सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर

छवि स्रोत,बीएफ फिल्म पाकिस्तान

तस्वीर का शीर्षक ,

ಬಿಎಫ್ ಪಿಚ್ಚರ್ ಸೆಕ್ಸ್: सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर, मैंने देखा कि पार्किंग में डैड की गाड़ी खड़ी थी इसका मतलब डैड घर आ चुके थे.

हिंदी में आवाज वाली बीएफ

वो चोली उनके हाथ की कोहनी तक उतर गई। अब बाजी ने उसको बिल्कुल उतार दिया. सेक्सी बीएफ इंग्लिश बीएफ सेक्सीपहली बार उसकी चूत ने लंड लिया था इसलिए उसे चलने में परेशानी हो रही थी.

मैंने कहा- क्या हुआ भैया, तुम्हारी तबियत तो ठीक है ना?वो बोला- हां… हां … बस ऐसे ही थोड़ी गर्मी लग रही है. बीएफ पिक्चर दिखाइए हिंदीउसने मां से कहा कि आपने बताया ही नहीं भाभी जी कि आपको कहीं जाना है, नहीं तो मैं आपको अपनी बाइक से छोड़ देता.

अच्छा बुरा सब चीज मैंने इनकी नजर अंदाज की, लेकिन उसका यह सिला मिला है.सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर: कोई दो मिनट बाद ही चुत ने रस छोड़ दिया और लंड फिर से ताबड़तोड़ चुदाई में लग गया.

मैंने देखा कि राजेश मास्टर अपने तने हुए लौड़े को पैंट के ऊपर से ही सहला रहे थे.मुझे नंगी देख वो छुप कर मुझे देखने लगा, जिसका पता मुझे तब लगा जब मैं कपड़े पहनते समय खुद को शीशे में देख रही थी.

बीएफ फिल्म सेक्सी वीडियो हिंदी - सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर

वो ज्यादातर स्ट्रेट बंदों को पटाता है और उनके लंड चूसकर उनको मदमस्त कर देता है.फिर जब उसने मुझे चोदने के लिए मेरी चुत में अपना लंड प्रवेश कराया, तो मुझे अभी भी दर्द और जलन दोनों हो रही थीं.

मैंने कहा- शायद उसका लंड मुझसे बड़ा है … उसकी बीवी को काफी मज़ा आता होगा. सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर मैंने उसको तैरना सिखाया और इसी बीच मेरा लंड बार बार उसकी गांड से टकरा रहा था.

बलविंदर की नजर अलीमा पर बहुत पहले से थी … बहुत पहले से वो मौके की तलाश में था.

सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर?

तुम्हारे मामा तो बस खोल कर चढ़ जाते हैं और उनका दो मिनट में ही काम तमाम हो जाता है. प्रियंका ने फिर से पहल कर मेरी गर्दन को चूमा। फिर हमने अपनी अपनी सलवार और कुर्ती उतारी और ब्रा और पैंटी में बिस्तर पर बैठ कर एक दूसरे से लिपटने लगीं।हमारे दूध आपस में टकरा रहे थे। वह अलग सा अहसास था जो लड़कों के साथ नहीं आया था।जिस्म मेरा भी लड़की का ही था लेकिन दूसरी लड़की के जिस्म से सेक्स की फीलिंग लेना बहुत अलग अहसास होता है. और ये तुम्हारी पतली पतली टांगें हैं, छोटे छोटे चूतड़ हैं, तुमको घोड़ी बनाकर चोदूंगा तो मांसल हो जायेंगे.

मैंने तो ये अपने शौहर के लिए की है।फिर मैं बोला- अच्छा बाजी, अब आपके शौहर मेरे से ज्यादा अजीज़ हो गये कि आप मुझे मना कर रही हो? अभी तो उनका अता पता भी नहीं कि आप गांड फैलाकर उनके लिए तैयार हो रही हो?बाजी चुप हो गई और अपना सूट उठा कर होंठों में दबा लिया और सलवार का नाड़ा खोल दिया। सलवार नीचे गिर गई और वो अपनी ब्लू कलर की पैंटी नीचे खिसकाने लगी. आप लोग मेरी इस चुदासी लड़की की वासना स्टोरी पढ़ कर मुझे कमेंट्स में सलाह दें. गर्लफ्रेंड सिस्टर सोनाली के बारे में तो हम जैसे भूल ही गये थे कि वो भी हमारी बगल में ही बैठी हुई है.

