भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,2016 सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

कुत्तिया की बीएफ: भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो, दस मिनट लेटे रहने के बाद हम दोनों एक बार फिर एक दूसरे से लिपट गए और फिर से एक दूसरे को उत्तेजित करने लगे.

ப்ளூ பிக்சர்

जब मौक़ा मिला तो …साथियो, मैं हर्षद मोटे आपका एक बार फिर से अपनी Xxx हिन्दी कहानी में स्वागत करता हूँ. कहानी सुनाओ कहानीअब मुझे चोदने से ज़्यादा अपनी बीवी को अपने सामने किसी और से चुदते हुए देखने में बहुत मज़ा आता है.

अब वो जब भी कपड़े सुखाने छत पर आती, तब मैं खाली पीली फ़ोन में ऐसे बात करता … जैसे उसको लगता कि मैं कोई ज्योतिषी हूँ. पंजाबी सेक्सी वीडियो चाहिएहॉट विडो सेक्स कहानी मेरी मॉम की है जिसे मैंने अपने ख़ास दोस्त से चुदाई करती देखा.

मैंने उसके मम्मों पर संतरों का रस भी निचोड़ दिया और फिर से गर्दन को चूसते चूसते मम्मों को चूसने लगा, उन्हें जोर जोर से दबाने लगा.भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो: संजू थोड़ी उदास थी, तभी विक्रम बोला- रुको एक मिनट!विक्रम ने अपने बैग से एक बॉक्स निकाला और संजू की तरफ बढ़ा कर बोला- भाभी ये मैंने अपने होने वाली बीवी के लिए खरीदा था, लेकिन मैं ये आपको दे रहा हूँ.

जैसे ही उसमें से एक बाबा ने गेट बजाया, तो मैं उसी टॉवल में गेट खोलने चली गयी.अदिति कराहती हुई बोली- हर्षद, अब मैं और धक्के नहीं सह सकती … आंह अब मैं झड़ने वाली हूँ.

पति पत्नी का रिश्ता जोक्स - भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो

आह आज पहली बार किसी लड़के ने मुझे इस तरह देखा है और वो भी मेरे सगे छोटे भाई ने … आआहह भाई चूसो अपनी बहन की चूची को … आआह आआह हह हहह.मैंने उसको संभाला मगर वो अनायास ही मेरे सीने पर सिर रख कर रोने लगी इसलिए मैंने उसे कस कर गले से लगा कर उसको चुप कराया और उसके साथ कहीं बाहर घूमने का प्रस्ताव रखा.

फिर बीवी बोली- देखो जी … है तो तुम्हारा दोस्त ही, अगर हम एक रात के लिए अपनी आंखें बंद कर लें तो सारी मुसीबत आराम से दूर हो सकती है. भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो तभी अचानक सरिता आँटी ऊपर आ गई और उन्होंने मुझे चूत की फ़ोटो देखते हुए और मेरे उभरे हुए लोअर को देख लिया.

वो मेरे बालों को पकड़ कर सिर को हटाने लगी तो मैंने उसका हाथ पकड़ा और अपने लंड पर रखवा दिया.

भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो?

चूंकि मैं एक पढ़ा लिखा बॉटम हूं, तो मैं अपने समकक्ष टॉप से ही मिलती हूं, जो मेरी फीलिंग समझ कर मुझे खुश करे. कशिश दीदी चिल्लाती हुई- आअह मम्मी, मैं मर गई … साली हरामन रुखसार भाभी. अदिति अपने दोनों हाथों से मेरी गांड को सहलाने लगी और साथ में अपनी उंगलियां मेरी गांड के छेद पर फिराने लगी.

मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुस गया, पर मेरे लंड में भी बड़ा जोर का दर्द होने लगा. मैंने मुस्कुराते हुए कहा- अब कर भी लो ना इधर ही … यहां कौन देखने वाला है तुम्हें?उसने हंस कर कहा- तुम तो हो ना!मैंने कहा- अच्छा … चलो मैं अपनी आंखें बंद कर लेता हूँ. वो बोला- नाश्ता पूरी रात होता रहा है, अब आपकी ननद रानी को नींद आ गई है.

