बीएफ वीडियो चुदाई में

छवि स्रोत,kk सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

नीग्रो बीपी सेक्सी: बीएफ वीडियो चुदाई में, तान्या को देखने के बाद से ही मेरी रुचि उसमें बहुत बढ़ गयी थी इसलिए मैंने फैसला कर लिया कि मैं इसके साथ एक लाइव सेक्स चैट सेशन जरूर करूंगा.

राजस्थानी सेक्सी पिक्चर करने वाली

परंतु जब बाद में उसे पता चला कि उसके प्रेमी का भी एक चक्कर था तो वह उससे अलग हो गई थी. सेक्सी हॉट पंजाबीमैंने 69 में होकर उनके मुँह में मेरा लंड दे दिया और मैं अब उनकी चूत को जीभ से चाटने लगा.

वे अंन्दर आ गई और बाहर जाकर छत पर जमीन पर गद्दा बिछा कर बच्चों को सुलाने लगी. देहाती सेक्सी वीडियो खेतफिर मैंने उसको लेटाया और उसकी टांगों को अपने कंधे पर रखवा कर उसकी चूत में मुंह दे दिया.

अब हुई वो आपे से बाहर और तो कुछ कर नहीं सकती थी मेरे निपल्स को सहलाने लगी.बीएफ वीडियो चुदाई में: चाची ने हाथ पाँव की सुंदर नर्म उंगलियों में बहुत सुन्दर नेल पेंट लगा रखा था.

वहां पर जितने भी लड़के खड़े थे, हम दोनों उन सबसे हैंडसम और स्मार्ट दिख रहे थे.जब मैं खेल कर वापिस आता था तो अक्सर चाची मुझे पीने के लिए दूध गर्म करके दे देती थी.

एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स बीपी सेक्सी - बीएफ वीडियो चुदाई में

उनकी बात मान कर मैंने अपना माल गांड पर निकाल दिया और हाथ से चूतड़ों पर मल दिया.पल्लवी- नहीं … मैं और भाई अभी कहीं भी नहीं जा सकते, तुम लोग घूम आओ.

लेकिन मैंने अभी इसके बारे में पूछना उचित नहीं समझा; फिलहाल तो मुझे बस उसे चोदने में रस था. बीएफ वीडियो चुदाई में अब पापा ने मम्मी की चड्डी उतार दी और मम्मी की चूत में उंगली करना शुरू कर दिया.

मोना भाभी मस्ती में आवाज निकालने लगीं- ऊऊह्ह्ह … आआह्ह … मर गई …इसी तरह मैंने अपनी उंगलियों से भाभी की चूत में ढेर सारी क्रीम भर दी और कुछ अपने लंड पर भी लगा ली.

बीएफ वीडियो चुदाई में?

मैंने अपना हाथ थोड़ा नीचे किया और फिर पूछा- यहां?वो बोली- नहीं, थोड़ा और नीचे. वो भी सिसकारते हुए मेरी गांड में जैसे खो गया और उसका मुंह मेरी गांड में पूरा धंस गया था. परंतु मैं नहीं रुका और लगातार जोर-जोर से भाभी की चुत में लंड को पेलते जा रहा था.

गर्मी तो आई नहीं मगर मज़ा बहुत आने लगा।फिर मैं जल्दी से कपड़े हल्के सुखाकर बाहर आ गई।हम सब भीग गए थे तो सर ने हमें वापस होटल ले जाने के लिए गाड़ी बुलाई और ड्राइवर से बोला- तुम यहीं रुको मैं छोड़कर आता हूं. भाभी ने अपनी नाइटी को उतार कर बाथरूम में डाल दी और 5-7 मिनट तक भाभी टब में बैठी रहीं. पेशेंट डॉक्टर सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं डॉक्टर के पास अपनी जांच करवाने गयी तो डॉक्टर मुझे, मेरी जवानी को घूरने लगा.

मस्त चूत चोदने को मिली थी इसलिए ज्यादा देर टिक नहीं पाया और पांच सात मिनट में भाभी की चूत में खल्लास हो गया. कैसे बना माँ बेटे का जिस्मानी रिश्ता?हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम संगीता है. अब हालत ये थी कि एक तरफ पीहू उनका दूध पी रही थी और दूसरी तरफ से मैं चूची चूस रही थी.

