बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म

छवि स्रोत,राजस्थानी मारवाड़ी चुदाई सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स पिक्चर नई वाली: बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म, तो मेरे प्यारे दोस्तो, अपनी आपबीती को शुरू करने से पहले मैं अपने बारे में कुछ बता देता हूं.

सेक्सी फिल्म रोटी

दोस्तो, उम्मीद करता हूँ कि आपको भाभी की वासना और चुदाई की मेरी यह सेक्स कहानी पसंद आई होगी. बॉलीवुड हिंदी सेक्सीयह सब देख कर मैंने यश से कहा- यश प्लीज … धीरे से करना … यह मेरा दूसरी बार का सेक्स ही है.

अब मैंने उसकी पेंटी में हाथ डाला और उसकी बुर की फांकों में उंगलियों घुसेड़ कर उसकी दरार में ऊपर नीचे करने लगा. सोनाक्षी सेक्सी व्हिडिओमेरा लंड पहले ही टाईट हो गया था, उसके लंड पकड़ने से लंड एकदम से फनफनाने लगा.

चूंकि हम दोनों रात भर सो नहीं पाये थे इसलिए काफी थके हुए लग रहे थे.बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म: ससुर और बहू की चुदाई की सेक्सी गन्दी कहानी के पहले भागपति ने कराई बहू ससुर की चुदाई-2में आपने पढ़ा कि मैं अपने ससुर को अपनी चूत दिखा चुकी थी, उनकी कामवासना को जगा चुकी थी.

कुछ देर रुकने के बाद अब भैया धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करने लगे थे.पति बोले- देख रहा हूँ कि मेरे पापा के साथ रहकर कितनी गीली हो रही है.

हिंदी सेक्सी वीडियो गांव - बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म

एक दिन भाभी ने ऐसे ही पूछ लिया- अभी तक तूने अपना खाता खोला है या कुंवारा ही है?मैंने कहा- भाभी, मेरी एक गर्लफ्रेंड है जो शादीशुदा है.मैं अपने ताऊजी के पास रहने गया तो उनकी बेटी मतलब अपनी चचेरी बहन से मिला.

उसके अपने होंठों से प्यार करने लगी और मेरे हाथ उसकी गांड पर चले गये. बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म फिर उसने मेरा नाम पूछा और हम दोनों आपस में एक दूसरे से बातें करने लगे.

सेक्स करने में हम दोनों नए थे, इसलिए जैसे जैसे हम आगे बढ़े … हमको और ज़्यादा मजा आने लगा.

बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म?

एक बार मुझे और अमीषा को एक क्लास प्रोजेक्ट में साथ डाल दिया गया था. तो वो बोली- चुपचाप चुत चाट … नहीं तो तेरी शिकायत कर दूंगी कि तुम मेरे साथ जोर जबरदस्ती कर रहे थे. मैं अन्दर गया, तो समझ में आया कि ये आवाजें तो मेरी बहन के कमरे से आ रही हैं.

उसने सिर्फ ये कहा कि अगर हम प्रेग्नेन्ट हो गयी और ईश्वर हम लोगों को फिर मिलवाने को राजी होंगे, तो उस समय पक्का पूरा किस्सा बतायेंगी. मेरी पकड़ में नहीं आई वो अभी तक, नहीं तो उसकी चूत का भी भोसड़ा बना चुका होता मैं. उसने गुर्रा कर पूछा कि क्यों निकाला … कुत्ते?मैंने उसकी चूचियों को पकड़ते ही घुमाया और कहा- साली, अपने कुत्ते की कुतिया तो बन जा.

दूसरे दिन भी दोपहर में कोई नहीं था, तो बाहर का गेट बंद करके हम दोनों मामी और भांजे चुदाई में लग गए. मैंने भी अपने मन की होते देख कर धीमे से कहा- ठीक है … अब लाइट ऑफ कर देता हूँ. वो ममता की टांगों के बीच में आया और अपना मस्त लंड ममता की चूत में सेट करके अन्दर धकेलने लगा.