दोनों ने एक दूसरे के लिए ब्रा पैंटी सिलेक्ट की, जिसमें थोंग पैंटी, पुश अप ब्रा और कुछ रेग्युलर ब्रा पैंटी भी, जो बस पीरियड के समय में ही काम आती हैं. सुहागरात के अगले दिन उसका मैसेज आया और उसने बताया कि उसके पति को कुछ भी पता नहीं चला और उसके पति का लंड काफी छोटा है. अगले दिन किताबें लेकर आंटी आईं और बोलीं- हम दोनों एग्जाम के बाद मिलते हैं.

उन्होंने पूछा- क्या हुआ?तो डॉक्टरनी ने बोला कि मैं आपके हसबैंड को समझा रही थी कि मरीज की ब्लीडिंग ठीक करने के लिए छोटा ऑपरेशन करना होगा. मैं लंड को सहलाने लगा और फिर अंडरवियर में हाथ डालकर मुट्ठ ही मारने लग गया.

रूबी- हां तेरी कसम, नहीं बताऊंगी … चल अब बता क्या बात है?मैं- वो रानी है ना … वो मुझे बहुत ज्यादा पसंद है.

दोस्तो, सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको पीहू की चुदाई की कहानी लिखूँगा व आपको ये भी बताऊंगा कि दोस्त की गर्लफ्रेंड भी मेरे लंड से चुदने को कैसे मचली.

मेरे तन पर बस नाम मात्र का यही एक झीना सा वन पीस था जिससे मैंने अपने दूध और चुत को बड़ी मुश्किल से छिपाया हुआ था. मैं- नहीं ज़ारा …ज़ारा- मुझे गुंडागर्दी दिखाने को मजबूर मत करो जान!मैं- नहीं यार … प्लीज!ज़ारा- अब चलते हो या उठा के ले जाऊं आपको?मैं- मान जाओ यार!ज़ारा- आप ऐसे नहीं चलोगे!ये कहकर जैसे ही वो मुझे उठाने लगी, मैंने उसे रोक दिया. मैंने कहा- ज्यादा नहीं होगा, बस थोड़ा सा होगा … लेकिन आपको मजा आएगा.

और जैसे ही मैं उसके घर पहुंची, वो सिर्फ़ अंडरवियर में ही था और उसका लंड पूरा बाहर निकला हुआ था. मैंने जल्दी से गूगल पर करनाल में होटल सर्च किये और हम एक होटल पर पहुँच गए।होटल जाकर मैंने एक रूम बुक किया जिसके लिए होटल वाले ने मुझसे 1500 रुपए लिए. शायरा को देखकर तो लगता था कि उसका पति कोई बहुत ही सुन्दर और हैंडसम होगा, मगर उसका पति तो थोड़ा मोटा और सांवला था, जिसका पेट भी बाहर निकला हुआ था.

उसको होंठों और जीभ के रस में भुला कर धीरे से मैंने अपना लंड उसकी चुत में डालने लगा.

अगले 4-5 धक्कों में वो झमाझम झड़ती रही। फिर वो थोड़ी शांत हो गयी लेकिन मेरे धक्के जारी रहे. वो पीछे से मेरी पीठ पर लंड चुभाते हुए मेरी चूचियों को आगे से दबाने लगा. इस चक्कर में मेरी चूचियों की अच्छी खासी घाटी भी उन्होंने जी भर कर देखी.

वो मुझे धकेलने लगी लेकिन मैंने भाभी को कस कर जकड़ लिया और उसकी चूत में तीसरा धक्का भी दे मारा. घर के मेनगेट को खोलकर मैं अब कुछ देर ऐसे ही नीचे घूमता रहा, फिर वापस ऊपर आ गया. हां ये हो सकता है कि मेरी तरफ से गलती से आपके पास रॉन्ग नम्बर मिल गया हो.

उसकी एक चचेरी बहन उनके साथ जाने वाली थी लेकिन उसे बुखार आ गया था तो उसका जाना अब संभव नहीं था.

यदि औरत नहीं होती तो आदमियों का जीवन बेकार होता, इसलिए मैं औरत की दिल से इज्जत करता हूँ. इस पर वो बहुत ही रसीले अंदाज में बोली- सीईईईई … क्या कर रहे हैं नहींईई … आआआआह!मगर मैंने चूत चाटना जारी रखा.

भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो वो कहने लगा- सर! आप भूरा से लपके हो। मुझे आपसे कराने में मजा आता है। मेरे में कांटें थोड़ी लगे हैं?अब मैं जोश में आ गया और उसकी गांड को पेलने लगा. मैंने शाम का खाना हल्का ही खाया ताकि स्वास्थ्य खराब ना हो। रात में सही से नींद नहीं आ रही थी.

भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो उनकी चूत पर छोटे छोटे बाल थे और मैं उनकी चूत को चाटते हुए जोश में आने लगा था. मैंने थोड़ा सा झुक कर एक हल्का सा झटका मारा तो लिंग छेद से फिसल गया.

मैं- ठीक है, अब तुम जाओ, कोई जेंट्स की बॉडी मसाज करने वाली हो तो उसे भेज देना.

हीन्दी सेक्सी वीडीयो

भैया के आने से पहले इसी बीच एक दिन उनकी पड़ोसन सहेली ने मुझे भाभी को किस करते हुए देख लिया. दिल्ली शिफ्ट होने का उसका कारण यह था कि उसके भाई की दो 2 बेटियां थीं। हम उम्र ही थी. इसके बाद बहुत बार भाभी ने मुझसे चुदवाया, जिसमें चूत भी थी और गांड भी।अब तो भाभी को भी गांड मरवाने में मजा आता है।दोस्तो, यह स्टोरी भाभी से पूछ कर लिख रहा हूँ.

मैंने मुस्कुराते हुए कहा- तो क्या घर ले कर जाऊं इस प्यार को?उसने बोला- हां, ऐसे ही अन्दर कर लो सारा. करीब दो मिनट तक होंठ चूसने और चूची दबाने के बाद वो अब चुदाई के लिए तैयार होने लगी. लेकिन में काफ़ी लेट होने वाला था क्योंकि आज साला रोड पर ट्रैफिक कुछ ज्यादा ही था.

वो बोला- रीना मेरी जान, बहुत मस्त चूचे हैं तुम्हारे!मैं इठला कर बोली- तो लो आज जो मन हो, वो करो.

उसने मुझे पूरे बदन पर चूमते हुए मेरे मम्मों को खूब पिया और फिर चुदाई की स्थिति बन गई. उसकी चूत अब गीली होने लगी थी और मुझे उसको रगड़ने में गजब का मजा आ रहा था. कुछ ही झटकों के बाद उसके लंड से वीर्य निकल पड़ा और मेरे हाथ पर आकर फैल गया.

मेरा लिंग उसके माँसल नितंबों की दरारों के बीच में फंस कर कसमसा रहा था।चाय तो बना लेने दो?”. ऐसे दिन में खुले में अपनी टीशर्ट उतारने का अनुभव मैंने पहली बार किया था. इस बार शायरा के घर का दरवाजा खुला था और वो अन्दर बैठी हुई साफ नजर आ रही थी.

वो आंख मार कर बोली- तुम्हारा इनाम अभी बाकी है … और मेरे होते हुए अब तुम कुंवारे नहीं रह पाओगे. तुम बताओ की क्या वो रह पाएगा?अनन्या- तो क्या आप उससे पूछती नहीं हैं?मैं- हां, जब पूछो तो यही कहेगा कि तुम्हारी कसम मैंने आज तक किसी और की तरफ नजर ही नहीं डाली, चुत की तो बात ही छोड़ो.

बी ग्रेड में चुदाई को छोड़ कर बाकी सब कुछ दिखा देते हैं, जैसे कि लड़की की चुत और मम्मे और लड़के का लंड, लड़के से लड़की के मम्मे दबवाना आदि. मैंने देखा, तो खुशी ने अपनी ब्रा पैंटी निकाल कर बेड पर ही रख दिए थे और वो एक पारदर्शी गाउन पहन कर खड़ी थी. मैंने कहा- क्यों पहले किसी ने नहीं किया?वो बोलीं- सच में तेरी कसम आज … पहली बार तूने ही नीचे किस की है.

उससे अब सहन नहीं हो रहा था, तो उसने हाथ डालकर मेरे लंड को पकड़ लिया और मस्ती में मेरे कान के पास बोली- भैयाय्य्या प्लीज मुझे चोद दो … अपना वो अन्दर डालो न अब.

