हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ फैशन

तस्वीर का शीर्षक ,

बासौदा मौसम: हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ, उन्होंने देखा था, जब उनके कस्बे के चारों साथी लोग रात को खाना खाने आते हैं, वो सब उसकी बीवी यानि मेरे बड़े स्तन और चिकने शरीर को हसरत भरी निगाह से देखते हैं.

सेक्सी बीएफ 12 साल की लड़की के साथ

हाफ गर्लफ्रेंड का अनुभव ही मिला मुझे … मेरी कोई गर्लफ्रेंड ऐसी नहीं रही जिसके साथ मैं सेक्स कर पाया. बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी वीडियो बीएफफिर मैंने डिल्डो नेहा के मुँह से निकाला और नेहा को बिस्तर पर धक्का देकर लेटा दिया.

उसकी हाफ पैंट बहुत ज्यादा ही टाइट थी और उसके बदन पर बिल्कुल चिपकी हुई थी. हिंदी सेक्सी पोर्न बीएफशिवानी ने हाथ हिला कर इशारा किया- ठीक है, जल्दी से उसे चोद कर मेरे रूम में आ जाना.

आखिर वो काफी बड़े ओहदे पे थे, मेरे साथ कोई छेड़खानी करना उनकी नौकरी को खतरे में डाल सकता था।मैं फिर कुछ ही देर में सोने का नाटक करने लगी.हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ: तभी हैरी ने मुस्कुराते हुए मुझे पलट दिया और मुझे घोड़ी बनाकर झट से लंड मेरी चूत में पेल दिया.

मैं भी सुबह से रायपुर पहुंच गया और संजना की ट्रेन के आने का इन्तजार करने लगा.आखिर वो दिन भी आ गया जब वो चंडीगढ़ आने वाले थे, मैं पहले ही चंडीगढ़ पहुँच चुका था.

करने वाले बीएफ - हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ

खैर दोपहर के 2 बज चुके थे तो रिया ने सबको इकट्ठा किया और बोली- चलो अब सब घर चलते हैं.मैं गले में पट्टा, जिस पर रस्सी बंधी होती, पहनकर, सिर्फ ब्रा पैंटी में आंख पर पट्टी बांधकर, घुटने के बल एक तकिये पर खड़ी चौधरी जी के आने का इंतजार करती.

इसलिए अब मैंने उसकी पैंटी को एक साइड से थोड़ा सा सरकाया और उसकी नंगी चूत में अपनी जीभ रख दी. हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ वो सकुचाती हुई अपनी जगह से थोड़ा सा ऊपर उठी और मेरे करीब लग कर बैठ गयी.

अब मैं उससे पूछने लगी- तुम्हारी सेक्स लाइफ कैसी चल रही है?वो बोली- रोहित को तो हर रोज सेक्स चाहिए.

हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ?

रोहित यह देखकर बोला- अब मुझे समझ में आया कि दरवाजा खोलने में इतनी देर क्यों लग रही थी. मैं जब अपनी चूत को तौलिया से रगड़ रही थी तो मुझे बेहद सनसनी हो रही थी तो मैं अपना एक पैर कमोड के ऊपर रख कर चूत घिसने सी लगी. लेकिन मुझ पर वासना का भूत सवार हो चुका था, मैं रुका ही नहीं और उसी पोजिशन में उनकी चूत का भोसड़ा बनाने लगा.

Www Xxx Hindi Chudai कहानी मेरी बीवी की कामवासना की है जो कभी शांत नहीं होती. उसके बाद मैंने उसे घोड़ी बना दिया और अपने लंड पर बहुत सारा थूक लगा दिया. अब आगे Xxx डिजायर कहानी:सब खाना खाकर आलस्य में आ चुके थे और धीरे धीरे देखते ही देखते सब अपनी अपनी सीट पर सो गए।मैं सुबह एक नींद ले चुकी थी.

