बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी

छवि स्रोत,सेक्सी देहाती में

तस्वीर का शीर्षक ,

सबसे कम कौन सोता है: बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी, आजकल अमेरिका का वीजा बड़ी मुश्किल से मिलने लगा था … इस वजह से थोड़ी दिक्कत आई, लेकिन हो गया.

2022 रक्षा बंधन डेट

दूसरे दिन मैंने ऑफिस से ऑफ़ ले लिया और सारा दिन आंटी की बांहों में नंगा पड़ा रहा. इंडियन पिक्चर सेक्सीजब हमने देखा कि मेरी माता जी गहरी नींद में हैं तो हमने सोचा कि क्यों न बेसमेंट पार्किंग में चला जाये.

मैंने उसे पीछे से खींच कर अपने ऊपर ले लिया उसकी दोनों चुचियों को दबाते हुए उसकी गांड में लंड रगड़ने लगा. गीता भाभी का सेक्सघड़ी पर नजर पड़ी, तो सात बज चुके थे और हम तीनों सहेलियां ऐसे ही पड़ी थीं.

सभी औरतें खिलखिला कर हँस पड़ीं और मैं मूर्ख दिखते जैसे ऐसे बैठा रहा … जैसे मैं कुछ समझा ही नहीं था.बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी: तभी एकाएक अपने एक हाथ को मेरी चूत पर ले आकर पहले उसकी घुंडी को मसलने लगे और थोड़ी देर में ही अपना अंगूठा मेरी चूत में घुसा कर चूत को पूरा फैला दिया.

उसके चेहरे पर कुछ शर्म के भाव भी आने लगे थे हालांकि वह एक लड़का थी लेकिन अब वह एक लड़की है.सोचा कि बहाने से जाकर इसके लंड को टच करने के लिए ट्राई कर ही लिया जाये.

चूत की चुदाई कहानी - बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी

जीजा जी- हम दोनों भी तुम लोगों के साथ आएंगे, क्योंकि मैं तुम्हारी दीदी को कितने दिनों से डेट पर नहीं ले गया हूँ.मैंने अपना हाथ प्रीति की चूत में डाला तो प्रीति की पेंटी गीली हो चुकी थी.

वो मेरे ऊपर चढ़ गया और अपना लंड मेरी चुत पर सैट करके एक धक्का दे दिया. बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी और पूरी तरह सन्तुष्ट होने के बाद ही मैंने कहानी को लिखना शुरू किया.

उसने मेरा लंड चूसना छोड़ दिया और अपना सर पटकने लगी थी। उसने अपने हाथों से मेरा सर अपनी चूत पर दबा लिया और उसकी जांघें काँप रही थी.

बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी?

पर जैसा कि मैंने ऊपर बताया था कि मुझे इस सबसे बच्चा होने में कोई दिक्कत नहीं थी. डैड- सुनो … तुम्हें एक मीटिंग के लिए दुबई जाना है, क्योंकि मुझे अहमदाबाद जाना है और मैं दुबई नहीं जा पाऊंगा. फिर मैंने उनकी मैक्सी को और ऊपर किया और उनकी नाभि को, पेट को किस करने लगा.

मैंने अगले ही पल अपना हाथ नीचे को किया और उनकी साड़ी को ऊपर उठाते हुए उनकी नंगी जांघों पर हाथ फेरने लगा. और उसी के साथ फोन कट गया।तभी मैं बिस्तर से उठा और फ्रेश होकर नहा लिया और नाश्ता करके अपने काम पर चला गया।दिन भर मैंने अपना काम पूरी मेहनत और लगन के साथ किया. जब मैंने फिर उठने की कोशिश की तो उसने मेरे नितम्बों पर मारते हुए कहा- बस थोड़ी देर और करने दो.

और सुबह जब मैं उठी तो मेरा उठने का मन नहीं कर रहा था क्योंकि मैं बहुत थक गई थी. मैंने अभी वसुंधरा की ना तो ब्रा का हुक खोला था और न ही वसुंधरा की छातियों को अनावृत किया था. मैंने भी परमीत से कहा- आंह … अब चोद भी दे कुतिया … और कितना तड़पाएगी.

प्रियंका चुदासी हो गई थी, सो वो बोली- जीजा जी फिर से डालिए ना!मैं बोला- भाभी जी, मेरे लंड के ऊपर आ जाइएगा. आखिर आप लोगों की प्रतिक्रिया ही आगे लिखने की हिम्मत देगी। क्योंकि करते तो लगभग सभी हैं कोई कम कोई ज्यादा … लेकिन लिखने के लिए हिम्मत चाहिए होती है.