ऐसा लग रहा था कि उसका हर अंग शहद से भरा हो।रेनू की पैंटी आगे से गीली होने लगी थी. बस खाने पीने का खर्च लगेगा, तो अब बोलो क्या कहते हो सब!फिर एक मिनट रुकने के बाद समीर ने सबकी तरफ बारी बारी से देखते हुए कहा- अब बोलो विराज?आकाश, जो कम ही बोलता था.

अपनी हार क़ुबूल करते हुए उसने अपना बदन उस चपरासी मानस के हवाले कर दिया और वो बेजान उस वाशबेसिन पर पड़ी रही.

घर आकर मैंने प्राची की मोबाइल से वो फोटो देख कर मुठ मारी और सो गया.

फ्रेंड्स, इस सेक्स कहानी की लेखिका सोनिया आपको एक बार नेहा को उसके रूप को बताने चाह रही हूँ. पापा बोले- ऐसे कैसे चलेगा यार … गोलू तो रोज ही इसी कमरे में सोता है. मैंने एसी को तो बस दो पॉइंट ही तेज किया था … मगर शायरा के इतना करीब होने से मेरा लंड का तापमान कई गुना‌‌ बढ़ गया.

”उनके बराबर से निकलते हुए मेरे बोले हुए शब्दों ने उनका ध्यान मेरी तरफ आकर्षित किया. फिर मैंने उनसे कहा- कोई पंगा मत करना … वर्ना मुझसे बुरा कोई नहीं होगा. उनकी मदहोश अनछुई कली के पीछे डोलते मोहल्ले के मनचले भौंरों को देख पहले दिन ही मुझे मालूम हो गया था कि अनु दीदी से अपनी जवानी को ज्यादा समय तक संभाल कर नहीं रखी पाएंगी और कभी भी बाहर सील मुहर तुड़वा लेंगी.

पर जैसे ही मैं चाचू के रूम के सामने से गुजरने लगी, तो अन्दर से कुछ आवाजें आ रही थीं.

इस देसी इंडियन गर्ल से बात किये बिना अब मैं खुद को रोक नहीं सकता था. मैं खुश हो गया लेकिन दूसरी तरफ डर भी लग रहा था कि लैटर पढ़ने के बाद क्या होगा. दोस्तो ये बीवी की सहेली की चुदाई आपको कैसी लगी … मुझे मेल करके जरूर बताएं.

कैसे उसने अपनी ख्वाहिश को पूरा करने के लिए मुझे असहनीय दर्द दिया था. कुछ देर यूं ही एक दूसरे से बात करने के बाद हम दोनों उठ कर कपड़े पहन कर शॉपिंग करने बाहर चले गए. सनी भी इसलिए कुछ नहीं बोलता कि वो लोग जितना बोलते थे, सनी उससे बहुत आगे था.

अगले ही पल हम दोनों एक दूसरे से चिपक गए और मेरे और मेरी परी के बीच में वो सभी घटनाएं घटने लगीं, जो एक पति पत्नी के बीच होती हैं.

अब मैं भी अपनी गांड को उठा उठा कर उसका साथ दे रहा था।तभी उसने अपना लंड मेरी गांड से निकाला और मुझे घोड़ी बनने को कहा. अबकी बार इंडिया में पूरी तरह से लॉकडाउन तो नहीं था, जरूरत के वक्त लोग बाहर आ-जा सकते थे … लेकिन फिर भी लॉकडाउन लगा हुआ था.

बीएफ वीडियो चुदाई में कुछ देर बाद मैंने अपनी जीभ को भाभी की नाभि में घुसा दी और उस मदमस्त छेद की गहराई में मैं जीभ को घुसा घुसा कर चाटने लगा. उसने मुझे बताया कि उसका पति उसको छोड़ कर उसकी बहन के साथ रहने लगा है.

बीएफ वीडियो चुदाई में मैं अपने फ्लैट के हॉल में बैठकर कुछ खा रहा था और अपने फोन में मैसेज चैक कर रहा था. मनीष उसे देख रहा था और मन में ही सोच रहा था कि हे भगवान इस छिनाल की चुत में फिर से आग लगी है.

