सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ

छवि स्रोत,झारखंड वाली सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ खुल्लम खुल्ला बीएफ: सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ, चल अब खड़ी हो जा!उसने हाथ पकड़ कर अमिता को खड़ा कर दिया और उसको चूम कर चूतड़ों से खेलते हुए बोला- अमिता रानी.

पीने की सेक्सी वीडियो

तो मेरे अन्दर ही झड़ना।इतना कहते ही हम दोनों साथ में झड़ गए और मैं उसके ऊपर लेट गया और उसे किस करते हुए बोला- भाभी, आप बहुत नमकीन हो।भाभी बोली- आप भी बहुत तीखे हो।हम दोनों हंसने लगे।उस दिन मैंने चार बार भाभी की चुदाई की. सेक्सी विडिओ सनी लिओनकुछ देर ऐसा चलता रहा।फिर मैं उसकी गोद में सिर रख कर लेट गया। वो मेरे बालों में हाथ फेरने लगी। मैंने उसके टॉप को थोड़ा ऊपर किया और अब मेरे सामने उसका नंगा पेट था.

हम लोगों की लाइफ एकदम मस्त चल रही थी, दोनों खूब सेक्स एंजाय करते थे और शादी से पहले के अफेयर के बारे में भी बात करते थे, अपनी सेक्सी कहानी एक दूसरे को बताते थे. अनुष्का से सेक्सीइसके बारे में मैं आपको इस सेक्स स्टोरी के अगले भाग में लिखूंगा।आपको यह हिंदी सेक्स स्टोरी कैसी लगी.

पहले मेरे बारे में उन्हें थोड़ा बता देता हूँ जिनको मेरे बारे में पता नहीं है, मेरी उम्र अभी 28 साल है, अभी तक मेरी शादी नहीं हुई है.सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ: हो सकता है वो भी तुम्हें चाहती हो, मगर बोल न पाती हो।तभी मैंने पूछा- भाभी आपको मेरी कसम है.

काली-काली रात सी आंखें… अगर उसके होंठ प्रियंका चोपड़ा की तरह न होते तो उसमें और आयशा टाकिया में फर्क करना नामुमकिन हो जाता।भीगी हुई टॉप में उसके स्तन साफ नजर आ रहे थे.‘उसने मुझे पीछे से जोर से पकड़ लिया और मेरे कान में बोला- बहुत बड़ा आर्डर मिला है, मुझे दिल्ली जाना पड़ेगा.

राजस्थानी देसी मारवाड़ी सेक्सी - सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ

रात को खाना ख़ाकर मैं राम को घर छोड़ कर वापिस आया दिव्या के रूम पर… वो शायद नहा कर निकली थी तो बाल गीले थे और टीशर्ट और शॉर्ट्स में थी.फिर मैंने धीरे-धीरे धक्के मारना चालू किए। अब वो पूरे जोश में आ गई थी और अपनी गांड उचका कर लंड ले रही थी। मैंने धीरे-धीरे रफ़्तार बढ़ा दी और एक हाथ से उसके मम्मे को मसलने लगा। दूसरे हाथ से मैं उसकी गांड पे चाटें मारने लगा।उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं और वो ‘अ.

गाँव में मेरी चाची रहती हैं जिनका नाम शोभा है, उनकी उम्र 34 साल और साइज़ 32-30-34 है. सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ इसे सोचते ही मेरा तो रोम-2 सिहर उठता है!! मेरी प्यारी-नशीली नताशा ने क्या गज़ब का डबल एनल परफॉरमेंस दिया!!!‘अगर सच पूछो तो मेरी भी वही इच्छा है, जो कि तुम्हारी.

सब काम दिल लगाकर करना।मेरा यही जवाब होता कि हाँ अम्मी आप चिंता न करें.

सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ?