जब उसका दर्द कम हुआ, तो उसके बदन को फिर कसके जकड़ लिया और एक जोर का झटका फी से दे मारा. फिर सोचती थी कि जब उसने गर्लफ्रेंड बनने को बोला है तो गर्लफ्रेंड की चुदाई की तरह ही होगी मेरी चुदाई भी. उसने अपना बरमूडा नीचे किया और मैंने थूक लगा कर लंड पेल दिया।मैं धीरे धीरे कर रहा था तो वह बोला- सर आप डर रहे हैं क्या?ये सुनकर मैं धक्कम पेल करने लगा.

उसने नीचे से हाथ लाकर मेरा लंड पकड़ लिया और मैंने अपना शॉर्ट्स निकाल दिया. मैं आनंद से सराबोर हो रही थी।लग रहा था कि जैसे मेरा पानी निकलने वाला है। मैं निहाल हो रही थी।फिर मुझे लगा जैसे कि अब खुद को झड़ने से रोक पाना मेरे वश में नहीं है.

तब मैंने अपना पैंट खोल कर उसे नीचे करके उसके हाथ में अपना लंड दे दिया. मुझे उसकी चूचियां मेरे सीने पर महसूस हुईं और मैंने उसको कस कर अपनी बांहों में भींच लिया. हम दोनों में इस बात को लेकर बहुत बहस हुई और फिर आखिरकार हमने अपनी बेटी सोनी को उसके साथ सुलाने का फैसला कर लिया क्योंकि मेरे ससुर के ओपरेशन के लिए बहुत ही कम समय बचा था और ससुराल वालों की उम्मीद पूरी की पूरी मेरे ऊपर ही टिकी हुई थी.

सेक्सी इंडियन सेक्सी मूवी

अब इधर मेरा सारा दिन तो ऐसे ही बीत जाता, फिर रात को घर में सिर्फ मैं और भाभी बचते थे.

हम दोनों नंगे ही चिपक कर लेट गए और कब आंख लग गई कुछ मालूम ही न चला. मैंने उनकी ब्रा के हुक खोल दिए और उनकी एक चूची को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. फिर भी मैंने शरारती अन्दाज में सवाल किया- यह क्या कर रहे हो?वे भी मेरी तरह रंगीन मिजाज में आ गए थे.

ये देखकर मैं आंटी को लिटाते हुए उनके पेट पर आ गया और उनकी नाभि को चूमना शुरू कर दिया. आखिरकार उसका पूरा लंड अन्दर चला गया और हम दोनों के चेहरे पर एक मुस्कान आ गई. करवा चौथ पर क्या गिफ्ट देमैं उनके होंठों पर चुंबन लेती थी, यही मेरा उनके प्रति के प्यार का सबूत था.

उनमें एक लेडी पियोन भी थी जो पेपर्स आदि इधर उधर देने का काम करती थी और केवल मेरा चाय आदि बनाने और पानी पिलाने का काम करती थी. चलो अभी तो अपने कपड़े उतारो, मैं तुम्हारी चुत का पूरा इंतज़ाम करके ही आई हूँ.

उस रात मैं बस यही सोच-सोच कर परेशान हो गया था कि मैं संभोग के लिए कितना नीचे गिर गया था. क्लास के उन तीनों लड़कों ने मुझे अगले शनिवार को मुझे अपनी बर्थडे पार्टी में आने को बोला. चाची जी अचानक से बोलीं- दीपक जी ये लोवर उतार दो और ये क्रीम नीचे लगा लो, नहीं तो जलन न बढ़ जाए … उठो जल्दी से.

हम शाम के 5:00 बजे ट्रेन में बैठे और हम दोनों ने सेकंड एसी में टिकट बुक की थी. मैं उसके दिए समय अनुसार देर रात को उनके घर गया तो वो गेट पर मेरा इंतज़ार कर रही थी. खैर वजह जो भी हो … मुझे उनसे चिपट कर मज़ा बहुत आ रहा था।फिर उन्होंने अपने हाथ पीछे ले जाकर मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और उसे मेरे जिस्म से अलग कर दिया.

शायद शायरा से बात ना करके जैसा हाल मेरा था, वैसा ही हाल उसका भी हो रहा था.