मैंने बुआ से उनकी उदासी का कारण पूछा तो उन्होंने कहा- कुलजीत, तेरे बिना मेरा मन नहीं लगेगा. उनकी एक लम्बी सी सीत्कार निकल गई- आह मर गई रे कितना हार्ड लंड है तेरा … आह मजा आ गया. वो कहने लगी- प्लीज बाबू थोड़ा धीरे करना … क्योंकि मेरा पहली बार हैमैंने उसकी बहन को बोला- तुम अब इसको अपनी चूत चटवाओ.

फुसा ने मेरी मम्मी की नंगी हो चुकी चूचियों को अपने दोनों हाथों में भर लिया और उन्हें आटा सा गूंथने लगा. नताशा- जय आज तक मेरे पति ने कभी ऐसी चूत नहीं चाटी, जैसे तुम चाट रहे हो.

मेघा अपनी फोटो दिखा कर पूछने लगी कि कौन सी ज्यादा अच्छी है?मैं फोटो देखते हुए मेघा को चोदने का सोचने लगा।मैंने कहा- यार … ये तो बहुत मुश्किल है कि किसी एक फोटो के बारे में बता पाऊं.

मैंने जैसे ही अपनी जीभ उसकी चूत पर लगाई तो उसकी सिसकारी निकल गयी- आह्ह … आआआह्ह … नहीं.

थोड़ी देर बाद उसकी नींद टूटी तो बोली- सॉरी!मैंने बोला- कोई बात नहीं, आप आराम से सो जाओ. मैंने ससुर जी के कमरे का दरवाजा नॉक किया तो बाबूजी बोले- आ जाओ बहू. एक अनुभवी मर्द से मुझे खुद को रगड़वाने का सुख मिलने की उम्मीद जाग गई थी.

उसके कबूतरों से छेड़छाड़ करते करते मैंने अपने होंठ गुरप्रीत के होंठों पर रख दिये. मैंने कहा- ठीक है भाभी जी … आप जैसा कहा करेंगी, वैसा ही किया करूंगा. मैंने उन्हें कसके गले से लगाया और बोली- आज से सबकुछ आपका … मेरा तन मन सब आपका.

उसी बीच मुझे सिगरेट की तलब हुई, तो मैंने उन्हें कहा कि मैं अपने रूम में जाकर आता हूँ.

फिर जैसे ही उसने अपनी गांड हिलाई, तो मैं समझ गया कि ये अब चुदाई के लिए तैयार हो गई है. वो थोड़ी हड़बड़ा गई।मैं उसका निप्पल पकड़ कर बोली- देख, तेरा ये बाहर दिखता है. मंजुला की बगलों में से उठती उसके जिस्म के सेंट या वो ख़ास महक मुझे मस्त कर गयी.

तो डर कैसा?मैं सोचने लगी और हल्के से बोली- हहह्म्म!फिर उन्होंने मुझे खींचा और एकदम से अपने गले से लगा लिया. दांत साफ करते हुए मैं सोच रहा था कि कैसी अजीब विडम्बना है ये कि मैंने मंजुला को किस भी कर लिया उसके होंठ चूस लिए, उसकी चूत चाट ली, उसने मेरा लंड चूस लिया और चुदाई भी कर ली पर दूसरे का टूथब्रश इस्तेमाल करने में ये झिझक क्यों होती है?चाय पीकर मैं अपने होटल चला गया और वहां से जल्दी नहा धोकर तैयार होकर अपना सामान समेटा और चेक आउट करके वापिस मंजुला के पास आ गया. दो मिनट तक वो मेरे हाथ को सहलाती रही और मुझे कुछ खाने पीने के लिये पूछती रही.

उसके बाद मैं बाजी की बात मान गया और हम लोग वहां से ऊपर चुपचाप छत पर आ गये.

बाबूजी ने डियो और तेल की शीशी अपनी साइड टेबल पर रखी और बाथरूम चले गये. मैंने सोचा कि अब मौका मिल गया है।तभी मैंने कहा- तनु तेरे तो कंधे पर भी निशान हो गए।तो वो अपने कंधे पर हाथ से देखने लगी।अब मैंने उसके कंधे पर हाथ रख कर सहलाया तो मेरी हवस उभर गई।वो बोली- दीदी ऐसे तो मेरे कंधे पर निशान बन जाएगा।तो मैं बोली- तनु ला … मैं मालिश कर देती हूं.

सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर बुआ के जाने के बाद अब इधर मेरी भी एक गर्लफ्रेंड बन गई है, फिर भी जब मुझे मौका मिलता है. गर्म जवानी की कहानी में पढ़ें कि एयरपोर्ट पर मिली एक लड़की से मिलकर मुझे लगाने लगा कि यार इसकी चूत चोदने को मिल जाए तो मजा आ जाए.

सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर मैं साड़ी भी नाभि के नीचे बाँधती हूँ, जिससे मेरी नाभि और पूरा पेट एकदम साफ दिखता है. तो फिर तुम इतनी दूर क्यों बैठे हो? भला कोई अपनी प्रेमिका से इतना दूर बैठता है क्या?तो उसकी बात सुन कर मैंने उसे अपनी तरफ खींचा तो उसने भी मुझे अपनी बांहों में भर लिया और नशीली आंखों से मुझे देखने लगी.

फिर मैं चूमता हुआ उसकी चूत तक पहुंचा और उसकी चूत में पहले उंगली से चोदा और फिर जीभ अंदर दे दी.

बीएफ पिक्चर दिखाईये

टी टी मेरे सामने आ गया और उसने मेरी चूतड़ पकड कर अपना लण्ड मेरी चूत में घुसा दिया. दोबारा से मैंने कहा- जल्दी से दिखाओ, तुमने तो मेरा सब कुछ देख लिया. मैंने कहा- आज रात को क्या कर रही हो तुम?मां बोली- कुछ देर के बाद राजेश मास्टर आयेंगे.

मैं समझ गया कि मेरी हरकत के बारे में भाभी किसी को नहीं बताएगी।मैंने उसको पकड़ा और किस करने लगा. लंड के चुत पर स्पर्श होते ही वो मचलने लगी और उसकी गांड ऊपर उठ कर लंड लेने को बेताबी दिखाने लगी. अब मैं सोचने लगी थी कि अंकल अभी भी कामुक हैं और मेरी नंगी वीडियो बना कर अंकल न जाने क्या करने वाले हैं.

उनके ब्लाउज का गहरा गला मुझे कामुक बना रहा था मेरी नजरें उनकी भरी हुई चूचियों पर ही टिकी थीं.

फिर उसने अपने लंड को एकदम से बाहर खींच लिया जिससे दीपू सिहर सी गयी. पर हां, इतना जरूर कहूंगी कि मैं जब भी बाहर कहीं निकलती हूँ, तो रास्ते पर आने जाने वाले सब गर्म हो जाते हैं. राबिया झाड़ू लगाती हुए हंसने लगी। बाजी गुस्से में उसको भी गाली दे रही थी.

मैडम मेरे दिल में उतर गयी थी … पर मैं करता भी क्या … वो एक ट्रेनी ऑफिसर थी. दो हवलदार दोनों तरफ से मेरे स्तनों के नीचे लेट गये पीठ के बल और मेरी निप्पल को अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगे. मैं भी इसमें उसका साथ देने लगी और उस समय एक बार फिर से मेरे दामाद ने मुझे बड़ी बुरी तरह चोदा.

वो जोर जोर से मेरे लंड पर मुंह चलाने लगी थी और मुझे अब दोगुना मजा आने लगा जैसे मेरा लंड मुंह में नहीं बल्कि चूत में जा रहा हो. हालांकि अलीमा को इस बात का अहसास हो गया था कि वह चुदने से नहीं बचेगी.

मैंने उसकी चुत के दाने को अपने होंठों से खींचते हुए चूसा, तो उसकी मदमस्त आहें और कराहें कमरे के माहौल को संगीत देने लगीं. रात में मैंने सुना कि चाचा-चाची के रूम से चुदाई की आवाजें आ रही थीं. मेरे दोस्तों ने कई बार मुझे बोला कि तुम्हारे पास में इतना पटाखा माल रहती है, तुमने आज तक कुछ करने की कोशिश क्यों नहीं की?मैं उनको कह देता था कि मुझे आज तक कभी कुछ करने का मौका ही नहीं मिला.

मामला पहले से ही गर्म था इसलिए मैंने देर न करते हुए उसकी चूत को चूसना शुरू कर दिया.