दीदी मेरे पास आकर मेरे लंड को सहलाने लगीं और मैं उनके मम्मों को दबाने लगा.

संजू ने मुझे पास बुलाया और बोली- आप बहुत दिन से इसकी फिराक में थे … अब आ जाइए ना.

रूम में आकर राजन को पता नहीं कैसे ख्याल आया, वो ममता के गीले कपड़े और कॉफ़ी के कप और ट्रे भी उसे दे आया. ऐसा ही मेरे साथ हुआ … मैंने भी ध्यान नहीं दिया कि सामने एक छोटा सा शीशा लगा हुआ है. बहुत सुन्दर!!! मज़ा आ गया!!! नीचे लौड़ा चूत के रस में डूब कर आनन्दमय था जबकि ऊपर मेरा मुंह बेबीरानी के पैरों को चाट चूस के मेरी आत्मा को तृप्त किये जा रहा था.

फिर हम चारों ने अपनी बकचोदी शुरू कर दी और उन लड़कियों से ध्यान हटा लिया. प्रतीक्षा ने अपनी पोजीशन मेरे लंड को मुँह में डालकर संभाली और संयोगिता ने अपने मुँह में मेरे पोते भर लिए और चूसने लगी।करीब 10 मिनट बाद मैंने संजना से कहा- संजना अब मेरे मुँह से हटो!तो संजना तुरन्त ही मेरी भावना को समझ गई और वो मेरे मुँह से हट गई. कुछ देर मेरी पीठ के साथ खेलने के बाद सुहास ने मुझे लेटा दिया और फिर हमारा फोरप्ले शुरू हो गया.

दीदी लंड का सारा माल पी गयी थी क्योंकि उसके मुँह से बाहर कुछ भी नहीं निकला था.

”इससे पहले कितने लण्ड देखे हैं?” इतना पूछते पूछते मैंने कविता को लिटाकर अपना लण्ड फिर से उसकी चूत में पेल दिया. आदी ने विक्की का लंड चूसना चालू कर दिया और मैं वहीं खड़े होकर ये सब देख रही थी. मैंने मुँह नहीं हटाया और उसकी चूत से निकलते नमकीन पानी को मैं चट कर गया.

आंटी को मैंने अपने ऊपर लिटा लिया और उनके लब मुँह में लेकर चूसने लगा. संजय ने भी नाचते हुए अपने कपड़े उतार दिए और वो भी ब्रीफ में ही रह गया. मामी की वजह से पापा दूसरे कमरे में सोते थे।कमरे में एक सिंगल बेड था जिस पर मामा और उनका बेटा सोते थे और नीचे मैं, मेरा छोटा भाई फिर मम्मी और दूसरे कोने में मामी सोते थे।कुछ दिन तक सब ऐसे ही सामान्य चलता रहा।एक रात मैं किसी वजह से सोने में लेट हो गया और जब मैं सोने वाले कमरे में पहुंचा तो देखा सब लोग सोए हुए थे.

मैंने उसको रेट बता दिया और कहा कि मैं आपको कुछ देर के बाद फोन करूंगा.

मैंने फिर से अपना लंड उसके मम्मों के बीच रख दिया और उसके मोम्मे चोदने लगा. मैंने अपना दायां हाथ भी वसुंधरा के जिस्म से हटा कर नाईटी से बाहर खींच लिया लेकिन वसुंधरा की नाईटी बदस्तूर अब भी वसुंधरा के घुटनों से जरा ऊपर ही थी.

बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी मैंने उनको सब्जी कटोरे में डाल के दी और पूछा- आपने रोटी बना ली क्या?उन्होंने मना किया- अभी बनाऊंगा।मैंने उनको बोला- यहीं खा लो, खाना बना हुआ है. रवि को मालूम ही नहीं पड़ा, रवीना ने एक स्पाई केम जो एक पेन में था, इसकी भी विडियो बना ली थी.

बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी मेरे भैया कितने लकी थे … यार ऐसी माल तो फ़िल्म की हीरोइन भी नहीं होती है, जैसी मेरी दीदी थी. मुझे देखते ही आंटी ने अपने पास बुलाया और बोलीं- अन्दर चले जाओ बेटा.