फिर मैंने उसकी बुर में जीभ डाल दी और अपनी जीभ को अंदर बाहर करने लगा. और फिर मैं उससे बोला- सबसे अलग सेक्स करना है तो हमें बेडरूम जाना होगा.

हम लोग सारा दिन दिल्ली के सरकारी हॉस्पिटल में भटकने के बाद भी भाई को भर्ती नहीं कर पाए.

तो मेरी सास ने कहा- एक तो पोते का मुंह नहीं दिखा रही, ऊपर से जबान चलाती है.

इसके बाद उस आदमी ने जोर से कहते हुए अपनी बीवी को बताया कि बेबी मैं जरा काम से जा रहा हूँ, तुम तब तक मसाज एन्जॉय करो. वो साड़ी कुछ इस तरह से बांधती हैं कि उनका न दिखने वाला जिस्म पूरी तरह से कुछ इस तरह से दिखे, जिसे देख कर देखने वालों के लंड में आग लग जाए. उस समय मैं सब कुछ भूल गयी थी कि वो मेरी सहेली के पापा हैं और वो मेरे पापा की उम्र की हैं.

उसके बाद मैंने उसकी पैंटी को निकाल दिया और उसकी टांगों को ऊपर करके उसकी चूत में मुंह दे दिया. जो घटना मैं आप लोगों के साथ शेयर करने जा रहा हूं यह मेरे साथ असल जिन्दगी में हुई है. हम दोनों ससुर बहू को चुदाई करते हुए 10 मिनट हो चुके थे और फिर मेरा पानी एक बार फिर निकल गया था.

मेरे हाथ में उमेश का लंड था, जिसे मैं मुठिया कर खड़ा करने में लगी थी.

मेरा ध्यान उसकी दो और दूसरी चोटियों की तरफ था, जिनको उसका पिंक सूट न केवल दबाए हुए था, बल्कि गुलाबी रंग का होने से अंदरूनी नजारा भी हल्की सी झलक दे रहा था. दूसरे दिन उसने मेरा फोटो शूट किया और लंड खड़ा करने के लिए मेरे लंड को चूसा, उसे शेव किया और लंड पर काफी मेकअप भी किया. मैंने उसको एक तेज नशे वाली बियर का नाम बताते हुए कहा- मुझे पता है … इसी लिए तो बोला.

अगर कहानी आपको पसंद आ रही हो तो मैं आपके लिए आगे की कहानी भी लिखूंगा. थोड़ी देर के बाद एक बुजुर्ग अपनी बकरी लेकर आया और बकरा देने का गुहार लगाई. तो मैंने क्या किया? मैं उससे कैसे चुदी?हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम सविता है.

हो सकता है कि किसी विशेष प्राणी को भगवान ने इतने बड़े लिंग से नवाजा हो लेकिन भारतीयों में औसत लिंग इतना लम्बा नहीं होता है.

तो उसने दबी सी आवाज में कहा कि मैंने आज तक सेक्स नहीं किया है … सिर्फ उंगली की है. बहन की चूत सहलाते सहलाते मैंने उसकी चड्डी भी निकाल दी और अपनी उंगली को उसकी चूत के होंठों के बीच फिराने लगा.

बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म करीबन 20 मिनट तक मस्त रोमांस करने के बाद मामी से रहा नहीं गया, वे बोली- भांजे, अब अपनी मामी को पेलो! नहीं तो मर जाऊंगी मैं!मैंने भी अपना लण्ड निकाला एक ही झटके पूरा 7 इंच मोटा लौड़ा मामी की चूत में घुसा दिया. उसकी नंगी चूचियां देख कर मैं पागल हो उठा और मैंने उनको जोर से दबाना शुरू कर दिया.

बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म रानी ने मुझसे पूछा- क्या मैनेजर के साथ डांस करना ठीक रहेगा?तभी सब लोग ताली बजाने लगे. मैंने उसकी टांगों को थाम कर जोर से उसकी चूत में लंड को पेलना चालू रखा.

मां कभी सोनू का लंड मुंह में लेती तो कभी अभिनव का लण्ड मुंह में लेती.