इस धुंआधार चुदाई के बाद हम दोनों ही थक चुके थे और काफी देर तक बिस्तर पर लेटे रहे. उसने फिर से ठेल मारी और मेरे मुँह से तेज आवाज निकली- आई मम्मी मर गई … आह छोड़ो मुझे … आई मम्मी अअह क्या कर रहे हो!उसे मेरी बात याद थी. उसने धीरे धीरे मेरे लंड को हाथ से सहलाया और अपने मुँह में लेना शुरू कर दिया.

’‘क्यों?’‘कहीं, कुछ हो गया तो?’‘क्या होगा?’प्रिया झिझक से बोली- बच्चा. जिससे हम दोनों की वासना जोर पकड़ने लगी थी और हम दोनों में वासना इस तरह से जाग गई थी कि अब बस एक लंड मिल जाता, तो मजा ही आ जाता.

दोस्तो, मैं राजू आपको अपनी पिछली सेक्स कहानी से आगे की कहानी में एक बार फिर से स्वागत करता हूँ.

Xxx गर्ल फक स्टोरी में पढ़ें कि मेरी गर्लफ्रेंड को चुदाई की बहुत प्यास थी। एक बार रात को मैं उसे चोदने उसके घर गया तो देखा कि वो अपने अंकल की गोद में बैठी हुई थी।सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार!मेरा नाम आकाश है।मेरी पिछली कहानी थी:सहेली ने अपने बॉयफ्रेंड से मुझे चुदवा दियाअब इस Xxx गर्ल फक स्टोरी का मजा लें.

ये कह कर बाबा चला गया और अम्मी तब से और ज्यादा टेंशन में रहने लगीं. मैं अभी इतना सोच ही रहा था कि उन्होंने अपना हाथ मेरी जांघों पर रख दिया और सहलाने लगीं. उसकी आवाजें इतनी तेज आ रही थीं जिससे साफ समझ आ रहा था कि भाभी घर में अकेली है.

तभी उस लड़की ने नर्स के कान में कुछ कहा और वो लड़की खुद बाहर निकल गईं. दोस्तो, जब तक मेरी शादी नहीं हुई थी तब तक उन तीनों ने ही मेरी प्यास बुझाई थी. मेरी हॉट गर्लफ्रेंड पोर्न बातें कर रही थी- मेरी चूत के राजकुमार अब मुझे और मत तड़पाओ … डाल दो अपना लंड अन्दर.

साथ ही उसके मुँह से मुँह लगाने वाला ही था कि साली की जोर से आवाज आ गई ‘उई मम्मी मर गयी.

चाय पीते हुए मैं बोली- पतिदेव अब आपकी दो दो बीवियां हैं, आमदनी बढ़ानी पड़ेगी. आंटी हमेशा सलवार सूट ही पहनती थीं लेकिन जब कभी साड़ी पहनती थीं तो एकदम गहरे गले का ब्लाउज पहनती थीं. उस वक्त मुझे ऑफिस के लिए देरी हो रही थी, तो मैंने तुरन्त आंटी के हाथ से रूपए लिए और उनको बाय बोल कर ऑफिस के लिए निकल गया.

इसी बीच उन दोनों के मम्मी पापा ने तय किया कि उन्हें आगे की पढ़ाई के लिए शहर भेजेंगे. लंड हाथ में लेते ही वो बोली- साले तेरा तो बहुत बड़ा है!मैंने कहा- हां और इसमें कांटे भी लगे हैं. आप लोगों ने मेरी पहली चुदाई की कहानीमेरी मम्मी की चुदाई सहकर्मी अध्यापक के साथपढ़ी थी.

मैंने उसकी ओर देखा और बोला- प्रॉमिस करो कि जो मुझे चाहिए, वो तुम दोगी.

मैं उसको ले आया लेकिन उसकी तबियत खराब थी, तो कुछ बात ज्यादा नहीं हुई. मुझे उन दोनों से चुदने के लिए हिम्मत चाहिए थी जो दारू से मिल सकती थी.

हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ मैंने कहा- ठीक है, तो फिर चूस ले मेरे लौड़े को … और कर दे इसे चिकना. वे अपनी पत्नी को और उसे दो या इससे भी ज्यादा लंडों का मज़ा अपनी पत्नी को देते हैं.

हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ ये सुन कर भाभी बोलीं- अरे यार, अभी तो लड़का जवान हुआ था और तुरंत ही उसका लंड काट दिया. खेल खेलते हुए मैं उसे बार बार नंगे बदन से छू रहा था या उन्हें आपस में रगड़ रहा था.

अब मुझे समझ आया कि चौधरी जी की दूसरी बीवी क्यों गांड मराने की शुरुआत होते ही भाग गयी थी.

बीएफ एचडी एक्स एक्स एक्स बीएफ

मेरी समझ में यही आया कि शादी से पहले ये एक बार भी नहीं चुदी होगी; उसका कोई बॉयफ्रेंड भी नहीं रहा होगा. उसने मेरे होंठों को अपने होंठों से दबा लिया और हमारी किस दो मिनट तक चलती रही. अभी मैं कुछ कोशिश करता, उससे पहले ही उसने खुद अपने कपड़े खोलने शुरू कर दिए और आधा मिनट से भी कम समय में वो खुद से पूरी नंगी हो गई.

उस वक्त आसिफा ने कुछ नहीं कहा था, बस उसके होंठों पर एक हल्की सी मुस्कान तैर गई थी. करीब 2 बजे मेरी आंख खुली तो मैं नंगा ही भाभी के बिस्तर पर था और मेरे ऊपर एक पतली चादर थी. फिर नेहा बोली- विकास, आज मैं तुमसे खुलकर बातें करना चाहता चाहती हूं … क्या तुम्हें कोई दिक्कत है?विकास उसके हाथों को मसलते हुए बोला- नेहा, हमारे बीच कुछ भी शर्म की दीवारें नहीं है.

ये दोस्त Xxx राज़ मेरे और सुलेमान के बीच हमेशा हमेशा के लिए बना हुआ है.

प्रिया- ये बात हम दोनों के अलावा कभी किसी को पता नहीं चलनी चाहिए … न आप किसी को बताएंगे और न ही मैं!मैं- मुझे मंजूर है. उसने नाइटी पहनी हुई थी तो मैंने वो खींच कर उतार दी, फिर उसकी पेंटी भी उतार कर फेंक दी. तुम्हें छूने से पहले तक मुझे भी नहीं पता था!” मैंने एक और चुम्बन के साथ उसे जवाब दिया।मैं रोशनी को कसकर किस करने लगी.

फिर मेरी जान भी वहीं थी, तो सोचा एक आध बार बैटिंग भी हो जाएगी और इस बार रंजीता की पिच पर बारिश भी नहीं थी. मोहित ने रिया की तरफ देखकर कहा- साली रंडी किस करने को नहीं कह सकती थी. उसकी कमर को पकड़ कर थोड़ा ऊपर को उठाया और टांग को फैला कर दोबारा से उंगलियां उसकी चूत में डाल दीं.

इसी चूमाचाटी में हम दोनों की वासना भड़कने लगी और सेक्स का सैलाब आने लगा. पहले मैंने उसको जोर से होंठों पर किस किया और हल्के से नीचे से उसकी चूत में धक्का दे मारा.

लेकिन ऐसा करने की बजाए पहले फहीमा सामने बैठी और मेरे लौड़े को चूसने लगी. मैं धीरे धीरे उसकी पीठ को चूमता हुआ उसकी गांड की दरार के पास पहुंचा. अब आगे हाउस मेड पोर्न कहानी:पहली रात के बाद सुबह जब मेरी नींद खुली, तो घड़ी में दस बज चुके थे.

अम्मी भी मादक आवाजों में सीत्कार भर रही थीं- आआह … बाबा जी … और तेज चोदो … आआह और जोर से पेलो!बाबा भी भोसड़ी का इस वक्त किसी पहलवान की तरह मेरी अम्मी की चूत में लंड टिका कर दंड पेलता हुआ उन्हें जम कर चोद रहा था.