मैं अपने भैया के आगे आगे चल रही थी और इसी बीच भैया के मन में पता नहीं क्या आया कि उसने मुझे पीछे से पकड़ लिया.

सुहागरात की सेक्सी चुदाई हिंदी में

मैं धीरे धीरे से उनकी पैंटी नीचे लाने लगा और मेरे सामने उनकी शेव की हुई चूत आने लगी. मुझे डर था कहीं वो अपना मन न बदल लें।प्रीति:अलमारी पर रखे पुराने गद्दे को उसने नीचे उतारा। उसे जमीन पर बिछा दिया और मुझे गद्दे पर आने का इशारा किया। मैं पीठ के बल लेट गयी। वो मेरे ऊपर आ गया।गद्दे पर आते ही वो मेरे ऊपर टूट पड़ा. मतलब कभी मुझे पेशाब करते समय किसी लड़की या आंटी भाभी मेरे लंड की एक झलक पा लेती है, तो वो मुझसे पटने की कोशिश करने लगती है.

वो उठी और नीरज के लंड को अपनी चूचियों के बीच में लेकर रगड़ने लगी, जिससे नीरज को असीम आनन्द की अनुभूति होने लगी. वो दीवार के सहारे हाथ रख के खड़ी हो गयी और साड़ी उठाने लगी। मैंने भी उसको थोड़ा पीछे खींचा और साड़ी को कमर के ऊपर कर दी। उसने कच्छी नहीं पहन रखी थी. मैं बोला- दिन में तो बस स्क्रीन टेस्ट ही लिया है … असली शूटिंग तो रात को होगी.

मैं- कहां पर मिलोगी?वो बोली- डीबी मॉल के सामने 11:00 बजे आकर मुझे कॉल कर लेना, मैं वहीं मिलूंगी.

वो चारों अपनी गांड उछालकर चुद रही थीं, तभी मैं और जीजा जी ने अपनी जगह बदल ली और उन दोनों ने भी अपनी जगह बदल ली. ”मैं बैठ गयी।पीते पीते डॉक्टर ने पूछा- मज़ा आया सुलेमान के साथ?मैं चुप रही।शरम आ रही है बताने में?”जी अच्छा लगा. उसकी आंखों की चमक से लगा मानो वह पूछ रही हो कि क्यों जानेमन मेरे यार का लंड कैसा लगा.

मेरे दिल की धड़कन बढ़ गयी ‘राजू की माँ? लल्लन की बीवी?’फिर भी मैंने सामान्य दिखने का प्रयास करते हुए बोला- हां, बताओ क्या बात करनी है?उसने कहा- मैडम जी, मेरा लड़का पढ़ाई लिखाई में बिल्कुल ध्यान नहीं देता और पता नहीं क्या उलटी सीधी चीजें देखता सुनता रहता है. पर अगर ये डील हो गयी तो रवि को मीना को कंपनी से बेस्ट एजेंट का अवार्ड दिलाना होगा और उसे पचास हजार रूपये एक स्कीम के तहत दिलाने होंगे. तभी मैंने अपने होठों को उसके होठों से चिपका दिया जिससे कि वो चिल्ला नहीं पाए.

उम्मीद है मेरी सेक्स कहानी पढ़ कर आपने अपने लंड और औरतों ने अपनी चूत का पानी भी जम के निकाला होगा. सिल्क- आह्हः उह ऊह ऊहएई आई उई धीरे रे रे आअह्ह ऐसे करो हाँ और जोर से आह्हः!मैंने सिल्क की दोनों टांगों को और खोल दिया और ऊपर उठा के गांड के छेद से चूत तक चाटने लगा.

मैंने उसको 15000 की ऑफर दी, जिसके लिए उसने कहा कि वो रोज़ नोयडा से दिल्ली आएगी, उसका एक बेटा भी है, वो खुद भी कोई एग्जाम की तैयारी कर रही है और इतना सब इतने से पैसों में कैसे होगा. इतनी थोड़ी सी जग़ह पर! … दायीं तरफ आकर आराम से क्यों नहीं बैठती?”गन्धर्व-विवाह की ही सही … वामांगी हूँ आपकी. इसलिए मेरे पास आमिना के साथ आगे बढ़ने के सिवाय कोई दूसरा रास्ता नहीं था.

फिर भी मैंने दरवाजा अन्दर से बंद किया और एक नाईट बल्ब चालू कर दिया.