రియల్ బిఎఫ్

दूसरे घर जाकर छोटे वाले मामू से मुलाकात की, खाला के घर जाकर उनसे मुलाकात की. मेरे पूछने पर उसने बताया कि सब रिश्तेदारी में बाहर गांव गए हुए हैं. मेरे लंड को उसने अपनी चुत के छेद में सैट किया और लंड को चोदना शुरू कर दिया.

इतना सुनते ही मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और मेरे पैंट में तम्बू बनने लगा. मैंने ज़िद की- बताओ!तो बोलीं कि मुझे वाशरूम में टाइम लगेगा … तो उतने समय माँ के पास कोई होना चाहिए. फिर मैंने पूछा- अच्छा, ठीक है, तो फिर क्या लेना पसंद करोगी?वो बोली- जो आपको सही लगे.

वो इतरा कर बोली- इतनी भी क्या जल्दी है जानू … सब कुछ आराम से करेंगे … पूरा घर खाली पड़ा है … दिक्कत क्या है.

रानी को ब्रून का लंड भा गया था और ब्रून तो पहले से ही रानी की चुत फाड़ने के चक्कर में था. फिर दो दिन के बाद उसने मालती को शॉपिंग के बहाने अपने घर पर रोक लिया और उसके घर पर बोल दिया कि मालती उसके साथ पढ़ाई करने मेरे घर पर ही रुक जाएगी. फिर मैंने हिम्मत करके बुआ की नाइटी को ऊपर सरकाते हुए उसकी चूत पर हाथ रखा, तो पता चला उसने पेंटी नहीं पहनी है.

मेरा शरीर का तापमान सामान्य देख के बुआ थोड़ी सी मुस्कराई लेकिन बोली कुछ नहीं और चुपचाप नीचे चली गई।दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी काल्पनिक कहानी जरूर बताना।[emailprotected]. मैंने उनका हाथ पकड़ लिया और उन्हें अपनी जगह बेड पर लिटा दिया अब मैंने उनके अंडरवियर पर हाथ लगाया ही था कि पापा जी मेरा हाथ पकड़ लिया. पर मेरा मन अभी नहीं भरा था तो मैंने उससे पूछा कि उसके घर में चॉकलेट है या नहीं.

लेकिन वक्त के साथ फिर जिम्मेदारियां बढ़ीं और लिखने का काम पीछे छूट गया. सास के तानों से मैं इतनी तंग आ गयी थी कि मैं कुछ भी करने के लिए तैयार हो गयी थी.

थोड़ी देर बाद वो मुझसे बड़ी अजीब सी आवाज में बोली- मुझे बड़ी प्यास लगी है. फिर मैंने अपनी बॉडी पर सेंट लगाया और अपनी लाल ब्रा और पेंटी पहन ली. ये सुनकर राहुल का मन बैठ गया, क्योंकि वो मेरी बहन को और चोदना चाहता था.

हालांकि मैंने शालिनी से पूछा कि वो कैसे जाने वाली है, तो उसने बताया कि वो कुसुम को छोड़ते हुए निकल जाएगी.

उसके गीले बाल और उसकी तनी हुई चूचियां देख कर मैंने उसको खा जाना चाह रहा था. उसने अपनी साड़ी का पल्लू हटाते हुए अपने मम्मों को उठा दिया और बोली- मेरे पास तो ये आम हैं … लो चूस लो. पहले तो वो मना करने लगी लेकिन फिर मैंने भी बोल दिया कि अगर वो मेरी बात नहीं मानेगी तो फिर मैं भी उसकी बात नहीं मानूंगा.

मैंने जिस जगह पर कमरा लिया हुआ था वहां मेरे पड़ोस में एक आंटी रहती थी. पहले एक दो बार तो चिकनाई की वजह से लंड फिसल गया … लेकिन फिर मैंने चुत की फांकों में लंड सैट करके एक झटका मारा, तो मेरे लंड का टोपा भाभी की चूत में घुस गया.