दुबारा चार बार की चुदाई में मैं इतनी ज्यादा थकी हुई थी कि मैं पूरे रास्ते सोकर ही आ गई. मम्मी की चूचियों के निप्पल्स एकदम टाइट हो गए थे और किसी कड़क अंगूर की तरह रसभरे दिख रहे थे. दोस्तो, मेरी हमेशा से कोशिश रहती है कि आप लोगों तक एक सच्ची और मजेदार सेक्स कहानी लेकर आऊं, जिसे आप लोग मजे लेकर पढ़ें और अपनी भागदौड़ भरी जिन्दगी में कुछ पल के लिए सेक्स कहानी का भरपूर मजा लें.

फिर उसने मेरी टांगें हवा में उठा दीं और फैला कर खुद बिस्तर से नीचे खड़ा होकर मेरी चुदाई करने लगा. मैं अभी चंडीगढ़ में रहता हूं लेकिन ऑफिस दिल्ली होने की वजह से मेरी कंपनी ने मुझे दिल्ली में एक फ्लैट दे रखा था.

पापा ने उस जगह पर हाथ फेरते हुए अपनी जीभ को दोनों चूची के बीच की नाली में लगा दिया. क्योंकि मैंने पहले भी उसे एक अच्छा सुझाव दिया था तो उसने थोड़ा सोचकर सहमति दे दी. उसकी चूत हल्की गीली हो गयी थी और उस सेक्सी लड़की का रस मेरी उंगली में भी थोड़ा लग गया था.

सेक्स बीएफ बिहारी बीएफ

मेरी चूत में सैलाब आने की फिर से तैयारी हो गई थी, मैं फिर से झड़ने को थी.

एक मिनट बाद उसने आंखें खोलीं और अम्मी से बोला- तेरा घर भोग मांग रहा है. पर संजय तो एक लड़का है, उसमें तुम लोगों को बीवी कैसे दिखती है?सुनील- आप एक बार संजय को लड़की के भेष में देखेंगे तो आप भी उससे शादी करने की जिद करने लगेंगे. ”दीपक की मुझे जी भर चोदने को लालसा सुन मैं अपना आपा खोती जा रही थी.

इसी पल का तो इंतजार मैं कर रहा था, वो मेरी गोद में आधी नंगी हालात में बैठी थी. एक दिन हमारी पड़ोसन रेशमा आंटी हमारे घर आईं और अम्मी से बोलीं- बहुत दिन हो गए यास्मीन, तू बाहर आती ही नहीं है और दिखाई भी नहीं देती. सेक्सी सेक्स सेक्सी बीएफअन्दर अरुणिमा खड़ी थी और दो लौंडे उसकी चूत और गांड एक साथ मार रहे थे.

बाबा बोला- ठीक है, नहीं कर सकती है, तो तेरी परेशानी कभी दूर नहीं होगी. वो मेरा हाथ अपनी चूत पर रखवा कर चूत रगड़वाने लगी और मैं भाभी की चूत में उंगली अन्दर बाहर करने लगा.

अम्मी की उम्र 41 साल लेकिन उन्होंने अपने फिगर को काफी मेंटेन कर रखा है, जिस वजह से वो 32 साल की मादक माल लगती हैं. मैं चाहता था कि प्रिया किसी तरह से पलंग से उठकर खड़ी हो जाए ताकि मुझे उसके बदन के दीदार करने को मिल सके. फिर मैंने उससे पूछा- पहले कभी ऐसा किया था?वो बोला कि नहीं, ऐसा पहले कभी नहीं किया था.

मैंने अरुणिमा को घूरा, तो उसने कहा- ये लोग विश्वेश्वर जी के ख़ास लोग हैं, उन्होंने भेजा है. अगले दिन फिर से मैंने गुड मॉर्निंग का मैसेज भेजा, दिल वाली, किस वाली इमोजी के साथ. चौधरी जी ने अपने लंड पर तेल लगाकर मेरी गांड में पूरा डाल दिया और मेरे ऊपर लेट गए.