मैं चंडीगढ़ में रहकर अपनी पढ़ाई कर रहा हूं … देखने में और पढ़ने में मैं बिल्कुल ओके हूं और स्पोर्ट्स में भी मेरी काफी रुचि है.

बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ

इतने में मामी बोलीं- मैं तेरे को अच्छी लगती हूँ?मैंने कहा- इसमें पूछने वाली कौन सी बात है … आप हो ही इतनी सुंदर. एक दिन की बात है, मैं ऑफिस के लिए अपने फ्लैट के हॉल में तैयार हो रहा था तो मुझे कुछ आवाज़ आने लगी. मैं और जीनिया तथा राबर्ट और पायल एक ही कमरे में एक साथ खेल करेंगे लेकिन अपने अपने पार्टनर के साथ.

मैं अनुष्का यानि अनु दीदी और मुन्ना भाई को लेकर अपनी बुआ के घर गया था. उन्होंने अपनी दोनों टांगें हवा में उठा लीं और मैं दे देनादन भाभी को चोदने में लग गया. मेरे डॉगी, अब तुम मेरे पास आकर मेरी ब्रा और पैंटी को अपने मुंह से ही खोलो। हां मगर आराम से.

उसने धीरे से कहा- साले, भाभी की सवारी तो नहीं करने वाला है?मैंने कहा- सन्नी भोसड़ी के … फ़ालतू बात मत किया कर.

इन बातों से मेरा ध्यान चुदाई से हट गया था इसलिए लण्ड थोड़ा सुस्त हो गया, और मूड भी चेंज हो गया. फिर मैंने उसका लोअर उतारा और उसे गोद में उठाकर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिये. मैंने यामिना से कहा- यामिना, मैं भी कितना मूर्ख था कि तुम्हें छोड़कर उस लिली को देख रहा था.

मैंने आँटी के घुटनों को थोड़ा मोड़ दिया और कामरस से चिकनी हुई चूत के छेद के ऊपर अपने मोटे लंड का सुपारा रख कर अपनी पीठ को नीचे धकेलते हुए लंड को चूत के अंदर डालना शुरू किया. फिर एक दिन बुआ और घर के सब लोग उसका रिश्ता पक्का करने के लिए बाहर जाने वाले थे. फिर लिली ने अपना पेग मेरी ओर किया तो मैंने लिली के पेग से सिप किया और कहा- ये हमारी नई दोस्ती के नाम.

अनीता सोचने लगी कि अब कैसे रमण को ऊपर पहुंचाए?उसने प्रकाश से कहा कि उसका मन बीयर पीने को कर रहा है, मगर साथ प्रकाश को व्हिस्की से देना होगा।प्रकाश बोला- नहीं, आज पहले तुम मेरा लंड चूस दो। साले विजय ने बार बार तेरी चूत दिलाने की बात कह कर मेरा लंड खड़ा कर दिया।अनीता ने फटाफट रमण को पर्दे के पीछे छिपने का इशारा किया और रूम में जाकर पहले लाइट बंद की. मैंने सर के लिए चाय टेबल पर रखी और झुकते ही मेरे बड़े बड़े चूचे उनके सामने आ गये.

संगीता ने कहा- चलो अब तुम फ्रेश हो जाओ, मैं तुम्हारे लिए नाईट ड्रेस निकालती हूं. उसने अपनी एक उंगली अपनी चिकनी गीली चुत के अन्दर घुसा कर बाहर निकाली, जो खुद के पानी से तर हो रही थी. मैंने देखा कि श्वेता अभी-अभी नहा कर निकली थी और उसके बाल भी गीले थे.

मैं लाइट में उसका लौड़ा देखा, तो उसका लंड चमड़ी वाला एकदम काला लंड था.

वो बेचारा अपने हॉल में बैठा किचन की तरफ़ उसे ललचायी नज़रों से देखता रहता और अपने पैंट के उभार को अपने हाथों से छिपाता रहता. इतना कह कर चाची ने अपने गाउन के बटन खोले और अपनी एक चूची कशिश के मुँह से लगा दी. फिर मैंने पेटीकोट को थोड़ा ऊपर करके उनकी कमर को प्यार से सहलाने लगा.