फिर एक दिन मैंने उससे उसका फ़ोन नंबर मांगा तो उसने दे दिया लेकिन मैंने उसको कॉल नहीं किया और व्हाट्स एप्प से बातें होने लगी. उसने कहा- हाँ बोल रहा था कि आप मास्टर साहब के नीचे लेटी थी नीचे से नंगी होकर. मैंने उसके पास जाकर उससे हाथ मिलाया और अंग्रेजी में उसे अपना परिचय दिया.

इन सब में सब में शाम होने को आ गयी।अब्बू के दोस्त हमें घर पर ही रुकने की जिद करने लगे. दीदी भी मेरा पूरा साथ दे रही थीं और मैं दीदी को किस करते हुए उनके एक चूचे को सहला रहा था.

झड़ने के बाद दीदी को बैठाकर अपने लंड को दीदी के मुँह में डाल दिया, वो बिना कुछ बोले ब्लो जॉब करने लगीं. अब मेरे अंडकोषों में दर्द होने लगा था, तो मैंने अलका के एक चूचुक पर जोर से च्यूंटी भरी, जिससे अलका ने एकाएक अपनी पकड़ हल्की की और मेरा लावा उसके पूरे मुँह में भर गया. दोनों इंजीनियर्स एक-दो साल के शादीशुदा थे पर अपनी बीवियों को कोई नहीं लाया था कि एक बार सेटेल हो जाएँ तब लायेंगे.

सेक्सी हिंदी मूवी देखना है

वो बोला- क्या हुआ? इतनी जल्दी झड़ गयी? अभी तो पूरा गया भी नहीं, निकाल लूँ क्या?मैंने कहा- हम्म्म.

उन्होंने मुझे अपनी दमदार बांहों में जकड़ लिया और पूरी ताकत से मुझे चोदना शुरू कर दिया. उन्होंने मुझे बताया कि तुम्हारी गांड बहुत जबरदस्त लगती है, मुझे सिर्फ तुम्हारी गांड मारनी है. वो पीछे की तरफ था तो उसे दरवाजे के बाहर नहीं दिख रहा था पर मैं मेज पर झुकी थी तो मुझे वो दिख गयी थी.

दंगल की बात पर उन दोनों ने बोल दिया था कि अभी नो सेक्स, सिर्फ रात को ही जो होना होगा सो होगा. मैंने उनके वीर्य को हाथों में लेकर देखा, तो चिकना चिकना फिसलन भरा सा लगा. हिंदी सेक्सी हॉट मूवीमैं बाहर बरामदे में छात्रों को नहीं पढ़ाना चाहती थी क्योंकि मुझे डर था कि उन दोनों में से कोई आ न जाये.

ये फ्रिज भाभी के मायके में उनके लिए किसी रिश्तेदार ने गिफ्ट किया हुआ था. उसे मालूम था कि मीना रवि को फंसा लेगी और रवीना ये मौका मीना को न देकर खुद लेना चाहती थी.

फिर क्या था … मैंने भी आंटी के फोन में पोर्न वीडियो दिखा दिए, जो उस लड़के ने भेज रखे थे. मैं तो बहुत ही ज्यादा गर्म हो चुकी थी क्योंकि उसका अंदाज़ बहुत अलग था. परन्तु प्रियंका ने मुझे लेटने को कह दिया और बोली- जैसे मैं कहूँगी, वैसे करो.

उसके बाद मैंने अपना पेटीकोट भी पहन लिया और फिर मैंने अपनी लाल रंग की साड़ी भी पहन ली. मां बोली- कहां जाने की तैयारी कर रहे हो तुम दोनों?वो बोला- आंटी, मैं जिम जा रहा हूं. ये महसूस करते ही मैं उठ गया और पास रखा खोपरे का तेल उठा कर मैंने अपने लंड पर बहुत सारा तेल लगा लिया.

हम दोनों ने नीचे रजिस्टर में अपना रिश्ता बाप और बेटी का लिखवाया हुआ था.

मैं वैसे ही नग्न बिस्तर पे आंख बंद करके लेटा था, लण्ड मेरा सर उठे खड़ा था. अलका ने मेरे लंड जो अपने हाथ से मुठियाना भी शुरू कर दिया था और मैं किसी भी समय झड़ सकता था.