अचानक लाईट चली गयी, कमरे में अंधेरा हो गया और मेरा पैर किसी चीज से लगा और मैं लड़खड़ा कर हिमानी के ऊपर गिर गया. पहली बार में मेरा लंड उसकी बुर बहुत छोटी होने के कारण फिसल गया … जिससे वो हंसने लगी. वो नंगी चूचियों के साथ मेरे सामने लेटी हुई कामदेवी की तरह लग रही थी.

सेक्स वीडियो हिंदी इंडियन

क्या मेरी प्यारी बहना अपनी चुदाई मुझसे करवाएगी?पीहू ने कहा- भैया, आप मेरे साथ कुछ भी कर सकते हैं.

इस बार मैंने पूरी ताकत से धक्का दे दिया, जिससे उनके मुँह से एक तेज चीख निकली. सोनू अब नीचे हुआ और उसने मां के चुचे पर अपना मुंह लगा दिया और उसने मां के ब्रा को खोल दिया. तब मैंने कहा- क्या तब मज़ा नहीं आ रहा?तो वो बोली- मज़ा तो बहुत आ रहा है भइया। क्या आप मुझे हमेशा ऐसे ही प्यार करेंगे?मैंने कहा- हाँ, हमेशा करूंगा।फिर मैंने उसे गोद में लेकर रूम के अंदर लेकर खाट पर लिटा दिया.

मैं एक मिनट के लिए दूसरी तरफ देखने लगा, पर जब अचानक से मैंने पलट कर देखा तो पाया कि मैनेजर और उसका स्टाफ मेरी पत्नी रानी की देख रहे थे. उसके बाद मैंने रूबी को गोदी में उठा लिया और उसको बेडरूम में ले गया. निरहुआ की सेक्सी वीडियोइस वजह से हम दोनों इतना करीब आ गए थे कि मुझको कुछ समझ ही नहीं आया कि ये क्या हुआ.

जबकि महेश जी सोशल मीडिया के प्रभाव में आधुनिक विचारों से ओतप्रोत हैं. फिर उन्होंने मेरे बाल सहलाना शुरू किए और अपनी आंखें खोली और मेरे माथे पर चूम लिया.

Indian Bhabhi ki Chutएकदम से उंगलियां घुसा देने से भाभी की आह निकल गयी. राजश्री की शर्ट के ऊपर से ही उसकी चूचियों को मसलते हुए वो बोला- देख राजश्री, अब पूनम की चूत दिलवाना तेरा काम है. फिर मैंने नीचे होकर बुआ की चूत को चूसना शुरू किया और उसने मेरा चूस कर मेरे लौड़े को फिर से खड़ा कर दिया.

इस दौरान हमें एक दूसरे को अच्छी तरह से जान लेने और समझ लेने का मौका मिला. और 7-8 फिट ऊंचाई पर लकड़ी का मचान बना होता है जिस पर सो सकते हो या सामान रख सकते हो।ऊपर मचान पर मैं और भाई और नीचे मामू और मामी सो गए. मैंने तुरंत उसके टॉप को उतारा और उसकी पिंक ब्रा के ऊपर से उसकी चुचियों को दबाते हुए मजा लेने लगा.

तुझको पहचानता तो नहीं ही है न … कोई टेंशन तो नहीं है … बताओ क्या कहती हो?अंजलि- आज आप जो बोलोगे, मैं वो करूंगी.

हालांकि मैं इस बात का ख्याल रख रहा था कि मेरी पिपासु नजरें उसको न मालूम पड़ें, लेकिन वो कहते हैं न कि स्त्री की एक इन्द्रिय उसको बता देती है कि कोई उसके ऊपर नजर रख रहा है. अभिनव ने शुरुआत में धीमे-धीमे ही मां को चोदा लेकिन जैसे जैसे अभिनव के अंदर गर्मी बढ़ती गई, उसने अपने झटकों की ताकत भी बढ़ा दी.

भैया ने मुझसे कुछ देर पानी वाला पाइप पकड़ने को कहा लेकिन मैं कुछ और ही ख्यालों में खोया हुआ था. मॉर्निंग वॉक पर गार्डेन में मुझे एक मोटी सी लड़की दिखाई दी तो मैंने उसे ही पटाने की सोची क्योंकि मैं काला मोटा हूँ. ये बात तब की है, जब मेरा बेटा 5वीं क्लास में था और वो पढ़ने में थोड़ा कमज़ोर था.