जैसे ही उसकी दीदी बाथरूम में गयी, तो मैंने आरती को अपनी बांहों में ले लिया. मैं ये मानती हूँ कि आप सभी को सब पता होगा, इसलिए अब इस विषय में ज्यादा कुछ बताने की आवश्यकता नहीं है. मगर उस वक्त चाची का महीना चल रहा था इसलिए 4-5 दिन से हमारे बीच में कुछ नहीं हो पाया था।मैं जैसे ही टॉयलेट के बाहर आया तो मेरे आगे मेरी बहन श्वेता खड़ी थी.

वो बोली- इतना बड़ा!मैं कुछ नहीं बोला, थोड़ा सा मुस्कुराया और उसके पास हो गया. उनके कामुक खेल हो चुकने के बाद मैं कमरे में अन्दर आया … तो सब कुछ सामान्य था और मेरी बीवी बहुत खुश लग रही थी.

उसका गोरा पेट और झीने से ब्लाउज में उसकी काली ब्रा साफ पता लग रही थी. उसकी चूत से कामरस निकल रहा था जिसकी खुशबू मुझे और ज्यादा पागल कर रही थी. वो भी जोर जोर से सिसकार रहा था- आह्ह … जान … आह्ह … चूसो … आह्ह पूरा चूस जाओ मेरी रानी … आह्ह … बहुत मजा आता है तेरे साथ!मैं भी अपने बॉयफ्रेंड को पूरा मजा देने में लगी हुई थी.

बीएफ एचडी कमीनी मेरा

राहुल पहले ही हमारे शहर आ चुका था और उसने एक होटल में रूम भी बुक कर लिया था.

कुछ दिन बाद मामा को बाहर जाना है, तब मैं तुम्हें रात में बुला लूंगी. हालॉंकि मेरी पैंटी तो रोजाना ही गीली होती थी तो सबसे पहले मैं अपनी चूत को शान्त करती उसके बाद कहानी में दिए गए मेल आई डी मेल करना; ये मेरा रूटीन वर्क बन गया।जब मैंने कोमलप्रीत कौर को मैंने उनकी कहानी में दी हुई आईडी पर मैंने मेल किया तो मेरे पास मेल का जवाब मेल पर ही आया. मेरे पास जितने पैसे थे वो तो मैंने एडमिशन और एक बिजनेस में लगा दिये.

जैसे ही प्रियंका आयी, हमने वीनू को इशारा कर दिया और उसने वह गुलाब उसको देते हुए प्रपोज कर दिया. और वहीं पास की शॉप से दो बर्गर, कुछ नमकीन के पैकेट्स, चिप्स, चोकलेट वगैरह और पानी की बोतल ले आया. इंग्लिश बीएफ चोदी चोदामैंने उसको तैरना सिखाया और इसी बीच मेरा लंड बार बार उसकी गांड से टकरा रहा था.

आप लोग कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रियाएं छोड़ दें अथवा नीचे दी गयी मेरी ईमेल आईडी पर मैसेज करें. जैसा कि उसने मुझे बताया था कि उसके पति को गुजरे हुए लगभग दो साल से ऊपर हो गये थे सो वो चुदाई की प्यासी भी जरूर होगी, क्योंकि ऐसी भरी जवानी में किसीनवयौवना की चूतकैसा तेज तेज करेंट मारती है और उसे चुदवाने को कैसे मजबूर करती है इसका अंदाजा मुझे था.

मैंने कहा- तो अपनी दीदी की बुर भी दिलवा दो न? मैं तुम्हारी दीदी की बुर में लंड को डालना चाहता हूं. तो मैं बोला- राखी दीदी, आप सच बताओ जब हम दोनों ने सेक्स किया था, तो आपको मेरे लंड से चुदवा कर ज्यादा मज़ा आया था या मकान मलिक के लंड से मज़ा आता था. इस तरह दो दिन और मंजुला के तन को सब तरह से भोगने के बाद मैं चलने को हुआ तो वो बहुत उदास लग रही थी.

जिस हसीना को चोदने के सपने मैं तीन दिनों से देख रहा था वो उस टाइम मेरे सामने मादरजात नंगी अपनी चूत खोले लेटी थी. कोई पांच मिनट के बाद बलविंदर ने अलीमा से कहा- चलो बेबी, अब तेरी चूत के बाल साफ कर देता हूं. वो मुझे अपनी चुत से हटाने लगीं लेकिन मैंने उन्हें ज़ोर से पकड़ रखा था और ज़ोर से चाटते हुए जीभ को चुत के अन्दर बाहर कर रहा था.