मैंने अनजान बनते हुए कहा- कौन अनु?तो उसने कहा- वही रात वाली आईटम।मैंने कहा- ओह तुम. लेकिन थोड़ी देर में उतार दी। मैंने पैंट उतराते ही उसकी पेंटी भी उतार दी।वो ‘उहह ह्म. अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली सेक्सी कहानी है और मैं अन्तर्वासना की सेक्स स्टोरीज का एक नियमित पाठक हूँ।मेरा नाम मक़बूल खान है। मैं चित्तौड़गढ़, राजस्थान में रहता हूँ। मैं 20 साल का हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 6 इंच की है.

लेकिन कभी चुदाई का मौका नहीं मिला।एक रात मैंने उससे बोल ही दिया कि मुझे तुमको चोदना है. मैं भाभी के होंठों को चूस रहा था, उनकी चुची को मसल रहा था, फिर मैंने भाभी की चुची को पीना शुरु किया, मैं जोर जोर से चुची पर काट काट कर चूस रहा था. उसका बदन भी अकड़ रहा था।मैंने उसके ऊपर पूरा लेट गया उसने भी मुझे बांहों में भींच लिया।फिर हम दोनों ऐसे ही पड़े खेलते रहे।दोस्तो, दिव्या के साथ चोदा चोदी जारी रहेगी, गर्म भाभियों से रिक्वेस्ट है कि वे अपने विचार भेजें और अपने एक्सपीरियेन्स बताएं.

उसका लंड इतना बड़ा था कि मेरे मुँह मैं एकदम फिट हो गया और अंदर जाने के लिए कुछ बाकी ही नहीं था. क्या मस्त चूसती है तू, क्या बोलती है तू इसको?’ वो अपना लिंग हिलाते हुए बोला. मेरा ये पहला मौका था तो मैं तो पागल हुआ जा रहा था… चाची पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी तो उसने अपने आप ही मेरा पजामा उतार दिया.

मेरे रोकने की कोशिश के बाद तो उन्होंने रुकने की बजाय अपनी हरकत को और भी अधिक तेज कर दिया… अपने होंठों व जीभ के साथ साथ वो अब अपने हाथ से भी मेरे लंड को ऊपर नीचे हिलाने लगी. वो फिर से स्टार्ट करो।चाची के मुँह से ये सुन कर मैं खुश हो गया और चाची को भींचते हुए किस करने लगा।‘थैंक्यू चाची.

अंजलि मेरे ऊपर सवार हो गई और मेरे ऊपर झुक कर मेरे होंठों पर अपने होंठ चिपका दिए.

उस दिन उसने एक छोटी स्कर्ट और सफ़ेद टॉप पहन रखा था जिसमें उसका फिगर (32/27/34) मस्त लग रहा था.

स्टॉप आते हम लोग उतर गये, मैं पैसे देकर पान की दुकान पर मसाला खाने लगा, तभी मैंने देखा कि ऑटो वाला और वो आंटी झगड़ रहे थे. वो एकदम गोरी थी।मुझे यूं घूर कर मम्मे देखते ही वो भी समझ गई कि मैं क्या देख रहा हूँ।वह बोली- मेरी स्कूटी का पेट्रोल खत्म हो गया है. पर कोई फ्रेंड्स उस पर लाइन नहीं मारती थी क्योंकि वो मुझे पसंद था और मैंने सबको कह रखा था। पर मैंने अपने भाई से ये बात कभी नहीं कही।अब 12 वीं पास करके हम सब कॉलेज में आए, सब फ्रेंड्स ने ब्वॉयफ्रेंड बना लिए थे, बस मैं ही रह गई। मेरी 3 बेस्ट फ्रेंड्स थीं.

उम्म्म म्म्म्म म्म्म!और चाची पागलों की तरह चिल्ला रही थी, वो मेरे सिर को अपनी चूत में दबा रही थी. मेरे लिंग की लम्बाई काफी है, और मुझे सेक्स का काफी अनुभव और शौक है. क्योंकि हमको वहाँ उतरना था तो मैंने कोमल को जगाया और थोड़ी देर में हम सायन में उतर कर मरीन ड्राइव की ओर चल पड़े जहाँ हमारा सी फेस रूम बुक था.