शायरा को देखकर मैं तो जैसे अब शॉक्ड सा हो गया, क्योंकि मैंने तो कभी सपने में भी नहीं सोचा था वो इस समय भी घर आ सकती है. पर न कोई दूसरी लौंडिया दिलवाई और न अपनी दी।मैं अभी झड़ा नहीं था पर मैंने अपना लंड निकाल लिया.

स्खलन से पूर्व मैंने पूछा- अन्दर छोड़ दूँ या मुँह में लोगी?उसने तुरंत पलट कर पूरा लिंग मुँह में ले लिया. वो जोर जोर से कामुक आवाज़ निकालने लगी और गाली देने लगी- आह मादरचोद … मेरी आग बुझा साले. फिर मुझे लगा चुत के अन्दर लंड कुछ ज़्यादा ही अकड़ रहा है, मैं समझ गई कि लंड अब चरम पर आ गया है.

मैंने इस बार धीरे से अपनी कमर हिलाई जिससे बहुत ही धीरे से लंड बाहर आने लगा. ‘आअह हह रब्बआ …’ की सीत्कार लगाते हुए रेशमा ने अपने हाथ से मेरा सर अपनी चूत पर दबाना चालू कर दिया. अब मैं गुलजान की गांड में जैसे ही तेज शॉट मारता, तो उसके दर्द से वो हेलीमा की चूत को काट लेती और ज़ोर से गांड में उंगली डाल देती.

भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो हालांकि आज भी मेरी ख्वाइश है कि मैं किसी जवान लड़की की चूत को भी एक बार ज़रूर चोदूं. मैं वापस आकर अपनी बीवी के पास लेट गया और फिर कब मुझे नींद आ गयी पता ही नहीं चला।इसके आगे की कहानी फिर कभी थोड़ी फुर्सत में आपको बताऊंगा.

सेक्सी वीडियो कॉमेडी में

करीब पंद्रह मिनट नाटक करने के बाद मैंने बुदबुदाते हुए कहा कि अब प्रेत मेरे शरीर में आ रहा है … लेकिन तुम डरना मत. थोड़ी ही देर में इन्द्रेश अंकल ने अपना सारा माल मम्मी की चूत में छोड़ दिया. मैं उसके कान की लौ को होंठों से दबाकर खींच देता। अब धीरे धीरे मैं उसके चूचों की तरफ बढ़ने लगा और उसके सूट के ऊपर से ही उसके चूचों को सहलाते हुए हल्का दबाने लगा.

मैंने कहा- ठीक है अम्मा जी, कब निकलना है?वो बोलीं- आज 9 बजे वाली बस से जाना है. ब्रो सिस फक़ स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी बुआ के बेटे के साथ खेतों में बने कमरे में नंगी होकर उसका लंड चूस रही थी. इंग्लिश फिल्म सेक्सी हिंदीफिर राज बोला- भाभी अंदर ही निकाल दूं क्या?मैंने कहा- नहीं, हरगिज नहीं.

हम दोनों ने बहुत सारी प्यार भरी बातें की और एक दूसरे के साथ जीने मरने की कसमें खाई.

मैंने चुत को देखा तो बुआ ने कनखियों से मुझे ताड़ा और कुछ पैर और फैला दिए. कुछ देर बाद वो पलटी, तो मैंने भी जानबूझकर अपना एक हाथ उसके मम्मों के ऊपर रख दिया और हल्का सा हिला कर हटा दिया.

जब जब वह मेरा लौड़ा चूसती थी, तो मैं उसके मुँह को पकड़ कर गले तक धक्के मार कर उसके मुँह में ही अपना वीर्य गिरा देता था. नेहा अपनी जगह से उठी और मनीष के साथ बाहर आकर उसका गिरहबान पकड़ कर अपनी और खींच कर अपने होंठ उसके होंठों पर रख कर चूम लिया. कुछ देर बाद विपिन मेरे ऊपर पूरा लेट गया और लंड डाले डाले ही ऊपर नीचे होते हुए मुझे चोदने लगा था.

रेशमा की छटपटाहट से और उसकी तंग चूत से ये साबित हो रहा था कि आज पहली बार रेशमा की चूत बड़ा लंड लेकर चुदवा रही थी.