मैंने कहा- अरे तो किसी पब्लिक प्लेस में मिल लो, वहां तो चाह के भी कुछ नहीं होगा!मेरे 2-3 बार कहने पर वो मान गयी और पैसिफिक मॉल में हमारा मिलना तय हुआ.

अभी भी सवालों और दिमाग़ी ख्यालों में खोया हुआ था कि ये मामी का हृदय परिवर्तन क्यों हो गया है. लगभग दो घंटे बाद मेरी भी नींद खुली तो देखा कि अरुणिमा किचन की तरफ जा रही थी.

कुछ देर बाद मैंने सोनल की चूचियों में अपना मुँह डाला और उसके दूध चूसने लगा. एक अनाड़ी परवाना सेक्स की आग में जल जाने को बेताब था और एक खिलाड़ी हुस्न की शमां उसको जलाने के पहले उससे खेल रही थी. मैंने दिखावटी शर्म जताते हुए उसे जल्दी बाथरूम से बाहर निकाला और गेट लगा दिया.

उसने मुझे नंगा देखा तो हंसती हुई बोली- क्या साहब आप भी मुझे चोदने आए हैं क्या?उसकी आंखों में अजीब सी उत्तेजना देख मैं भी मुस्कुरा दिया और उसने मेरा लंड पकड़ कर अपने मुँह में भर लिया. उसकी चूत से टपक रहे पानी के बीच में जोर जोर से उसकी चूत को चूसने लगा. अब भाभी लंड पर उछलने लगीं और उसकी गांड की थप थप की आवाज बाथरूम में गूंजने लगी.

हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ मैं कविता के चेहरे को देखकर उसकी आंखों में आंख डालकर बोला- कितनी जोर से करूं?‘जितनी आपकी इच्छा करे. मैंने संजना की साड़ी को खोल दिया और संजना का पेटीकोट और ब्लाउज भी खोल दिया.

आमिर बीएफ

हाथ खुलते ही उसने मेरा हाथ थामने की कोशिश की पर मैं नहीं रुकने वाला था. मैंने किसी की परवाह न करते हुए संजना से कहा- ठीक है जान, आज से तुम मेरी बीवी हो. ये सब उनका वहम है क्योंकि अपनी पत्नी को किसी दूसरे से चुदवा देना, अपनी पत्नी के लिए एक आत्मसमर्पण है और अपनी पत्नी के प्रति प्यार है.

मैंने कहा- शादी तो ठीक है, लेकिन यहां सोसायटी में शक होगा, इसलिए हमें कहीं और रहना पड़ेगा. दो बार चोदने में मेरी हालत खराब हो गई और उसके बाद हम दोनों ही सो गए. बॉलीवुड के बीएफइस दरम्यान कब मेरा हाथ उनकी कमर पर गया या शायद उन्होंने मेरा हाथ खींच कर अपनी कमर पर रखा.

इधर मेरा लंड उसके चूतड़ों के बीच में घुसा हुआ था और मैं अपनी कमर हिलाते हुए लंड को गांड की दरार के बीच रगड़ने लगा.

आप ये भाभी सिस्टर सेक्स कहानी एक हिंदी चुदाई की कहानी की सबसे अच्छी वेबसाइट पर पढ़ रहे हैं. कुछ वक़्त बाद मुझे ऐसा लगा कि सुलू की नजरें शायद मुझे ही ढूंढ रही हैं.

मगर उसके लिए जो मैंने सोचा था वो पूरा होना चाहिए और मेरा तीर अपने निशाने पर लगना चाहिये था. शरीर के अंदरूनी भाग दाग देखने की बात से मेरे अन्दर तो मानो खुशी की लहर आ गई. मैंने भाभी को उतार दिया और रोटी बना रही बुआ के मुँह में लौड़ा घुसा दिया.

फिर उस दिन से मैंने गौर किया कि वो दिन में भी फोन पर काफी समय तक अकेले में बातें करती थी.