उस समय संयोग भी कुछ ऐसा हुआ कि घर की कामवाली भी एक महीने के लिए अपने गांव गई हुई थी.

कुछ देर के लिए मैंने सोचा कि अगर ये मुझे चोदने को मिली तो मैं कैसे कैसे इसकी चूत लूंगा और क्या क्या करूंगा. लेकिन जैसे आपा को मेरी इस हरकत से कुछ भी नहीं हुआ … वो अब भी बालकनी से बाहर झाँक रही थी.

अमन ने एक तौलिये से अपना लंड साफ किया और मेरी चुत जो गीली हो गई थी, उसे भी उसने तौलिये से साफ करके सूखा कर दिया. जैसे ही उसने मेरे लौड़े को देखा उसके मुंह में पानी आ गया और मेरे लौड़े को मुंह में लेकर चूसने लगी. मेरी चूत का रस पच पच … होती चुदाई के साथ ही मेरी जांघों पर बह निकला.

ये सब मंजू को पसंद भी आने लगा और अब तो मानो उसने खुद ही ठाकुर के सामने आत्म समर्पण कर दिया था. उस दिन तुम आने के लिए तैयार रहना।जब हम एक दूसरे के सामने आए तो वह मुझे देखता ही रह गया।वह मुझसे बड़े अच्छे से बोला- भाभी, आप तो बहुत खूबसूरत हो।मैंने भी उसको मुस्कुरा कर जवाब दिया- अच्छा ऐसा है क्या … मुझे तो लगता था मैं खूबसूरत ही नहीं हूं. क्योंकि यात्रा की औपचारिकताएं पूरी होने में बहुत टाइम लगता है और फिर निर्दिष्ट टर्मिनल तक पहुँचते पहुँचते ही घंटा भर लग जाता है.

सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर उसके बाद हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे और मेरा लंड फिर से टाइट हो गया. हम दोनों ने एक दूसरे की ओर देखा और मैंने शर्मिंदा होते हुए अपने अंडरवियर को जीन्स के नीचे छुपाया.

अंग्रेजो की बीएफ एचडी में

उस दिन के बाद से दीदी और मेरे बीच में भाई बहन का नहीं बल्कि पति पत्नी का रिश्ता हो गया. सामने ही मां के रूम का दरवाजा खुला हुआ दिख रहा था जिसके अंदर सामने बेड था. मैंने दस बारह झटके पूरे जोश के साथ लगाये और लंड पूरा जड़ तक मनजीत की चुत में डालकर वीर्य छोड़ने लगा.

मेरा दोस्त अफजल कॉल सेंटर में जॉब करता था, वहां उसने कॉल पर एक लड़की से दोस्ती कर ली, जिसका नाम आरजू खान था. मैं- तो आपका बॉयफ्रेंड नहीं है क्या?अर्चना- बॉयफ्रेंड तो है लेकिन उसके पास आप जैसा औजार नहीं है. बीएफ वीडियो बच्चा वालाजवान लड़की की Xxx स्टोरी में पढ़ें कि सेक्स के लिए उत्सुक जवान लड़की को उसके पापा के दोस्त ने कैसे गर्म किया और उसके सारे कपड़े उतार दिए.

बहुत दिन तक सोचने के बाद जब कुछ समझ नहीं आया तो मैंने सोचा क्यों न ससुर जी को ही ट्राई किया जाये.

मैंने उनको गोद में लिया और फिर बेड पर पटक कर फिर उसकी चूत में लंड पेल दिया. तो उसने भी अपनी जीभ को जोर जोर से मेरी बुर की फांकों पर फिराया और अंदर तक डालने लगी.

वैसे घर में भी किसी तरह की पाबंदी नहीं थी लेकिन हॉस्टल गर्ल की जिन्दगी जीने में जो मजा मुझे आ रहा था वो शायद मैं अपने छोटे से शहर में कभी महसूस न कर पाती. मेरी रिजर्व बर्थ होने के बावजूद मुझे अपनी बर्थ तक पहुंच पाने का अवसर बड़ी मुश्किल में मिल सका. अब कुछ ही झटकों में मेरी चुत ने अक्षय के लंड से दोस्ती कर ली थी और मैं उसके लंड से चुत की चटनी बनवाने लगी थी.