ऐसी प्यासी औरतों को प्यार देना और खुशी देना मैं अपना फ़र्ज़ समझता हूँ. मैं जानता था कि अभी मैंने लंड डाला तो ये चीखेगी और हम जरूर पकड़े जायेंगे. इतने दिनों से उसके यौवन के रसस्वादन और दर्शन की जो कल्पनायें की थीं वो एक सब अधूरी सी छोड़कर वैभव और रेनू यह फ्लैट छोड़कर चले गये.

सेक्सी फिल्म ब्लूटूथ वालीवैसे तो मैं सांस्कृतिक क्षेत्र से ज़्यादा जुड़ा हुआ था लेकिन फिर भी खेल में रुचि बराबर रही है. मैं राज जयपुर राजस्थान से हूँ और पेशे से गारमेंट और ऑनलाइन बिजनेस से जुड़ा हूँ.

नया सेक्सी फिल्में

पापा ने मुझसे कहा कि रायपुर से 10 किलोमीटर की दूरी पर कुछ फार्म हाउस बिक रहे हैं, क्यों ना गांव की कुछ जमीन बेच कर एक फार्म खरीद लिया जाए. आपा बोली- अब चूत को चाटोगे भी या ऐसे ही गर्म करते रहोगे?मैंने बहन की चूत को चाटना शुरू कर दिया. करीब 5 मिनट की चुदाई के बाद मुझे लगा कि साबुन कुछ सूख सा रहा है तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया.

धीरे धीरे मैंने उसकी क्लीवेज को चूमना शुरू किया और चूमते हुए मैं उसकी नाभि की तरफ बढ़ने लगा. हम अपनी बेटी को तेरे पास कहीं बाहर नहीं भेजेंगे।वो तुरंत राजी हो गया।मैंने उसे कहा- यार सोनी बहुत छोटी है. तब से मामी और अर्चना दोनों ने ही मुझे चुदाई के लिए कभी भी मना नहीं किया.

यकीनन मेरे जैसे चिकने कमसिन लड़के की गांड मारकर अंकल को बहुत मजा आ रहा होगा. मैंने अपनी चूत का पानी, जो उसकी उंगलियों पर लगा हुआ था, उसको पूरा चाट लिया और हम दोनों की होंठ दोबारा से आपस में मिल गए।हम दोनों के होंठ आपस में मिले हुए थे. क्योंकि काफी तेज बारिश के आसार नजर आ रहे थे।मैंने अपनी कार रोड से साइड में ली और उसके बगल में रोक दिया और पूछा- कहाँ जाओगी आप?उसने कहा- नहीं अंकल, मैं ऑटो ले लूंगी.

नेहा नाश्ता टेबल पर लगाने के बाद- आज कहां चलें घूमने?स्नेहा- दीदू मैं क्या कहती हूँ, घर में रह कर नाश्ता करते हुए. हम दोनों एक दूसरे से कुछ नहीं बोल रहे थे, बस अपने अंगों को खेलने दे रहे थे.

आंटी की चूत मेरे वीर्य से भर गई।मैं आंटी के ऊपर वहीं पर निढाल हो गया.

इसलिए मैंने वैसे ही अपने लंड को थोड़ा सा बाहर खींचकर एक धक्का फिर से लगा दिया. हिन्दी सेक्स videoएक दिन मैं अपनी कुर्सी पर बैठा झूल रहा था, तभी मेज़ पर रखा फ़ोन एक बार बजा. पंजाबी देहाती सेक्सी वीडियोलेकिन उन्होंने समय समय पर हमारी काफी मदद की थी, यह जानकर वह अंकल का सम्मान करने लगा था. तभी मैं कहूं कि तेरा क्यों पिछवाड़ा ऐसे क्यों उठा हुआ है, जरूर तेरे चाचा की तरह, दीपक भी तेरी गांड रोज मारते होंगे.

आज की ये कहानी मेरी शहर वाली सेक्सी बुआ की है, जो देखने में सांवली जरूर हैं.

मैंने मम्मी के होंठों को अपने मुँह में ले लिया और एक जोर का झटका दे दिया. चाहे जो‌ कुछ भी मगर आज ये तो पता चल ही गया था कि शायरा भी प्यासी थी. तुम्हारी छोटी, गुलाबी और मखमल जैसी चूत का स्पर्श मेरे लंड को होते ही मेरी नींद टूट गयी थी.