[emailprotected]बैड सेक्स रिलेशन कहानी का अगला भाग:भतीजी के घर में घमासान- 3. वो दोनों खुद चाहते थे कि काश एक बार तो ज़िन्दगी में हम ऐसा मज़ा रियल में ले पायें!ऐसे ही कभी कॉल और कभी वटस्ऐप पर बातें करते करते करीब एक महीना और निकल गया. मैंने एक गोली पानी में मिक्स करके मॉम को बोतल में भर लिया और बोतल मॉम को दे दी.

बीएफ सेक्सी हिंदी बढ़िया वालामुझसे मिलने की जल्दी में चाची ने अपने पेटीकोट को अपने मम्मों के ऊपर तक बांध कर रखा था. आपको ये हॉट बहन की सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ कमेंट करके जरूर बताना.

किन्नर वाला सेक्सी बीएफ

[emailprotected]Xxx लेडी सेक्स कहानी का अगला भाग:विधवा मकान मालकिन के साथ होटल में हनीमून- 2. मैं दिखने में 26 साल का हृष्ट पुष्ट कसरती पहलवान सा लगता हूँ, पर अभी मैं चिकना लौंडा सा ही लगता हूँ. अब मेरी बारी तुम्हें मज़ा देने की!और यह कहते हुए वो मेरी छाती चूमने लगी और अपनी जीभ को मेरे निप्पलों पर गोल गोल घुमाने लगी.

मैं झड़ चुका था तो शर्मिंदगी छुपाने के लिए मैंने टाइम पास करने का बहाना खोजा. इसके बाद मैंने प्रिया से वो बात बोली जो मैं उसके साथ करना चाहता था. ज्यादा लोगों ने तो नहीं देखा मगर मोहित और रिया ने नेहा को मेरे बूब्स दबाते हुए देख लिया.

वो दर्द में चिल्लाने लगी, लेकिन मैंने चुदाई की रफ़्तार और तेज कर दी. इतना कह कर उन्होंने अरुणिमा को गोद में उठाया और सामने वाले कमरे की तरफ चल दिए. कविता मेरी तरफ देख रही थी और नितिन उसकी जांघ सहलाने में लगा हुआ था.

मैं कभी नीचे होकर उसकी नाभि को चूम रहा था तो कभी ऊपर आ कर उसकी गर्दन को. मेरे अनुभवी लंड ने अलफिया की चूत की ओपनिंग कर दी और उस दिन मैंने उसे दो बार चोद कर फ्री कर दिया.

मदन जी ने मेरा चेहरा हाथ में लेकर कहा- सजनी, तुम बहुत सुन्दर लग रही हो.

तभी मुझे एक आइडिया आया, जो मैं आपको भी बताऊंगा, जिससे आप भी अपनी मॉम लो चोदने का मज़ा ले सकेंगे. देहाती बीएफ गाने वालीवापस आने के बाद उसके गांड के छेद में इंफेक्शन हो गया, जिसकी दवाई मैंने उसे लाकर दी. देसी बीएफ साड़ी वाली सेक्सीचौधरी जी बोले- सजनी जब बाहर निकलेगी तो उसका परिचय पहचान कर लोग पूछेंगे. मैं पूरी टूट चुकी थी क्योंकि आज से पहले मैंने कभी इतना दर्द नहीं सहा था.

लेकिन हम दोनों काफी थकी हुई थीं, तो हमने ज्यादा कुछ नहीं किया और जाकर सो गईं.

मैंने अपनी आवाज में नर्मी ला कर कहा- शाम को कितने बजे तक अरुणिमा को पहुंचवा देंगे आप?विश्वेश्वर जी बोले- क्या बात है, बड़ी चिंता हो रही है. मैंने उसे स्लो स्पीड पर चालू कर दिया और खुद आगे से भाभी की चूत चाटने लगा. तो हम दोनों ने क्या किया?दोस्तो, आपने मेरी सेक्स कहानी के पहले भागमेरे पति ने अफ्रीकन नीग्रो से चुदवायामें मेरी बीवी सीमा की एक नीग्रो से चुदाई की कहानी पढ़ी थी.