मैंने आंखें बंद कर लीं और अपने दोनों उरोजों को थाम कर पूरी ताकत से दबाने लगी. आप मेरा एक काम करोगे क्या?मैंने विनम्रता के साथ कहा- कोई बात नहीं जानेमन … अभी मन नहीं है, तो फिर कभी कर लेंगे. कुछ देर बाद मैंने उनको बर्थ पर ही घोड़ी बनाया और पीछे से लंड पेल दिया.

अब उन्होंने मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए और मुझे सिर्फ अंडरवियर में छोड़ दिया. फिर सुहास ने मेरी पैंटी की डोरी भी पकड़ कर खींच दी और पैंटी भी मेरी बात न सुनते हुए नीचे गिर गयी. मुझे मजा आने लगा लेकिन तुरंत ही उसने अपने मोटे लंड का सुपारा मेरी गांड के छेद पर रख दिया.

बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी तब उसने कहा- अच्छा तुमने करण को क्यों छोड़ा था?करण का नाम सुन कर मैं थोड़ा शॉक्ड हो गई. लंड की प्यासी वो औरत मेरे सीने को चूमती हुई मेरे पेट से होती हुई नीचे मेरी पैंट तक पहुंच गई थी.

इंग्लिश टार्जन सेक्सी वीडियो

… आहाआअ … उह्ह्ह्ह्ह्ह् …कोई पांच मिनट तक चुत की रगड़ाई के बाद मैंने झटके से लंड बाहर खींच लिया. और मेरी तरफ नज़र करके बोली- छोड़ दो मनोज उसे … और पहले मेरे पास आओ।परेशान मत हो मैडम। मैं सबको बराबर सर्विस दूंगा. ये तो संजू की कमजोरी थी, वो तुरंत गर्मा गई और सिसकारियां निकालने लगी.

! गॉड … सी … ई … ई … ! स … स … स … ! आह … !”मेरे दोनों हाथों की दसों उंगलियां जैसे मक्ख़न मथ रही थी. वो बोली- मुझे अकेले डर लग रहा है … क्या मैं आपके पास सो जाऊं?मैं चड्डी में हाथ डाल कर अपने लंड को सहला रहा था, जब वो अन्दर घुसी थी. मेरे सर पर रख दो बाबा अपने यह दोनों हाथमेरी आंखों को यकीन ही नहीं हो रहा था कि मेरी आंखों के सामने ये क्या हो रहा है.

फेरी के एक केबिन में मैं अपनी बहन चित्र को अपना लंड चुसवा रहा था और मेरे सामने जीजा जी अपनी बहन आलिया से अपने लंड को चुसवाने का मजा ले रहे थे.

वो तभी एकदम से गुर्राई और गाली देते हुए कहने लगी- मादरचोद … अब चोदता क्यों नहीं है … लंड डाल न!मैंने झट से लंड के टोपे को उसकी चूत के छेद पर रख दिया और चुत की फांकों में सुपारा रगड़ने लगा. तब देखना कविता कैसे बनती है।मेरी बात समझ कर उसने एक पिक भेजी, जो पहले वाली पिक से अलग थी, ये भी बिना चेहरे की ही थी, और इस पिक में लड़की के साथ एक तीन चार साल की बच्ची भी थी।मैंने कहा- इस बार की पिक अलग लग रही है।तो उसने कहा- ये मेरी पड़ोस वाली भाभी की है.

नेहा की शादी में अब बस दो दिन बचे थे और आज रात हम दोनों उसके ही रूम में मिलने वाले थे. हम दोनों के पास पासपोर्ट तो पहले से ही थे, बस वीजा का इंतजाम करना था, जोकि एक एजेंट के माध्यम से बड़ी मुश्किल से जुगाड़ करके हो ही गया. इतना कहते हुए मैंने अलका को अपने लंड पर झुका दिया और अलका को लंड चूसने का इशारा किया.

धीरे धीरे मैंने उसकी टी-शर्ट पूरी ऊपर सरका दी और उसके पेट और जांघों को सहलाने लगा.