अनामिका कुछ खिसक कर नजदीक आई और प्रियंका के एक चूचे को अपने मुँह में भरके चूसने लगी. उसका हफ्ते में दो-तीन बार फोन आता है और वो मेरे साथ फोन सेक्स करता है. इस बार वो खुद को नहीं रोक पाई और उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं- स्सस्स ईईई भ्ह्ह्हैईईया आआअ नहींईईए … मत करो … गन्दी जगह है.

बिहार का एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो

तो मैं उन्हें पकड़कर गेट तक ले गयी और उन्हें धक्का देकर बाहर करके उन्हें मुंह चिड़ाते हुए बोली- अब तो जो होगा, रात को ही होगा. इससे थोड़ी ही देर में हेलीमा की चूत का फव्वारा छूट गया और उसी समय गुलजान भी झड़ कर निढाल हो गई. फिर मैं अस्पताल में अन्दर रूम में जा कर पंखुड़ी भाभी से मिला, तो बिखरे बालों में वो कमाल की लग रही थीं.

मैंने नीचे पीठ के बल लेटकर अर्चना को दोनों टांगों को खोल ऊपर लहराने को कहा.

ये सुनकर वो थोड़ा डर गई और बोली- अब कैसे पता चलेगा कि वो क्या चाहता है … और हम उसे दूर कैसे कर सकेंगे?मैंने कहा- आप चिंता मत करो, मैं हूँ न.

उसकी हाइट ज्यादा नहीं थी वो देखने में इतनी सुंदर थी कि मैंने बहुत कम ऐसी लड़कियां देखी थीं. वो कुछ अजीब सा मुँह बनाने लगा, जिससे मैंने भी चिंता जताते हुए बाबा से पूछा- क्या हुआ बाबा … मेरी रेखा क्या बता रही है?दोस्तो, उन दोनों हट्टे-कट्टे बाबाओं को देख कर मेरी चूत फड़कने लगी थी. सेक्स व्हिडिओ मारवाडीकहानी के पहले भागभाभी मेरे ऊपर चढ़ गईंमें अब तक आपने पढ़ा था कि काजल भाभी मेरे साथ बिस्तर में मजा देने लगी थीं.

रास्ते में मैंने कई बार ब्रेक मारे और वो भी हंस हंस कर बात करती जा रही थीं. पूरे कमरे चुदाई की मस्त आवाजें आ रही फच फच फच की आवाजें हम सभी को और भी ज्यादा उत्तेजित कर रही थीं. जो आकर्षण एक अरसे से दबा हुआ था वो बाहर आने को मचलने लगा। मैंने उसे व्हाट्सएप पर फॉलो करना शुरू कर दिया.

मैंने उस समय घर पर कमरा बदलने की बात कही थी जो भैया को पता चल गई थी. इस छेद के आजू-बाजू में सूरज की किरणों की तरह रेखाएं थीं और उसकी गांड का छेद हल्का हल्का खुल बंद हो रहा था.

मैंने कभी भी नहीं सोचा था कि सोनी इतने बड़े मर्द को सह लेगी।अब सुरेश का लण्ड सोनी की चूत को रौंद रहा था.

वो अपनी मुट्ठी में टोपे को लेकर चूस रही थी और फिर पूरे लंड पर नीचे से ऊपर हाथ फिराकर उसको महसूस करने की कोशिश कर रही थी. रूम में रचना ने सभी तरफ दिए और मोमबत्तियां लगाई थीं, अलग अलग रंग की लाइट्स लगाई थीं, उसमें रचना का जिस्म और खूबसूरती से चमक रहा था. तो क्या करूं? तुम … तुम ये पहले कपड़े तो निकालो?” ममता ने खीजते हुए कहा.

भाभी कहानी मेरा निकलने वाला था तो मैं संजू की चूत से अपना लंड निकाल कर खड़ा हो गया और उस कांच ले ग्लास में अपने अपना सारा वीर्य निकाल दिया. दोनों ने एक दूसरे के लिए ब्रा पैंटी सिलेक्ट की, जिसमें थोंग पैंटी, पुश अप ब्रा और कुछ रेग्युलर ब्रा पैंटी भी, जो बस पीरियड के समय में ही काम आती हैं.