उस मैच में मेरे बेहतरीन खेल के लिए मुझे मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी मिली. दूसरे दिन भी दोपहर में कोई नहीं था, तो बाहर का गेट बंद करके हम दोनों मामी और भांजे चुदाई में लग गए. इस लिए छटपटाहट में उसने मेरी पीठ पर अपने नाखून गड़ा दिए और हाथ पैर फेंकने लगी.

बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म थोड़ी देर बाद मैं उठा, तो मैंने देखा कि मॉम की चूत से रस बाहर निकल रहा था. दस मिनट की चूमाचाटी में वो फिर से गर्म हो गई और उसने दुबारा मेरा लंड चूसना चालू कर दिया.

मियां का सेक्सी वीडियो

मैंने पूछा- आप इतनी जल्दी कैसे? आप तो 12 बजे आने वाली थीं न?उसने कहा- तुमको भी तो 12 बजे बोला था, तो तुम कैसे इतने जल्दी आ गए. फिर दिमाग लगाया कि इस वक्त अगर ये अपने घर पर बुला रही है तो जरूर चान्स लिया जा सकता है. हालांकि मैंने किसी निम्न स्तर के उद्देश्य से नहीं, बल्कि उसकी सुंदरता और आकर्षक स्माइल की तारीफ़ करने के लिए उसको मैसेज भेजा था, जिसका जवाब पाने की मैंने उम्मीद भी नहीं की थी.

तभी वो बाहर आये और बोले- सॉरी, वो मैं दरवाज़ा बन्द करना भूल गया था।मैन कहा- कोई बात नहीं।फिर हम बैठ के खाना खाने लगे. मेरी कमर को पकड़ कर उसने उठाया और डॉगी स्टाइल में बैठा दिया जिससे मेरी गांड का दरवाजा खुल गया. सेक्सी अँटी विडिओचिकनी कमर एकदम मदहोश कर देने वाली, उस पर भी भाभी डीप साड़ी पहनती हैं … अकसर उनका गोरा पेट और नाभि साड़ी में से झांकती रहती है.

पता ही नहीं चला कि कब अंकल ने अपना हाथ मेरी पैंटी के अन्दर घुसा दिया.

ससुर और बहू की चुदाई की सेक्सी गन्दी कहानी के पहले भागपति ने कराई बहू ससुर की चुदाई-2में आपने पढ़ा कि मैं अपने ससुर को अपनी चूत दिखा चुकी थी, उनकी कामवासना को जगा चुकी थी. पहले ही धक्के में मेरी माँ की चूत के अंदर अभिनव का आधा लंड घुस गया.

मैंने उसकी बुर से लंड खींचा और उसकी टपकती बुर देखकर अपनी जीभ लगा कर बुर चाटने लगा. मैंने पूछा- क्या हुआ, भाई से मन भर गया है क्या आपका?भाभी ने मेरी बात का कोई जवाब नहीं दिया और ऐसे ही मुझे सहलाती रही. मैंने पूछा- आप तो कहीं जाने वाली थी न?उन्होंने कहा- जाने वाली थी, लेकिन अब मन नहीं है, तुम फ्रेश हो कर आ जाओ, मैं खाना लगा देती हूं!मैंने कहा- आप आज जाने वाली हो.

जो भी कमियां रही हों या फिर आपके मन में कोई सवाल या शंका हो तो मुझे लिख भेजें.

मैंने एक हाथ पेंटी के अन्दर उनकी चुत पर रख दिया और उनकी चुत मसलने लगा. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:कुंवारी ममेरी बहन की सीलतोड़ चुदाई-2. बस फिर मुझे समझते देर नहीं लगी कि इसकी चूत को लंड की प्यास जरूर लगी होगी.

एचडी कार्टून सेक्सी वीडियोचाची ने कहा- राहुल अब तुम जल्दी से मेरी चूत में अपना लंड डाल दो … मुझसे अब नहीं रहा जाता. चाची की चूत में जैसे ही लंड घुसा उनके मुंह से उम्म्ह… अहह… हय… याह… निकल गयी.

