो छेद?”मैं आगे पीछे दोनों छेदों का शौकीन हूँ और दोनों ही मुझे समान रूप से आकर्षित करते हैं।”तो. जब मैं जाता था, तब कभी वो शार्ट स्कर्ट पहनती थी, तो कभी सीखने के लिए एयर ब्रा पहन कर ही बैठ जाती. करीब करीब 20 से 25 धक्के मारे होंगे और फिर 1 फिर 2 फिर 3, 4, 5 कर के हल्के झटके देते हुए उसने भी थोड़ा विश्राम लिया.

मगर मैं वहां ज्यादा देर रुकी नहीं और नीचे आ गई और जग के उठने का इंतजार करने लगी. शीतल- अच्छा…मयूरी- अच्छा माँ?शीतल- हाँ?मयूरी- एक बात पूछूं?शीतल- हाँ पूछो. मैं भाभी के साथ इस क्रॉस की सी अवस्था में आ गया, इससे भी लिंग योनि के भीतर उन स्थानों पर चोट मारता है, जहाँ कि साधारण अवस्था में नहीं पहुँच पाता.

पूजा भी मेरे गले में अपनी बांहों को रखकर मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल दी. मैंने एक मिनट इंतज़ार करने के बाद जब वो नार्मल हुईं तो मैंने एक जोर से धक्का मारा. पूजा के हाथ में गरम पानी और तौलिया था और चेहरे पर एक अनोखी मुस्कान थी.

दिल तो कर रहा था कि मैं अपना लंड बाहर निकाल कर खड़ा लंड पकड़ा दूं कम्मो को; कम से कम यही सुख हासिल हो जाए मेरे लंड को; लेकिन टैक्सी में मैं इतनी हिम्मत नहीं जुटा सका. यह सुनकर मेरा भी मुंह उतर गया क्योंकि मैं भी चाहता था कि पापा कुछ दिन और यहाँ रुकें.

एक दिन उसका फोन आया कि मैं यूएस जा रही हूँ … शायद वापिस नहीं आऊँगी.

मैं यह सुनकर उससे बोली- तो बात तो वही हुई न कि तू वहां पर कॉल गर्ल जैसा काम ही तो कर रही है. हिंदी सेक्सी चुदाई वीडियो बीएफमन उनकी पीठ पर चढ़ कर उनके नीचे हाथ डाल कर चूचों को मसल मसल कर लंड के झटके दे रहा था. अंग्रेजों की चुदाई बीएफमैं आगे चल रहा था और वो दोनों मेरे पीछे पीछे … हम तीनों एक होटल के पास आ पहुंचे. फिर जब सबने उसके शरीर पर लगे केक को पूरा का पूरा चाट लिया तो मयूरी ने बड़े ही शिकायती लहजे में कहा- अशोक डार्लिंग…मयूरी के लिए ये पहली बार था जब उसने अपने पापा को उसके नाम से बुलाया था.

ऊपर फर्स्ट फ्लोर पर गए, अंकित ने एक दरवाजा खोला, जैसे ही अन्दर गई, देखा वहाँ दो तखत बिछे हुए थे.

मैं पहली बार चूचियों को देख रहा रहा था, सो मैं तो ऊपर वाले की इस नियामत को देखता ही रह गया. सारिका मेम के बारे में बताऊं तो वो एक अड़तीस साल की औरत हैं, जो कि कमाल की माल हैं. उसने मुझसे पूछा कि इतनी रात में यहां क्या कर रहे हो?मैंने उसे बताया कि मुझे दवाई चाहिये, पर कोई दुकान नहीं खुली हुई है.

आप लोगों ने मेरी पिछली कहानीहसीन चाची की चुत की चुदाई कर दीको बहुत सराहा, उसके लिए आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद. उसके बाद वो बोली कि तुम क्या लुंगी पहनते हो?मैंने हां कहा, तो उसने एक सेम कपड़े की लुंगी मुझे दे दी. बाद में भले जला लीजियेगा। फिलहाल इसे भी बंद कर दीजिये।”मेरा दिल धड़क उठा.

डब्ल्यू डब्ल्यू बीएफ सेक्सी बीएफ

जब वो वाराणसी आती हैं, तो मेरे सारे दोस्त भाभी की जवानी के नाम पर मुठ मारते हैं. कपड़े उतारते हुए जब वो मेरे चड्डी को उतारने लगी तो मेरा लंड फुंफकारते हुए उसके होंठ से जा लगा. मैं भाभी की नंगी जांघ पर अपने होंठ रखे और मलाई जैसी जांघ को चूसने लगा.