मेरे उस चूतिया पति का तो बस 4 इंच की लुल्ली सी ही है।मैं उनकी पेंटी उतार कर उनकी चूत पर जीभ फेरने लगा, वो पागल सी हो गईं, मौसी ‘आआअह.

उधर आंटी भी पूरी नंगी होकर मेरे मूसल लंड को घूरने लगीं।यह हिंदी चुदाई की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!मैं लंड हिला कर बोला- आंटी, क्या हुआ कैसा लगा मेरा लंड?आंटी बोलीं- तभी मैं सोचूँ कि शालू तुझसे क्यों चुदवा रही थी।मैं हँस कर बोला- और क्या तुमने क्या समझा. मैंने सोचा कि कोई बड़ी परेशानी लगती है सो मैंने फिर से झाँक कर देखा तो वो अपनी चुत में उंगली कर रही थीं।जब मैंने ये सीन देखा, तो मैं सब समझ गया कि चाची प्यासी हैं। चाचा 5 साल से बाहर जॉब कर रहे थे। वो बेचारी घर में रह कर उंगली से काम चला रही थीं।अब मुझसे रहा नहीं गया. ’ रमा ने राहुल से कहा जो कच्छे की टांग से बाहर झांक रहे अपने लिंग की तरफ इशारा कर रहा था।‘चल जाकर नहा ले, ज्यादा बातें मत बना वरना स्कूल के लिए लेट हो जायेगा.

नहीं तो प्रिया आ जाएगी।यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!यह बात मैं भी समझ रहा था कि वह मार्केट गई थी. वो वैसे ही ब्रा में भागती चली गई और दोनों बेडरूम्स के दरवाजे बंद करके आई।‘अब कोई दिक्कत नहीं है. मैंने उसको कहा- मुँह में ले!उसने पहले मुँह बनाया, फिर मैंने उसके मुँह में दिया और वहाँ झाड़ातो कहती- उफ अजीब था!मैंने उसको चूमा तो कहती- यार क्या करता है?मैंने कहा- और गंदे काम होंगे अब!फिर वो मुझसे पूरी नंगी लिपट के मेरे रूम पे सो गई, और पूरी रात बातें की और उसने मुझसे से एक बार और चुदाई करवाई.

तो और मजा आएगा।मैंने कंडोम निकाल दिया और वापिस चोदना शुरू किया। अब मुझे ज्यादा मजा आ रहा था क्योंकि अब मुझे आंटी की चूत की गर्मी महसूस हो रही थी। फिर मैं आंटी को थोड़ी जोर से चोदने लगा।अब आंटी भी चिल्लाने लगीं- फाड़ दे मेरी चूत.

मैं अजमेर से हूँ। मैंने अन्तर्वासना की कई चुदाई की कहानियां पढ़ी हैं और आज पहली बार मैं अपनी सेक्स स्टोरी लिखने जा रहा हूँ।मैं 24 साल का हूँ, मेरा लंड 7 इंच लम्बा और काफी मोटा है. उस समय लण्ड मेरा सोया हुआ था पर जैसे ही उनका हाथ लगा, मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया.

सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ मेरे मन में तभी बहुत सारे ख्याल उठ रहे थे, मैं सोच रही थी कि काश उषा दीदी फिर से आ जाएं।थोड़ी ही देर हुई नहीं कि मीता लौट आई और अन्दर से दरवाज़ा बंद कर दिया। मैं बिस्तर पर लेटी थी।मीता बोली- आज तुम्हें कैसा लगा? उषा दीदी को बुरा तो नहीं माना ना?मैं हंस दी और बोली- नहीं, मुझे सच कहूँ तो अच्छा लगा।वो बोली- मुझसे सेक्स करेगी? देखो मैं तुम्हारे साथ इसी रूम में रहूंगी तो यह आसान भी है. मैंने पूछा- तुम क्यूँ कपड़े पहन रही हो?तो वो कहने लगी- मैं नेहा के सामने नंगी नहीं रहूंगी.

सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ फिर वो थोड़ा कसमसाई, फिर धीरे से मैंने उसे चूमा… गर्दन और गाल और फिर होंठ और हाथ बोबे दबाने लगे. मैंने वहां जाकर जब देखा तो एक बेहद खूबसूरत बच्ची सो रही थी और नाज़िया बैठी थी।मुझे रोना आ गया।खैर मैंने खुद को संभाला और उन्हें मेरे साथ आने को कहा।पर वो बोली कि कल उसके घर वाले आ रहे हैं.

‘क्या मेम साब, बहुत बड़ा है आपका, बहुत काम करना पड़ेगा!’ उसने मेरी चुची को देख के बोला, काम के बहाने वो मेरे स्तनों के बारे में बोल रहा था.

कार्टून पॉर्न

’ क्या मस्त चूस रही थी।फिर हम दोनों 69 पोज़ में हो गए, वो मेरा लंड और मैं उसकी फुद्दी चाट रहा था।वो अजीब सी कामुक आवाज निकालने लगी- वाउ अयान. वो पहली ही बार में मेरी परसेंटेज और मेरे सॉफ्ट व्यव्हार और नॉलेज को देखकर मुझसे बहुत इम्प्रेस हो गई थी, उसने मेरा नंबर ले लिया था. 5 इंच का ही था।मैंने कहा- हाँ यार सच में तेरा तो बहुत बड़ा है।तो बोला- हाँ पता है मुझे.

लौंडियाँ मेरे आकर्षक शरीर पर जल्दी ही फ़िदा हो जाती हैं।सभी लोगों की तरह मेरा भी मन सेक्स करने में लगता था. मैं अन्दर को होता गया।उसी वक्त मैंने देखा कि एक बहुत ही हॉट आंटी साड़ी में बैठी हुई थीं और उनका गोरा पेट दिख रहा था। आंटी को ध्यान से देखा तो उनके दिखते हुए चुचे भी बड़े मस्त दिख रहे थे। चूचियों का साइज़ काफी बड़ा था. वाह क्या गांड थी गरमागरम… जैसे ही मेरा लंड जोहा की गांड में सटा, वह चिहुंक उठी, जोहा के कसमसाते हुए दोनों चूतड़ों ने मेरे लंड को जकड़ लिया, उसने अपने चूतड़ों को जोर से दबोच लिया और पीछे पलट कर मुझे देखा… और फिर पलट के सोने लगी.

मेरे हैण्डबैग में है।’‘ठीक है दे दो।’फिर मैं उसे क्रीम देकर डॉगी बन गई। उसने अपने लंड और मेरी गांड के छेद पर वैसलीन लगा दी।‘धीरे करना.

कभी निप्पल दो उंगली से मसल देता तो अंजलि चीख पड़ती- किशोर अंकल… धीरे से प्यार से करिये!‘अह्ह्ह… ह्ह… उईई… ईईई माआआ… माआआ…’ मैं तो पागल सा हो उठा था क्योंकि बहुत अरसे के बाद इतनी कमसिन से लड़की मेरे लंड के नीचे आई थी. थोड़ी देर बाद उसे ज्यादा मजा आने लगा और मुझे भी… मेरा पानी उसकी चूत में छूट गया. अगले दिन मेरी वाइफ जब ऑफिस गई हुई थी तब मैंने कैमरा की हार्ड डिस्क निकली और रेकॉर्डिंग देखी, मैं एकदम धक्क से रह गया.

’ की आवाज़ के साथ लंड को अन्दर-बाहर कर रहा था।फिर मैंने उसे पकड़ कर पलट दिया और उसकी गांड के छेद को उंगली से खोलने लगा। मैंने उसके छेद को चाट लिया. मेरे दोस्त मुदस्सर का पूरा घोड़े जैसा लंड मेरी पत्नी की गांड में जड़ तक घुस चुका था. सुहाना ने कोई विरोध नहीं किया और इसी बीच उसकी टी-शर्ट भी उसके जिस्म में अलग हो गई। मेरे हाथ केवल और केवल उसके मम्मों से खेल रहे थे और वो चुपचाप आँखें बन्द किये हुए मेरे सीने से लगी थी।इसी बीच मौका पाकर मैंने उसकी स्कर्ट को भी उसके जिस्म से अलग कर दिया और मेरा एक हाथ फिसलता हुए उसकी चूत पर चला गया.