मैं बोली- इतना दर्द झेलने के बाद क्यों जाना, अब तो हमारी तनख्वाह भी बढ़ जाएगी. मैंने जल्दी से दरवाजे को बंद किया और मोना भाभी के पास जाकर बैठ गया.

उसका चिकना और समतल पेट, उसकी गहरी नाभि, उसकी कमर, उसके माँसल और कोमल नितंब. न्यूड देसी वाइफ सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरे पति अपने दोस्त को घर ले आए। बिजनेस की बात पर दोनों में ठन गई। इसी बात पर ताश की बाजी लगी और …यह कहानी सुनें. अपने दांतों से निप्पलों को काट काट कर फुला दिया उसकी चूचियों पर बेबीन बना दिए.

ब्लू सेक्सी एचडी बीएफ

अब वो अपनी गांड को पीछे करने लगी और धक्के लगाने लगी।हम दोनों बहुत मजा लेने लगे.

दो तीन बार पूछने के बाद उसने थोड़े जोर से आवाज दी तो मैं एकदम से हड़बड़ा गई. लिली की शानदार खड़ी 34 साइज की चूचियाँ और सुन्दर जांघें गजब ढा रही थी. उसने खुद भी खाना खाया और फिर सारा काम करके अपनी बूढ़ी को मां को सुला दिया.

जब मैं दीदी के घर गया तो मैं मां का दिया हुआ कुछ खाने पीने का सामान लेकर गया था. चाची ने अपनी चुत में उंगली डाल कर उसे साफ की और मेरे लंड को भी प्यार से साफ कर दिया. जंगल में सेक्सी ओपनमैं उसकी आंखों में झांकता हुआ उसके एक दूध को अपने होंठों में दबा कर चूसने लगा था और दूसरे को हाथ से दबा रहा था.

मैंने यामिना के चूतड़ों और कमर पर हाथ फिराया, कुछ देर उसकी कमर पर झुककर अपनी छाती चूतड़ों पर और ठुड्डी उसकी कमर पर रखी और अपने दोनों हाथों से उसकी गोल चूचियों को सहलाया. घर आने के बाद मैं फिर दो घंटे के लिए खेलने चला जाता हूँ और लौटने के बाद एक बार फिर से नंगा होकर नहाता हूँ.

वो बेचारा अपने हॉल में बैठा किचन की तरफ़ उसे ललचायी नज़रों से देखता रहता और अपने पैंट के उभार को अपने हाथों से छिपाता रहता. फिर उस बेरहम औरत ने मेरे लंड पर गीला गीला सा कुछ लगाना शुरू कर दिया. कभी दूर तक तैर जाता, तो बधाई देने के बहाने मेरे मुँह चूम लेते और जोर से होंठ काट लेते, गाल रगड़ लेते.

निधि ने मुझे खड़ा किया और मेरे होंठों से अपने होंठ लगा दिए … और चूसने लगी. मैंने अपने आपको रोकने की बहुत कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुआ, तो मैंने भी अपने कपड़े उतार डाले और नंगा ही बाथरूम के पास पहुंच गया. एक शादी-शुदा मर्द!!शेखर ने कई कहानियां पढ़ी थीं जिसमें शादी-शुदा शौक़ीन मर्द अपनी बीवियों को किसी और से चुदवाने की ख़्वाहिश रखते हैं और उनकी बीवियाँ भी बड़े मज़े से नए-नए लंडों का स्वाद चखती हैं.

मनीष ने नेहा को उठाया और बिस्तर पर पटक कर एक ही झटके में आधा लंड उसकी रस बहाती चुत में पेल दिया.

उंगली करते हुए भी यही सोच रही थी कि कविता मेरी चूत को चाट रही है और मैं उसकी चूत को चाट रही हूं. अब उसकी गांड भी मेरे अंगूठे का मजा ले रही थी और इसी मजे में वो एक बार और झड़ गयी.