मैं धीरे धीरे नीचे अपने हाथ को उसके मम्मों पर ले गया और एक चूची को दबाने लगा.

मैंने देखा कि उसके बाद भी वो लोग काफी देर तक मम्मी के पास बैठे रहे और बातें करते रहे.

एक दिन मैं पढ़ाई कर रहा था, तो एक छोटा बेबी आया और बोला कि भाभी आपको बुला रही हैं. मेरी कहानियां आपको पसंद आई होंगी, ऐसा मानकर और एक नई कहानी लेकर आपके सामने पेश हो रहा हूँ. नेपाली देसी सेक्सी वीडियो” कहते हुए नेहा ने अपना दूसरा हाथ भी अपनी चूचियों पर से हटा कर अपनी जांघों पर ही रख लिया.

लेकिन एक दिन संडे को मेरी नज़र उस सामने वाले घर में सामने वाली भाभी पर पड़ी।उम्र तो उसकी काफी लग रही थी थी दोस्तो … पर क्या गज़ब बॉडी मेन्टेन थी। भाभी की उम्र लगभग 36-38 होगी पर बूब्स कुछ 34c और गांड 36 की तो होगी ही।देखते ही मेरे मन में विचार आया यह माल रगड़ने को मिल जाये तो मजा आ जाए. उसका मोटा लम्बा लौड़ा देख के मेरी चुत से पानी का झरना बहने लगा, मैंने तुरंत ही बैठ कर उसका लौड़ा पकड़ा और अपने मुँह में लेकर लंड चूसने लगी. हम दोनों बहुत थक चुके थे … तो ऐसे ही नंगे एक दूसरे की बांहों में बांहें डाल कर सो गए.

यह जानने के बाद मैं मायूस सा हो गया और चुपचाप अपने कमरे में आकर लेट गया. फिर मैंने अपना लंड चुत में तीन चार बार अन्दर बाहर कर दिया, पूजा अपनी आंखें बंद करके दर्द सहने की कोशिश कर रही थी.

पर आज ईश्वर ने ये मौका दिया है… चलो… दोनों भाई पक्का बहनचोद बन जाते हैं… और उसकी चूत के चीथड़े उड़ाते हैं.

मैं उसकी मोटी मोटी चूत की फांकों के बीच में अपनी जीभ डाल कर उसको नीचे से ऊपर की तरफ लगातार चाट रहा था. मैंने चूत के मुहाने पर अपना 7 इंच लंबा और मोटा लंड उस पर लगाया, मेरे लंड का सुपारा सविता की चूत के मुहाने पर रखते ही सविता कसमसा उठी. अब मयूरी भाभी ने रिया भाभी को कहा- क्या कंडोम पड़े हैं घर पे?तभी रिया भाभी हंस दी और कहा- जनाब गांड बहुत अच्छी मारते हैं, एक बार लेकर देखो.

हिंदी बीएफ सेक्सी फुल एचडी अरे … मम्मी ठीक‌ क्यों नहीं होगा? कल से ही मैं और नेहा दीदी इसे दवाई दे रहे हैं. जब मैं उसके मम्मों को दबा रहा था तो मुझे महसूस हुआ कि उसके चूचे धीरे-धीरे टाइट हो रहे हैं.

मैं उसको सॉरी बोल कर किस करने लगा … साथ ही साथ उसके मम्मों को भी हल्का हल्का दबा लेता था. फिर सर ने बड़े प्यार से मुझे सीधा लिटाया और पास पड़े कपड़ों को गोल सा करके मेरे चूतड़ों के नीचे रख दिया. पूजा जैसे जैसे मेरे लंड को चूस रही थी, उसके मुँह से घुटी घुटी आवाज़ निकल रही थी.

हिंदी एक्स एक्स एचडी वीडियो

मैं चिल्लाए जा रही थी- इस्स्स्स … अरी मरी मैं … अंकल जी … ओहह आईईईई … अरी … माईईईइ … अंकल जी … अरे अंकल जी … मोर निकसल … मोरी बुरिया से पानी … निकसल अंकल जी … मैं तो खाली हो गई … मैं बिल्कुल हल्की हो गई अंकल जी … मोरी बुरिया से पूरा पानी निकस गया रे!इसके साथ ही मैंने अपनी कमर उठा करके उचका दिया और झड़ने लगी. माइक ऐसे धीरे धीरे और हिसाब से धक्के मार रहा था कि केवल उसका सुपाड़ा ही अन्दर जा रहा था. एक खाली पीरियड में मैं, पिंकी और रिचा ग्राउंड के कोने में बैठी थीं, तभी देवेंद्र भी आ गया.