!मैंने कहा- अब मान भी लो ना!तो बोली- मान कर खुद को और तुमको भी दोबारा दुख नहीं पहुँचा सकती।मुझे उसकी वो बात याद थी कि वो मुझसे टुन्नी में कहती थी कि उसके मुँहबोले भाई के साथ मिलकर वो नशा करती थी और वो उसको ब्लू फिल्म दिखा कर न जाने कितनी पोज़िशन्स में उसको चोदता था।जब मैंने उससे कहा- उसको मना नहीं करती थीं।तो बोलती थी- नहीं. मनजीत- अगर आप बुरा ना मानो तो हमारी मॉडलिंग एजेन्सी में आकर अपना फोटोशूट करवा सकती हो!मैं- आना ज़रूरी है क्या?मनजीत- नहीं भी आओगी तो नो प्राब्लम लेकिन अगर आ जाओगी तो हमें अच्छा लगेगा.

जब हम सब फ्रेंड्स ने मिल कर गोवा घूमने का प्लान बनाया था।हम सब रेडी हो गए था लेकिन क्या हुआ कि जिस दिन जाना था, उसके एक दिन पहले ही मुझे कोई जरूरी काम आ गया।मैंने सबको बोला- तुम चले जाओ. चूसता ही चला गया। मैंने फिर अपना हाथ उसके लव ट्रैंगल की ओर बढ़ाया, इस बार भी कोमल ने मेरा हाथ पकड़ लिया पर अबकी बार मैंने उसकी चूची में जोर से दांत गड़ा दिए, वो दर्द से मेरा हाथ छोड़ कर मेरे बाल खींचने लगी. मैं उसके ऊपर लेट गया और अपना लंड उसकी चुत में घुसा दिया।पर ये क्या.

‘एक बार काम शुरू किया तो उनको कुछ नहीं लगता!’ ऐसा कह कर हम खाने से पहले सेक्स करने का प्लान बना कर ऊपर जाने लगे, मेरे पति पहले चले गए.

मैं रात को जल्दी नहीं सोता हूँ।इस वजह से मैंने उससे पूछा- क्या तुम जल्दी सो जाओगी?तो उसने कहा- हुन्न. इतने में मुझसे रहा नहीं गया और मैं छूट गया, ढेर सारा माल मेरे लंड से छूट कर नीचे चादर पर गिरकर इकट्ठा होने लगा. आह… प्लीज़’ सनी बड़बड़ा रही थी …अब उसके लिए और रुक पाना मुश्किल था वो अपनी चूत में लंड चाहती थी ‘आह आह… पुट इट… पुट युवर डिक इनसाइड एंड फ़क मी!’राहुल सनी पर लेट गया और उसकी चूत पर लौड़ा सेट करके उसने एक दमदार झटका दिया, लंड सरसराता हुआ पूरा का पूरा सनी लियोनी की गीली चूत में समा गया।‘आह… ओह मदर फकर इट्स सो बिग.

मेरी बहन की चूत पर छोटी छोटी जानतें थी, उसने कुछ ही दिन पहले अपनी झांटें साफ़ की होंगी. तो मैंने सोचा कि इसके साथ आज कुछ ना कुछ करूँगा ज़रूर। ये सोचकर मैं फिर से गया और मैंने बाथरूम का दरवाजा खोल दिया। वो अभी भी नंगी थी.