आखिर तड़प कर फहीमा बोली- प्लीज समीर, मेरी चूत की आग बुझाओ, मेरी चूत में आग लगी है … मैं पागल हो जाऊंगी. मैंने कहा- यार अनुष्का, तूने मुझे अंकुश से चुदवाने का प्लान पहले ही बना लिया था क्या?अनुष्का ने कहा- हां हबीबा, अंकुश का तेरी चूत का पानी पीने का बहुत मन था इसलिए हमने पहले ही सोच लिया था कि तेरी चूत को कैसे न कैसे चोदेंगे ही. फिर मैंने देखा कि मामी रसोई में अकेली काम कर रही हैं तो मैं पीछे से गया और उनकी गर्दन पर किस कर दिया.

ओके बीएफ वीडियो

फिर उसने एक दिन अपने भाई से विकास से सीधे पूछ लिया- विकास में तुमसे कुछ पूछूंगी तो तुम बुरा तो नहीं मानोगे, बोलो?नेहा, तुम क्या कहना चाहती हो … और मैं भला तुम्हारी किसी भी बात का बुरा कैसे मान सकता हूं. मैं कविता को बेइंतहा चूमने लगा औऱ कविता भी आज पहली बार अपने पूरे जोश में दिख रही थी. उसकी कोमल गांड का स्पर्श पाते ही मैं खुश हो गया, अब उसके स्तन ठीक मेरी आंखों के सामने थे.

मेरी इस बात सब लड़के और लड़कियां भी मेरी तरह आश्चर्य पूर्वक देखने लगे.

कुछ देर बाद मैंने अपना पूरा मुँह उसकी पैंटी के ऊपर से ही गांड की दरार में घुसा दिया और उसकी पैंटी में लुकलुकाती गांड को चूमने लगा.

मोहित ने रिया की तरफ देखकर कहा- साली रंडी किस करने को नहीं कह सकती थी. चुदाई ज्यों ज्यों आगे बढ़ रही थी, नेहा का दर्द अब आनन्द में बदलने लगा था. डॉग और लड़की का बीएफअब तक मेरी पेशाब संजना की चूत से होते हुए बहने लगी और मूत की गर्माहट से उसको भी अद्भुत सुख मिलने लगा.

भाभी धीरे से बोलीं- पहले गोली खा ले, नहीं तो मुझे आधे रास्ते अकेला छोड़ देगा. भैया विदेश चले गए थे और मैं उन्हें जब तब मौका पाते ही चोदने लगा था. एक हाथ उसके मोटे जांघ पर फिराता हुआ उसकी आंखों में देखते हुए बोला- कसम से तुम बेहद खूबसूरत लड़की हो प्रिया.

अब अमित की झांटें मेरी नाक के नथुनों में लगने लगीं, मुझे सांस लेना भी भारी हो रहा था. मैं जल्दी से सही करके मीटिंग अटेंड करने पहुंचा और उधर से बहाना मार कर जल्दी ही बाहर हो गया.

उसने फटाफट चखने के लिए सलाद काट लिया और कुछ पनीर पकोड़े और नमकीन हम बाहर से खरीद कर लाये थे.

मैंने कहा- फहीमा मेरी जान, आज की रात तुम्हारी चुदाई और गांड फाड़ने का कार्यक्रम इसी ब्रा पैंटी में होगा. फिर करीब 40-45 झटके देने के बाद मैंने भाभी को कसके बांहों में जकड़ा और तेजी से चुदाई करने लगा. उनकी चूत इतनी गीली हो चुकी थी कि मेरा लंड एक बार में ही अन्दर उतरता चला गया.

सेक्सी फिल्म सारी वाली बीएफ उसके लिए जो अफ़सोस था, वो खत्म हो गया था और उस पर मुझे तेज गुस्सा आ रहा था. तुम मेरे ख्वाबों में रोज आती हो और मैं अकेले में भी अपने आप को नहीं संभाल पाता हूँ.