संगीता की बातें और उनका सुंदर शरीर, उसके रहने का तरीक़ा हमारे लिए प्यार … यह सब सोच सोच कर गर्म हो चुका था. उसने दरवाजा खुला रखा था, तो मैं झट से अन्दर घुस गया और दरवाजा बन्द करके उसकी बांहों में समा गया. अब आगे हिंदी ओपन सेक्स स्टोरी:कितनी देर तक हम उसी तरह बांहों में सिमटे रहे.

”जब उधर से ये आवाज़ आयी, तो मेरे मन से उस समय ये ही आवाज़ आयी कि अपनी बहन की चुत दिलवा दे, फिर तू जहां जाने की बोलेगा, वहां चला जाऊंगा. फ़लक ने ऊपर उठकर मुझे किस कर लिया और बाथरूम जाने के लिए जैसे ही बैठी वीर्य उसकी चूत से बहकर नीचे चादर पर इकट्ठा हो गया. लण्ड पर पूरा ताव आते ही मैंने उठकर लण्ड को फ़लक के होठों से लगा दिया.

बीएफ वीडियो चुदाई में तू बोले तो फिक्स कर दूँ क्या?मैंने बोला- ठीक है कर दीजिए और उसका पता मुझे भेज दीजिए. फिर एक दिन ढूंढते ढूंढते मुझे राहुल नाम का एक लड़का मिला।उसकी उम्र 30 साल थी.

बीएफ व्हिडीओ दिखाइए बीएफ

उन दिनों सर्दी के दिन थे, सो एक दूसरे के जिस्म की गर्मी हम दोनों को ही बेहद सुकून दे रही थी. इस कारण से अनु दीदी हम सबके सामने सिर्फ़ अपनी मस्त ब्रा और पैंटी में रह गई थीं. मैं उसकी भरी गोरी गोरी जांघों को सहला सहलाकर दवा लगाने लगा। अब उसको मेरे हाथों की मालिश अच्छी लगने लगी थी.

और भाभी के ज़ोर ज़ोर से चूसने से मेरे लंड का पानी भी भाभी के मुँह में ही निकल गया. मैं ये तक सोचने लगा कि कहीं मैं कल शाम तक इस पागल औरत के साथ रहा, तो क्या पता नहीं कल तक मैं ज़िंदा रहूंगा या नहीं. भोजपुरी में सेक्सी पिक्चर चाहिएमैं अहमदाबाद से हूँ, मेरी उम्र 34 साल है और मैं एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूँ.

उसका कुर्ता उतरते ही मेरे सामने एक गुलाबी ब्रा में कसे उसके मम्मे मुझे दीवाना बनाने लगे.

कुछ देर बाद मैंने उनके दोनों पैर मेरे कंधों पर रख लिए और जोर जोर से लंड को अन्दर बाहर करने लगा. काफी देर की धुआंधार चुदाई के बाद पापा बोले- बेटी मेरा माल निकलने वाला है.

इतनी मस्त चुदाई हुई कि उनकी और मेरी हालत खड़े होने की भी नहीं हो रही थी. संगीता मयंक को एक कमरे की तरफ ले गई और मयंक को वहीं पर रुकने को कहा. तब तक तो मैंने प्राची की टी-शर्ट ऊपर करके उसके मम्मों पर अपना कब्जा जमा दिया था.

मैंने अपना हाथ थोड़ा और नीचे किया और फिर पूछा- यहां?श्वेता- नहीं थोड़ा और नीचे.

फिर कुछ देर के बाद विचार आया कि यदि ये पाप था तो इससे बड़े बड़े पाप तो मैं पहले से करके बैठी हूं. मैंने पकड़ पर ढील देकर एक हाथ गर्दन पर लगाया और भाभी के होंठों के किस का पूरा मजा लेने लगा. इस महिला से कुछ देर इधर उधर की बातें हुईं और उसने पति को फोन पकड़ा दिया.

सेक्सी सेक्सी फिल्म एचडी मेंमहकशां ने थोड़ी ही देर में किसी एक्सपर्ट की तरह लण्ड चूसना शुरू कर दिया. मैं- आप क्यों नहीं गईं?चाची- मुझे अकेला रहना पसंद है … तुम्हारी तरह.