‘आह्ह्ह्ह ह्ह्ह्ह्ह… स्स्स्स्मीर…’ वंदु ने बड़े ही मादक अन्दाज़ में सिसकारी भरते हुए अपनी चूत में घुसते हुए गर्म कड़क लंड को महसूस किया और मुझसे लिपट कर अपनी कमर के ऊपर के शरीर को उठा सा दिया. सुमन हटाने लगी तो मैं नेहा से बोला- यार, अब तुम मदद करो!नेहा भी साथ में आ गई और मैं अब बोला- यार, अब ये किसी एक की चूत में तो जायेगा ही!तो सुमन बोली- ठीक है, मेरी में डालो!नेहा बोली- नहीं, मेरी बारी है, तुम कर चुकी हो!तो मैं बोला- तुम दोनों ही मेरी हो… अब आ जाओ!सुमन ने बहुत नखरों के साथ कपड़े उतारे. इतना तो चलता ही रहता है।मैंने कहा- इट्स ओके।फिर उसने भी पूछ लिया- क्यों आपने अपनी गर्लफ्रेंड को किस नहीं किया क्या?मैंने भी कह दिया- मैंने भी बहुत बार किस किया है।लेकिन उस नाइट और भी कुछ होगा.

सेक्स व्हिडिओ इंग्लिश सेक्स व्हिडिओ

तुमने मुझे अच्छा दोस्त समझा पर मेरे मन में तुम्हारे लिए पाप उमड़ा उसके लिए माफी चाहता हूँ। तुम अपनी जिंदगी में हमेशा खुश रहना, तुम्हारा सुधीर!मेरे पैरों तले जमीन खिसक गई.

मैंने उस को बताया कि राजू के हॉस्टल में उसका जाना ठीक नहीं, और मैं जल्दी वापस आ जाऊंगा. आंटी ने मुझे चूत चाटने को बोला, मैंने मना किया तो ज़बरदस्ती मेरा सिर पकड़ कर मुझसे अपनी चूत चटवा ली. हमारा रिश्ता बन चुका था, अब आगे की कहानी पर आता हूँ।उस रात के बाद अगले दिन जब हम मिले, तो वो थोड़ी उदास थी।बोली- अमित कल जो हुआ, उससे बड़ा अजीब लग रहा है।मैंने उसे गले से लगाया तो कहने लगी- नहीं नहीं.

बस मुझ जैसे कमीने को तो इशारा मिल गया कि गुरु कोशिश करो तो बात शायद बन जाए।मैंने वहीं खड़े-खड़े सिगरेट पीना शुरू कर दिया। अब वो लड़की बार-बार मुझे देख रही थी. बो दीजिए अपना बीज मेरी इस कोख में!भाभी अपना हाथ अपने पेट पर रखते हुए बोली. सेक्सी फोटो देखावही लड़की थी, जिसने मेरी शर्ट के ऊपर खाना गिराया था।मैं रुका और बोला- यस.

बहुत बार दीपा ने मेरी गांड मारी और मैंने रोहित की चूत मारी।आपको मेरी ये काल्पनिक चुदाई की कहानी कैसी लगी. नेचर से हम दोनों गे नहीं थे लेकिन जैसा अक्सर होता है कि चूत की कमी ने हम दोनों को धीरे धीरे गांडू बना दिया था.

तब उसने मुझे बताया कि उसने काफी डॉक्टर को दिखाया और मेडिसिन भी ली परंतु कुछ नहीं हुआ. मत कर!मैंने कुछ नहीं कहा और एक हाथ से गांड और एक हाथ बढ़ा कर दीदी की चुची को मसलने लगा। वो मुझसे अलग होने की कोशिश करने लगी. जब उसका भाई, मतलब तेरा पति शहर से बाहर होते थे, तो वो मुझ से एक दिन में पांच-पांच बार चुदवाती थी। जब वो शहर में भी होते थे.