इसी तरह से उसमें सास वाले चरित्र ने लिखा था कि उसकी बेटी का घर भी बस गया और उसको चुदने के लिए एक लंड भी मिल गया.

हम दोनों को ही ऐसा लगा था जैसे हम दोनों ही जिंदगी में पहली बार चुदाई कर रहे हों. अब तक वो भी पूरे जोश में आ चुकी थी और मेरा पूरा पूरा साथ दे रही थी. जब मैं उसे रीयल में चुदाई करने के कहता था वो इस बात पर चुप हो जाती थी.

बीएफ फिल्म एक्स एक्स एक्स हिंदी मेंजब सरिता नॉर्मल हुई, तो मैंने उसके आंसू साफ किए और उसको माथे, आंखों पर किस करने लगा. थोड़ा भारी सामान उठाने में वो मदद करने लगी।कमरे का समान बाहर निकाल कर उधर राबिया अपनी चूची हिला हिला कर झाड़ू लगाने लगी.

सेक्सी बीएफ एडल्ट पिक्चर

या तो मज़ा ले ले या झाड़ू लगा कर चूची हिला ले!वो चुप हो गई।बाजी ने बड़ी मस्ती से अपनी कमर हिलाना जारी रखा. टी टी ने कहा- एक सरकारी अफसर को घूंस देना का जुर्म भी बनता है तेरे पे. अब मैंने मौका देखा और एक झटका जोर से लगाते हुए उसकी चूत में आधा लंड घुसा दिया.

20 मिनट बाद मेरा लंड खड़ा हो गया और राखी उसे चूसने लगी।मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया उसकी टांगों को चौड़ा कर दिया. !शैलेश के होंठों पर उंगली रख कर मैंने उसका हाथ अपनी ब्रा में कैद चूचियों पर रखवा दिया. हमारी ज्वाइंट फैमिली थी और घर में मेरे और मेरे शौहर व बेटे के अलावा मेरा जेठ, जेठानी, उसकी बेटी और बेटा भी रहते थे.

फिर अगले दिन सेठ जी दुकान से घर आए तो कल्लू भी उनके पीछे आ गया और देखने लगा कि क्या हो रहा है. मैं चाची के पास गया और उसकी टांग को उठा कर अपना लंड निकाल कर चाची की गांड में लंड को लगा कर धक्का दे दिया. इसी साइट से प्रेरित होकर मैंने सोचा कि मैं आप लोगों के साथ अपना अनुभव शेयर करता हूं.

अब तक चुदाई की कहानियां पढ़ कर चूत के बारे में काफी सोचने लगा था, मगर यहां मुझे चुत तो क्या उसकी झांट का बाल भी देखना नसीब नहीं हुआ था. बाबूजी को मेरी जांघें तो दिख रही थीं लेकिन करवट लेकर लेटे होने के कारण ससुर जी को मेरी चूत नहीं दिख रही थी.

मैं काफी दिन बाद अपनी चुत पर मर्द की जुबान पाकर सिहरते हुए कराह उठी- ओहहह अनीश … उश … आहहह.

उसकी दोनों टांगें फैला कर जैसे ही मैंने मेरा टोपा अन्दर डाला, तो लंड चुत में नहीं गया … फिसल गया. इंडियन मूवी बीएफतो मेरी रंडी बहन ने कहा- मुझे पिलाओगे नहीं क्या पापा?पापा मुस्कुरा दिये और कहा- ठीक है. बीएफ सीजीकुछ देर तक ऐसे ही चोदने के बाद मैं फिर से सीधी हो गई और वह फिर से मेरी चूत में धक्के मारने लगा।हमारे बीच फिर से सेक्स होने लगा. मैंने भाभी से कहा- ठीक है जानेमन!मैंने उनकी टांगों को फैलाया और घुटनों के बल उनके बीच में बैठ गया.

कुछ दिनों बाद शादी होने वाली थी और मैंने उसको इस बारे में नहीं बताया.

मौसी ने मेरी शर्ट उतार कर मेरी छाती को नंगी कर दिया और मेरी छाती को चूमने लगी. ये भी अच्छा है कि वो लोग शहर में रहते हैं वर्ना अगर गांव में होते तो उसके ससुराल वाले जीना हराम कर देते. अलीमा एकदम से सिहर गई लेकिन बलविंदर ने अपने मुँह से अलीमा की चुत का रस लेना शुरू कर दिया था.