माँ सं सेक्स

कॉलेज की छुट्टियां हो गई थीं, तो मेरे बड़े पापा ने हम सबको गांव आने का कहा. इतने में ही किचन का काम पूरा कर सुमन भी हमारे पास हॉल में आकर टीवी देखने लगी. रास्ते में कपड़ों का ख्याल आया तो मैंने सोचा कि सबसे पहले कपड़े बदले जायें.

वो नीले रंग का कमीज और सफेद सलवार पहने थी।दोस्तो, पहले मैं पीहू के फिगर के बारे में बता दूँ. मेरे दिल में उसके साथ सेक्स करने की चाहत थी, लेकिन गांड फटती थी कि कहीं दांव उल्टा न पड़ जाए और खामखां में बदनामी हो जाए. मैंने भी हल्के हल्के से धक्के भाभी की चूत में लगाने शुरू कर दिये थे.

फिर हम दोनों भाई बहन ने उन 4 दिनों में बहुत ही ज्यादा मजे और चुदाई की. वो लंड को चूसने का प्रयास करने लगी लेकिन लंड मोटा ज्यादा था इसलिए पूरा उसके मुंह में नहीं जा रहा था. अब से मैं तेरी चूत का ख्याल रखूँगा और एक महीने में इसकी पूरी चुदास निकाल दूंगा.

पापा मेरी बुर चाटे जा रहे थे … और मैं गांड उठा कर पापा को अपनी चुत में घुसेड़ लेना चाहती थी. कंडोम के पैकेट को मुंह से फाड़कर मैंने जल्दी से उस पर कंडोम चढ़ा दिया.

वो मुझसे बोली- तू मुझसे उम्र में इतना छोटा है और मुझे प्रपोज कर रहा है?मैंने कहा- अगर प्यार में छोटा बड़ा देखा जाएगा, तो सब बिना प्यार के ही मर जाएंगे.

मैंने पेंट निकाली, उसके बाद अंडरवियर भी हटा दी और पूरा नंगा हो गया. राजस्थानी सेक्सी वीडियो एक्स एन एक्सवो इस झटके को सहन नहीं कर पाई और चिल्ला उठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ और रोने लगी. ब्लू सेक्सी नंगी नंगीपापाजी की आँखें मेरी आँखों से मिली तो वो हल्की सी स्माइल देने लगे और फिर मैं उनके बगल में लेट गयी. मैं देर न करते हुए मॉम की चुत पर मुँह लगाते हुए चुत पर टूट सा पड़ा.

मुझे खड़े हुए पांच मिनट ही हुए थे कि बगल वाले घर के सामने एक बाइक आकर रूकी.

मेरे ऑफिस की लड़की ने नशे में मेरे गाल पर चूम लिया तो मैंने उसकी कमसिन जवानी के मजे कैसे लिये, मेरी बेहद गर्म सेक्स कहानी में पढ़ कर आनंद लें. जिस पल में वीर्य लंड से निकल रहा था उससे ज्यादा आनंदित करने वाला अहसास दूसरा कोई नहीं लगता मुझे. ये सब तैयारी करके फिर मैं पापाजी के रूम के पास गयी और नॉक किया- पापाजी, खोलिये न … मैं जानती हूँ कि आप सुन रहे हैं.

आपने मेरी पिछली कहानीआंटी की बहू को प्रेगनेंट कियापढ़ी, आपको पसंद भी आई. मैं तेजी से धक्के मारने लगा और वह बोलने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… और जोर से!करीब 20 मिनट चोदने के बाद मैंने कहा- मैं झड़ने वाला हूं!तो उसने कहा- अंदर ही झड़ जाओ!मैं अंदर ही झड़ गया. मैंने उससे पति के बारे में पूछा, तो उसने बताया कि वो अगले दस दिन तक शहर से बाहर है.