वो बिल्कुल टाइट थे, उन मम्मों के ऊपर हल्के भूरे गुलाबी रंग के निप्पल तने हुए थे. ऐसी बात है तो हम तुम्हारी इच्छा जरूर पूरी करेंगे!” उतावले हो रहे दीमा ने जवाब दिया.

रेवती की स्वीकृति पाते ही मेरे होंठ रेवती के होंठ से जा लगे और हम एक दूसरे में खो जाने से मकसद से एक दूसरे में समा जाने के प्रयोजन से होंठों के जरिए कदम बढ़ा चुके थे.

बोलने लगी- मैं आप दोनों को छुप कर देख रही थी और मेरी हालत बहुत खराब हो चुकी है. कुछ देर बाद उसकी मम्मी ने पूछा कि आप लोग परीक्षा देने जा रहे हैं?तो मैंने बोला- नहीं आटीं. इधर रिया भाभी ने भी सेक्सी गाउन पहना हुआ था, जिसमें उनका फिगर पूरा दिख रहा था.

वो जोर जोर से चीखने लगी- निकालो बाहर!वो रोने लगी तो मैंने झट से उसके होंठों को अपने होंठों से दबाया और उसको चूमने लगा. उन्होंने मेरी जांघ को सहलाया और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी जांघ पर रख दिया. अपने कपड़े पहनने‌ के‌ बाद प्रिया ने मुझे भी अब कपड़े‌ पहनने के‌ लिए कहने लगी लेकिन‌ थकान के कारण मेरा‌ तो उठने का दिल‌ ही नहीं कर रहा था.

ठीक है ना?मैं पूजा के नंगे चूतड़ों को सहलाते हुए बोला- मेरी रानी, तुमने तो मेरे मन की बात बोल दी.

मुंबई वीडियो बीएफ: मयूरी ने एक लाल रंग का टॉप और नील रंग का जींस के कपड़े वाला शॉर्ट्स पहना हुआ था और उसके इस पहनावे में उसका गदराया हुआ शरीर एकदम क़यामत लग रहा था. तो दोस्तो, आपको मेरी स्टोरी कैसी लगी, मुझे जरूर बताना ईमेल करके … और कुछ गलती हो गयी हो तो वो भी बताना ताकि आगे कभी कोई स्टोरी होगी तो ध्यान रख सकूँ!धन्यवाद.

नेहा का गोरा चिकना बदन अब मेरे सामने था, जिसे मैं अब आंखें फाड़ फाड़ कर देखने लगा. रूम के पास जाकर दीवार में बने एक छेद से देखने लगा, वो नंगी बिल्कुल मेरी आँखों के सामने अपने बिस्तर पर लेटी हुई थी और अपनी जांघ ऊपर करके बैंगन को मुंह में लेके चूस रही थी. दोस्तो, अन्तर्वासना वेब साइट के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार! मैं बहुत साल से इस वेबसाइट पर से चुदाई की कहानियाँ पढ़ता आया हूँ या यों कहूँ कि बिना चुदाई की कहानिया पढ़े ना तो मेरा दिन पूरा होता है और ना ही रात… अब तो हाल ऐसा है कि जब तक मैं कोई चुदाई की कहानी ना पढ़ लूं, तब तक रात को नींद भी नहीं आती मुझे.

जब से तेरे चाचा जेल गए हैं, तब से उन्हीं की चुदाई देख कर मैं अपनी चूत में उंगली डाल कर अपनी चूत का पानी झाड़ लेती हूँ.

मैंने उसके बारे में पूछा तो उसने बताया कि वो मैरिड है दो बच्चे हैं उसके एक 5 साल का बेटा और 2 साल की बेटी. मुझे तब पता चला, जैसे ही मेरे शरीर में कुछ रगड़ता चिपका हुआ महसूस होने लगा. ’ कहते हुए उसने मुझे अपनी लोई पे लपेट दिया और मुझे उठा कर वापस चलने लगा।ढिल्लों अपनी गाड़ी समेत बाहर ही खड़ा था और अगले ही पल मैं मादरजात नंगी सिर्फ एक लोई में ढिल्लों के साथ फ्रंट सीट पर बैठी थी और काला हब्शी (मैं उसे इसी नाम से पुकारती हूँ) पीछे बैठा था। गाड़ी हवा को चीरती हुई बढ़ने लगी।कुछ देर के बाद गाने बंद करा कर अचानक काला बोला- ढिल्लों यार, बड़ा करारा माल लाया है इस बार, इसमें तो आग ही बड़ी है.