बीएफ गंदी वीडियो

हालांकि मैं जानती थी यह मुस्कुराहट सिर्फ मुझे दिखाने के लिए है क्योंकि उन्हें बहुत दर्द हो रहा होगा. मेरा मन कर रहा था कि मैं अमन के टट्टों को अपने हाथ में लेकर जोर से स्ट्रेस बॉल की तरह भींच दूं. लगता तो नहीं तुम्हारे लिए मुश्किल काम है। कोशिश करोगे तो कोई न कोई मिल ही जायेगी.

सीईई … इस्सस … आह्ह मेरी जान … मार मेरी चूत को! आज मिटा दे इसकी खुजली! साली बहुत खुजलाती है … तुझे बुलाया था अपनी चूत खुजली मिटाने के लिये … लेकिन ये साली हरामजादी नीतू कहाँ से आ गयी! लेकिन अब तू रुकना मत … चोद मुझे पूरा दम लगा कर।रूपाली न जाने क्या-क्या बोले जा रही थी।उधर मैं भी उसकी चूत में ताबड़तोड़ धक्के लगाये जा रहा था।मुझे रूपाली की चुदाई करते हुए अब पंद्रह मिनट से ऊपर हो गये थे. दस बारह धक्के मारने के बाद मेरा फव्वारा भी दिव्या के अंदर ही छूट गया।एक बार फिर ‘उफ्फ़ … मौसा जी!’ बोल कर दिव्या ने नीचे खींच कर मुझे अपने से चिपका लिया. अब भाभी भी अपनी गांड आगे-पीछे कर रही थीं और सेक्सी आवाजें निकाल रही थीं- आह शुभ मजा आ गया … आह चोद माँ के लौड़े … आह और जोर से चोद भोसड़ी वाले … उन्हा मुहाआ!लगातार दस मिनट तक ताबड़तोड़ चुदाई करने के बाद भाभी ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और थोड़ी देर बाद भाभी झड़ गईं.

मैंने उसके साइड में लेट कर उसकी एक टांग ऊपर कर दी और लंड पेल कर उसे चोदने लगा. समीर को लगा कि गिरने के खतरे की वजह से मेरी चीख निकली है लेकिन उसके हाथ ने मेरी चूची को जो कस कर दबाया था उसी ने मेरी चीख निकाल दी थी. मेरी प्यासी चुत की कहानी के पहले भागना बुझने वाली मेरी अन्तर्वासनाhttps://www.

बलिष्ठ शरीर की अनु दीदी ने रंजू के साथ मुझे भी बिल्कुल नंगा कर दिया. इसलिए तुझे बता रही हूँ, पर तू मुझे प्रॉमिस कर कि ये बात तू किसी से नहीं कहेगी.

बड़ी भाभी को मैं पहले भी चोद चुका हूँ मगर छोटी भाभी को मैंने कभी नहीं चोदा था.

कुछ देर के लिए मैं वहीं एक कुर्सी पर बैठने लगी तो मुझे लगा कि कुर्सी के कुशन के नीचे कुछ है. चूत लंड की चुदाई चुदाई सेक्सीमेरे भाई की शादी 2 साल पहले हुई थी और वो पुणे में ही एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करते हैं. जानवर इंग्लिश सेक्सीइस दौरान एक फ़्री सेक्सी इंडीयन सेक्स साइट का पता चला जहाँ याहू की तरह ही एक चैट रूम होता था।यहां हर तरह के लोग सेक्सी-सेक्सी चैट किया करते थे. अगर मैं आपको अंदाजा करने के लिए बताऊं … तो आप लोगों ने तारक मेहता का उल्टा चश्मा में बबिता की चूचियां देखी होंगी, बस वैसी ही चूचियां और फिगर मेरी भी है.

उस पूरी रात में कामशास्त्र की ऐसी कोई पोजीशन बाकी नहीं रही होगी जो हम दोनों ने नहीं की हो.

मुझे मालूम था कि इसके घर पर कड़की रहती है और ये कार को टैक्सी में चला कर काम चलाता है. मैं आगे बढ़कर उसके होंठों को चूमने लगा और एक हाथ बढ़ाकर बूब दबाने लगा. भाभी भी मेरे लंड को आईसक्रीम की तरह ऐसे चूस रही थीं जैसे इसे वो आज खा जाएंगी या उनको बाद में लंड मिलेगा ही नहीं.