सेक्स फिल्म वीडियो मारवाड़ी

मेरी चूत पर अभी हल्के हल्के बाल आना शुरू हुए हैं पर मेरी चुत है बहुत गोरी. मैं भी समझ सकता था कि ऐसी औरत को अगर लंड न मिले तो वो ज्यादा दिन तक खुद को रोक नहीं सकती है. देख क्या रहा था, मैं बस दिमाग में सोच रहा था कि काश मैंने शालिनी को बुलाने को न कहा होता, तो कुछ सीन बन सकता था.

थोड़ी देर में शोभा पीले रंग की ढीली टीशर्ट और काली लोवर पहन कर सामने आयी.

मैंने आगे हाथ ले जाकर उसकी चूचियों को उसकी साड़ी के ऊपर से ही दबाना शुरू कर दिया.

मैंनेनंगी भाभीदेखा तो मुझे एकदम से वासना चढ़ गई और मैं उसके मदमस्त शरीर से खेलने लगा. ताई जी के कोई लड़की नहीं थी, इसलिए हिमानी को सभी कामों के लिए याद किया जा रहा था. सेक्स ऑंटी सेक्सीमैं बोला- अरे पगली, अगर आपकी मां को पता लग गया तो आपको ऑफिस भी नहीं आने देंगी.

वो मेरे छोटे से निप्पल को जीभ से सहला रही थी और दांत से निप्पल पकड़ कर काटने की कोशिश कर रही थी, जिससे मेरा शरीर कांप रहा था. कुछ पल का विराम देने के बाद मैंने उसकी चूत में धक्के लगाने शुरू कर दिये. मैंने भी सोचा जब ये राजी है, तो मुझे इससे अच्छा मौका नहीं मिलेगा … लगे रहो मुन्ना भाई.

उससे आज भी मेरा सेक्स चल रहा है उसके साथ आगे हुए सेक्स कहानी को मैं अगली बार लिखूँगा. मेरी सिसकारी निकल जाती, तो वो काटी हुई जगह पर अपनी जीभ से लंड को सहलाने लगती.

अपनी बात आगे बढ़ाते हुए उसने कहा- मैंने अभी तक खुद को रोक कर रखा था.

दस-पंद्रह मिनट के बाद ही उसकी चूत ने पानी फेंक दिया और फच-फच की आवाज के साथ चुदाई करते हुए दो मिनट के बाद मेरा वीर्य भी उसकी चूत में निकल गया. जब खेतों में पानी देना होता था तो पिताजी यहीं पर सोते हैं।मैंने ट्यूबेल का दरवाजा खोला और पीहू को अंदर कर बाइक को भी दरवाजा बंद कर लिया।मैं कुछ देर पहले ही ट्यूबवैल पर दीये जला कर गया था. मैंने चलती कार में टाप उतार कर कार की खिड़की पर रखा और पीछे मुड़कर घर के कपड़ों की पन्नी देखी तो सन्न रह गयी.

ब्लू पिक्चर हिंदी वीडियो में सेक्सी मेरे दिल में हल्का हल्का डर भी लग रहा था क्योंकि ऐसा मेरे साथ पहली बार हो रहा था. तो वो मान गयीं और दो दिन बाद अपनी बेटी और मेरे बच्चों के साथ वो चली गईं।जेठ जी उनके साथ नहीं गए क्योंकि वो जिस कम्पनी में काम करते थे वहां से उनको छुट्टी भी नहीं मिली थी।एक बात बता दूं कि मेरे जेठ जी बहुत ही शर्मीले किस्म के इंसान हैं।तो मैंने सोचा कि उनके साथ ही चली जाऊंगी जब वो जाएंगे.

पूरे रास्ते मैं उनको रगड़ता रहा, मसलता रहा … मैंने ऐसा कोई भी पल नहीं छोड़ा था, जिसमें मैंने मामी को छेड़ा नहीं था. मैंने दरवाजे पर दस्तक दी, तो भाभी ने दरवाजा खोला और मुझे देख कर एक प्यारी सी मुस्कान देते हुए मेरा वेलकम किया. मैंने कहा- जान तुम न भी कहतीं, तो भी मैं आज तुम्हारी पूरी बॉडी चूम और चूस कर ही जाता.