मुदस्सर उसकी नाईट ड्रेस की डोरियों को खोलते हुए उसकी चूत को टटोल रहा था. रुक क्यों गए?मैंने मना कर दिया तो वो खुद अपने उंगली से वो रस चाटने लगीं। मैं इसे देख कर बहुत गरम हो गया। तत्काल मैंने उनकी उंगली हटा कर अपने होंठ उनकी रस छोड़ती चुत पर रख दिए। उनकी चुत के रस का स्वाद लाजवाब था।फिर भाभी ने कहा- मेरे पति के गुज़रने के बाद से आज तक किसी ने इसको हाथ तक नहीं लगाया।मैं समझ गया कि भाभी की चुत बहुत टाईट है, मैंने अपनी एक उंगली उनकी चुत में डाली।वो बोलीं- आह. वो अपने सुपारे को भींच कर तेज धार के साथ भाभी के मुंह-जीभ पर वीर्य उगलने लगा.

वो सब कहानी इसके अगले भाग में लिखूंगा।तब तक आप मेरी इस बहन की चुत चुदाई की कहानी पर अपने विचार मुझे लिख सकते हैं।[emailprotected]छोटी बहन की चुदाई करने के लिए क्या किया-3.

दीदी बेड से उठकर बाथरूम की तरफ जब जाने लगी तो लड़खड़ाने लगी, मैंने उन्हें सहारा दिया और बाथरूम ले गया. मुझे याद आया कि अन्तर्वासना पर कुछऑडियो स्टोरीज भी हैं डेल्ही सेक्स चैट वाली लड़कियों की.

उसकी बात सुन अमन ने भी मोनिका की चूत का ख्याल करके मुठ मारी और संगीता को बताया कि उसने ऐसा किया है।संगीता को बुरा नहीं लगा।संगीता थ्रीसम मूवी देख कर चुकी थी जिसमें एक आदमी अपनी बीवी और उसकी सहेली के साथ चुदाई करता है, तो उसे अमन की बात का बुरा नहीं लगा बल्कि उसके मन में यह ख्याल आया कि अगर वो, मोनिका मिलकर अमन के साथ सेक्स करें तो…अगले दिन संगीता ने मोनिका को फोन करके अपने यहाँ बुला लिया. मेरा नाम लक्की राज है, 22 साल का हूँ, मैं अन्तर्वासना का पुराना पाठक हूँ. आपको तो कॉलेज के समय में बहुत लड़के बहुत लाइन मारते रहे होंगे!तो उन्होंने मेरी इस बात को हँस कर टाल दिया।मैंने कहा- अंकल तो बहुत नसीब वाले हैं आंटी कि उनको आप जैसी सुंदर बीवी मिली है।इस बात पर आंटी ने ज्यादा अच्छे से जवाब नहीं दिया.

एक दिन एक लड़के ने बताया जो हमारे घर के पास रहता था कि मेरी वाइफ और सौरभ दोनों वॉटर पार्क में आए हुए हैं जबकि मेरी वाइफ ने मुझे वो बोला था कि वो एक ट्रेनिंग में जा रही है इसलिए फोन नहीं कर पाएगी. चोदो न मुझे। मेरा सपना था कि कभी मैं भी जी भर कर बेशर्म की तरह चुदाई करवाऊं वो भी किसी पोर्न सेक्स मूवी के जैसे। आख़िर. जिस घटना के बारे मैं बताने जा रही हूँ, इस घटना के बाद मेरी पूरी जिंदगी बदल गई!मैं एक शादीशुदा महिला हूँ, देखने में सुन्दर हूँ.

सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ आंटी ने दरवाजा खोला, मैंने देखा तो मेरे होश उड़ गये क्योंकि आंटी सिर्फ़ ब्रा और पेटीकोट में थी. कहीं भागी नहीं जा रही हूँ।वो हँस कर बोला- ठीक है।यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!फिर उसने मेरी टीशर्ट उतार दी और मेरी चुची चूसने लगा.