उसने अपनी टाँगें क्रॉस कीं और मेरा सिर बड़ी ज़ोर से अपने प्यारे प्यारे टखनों के बीच दबोच लिया. उसके दोनों हाथ खींच के उसका सर बेड के सिरहाने ला दिया और अपना लण्ड उसके मुँह में घुसेड़ दिया और वहीं उसका मुँह को चूत समझ कर चोदने लगा. रास्ते में जब मुझे ब्रेक मारने पड़ते, तो उसके चुचे मेरी पीठ से सट जाते.

kurti जुन्या साडी पासून नवीन ड्रेसमैं कल सुबह चला जाऊँगा।मैं मुस्कुराते हुए बोली- अगर किसी को पता चल गया तो?वो भी मुस्कान के साथ बोले- यहाँ कौन हैं जो हम दोनों को पहचानता है। बोलो क्या हम दोनों कुछ पल साथ बिता सकते हैं?मैंने कुछ नहीं कहा, बल्कि अपना फ़ोन निकाल कर अपने पति को फोन किया और बोली- मेरी ट्रेन छूट गई है. थोड़ी देर शांत रहने के बाद मैंने ही उससे पूछा- कैसी रही शादी?उसने मेरी तरफ देखा और कहा- क्यों तुम शादी में नहीं थे क्या? जो मुझसे पूछ रहे हो?मैंने कहा- मैं था तो … पर मेरा ध्यान कहीं और था.

हिंदी सेक्सी पिक्चर भेजो हिंदी सेक्सी

मेरी वासना मेरे सर में चढ़ कर घूम रही थी तो मैंने खुद ही अपना ब्लाउज उतार दिया. लेकिन अब उसकी फैमिली दूसरी सिटी में शिफ्ट हो गई है, इसलिए अब कोई नहीं है. मैंने घर जाते वक्त बाहर निकल कर परमीत से कहा- मैं तेरे साथ नहीं जा रही हूँ, तू अकेले ही जाना.

फिर संदीप ने तंग आकर कहा- तुम्हें भी गीत वाला प्रसाद चाहिए क्या, मैं अभी भी थका नहीं हूँ?अब मनु की बोलती थोड़ी बंद हुई. बाथटब में मीना ने शावर खोला … पहले कुणाल आया और आते ही मीना को चिपटा लिया. उन्हीं अहसासों में खोये रहकर उसकी बताई थीम के आधार पर कविता लिख भेजी.

मैंने पहली कविता उदासी वाली भेजी, जिस पर उसका काफी अच्छा रेस्पोंस आया. मैं- और तुम क्या करती हो?अलीना- ज्यादा खास नहीं मेरे पति एक कंपनी में मैनेजर हैं. जैसे जैसे उसकी उंगली की स्पीड बढ़ती गयी मीना के होंठों का दबाव कुणाल के होंठों पर बढ़ता गया.

मैं उस समय ब्रीफ के ऊपर से उनकी लंबाई तो नहीं जान पाई, पर लगता था कि रजत का लंड लंबाई में हसन के लंड से कम है. लड़की- क्यों?लड़का- मैं बताता हूँ तुम्हारे पास क्या है लड़के को देने के लिए.

भैया ने तुरंत ही अपना टिकट ऑनलाइन बुक किया और कुछ देर में वापस आने की कह कर घर से चले गए.

मैं बस उनकी चुत तक पहुंचने ही वाला था कि तभी अचानक स्वीटी आंटी उठीं और बोलीं- मुझे एक जरूरी कॉल करना है, मैं अभी आती हूं. सेक्सी पंजाबी वीडियो एचडीकॉफ़ी के दौरान मीना ने रवि से बिजनेस दिलवाने में सपोर्ट देने को कहा और कहते कहते उसने रवि का हाथ अपने हाथों में ले लिया और बड़े अंदाज से बोली- सर, आपको बिजनेस भी मिलेगा और मुझसे कोई शिकायत भी नहीं होगी. जंगली जानवरों का सेक्स दिखाएंउसने थोड़ी ऊंची हिल वाली सैंडल पहनी … और सुर्ख लाल लिपस्टिक लगा कर कहर ढाने के लिए तैयार हो गई. इसकी पहली मंजिल पर एक परिवार रहता था, जो पांच लोगों का औसत सा परिवार था.

दोस्तो … यह बात सुनकर मेरा लंड पैंट में खड़ा हो गया और मैंने उनको अपने पास खींच लिया.

मुझे सेक्स करने की इच्छा कम उम्र में होने लगी थी।तब मेरे कॉलेज का एक दोस्त मुझे बहुत प्यार करता था. राज! आज की रात मुझे ऐसे प्यार करो कि आप का अंश मेरी कोख में पैर पसार ले. हम लोगों ने तुरंत अपने कपड़े ठीक करने शुरू कर दिये और दुरुस्त होकर वहां से चल दिये.