वहां लोग भी काफ़ी मिलनसार हैं, ख़ासकर मेरी चचिया सास और मेरे चाचा ससुर, जो कि मुझसे फ्रैंक रहते हैं. ” मैंने उसके चूचक को दाँतों से काटते हुए बोला।अब आगे की भाभी की चूत की कहानी:वो किचन की ओर मुड़ी. मैंने आंटी को अपनी बांहों में भर लिया और उनके ब्रा का हुक खोलने के बाद उन्हें देखा.

अमेरिका सेक्सी वीडियो अमेरिका

मैंने उससे पूछा- आज पश्चिम से सूरज कैसे उग रहा है?उसने हंस कर कहा- मैं तुम्हें अपनी गांड मारने दूंगी … पर बदले में तुम्हें मेरी सहली रीता की चूत चोदनी पड़ेगी. वो अपने नंगे चूचे अनामिका की पीठ पर रगड़ने लगी … और साथ ही उसके दोनों चूचे पकड़ कर मसलने लगी. इस बीच उनके साथ वाली कहीं चली गई थी, शायद वो अपनी वाक करने निकल गई थी.

उनमें से एक लड़की एक कंपनी में जॉब करती थी और दूसरी वाली उसकी छोटी बहन थी. वो मेरा लंड पर लगा सारा चॉकलेट कुछ ही सेकंड में चाट कर खा गई … और मजे से लंड चूसने लगी.

मैंने अपने बैग में से अपना तौलिया निकाला और नहाने के लिए बाथरूम जाने लगी.

अब देसी आंटी सेक्स कहानी:अच्छे नम्बरों से प्लस टू पास करने के बाद मुझे पीएमटी की तैयारी के लिए कोटा भेज दिया गया. मैं उस समय लंड हिलाते हुए सोचता था कि कोई तो इसके चुचे चूसता होगा, कोई तो इसको इतनी मोटी गांड मारता होगा. सटा सट सटा सट लंड फच्च फच्च फच्च करके लंड चुत में अन्दर बाहर हो रहा था.

वो बोला- नाश्ता पूरी रात होता रहा है, अब आपकी ननद रानी को नींद आ गई है. अगर 1 बार लंड चूस कर पानी निकाल दिया तो 2 दिन तक ठीक से लंड खड़ा भी नहीं होगा. जब मैं अपना हाथ हटाने वाला था, तब उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपने हाथों से अपने मम्मों के ऊपर खींच लिया और अपने दूध दबवाने लगी.

वो गर्म आवाज में मेरे कान में बोली- आह यही चाहिए मुझे … मेरी चूत मारो अच्छे से … मैं तुम्हें अब कहीं जाने नहीं दूंगी.

भाभी की सेक्सी बीएफ वीडियो: करीब 4 बजे नींद में किसी औरत की कराहने और रोने जैसी आवाज मेरे कानों में पड़ी. मेरी कहानी पसंद आए तो कमेन्ट जरूर करें।मेरा ईमेल है-[emailprotected].

थोड़ी देर बाद भाभी ने उठकर अपने कपड़े उठाए और पहन कर मुझसे बोलीं- मैं अपने रूम में जा रही हूँ. मेरी कम चुदी चूत में रोहण से अपना डंडा आगे पीछे करना शुरू किया तो मुझे मजा आने लगा. उस दिन मैं ऑफिस से छुट्टी लेकर दोपहर एक बजे अपने फ्लैट पहुंच गई।वहाँ पहुंच कर मैं बस शाम के बारे में सोच रही थी कि क्या होगा.

मुझे उस पर बहुत ही ज्यादा गुस्सा आ रहा था और मैंने गुस्से में चिल्ला कर कहा- अगर तुमने यह नहीं किया तो मैं तुम्हें यहां से बाहर निकलवा दूंगी.

मैंने अपने दोनों हाथों को लाकर नीचे से उसकी गांड को कस कर थाम लिया और अपने पूरे शरीर का वजन मैंने उस पर ही डाल दिया ताकि वो इधर उधर न हो. अब मुझे मजा आने लगा क्योंकि अब मैं उसके हालात का सही तरीके से फायदा उठा सकती थी. थ्रीसम चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैंने कैसे अपनी गर्लफ्रेंड की दो सहेलियों को एक साथ चोद कर मजा दिया.