मैं वॉशरूम में गया तो देखा वहां वो कंडोम का पैकेट नहीं था जो मैंने बिल्कुल मिरर के सामने रखा था. हमारे यहां एक रिवाज है कि दुल्हन की पहली विदाई के साथ ही उसकी कोई बहन या रिश्तेदार पहली बार दुल्हन के साथ ही उसके ससुराल जाती है. अब मंजू को भी चूत चुदवाने में मजा आने लगा और वो मजे से गांड उठा कर चुदवाने लगी.

बीएफ खुला फिल्म

भाभी पूरी मस्ती में आकर चिल्लाने लगीं- आहह आहह राज … और चोदो फक मी राज आहह. जब मैं ड्रायर चला रही थी तो मेरे नग्न बदन को देख कर उसने फिर से मौसम बना लिया और मुझे पकड़ लिया. अपनी उंगली मैंने उसकी ब्रा हुक के नीचे की और पीठ से उठा कर हल्की फूंक मारी.

मैं तब तक उनकी चूचियां से खेलता रहा और लंड को नीचे से ही चूत पर दबाता रहा. अब चूँकि दवा का असर भी होने लगा था तो मैंने जोर जोर से अपनी चूत उसके मुँह पर मारनी शुरू कर दी.

आज मैं रोहित और ज्योति को असल में पहली बार मिलने वाला था तो दिल में धड़कन भी थोड़ा बढ़ रही थी कि वो असल में कैसे होंगे.

मैं अपने होंठ दबाती हुई उसकी चुदाई की कल्पना में अपनी चूत चिपचिपी करने लगी. उसे सिर्फ स्कार्पियो से ही घर पहुंचाया जा सकता था और ये बात ड्राइवर बहुत अच्छे से जानता था. फिर उसका बॉयफ्रेंड बोला- हबीबा सीधी लेट जा यार, ऐसे चोदने में मजा नहीं आ रहा.

ज्योति- क्यों मेरी आवाज़ इतनी प्यारी है क्या?मैं- इतनी प्यारी नहीं डार्लिंग, बहुत ही ज़्यादा प्यारी है. उसने प्रश्नवाचक मुद्रा में मेरी तरफ देखा तो मैंने कहा- चुपचाप कपड़े पहनो. मैंने भी अपने दोनों हाथ से भाभी के पैरों को पकड़ा और अपनी जीभ अन्दर बाहर करने लगा.

पहले उनकी लम्बी झांटें मेरी नाक में घुस जाती थीं और मुझे छींक आ जाती थी.

हिंदी सेक्सी चोदने वाली बीएफ: मुझे रहा नहीं गया और मैंने उसकी गांड के छेद में उंगली से कुरेदना शुरू कर दिया. मदन जी के लंड को याद करते ही मेरा लंड भी खड़ा हो गया और गांड में कुलबुलाहट होने लगी.

बुआ ने मेरी दी हुई नाइटी पहनी हुई थी और भाभी पीली साड़ी में एकदम तैयार होकर आई थीं. उसे सिर्फ स्कार्पियो से ही घर पहुंचाया जा सकता था और ये बात ड्राइवर बहुत अच्छे से जानता था. उससे चुदाई के नए नए तरीके देखकर, उनके समान सेक्स करने की कोशिश होती है.

आज मैं फिर से आपके लिए एक नई सेक्स कहानी लेकर आया हूँ जो मेरी बीवी सीमा की चुदाई की कहानी है.

मेरे मुँह से एक मीठी सिसकारी निकल गई- इस्स मेरी जान आंह मेरी लवली लवली बहना … आंह चूस ले लौड़ा … आह. फिर उन्होंने लंड को थोड़ा पीछे खींचा औऱ जोरदार धक्के के साथ पूरा लंड मेरी चूत में उतार दिया. वो जोर जोर से सांसें भरने लगीं क्योंकि उनकी चूत और चूचियों में उनको बहुत ठंडा लग रहा था.