फिर उसने धमाधम धमाधम गांड उछाल उछाल के जो धक्के लगाये हैं तो यारों क्या कहना !!!तभी एक ज़ोर की सीत्कार भरते हुए गुड्डी बेबी रानी के मुंह पर चढ़ बैठी- बहनचोद जीभ से चोद मेरी चूत … चूस चूस के जान निचोड़ दे मेरी. मैं अपनी सीट पर जा कर बैठा, चूंकि ठंड बहुत थी तो मैं कम्बल ओढ़ कर आंखें बंद करके सो गया. वो आकर मुझसे पूछने लगी- मैं कैसी लग रही हूँ?पहले मैं उसे एकटक देखता रहा.

सेक्सी वीडियो स्कूल सेक्सी

मैं प्यार से बोला- बोलिए मैडम क्या काम था … कहीं चलना है क्या?वो बोली- अभी नहीं … बैठो मैं चाय लेकर आती हूं. कुछ देर उसकी मक्खन पीठ पर हाथ फेरने के बाद मैंने मैम से कहा कि आपकी ब्रा थोड़ी दिक्कत कर रही है. पर रवीना एक्साइटिड थी, बोली- मेरी चिंता मत कीजिये, मैं पंद्रह मिनट में आपके होटल पहुँच रही हूँ.

वो भी मेरे सिर को पकड़ कर मेरे मुंह को अपने झाँटों के गुच्छे के नीचे लंड की जड़ में लटक रहे अपने आण्डों में दबाने लगा.

चाची आहें भर रही थी- आ … आ … ई!इस तरह से मैं किस करते हुए चाची की नंगी जांघों तक पहुँच गया.

अब आगे:हम दोनों ऐसे ही बैठे थे, तब आदी बोला- दीदी, वो भैया कौन थे?अब मेरे होश उड़ने की बारी थी. नताशा- कैसा प्यार?मैंने नताशा को अपनी ओर घुमाया और उसके होंठों को चूमने लगा. खुदा गवाह पिक्चरमेरे दोनों हाथों में ही बर्तन थे, तो मैं समझ नहीं पा रही थी कि पल्लू ठीक कैसे करूं.

मैंने दोनों का खाना लगाया और हम दोनों ही टीवी देखते हुए खाना खाने लगे थे. वो बोली- घर पर तो दीदी है, वहां कैसे होगा?मैं बोला- तुम बहाना मार कर मेरे रूम में आ जाना. स्वीटी आंटी की कोई प्रतिक्रिया न देखते हुए मैंने उनकी जांघ को आहिस्ता आहिस्ता रगड़ना शुरू कर दिया.

मैंने अभी मुश्किल से 4-5 फोटो ही खींचे थे कि मेरे मोबाईल पर मेरे आफिस से बॉस का फोन आ गया. शरीर में एक स्फूर्ति सी महसूस हुई और मेरे लण्ड का आकार भी बदलने लगा जिसे सिल्क ने तुरंत महसूस कर लिया.

वैसे हमें ऐसी छेड़खानियां कम ही झेलनी पड़ती थीं, क्योंकि हमसे और बड़ी लड़कियां, जो हमारे ही स्कूल की होती थीं, उनके साथ छेड़खानी ज्यादा होती थी.

तभी पीछे से किसी ने मेरे बालों को सहलाया, तो मैंने नजर घुमाई और रजत को पीछे खड़े पाया. हॉल के बीचों बीच एक मेज को लगाया गया था, जिस पर खूबसूरत तीन लेयर वाला खूबसूरत सा केक रखा था. जब मीना पूरी चुदासी हो गयी तो वो खड़ी हुई और कुणाल का हाथ पकड़ कर बेड की ओर जाने लगी.

रेखा की नंगी फोटो मैं नाइटी के ऊपर से ही चाची की ब्रा का स्ट्रिप ढूंढ रहा था, पर मुझे कुछ मिला ही नहीं … शायद चाची ने ब्रा नहीं पहनी थी. वैसलीन की चिकनाई और लगातार अन्दर बाहर करने से अब गांड में दोनों उंगलियां जाने लगीं.

उसकी चूत से इतना पानी निकला था कि संजू की चूत के आसपास, उसकी गांड तक पूरा पानी पानी हो गया था. चोली हटते ही उसकी ब्रा में कैद उसके दोनों मम्मे मेरी निगाहों से खेलने लगे. अविनाश- राज तू क्या बोल रहा है?मैं- लेकिन उसके बाद हम आप चारों के साथ फाईव सम करेंगे.