मैंने उनकी बात काटते हुए कहा- आप तो एकदम मस्त आइटम हो जी, मुझे तो जरा सिगरेट की तलब लगी, इसलिए मैं बाहर जा रहा था. नंगी गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी एक बहन ने दूसरी बहन को मुझसे चुदने के लिए तैयार कर लिया था. जैसे ही मैंने बाइक घर के अंदर पार्क की, तभी अम्मी आकर बोली- अशफ़ाक बेटा … मैं बहू को लेकर पास वाले पड़ोस के घर जा रही हूँ.

2022 न्यू बीएफ

ताजा ताजा जवान हुआ रोहन इतना मस्त और चिकना दिखता था कि उसके साथ सेक्स करना गांडू लौंडों की खुशनसीबी हो जाती थी. आ … ऊऊऊ … मॉआआ …” इस बीच मैं अपने लंड को आपा की गांड की दरार में दबा रहा था. प्रीति की टांगों के बीच आकर मैंने उसकी चूत के लब खोले और अपने लण्ड का सुपारा अन्दर कर दिया.

कुछ देर के बाद जब अचानक से मेरी नींद हल्की सी टूटी तो मेरी नजर भाई की ओर गयी.

फिर मैंने उनको दीवार के सहारे खड़ा कर दिया और उनके दोनों पैरों को ऊपर करके अपने हाथों से भाभी की गांड को सहारा देकर उन्हें एक तरह से टांग लिया था और तेजी से भाभी की चुत चोदने में लगा था.

लेकिन उसका दामाद पहले सास को चोदता है, फिर उस शादी के लिए राजी होता है. और उसकी चूत पर किसी भी लंड ने आज तक दस्तक नहीं दी है।मन ही मन मुझे लगा कि संगीता झूठ बोल रही है क्यूंकि आज के दिन 30 साल की उम्र तक तकरीबन कोई भी लड़की बिना चुदे नहीं रहती।फिर हमने साथ में खाना खाया और थोड़ी देर वहीं रूककर वापिस मैं उसे रिवाड़ी छोड़ने के लिए चल पड़ा।उस दिन हमारे बीच ऐसा कुछ नहीं हुआ।फिर उसके बाद हमारा मिलना बढ़ गया. जीजा और साली की बीएफ वीडियोउन दोनों में ये तय हो गया था कि फोन से बात करके एक दूसरे को पहचान लेंगे.

गठीला शरीर और लौड़ा मेरा 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है।आइए अब इंडियन हॉट गर्ल सेक्स कहानी पर चलते हैं।यह कहानी मेरी जिंदगी का सबसे पहला अनुभव है जो मुझे सेक्स को लेकर हुआ था. अब आगे Xxx लड़की की चुदाई स्टोरी:अलीमा बलविंदर के प्रत्युत्तर में उसको प्यार कर रही थी. ये कहते हुए बड़ी मम्मी ने अपनी साड़ी उतार दी और ब्लाउज के बटन खोल दिए.

थोड़ी देर तक टी टी देखता रहा तो वो आगे बोले- तो ट्रेन में कोई जगह हो तो ले चलते हैं और 12 घण्टे मजा करते हैं. चलो किसी होटल में खा लिया जाए।हम दोनों ने एक होटल में जाकर खाना खाया और फिर सागर मुझे सन्नाटे रोड पर ले गया, बोला- एक्टिवा चलाना सिखा दूँ?सागर ने मुझे पहले सब बताया गाड़ी के बारे में और चलाने को बोला।कुछ देर बाद मैं सीधी रोड पर चलने लगी.

मैंने सीट नम्बर बताया और कहा कि वहां मेरे शौहर बैठे है और टिकट उनके पास है.

मैंने सागर से चुपके से कान में बोला- पीछे वाला आदमी मुझे परेशान कर रहा है. मेरा भी डिस्चार्ज होने वाला था इसलिए मैंने स्पीड बढ़ा दी और उसकी चूत में फव्वारा छोड़ दिया. मैं उसे देख कर ही समझ गया था कि जलेबी शीरा पी चुकी है मतलब ये लौंडिया अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुद चुकी होगी.