बहरहाल, रेणु से दूर शेखर देर रात तक ऐसी ही साईटों पर घूमता रहता और कभी-कभार किसी से चैट कर लिया करता. फिर धीरे धीरे मैं उसकी गर्दन को चाटते हुए काटते हुए उभारों तक आया और उसके गुलाबी निप्पल को अपने दांतों के बीच लेकर जोर से भींच लिया और खींचने लगा. मैंने गाड़ी का अगला दरवाजा खोला और आगे की सीट पर बैठ गया और मयंक पिछला दरवाजा खोलकर पीछे की सीट पर बैठ गया.

सेक्सी बीएफ भेजो ना

भाभी ने उसकी दोनों टाँगें फैला दीं जिससे उसकी चूत मेरे मुंह के सामने हो गयी. बाकी आप लोग मेल करके बताना कि यह हॉट कॉलेज गर्ल्स स्टोरी कैसी लग रही है. तो सेक्स की शुरूआत कैसे हुई?दोस्तो, मैं विकी आपको अपनी स्टोरी का आगे का किस्सा बता रहा हूं.

वहां पहुंच कर उसने फिर से मुझे चूमना शुरू किया, फिर मैं भी कहां पीछे रहने वाली थी.

मैंने उससे अलग होकर उसके घर के देसी बाथरूम में घुस गया और नहा कर ताजा हुआ.

वह तो लौंडिया भी चोदता है … कुत्ता, पटाने में एकदम एक्सपर्ट है, बहुत बातें बनाता है. नाइटी घुटनों तक ही थी जिससे उनकी गोरी पिंडलियाँ और घुटनों के पीछे का चौड़ा भाग साफ दिखाई दे रहा था. सेक्सी वीडियो चुदाई वीडियो चुदाई वालीशर्मा जी ने फोन उठाया और बोले- अरे भाई थोड़ा सब्र कर … माल देखने ही आया हूँ.

इस बार मैं अपने आपको सम्भाल नहीं पाया और एक झटके में नीचे बैठ कर मोना भाभी की टांगों को खोल दिया. चाची- मेरा दूध पियेगा?मैं- चाचा उठ गए तो?चाची- नहीं उठते, गहरी नींद सो रहे हैं. वो बोला- डील फाइनल करने के लिए उन्हें खुश करना है और इसके लिए तुम्हें अलग से रूपये भी मिलेंगे.

पापा मम्मी की बात सुनकर मैं डर गया कि अब मुझे अलग कमरे में सोना पड़ेगा और मॉम डैड सेक्स देखने को नहीं मिलेगा. जब चाची चलती हैं, तो उनके पीछे उठे हुए हिलते चूतड़ों को देखकर मेरा लंड एकदम से बेकाबू हो जाता है और मुझे उसको ठंडा करने के लिए तुरंत मुठ मारनी पड़ती है.

रंजू कसमसा कर रह गई, क्योंकि पेट के बल तख्त पर लेटे हुए अपने दोनों पैरों से जमीन पर खड़ी थी.

उन्होंने लंड को मम्मों के बीचे तेजी से आगे पीछे करने का कहा, तो मैं करने लगा. मैं तेजी से मुठ मारते हुए उसकी चूत में लंड देने की कल्पना करने लगा. जब हम खाना खाने लगे तो मैंने पूछा- तुम्हारी बात हो गयी क्या तुम्हारे बॉस से?वो बोली- हां, सारी बात हो गयी.

सेक्सी पिक्चर नंगी फोटो हिंदी जब मुझे बर्दाश्त के बाहर हुआ तो मैंने चीखना चाहा लेकिन चाह कर भी चीख ना सका. दीदी को मैंने अपनी बांहों में भर लिया और दीदी ने भी मुझे अपने अंक में समेट लिया.