सरदारों का सेक्स

मुझे उसके साथ बात करना अच्छा लगा और ये भी लगा कि ये कोई अच्छे लड़के हैं. दरअसल मैं अभी कुछ दिनों पहले ही मेरी चाची के साथ नागपुर आया हुआ था. जांच करने के बाद पत्नी को उसने खाने व लगाने की दवा दी तथा ठीक होने तक चुदाई न करने की सलाह दी.

मैंने उसकी चूची चूसते हुए उसे मजा देना शुरू किया तो उसकी चुत ने कुछ रस छोड़ दिया, जिससे लंड से उसे राहत मिलने लगी. अब हमारी बात काफी ज़्यादा होने लगी, जिसमें मैं उसके स्कूल, उसकी पेंटिंग्स, उसके परिवार वगैरह के बारे में बात करता और वो मुझे जवाब दे देती.

वो मेरे ऊपर आई और मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ कर अपनी गीली चूत में घुसा कर मेरे ऊपर बैठ गई.

इतने में मेरी चचेरी बहन सोनल बाहर आ गई और कहने लगी- अरे हो गया चालू तुम्हारा!काजल- यार … प्रेम से सब्र नहीं हो रहा था और तुम्हारे बिना ही चालू करने का बोल रहा था. मेरे मन में ये सोचकर रोमांच पैदा हो रहा था कि ये लोग भी मुझे ऐसे ही देखा करेंगे. चूंकि हम दोनों लगभग तीन साल से एक ही ग्रुप में रह रहे थे, तो बातचीत कुछ ज्यादा होना लाजिमी था.

इसलिए मैंने उनकी ब्रा को भी उतरवा दिया और उनकी पैंटी को खींच कर एकदम से उनको नंगी कर दिया. दोस्तो, आपको मेरी यह स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपनी राय जरूर दें. मुझे लगता था कि मेरी मॉम पापा के न रहने से संतुष्ट नहीं हो पाती हैं, इसीलिए वो इतनी कामुक दिखती हैं, ताकि अपने लिए वो लंड तलाश सकें.

जब मैंने अपनी आँखें खोली तो पापाजी के चेहरे पर भी मुझे कामुकता के भाव दिखाई दिए.

बीएफ एचडी वीडियो ब्लू फिल्म: चुत को अपनी जीभ से ऊपर से नीचे तक चाटना शुरू किया, तो उनसे मेरे लौड़े को अपने मुँह में रख लिया. मैंने उसके सामने अपने सब कपड़े निकाल दिए और मैं सिर्फ चड्डी में उसके सामने आ गया.

अंकल भी 10 मिनट बाद नीचे आ गए और मॉम के पास गए को थोड़ा सा इशारा किया. तो उन्होंने बताया कि पीहू के पापा किसी काम से रिश्तेदार के यह गए है कल आएंगे। पीहू गांव में मन्दिर पर दिए जलाने गयी है, कुछ देर बाद आएगी।तब मैंने उनके साथ मिलकर पूरे घर में दीये जलाये।दिए जलाने के बाद उसकी माँ और मैं छत पर खड़े होकर बात कर रहे थे तभी वहाँ पीहू आ गयी।उसने मुझसे कहा- भैया, आप कब आये?मैं तो बस उसे देखता रह गया. वो हंस दिया और उसका हाथ उसके लोअर के उस भाग पर चला गया, जहां मेरे मतलब की चीज थी.

मैंने अंडरवियर निकाल दिया तो मेरा लम्बा और मोटा लौड़ा देख कर वो घबरा गयी.

मैं भी आह कारते हुए उनकी तरफ देखते हुए उनकी चूचियों को दबाए जा रहा था. हम दोनों ने एक दूसरे की तरफ मुस्कुरा कर देखा और मैंने उसकी तरफ हाथ बढ़ाते हुए कहा- मेरी फ्रेंड बनोगी?उसने भी झट से मेरा हाथ थाम लिया और कहा- यस नाओ वी आर फ्रेंड्स. करीब दस मिनट बाद मेरा रस निकलने वाला था तो मैंने उससे कहा- मेरा होने वाला है.