हिंदी में कहानी सेक्सी

उसको बिना ये जताये कि मैं उसकी तरफ ध्यान दे रहा हूं, मैंने बाइसेप्स पुलिंग एक्सरसाइज़ शुरू कर दी. हां जीवन में मैंने बहुत सारी लड़कियों के लबों को महसूस किया है, पर इस बार जो अहसास मेरे अंतर्मन को हुआ, वो सच में अवर्णनीय है. हमारे बीच बातें चल रही थीं और मेरा हाथ धीरे धीरे उसकी चुत की तरफ बढ़ रहा था.

मैं दर्द से तड़प कर रजत के ऊपर झुकी हुई थी, जिससे मेरी गांड और छेद एकदम स्पष्ट होकर संजय को आमंत्रित कर रहे थे. तो मैंने पूल में नहाना उचित नहीं समझा और मैं वहीं के वहीं रुक गया।मैं कमरे में लौट रहा था तभी उस केअर टेकर ने मुझे आवाज़ देकर बुलाया.

मीना भी पक्की थी … खेली खायी थी … बोली ये बिजनेस तो कंपनी को मिलेगा, मुझे तो कुछ और चाहिए.

मैं लंबे लंबे झटके मारते हुए नताशा को पेल रहा था और वो कामुक आवाजें कर रही थी. तो ममता ने बात संभाल ली कि रात को बारिश काफी तेज थी तो मैंने मेनेजर साहब को कॉफ़ी बना कर दी थी. और फिर मैंने ब्रा पकड़ कर एक झटका मारा तो ब्रा का हुक टूट गया और आंटी की चूचियां पूरी नंगी हो गयी.

मिताली के मुँह से जोर से आवाज़ आई- ऊ … माँ मार डाला कमीन ने … आआअह्ह्ह … अब रुकना मत … तार तार कर दो आज मेरी चूत को फाड़ कर … क्या जबरदस्त लौड़ा है … आह कर अन्दर बाहर … चोदता रहा … और मेरी चूचियों को भी खूब दबा और चूस. हमने बीयर पीने का प्लान किया और सोचा कि शायद बीयर पीने के बाद ही कुछ दिमाग में आये. मैंने पूछा- तेरे इतने अमीर दोस्त कहाँ से बन गए जो इतने आलीशान होटल में पार्टी करते हैं?तन्वी मुस्कुरा के बोली- दोस्ती करने के लिए बेधड़क बनना पड़ता है, शर्माने से दोस्त नहीं बनते, और दोस्त तो हमेशा काम ही आते हैं।मैंने कहा- ठीक है.

ये महसूस करते ही मैं उठ गया और पास रखा खोपरे का तेल उठा कर मैंने अपने लंड पर बहुत सारा तेल लगा लिया.

बीएफ मूवी देसी बीएफ मूवी: अन्तर्वासना पर सभी को मेरा नमस्कार; समस्त भाभियों व कमसिन कन्याओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार!दोस्तो, कैसे हो आप सब?मैं नवनीत अजमेर से आप सभी पाठक पाठिकाओ का स्वागत करता हूं। मेरी उम्र 20 साल है लन्ड 6 इंच लम्बा व 2. उसके बाद सुहास ने मुझे बेड पर चित्त कर दिया और हमारा फोरप्ले शुरू हो गया.

उसकी सोच यह थी कि डिनर से पहले ड्रिंक्स वगेरा रूम में हों और वहीं पार्टी को वो अपने लटके झटके दिखा दे, बस इससे ज्यादा कुछ नहीं. मैं- आलिया आज रात का क्या सरप्राइज प्लान है?आलिया- ओह … अब समझ आया कि इतनी सेवा इसके लिए है. मैंने नीचे से एक जोरदार धक्का दिया, जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया.

वे चुत चोदने में माहिर खिलाड़ी हैं … वरना उनके लंड की फोरस्किन इतनी पीछे कैसे हो गई थी.

हालांकि प्रिविलेज कुणाल का था, पर रवि को भी बहती गंगा में हाथ धोने का मौका मिल रहा था. इधर अब नीलू ने मुझे किस करना शुरू कर दिया तो मैंने उसे लेकर दीवार से सटा कर उसकी एक टांग हवा में उठा दी और लंड चूत में डाल कर चोदना शुरू कर दिया. कामों के दौरान पति से बातें भी हुईं और चूत कुछ ज्यादा ही गीली भी हो गई.