रोमांटिक बीएफ बीएफ अंकल- टीना, तुम्हें मेरी एक बात माननी पड़ेगी … फिर मैं वीडियो डिलीट कर दूंगा. मैंने रसोई से थोड़ा अलग होकर उनके कान में पूछा- नजमा दीदी ने क्या करने के लिए बोला था तुम्हें?इस सवाल पर वो शर्मा गयी.

shikariboys2[emailprotected]कहानी का अगला भाग:खेत में कुंवारी पंजाबन की ज़ोरदार चुदाई-2. मैंने उसके ऊपर पानी डाला और उसकी चूत को साफ करवाया।उसने अपनी झांटें साफ कर रखी थीं तो मैंने पूछ लिया. फिर मैंने पूछा- अच्छा, आज चाचा दिखाई नहीं दे रहे हैं?चाची ने कहा- वो शहर गये हुए हैं.

चुदाई एक्स एक्स बीएफ

उसकी महीन रेशमी बालों वाली चूत को देख कर मैं खुद को रोक न पाया और अपनी जुबान उसकी चूत में डाल दी. मैंने फोन लगाया तो मालूम हुआ कि उसका मूड ऑफ हो गया था, तो वो अपने घर चला गया था. वहां उसकी सहेली ने क्या किया?प्यारे दोस्तो, आप सब कैसे हैं?मैं अक्षय, इंदौर शहर (एम.

मैं घर पर बोर होती थी। तो फेसबुक पर मेरा एक दोस्त बना। मुझे वो बातों से अच्छा लगा तो मैंने एक दिन उसे अपने घर बुला लिया. आपा अपनी सोच में खोई हू थी- शनाज़ बोल रही थी कि अशफ़ाक शनाज़ को हर महीने गर्भवती बना देता है.

शनाज़ की नजर जब मेरी पैन्ट में खड़े लंड पर पड़ी तो वो मेरे पास आई और फुसफुसा कर बोली- आप रात होने का इन्तजार करो.

उसने टांगें खोलकर अच्छी तरह से सेठ का लंड अपनी चूत पर रगड़वाना शुरू कर दिया. भाभी मेरे नीचे गरमगरम सांसें छोड़ते हुए मस्ती से लेटी हुई चुद रही थीं. मैंने मौसी के पैरों को फैला दिया और उनकी बड़ी सी चूत मेरे सामने थी.

मैंने अपनी गांड उठाकर अपनी टांगों को थोड़ी फैला दिया और पेट को सिकोड़ा ताकि वो पूरी चेन खोल ले और उसका हाथ आराम से मेरी पैंट में चला जाये. मैंने साथ में लाए हुए सामान को उसकी सही जगह पर रखा और टीवी ऑन कर दिया. कुछ देर में विजय मुझे ढूंढता हुआ मेरे पास आया और बोला- आप कहां चली गई थीं, मैं आपको कब से ढूंढ रहा था.

फिर दीदी और मॉम दोनों ने एक साथ हां कर दी और हम तीनों सेक्स पार्टनर बन गये.

सेक्स बीएफ ब्लू पिक्चर: तुम्हारे पूरे बदन पर टेटू या पेंटिंग करना है और मन भरके सेक्स करना है. आपको ये चुदाई की गर्म कहानी कैसी लगी इस बारे में अपनी राय जरूर दें.

मैंने सागर से चुपके से कान में बोला- पीछे वाला आदमी मुझे परेशान कर रहा है. मैंने उसकी आंखों में वासना से देखा और आंखों की भाषा में ही उसको चोदने की लालसा जाहिर कर दी. मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को मेरे जीवन की ये सच्ची घटना पसंद आई होगी.

मुझे मुस्कराता हुआ देख कर मौसी पूछने लगी- क्या हुआ, क्यों मुस्करा रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं मौसी.

उस वक्त तो मुझे समझ नहीं आया लेकिन वो दिन मुझे अच्छी तरह याद है जब तीन महीने के अंदर ही घर का काम करते हुए मां ने एक टच स्क्रीन वाला फोन ले लिया था. लेकिन उसका लौड़ा मेरे चूत के अंदर नहीं गया था और मेरी दर्द के मारे जान निकलने लगी थी।अब सागर बोला- चलो बॉन्डेज सेक्स यानि बांध के चुदाई का मजा लिया जाए!उसने दुपट्टे से दोनों तरफ मेरे हाथ और दोनों पैरों को बांध दिया. मल्टीपल ऑर्गेज्म यानि कई बार स्खलित हुए बिना सेक्स में मजा ही क्या.