वो मस्ती से मेरी तरफ देखने लगी, तो मैंने चाची का ब्लाउज भी खोल दिया. संध्या चाची 37 साल की एक भरे पूरे 36-28-38 के फिगर वाली कामुक औरत हैं. उसकी हालत देखने के बाद मुझे खुद पर ही गुस्सा आ रहा था, क्योंकि उसकी इस हालत का जिम्मेदार मैं था.

सेक्सी बीएफ योगा

मैं प्रभात को दो साल से जानता था, पर आज तक ये नहीं जान पाया था कि वो भी साला गांडू है. एक रात क्या हुआ कि …हॉट सेक्सी चाची हिंदी कहानी के पहले भागचाची ने मुझे अपनी चूची चुसाईमें आपने पढ़ा कि मेरी चाची हमारे साथ ही रहती थी. जैसे ही मैंने नीचे देखा, मुझे सारा मामला समझ आ गया और मैं अपने हाथों से अपना नंगा लंड ढांपने की कोशिश करने लगा.

मैं वहीं उसके पास एक आड़ में कुर्सी पर बैठ गया; उसे दारू बेचते हुए और ग्राहकों से बात करते हुए देखता रहा. उसने उत्तेजित होते हुए मेरा सर पकड़ा और अपना पूरा लौड़ा मेरे मुँह में गले तक ठेल दिया.

उनके झड़ने पर इतना पानी निकला कि वो मेरी जांघों से होता हुआ बिस्तर तक आ गया.

[emailprotected]लड़की की कामवासना स्टोरी का अगला भाग:गेस्ट हाउस की मालकिन- 2. ज्योति मन ही मन चिराग से प्यार करती है, पर उसकी कभी बोलने की हिम्मत नहीं हुई. मैं तो चढ़ती जवानी से निकल गयी थी … मगर 39 साल की उम्र में मैं जवानी की अंतिम अवस्था में पहुंच चुकी थी.

लगभग 15 मिनट के बाद भाभी बाथरूम से बाहर आईं और मेरी तरफ देखकर मुस्कुराते हुए मेरे घर की ओर जाने लगीं. मैंने एकदम से लंड को बाहर खींचा और उसके बूब्स पर लाकर मुठ मारने लगा. अब मैं बार बार उसकी चूची को दबा देता, जिससे वो भी अपनी बाजू से अपनी चूची को और भी मेरे हाथ से सटा देती और उसकी चूची कुछ ज्यादा ही दब जाती.

उस रात मैंने निर्मला जी को तीन बार चोदा और सुबह तीन बजे के करीब वो अपने घर चली गईं.

बीएफ वीडियो चुदाई में: फिर मैंने उनसे कहा- मैं तुम्हें एक एड्रेस देती हूं, शाम को वहां पर आ जाना. मैंने उनसे कहा- पूरा एकदम अन्दर डालने की क्या जरूरत थी … धीरे-धीरे करके डालते.

हम तो वैसे भी कॉलेज आ रहे थे?चिराग- दोस्तो, इस वीकेंड पर पिकनिक का मूड बन रहा है. उसकी चुदास देखकर मैंने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी और गपागप गपागप लंड अंदर बाहर करने लगा।उसकी आंखों में चमक आ गई और अब वो लंड का मज़ा लेने लगी।वो बोली- राज, तुम मुझे ऐसे ही चोदो, मुझे चिल्लाने दो, तुम रूकना नहीं। मेरे पति के लंड मे ताकत नहीं है, तेरा लौड़ा … आह्ह आअह् … तेरा लौड़ा … चोदो मुझे राज … आह्ह … चोदते रहो. मर्द के सख्त हाथों से मर्दन करवाने में भाभी को भी बहुत मजा आ रहा था.

चाची गुदगुदी और मस्ती के मारे कामुक आहें निकाल रही थीं और अपनी गांड मेरे मुँह पर दबाती जा रही थीं.

मैंने संगीता से मीठी मुस्कुराहट के साथ पूछा- संगीता जी बताइए क्या करना है … आपका आर्यन तैयार है. मैंने सोचा कि चलो हमारे देश के नौजवानों की शक्ति का परीक्षण किया जाये. उसका हज़्बेंड तो उससे दूर था ही, मेरे रूप में उसे एक दोस्त मिला था, उसको भी मैंने जाने अनजाने में उससे छीन लिया था.