सेक्सी फिल्म इंग्लिश में

फिर कुछ ही पलों बाद दोबारा एक जोरदार झटके में सील तोड़ता हुआ पूरा अन्दर पेल दिया। वो दर्द के मारे बिलबिला रही थी।मैं वहीं उसके ऊपर चढ़ा रहा. फिर मैंने चूत चाटना शुरू किया और दीदी के झड़ने के बाद उनका सारा रस पी गया।फिर हम दोनों थोड़ी देर के लिए लेट गए और एक दूसरे को गर्म करने लगे।थोड़ी देर में मेरा लंड फिर से तन गया और दीदी ने कहा- पहली बार सेक्स करने पर दर्द होता है लेकिन बाद में बहुत मजा आता है इसलिए मैं कितना भी चिल्लाऊँ, आप पूरा लंड अंदर कर देना! मैंने कहा- ठीक है. ‘डफर, ये सुसु तोड़े है ये तो मेरा लंड तुम्हें थैंक यू बोल रहा है देखो ये तो सफ़ेद है.

नितिन खड़ा हो गया, उसने अपनी निकर निकाल दी, फिर मेरी टांगों के बीच आकर उसने मेरी चुत पर अपना लंड रखा और अपने लंड से मेरी चुत को मसलने लगा, फिर धीरे से अपना सुपारा मेरी चुत के अंदर घुसा दिया. टीचर का नाम नहीं बताऊंगा लेकिन क्या माल थी 5’5″ गोरा रंग… हंसमुख हल्के रंग की साड़ी गहरे रंग की ब्रा… बस इतना काफी था लंड खड़ा करने के लिए…लेकिन क्या करता… डरता था… बस रात को उनका फिगर होता और मेरा लंड अपने हाथ में!टेस्ट खत्म होने के बाद सायं को वहीं मयंक के घर गया देखा तो मयंक के पापा उसे डांट रहे हैं. अनन्य पांडे की सेक्सी वीडियोतभी मैंने तुझे चुपके से देख लिया था और इसी लिए तुम्हें बेडरूम में भेजा था। थोड़ी देर बाद मैं आ ही जाती.

अब मैंने उसको दोनों जगह झटके देने को कहा और दो मिनट में उसका पानी निकल गया और मैंने भी मुठ मार ली.

‘घर में पेंट चालू है, तो बीवी से फूलों जैसी स्मेल थोड़ी आएगी!’ मैंने उससे कहा. ‘अब गालियाँ दे… मजा आता है तेरे मुँह से गालियाँ सुनने में!’ ऐसा कहकर वो मेरी कमर पकड़कर जोरदार धक्के लगाने लगा और मेरी गांड पे चपत लगाने लगा.

मुझे अकेले डर लगता है।मैं- ठीक है भाभी।फिर हम दोनों यूं ही बात करते रहे और कुछ देर बीतने के बाद सोने की तैयारी करने लगे।भाभी ने बोला- तुम दूसरे कमरे में सो जाना।जब उन्होंने कहा कि तुम दूसरे रूम में सोना. हूँ मैं ओदियाँ लत्तां चक्कियां ते अपना पूरा लन ओदी फुद्दी विच बाड़ के ओहदी फुद्दी मारण लग्ग पया. कभी लड़की नहीं देखी क्या?मैंने मज़ाक में कहा- देखी तो बहुत हैं लेकिन तुम जैसी नहीं देखी।वो एक क्यूट सी स्माइल देकर कपड़े चेंज करने चली गई।फिर कुछ ही पलों बाद वो एक टॉप और ट्राउज़र में आई.

हम जल्दी से वहाँ पहुँचे। हमने देखा कि उसके पैर में फ्रॅक्चर हो गया था और वो बाइकर तो भाग गया था।अब हम डर गए.

मराठी मुलगी की प्यासी चूत में लंड की सेक्सी कहानी-1प्यासी चूत में लंड लेने को तड़प रही मराठी मुलगी की यह सेक्सी कहानी अब बस से निकल कर होटल के कमरे में पहुँच रही है. जैसे कोई अप्सरा हो।मैंने उसके मम्मों को ब्रा की कैद से आज़ाद कर दिया और पैंटी भी उतार दी। अब मैं भूखे शेर सा उस पर टूट पड़ा। मैं कभी उसे चूमता. करीब एक घंटे के बाद अंजलि का फ़ोन आया- आप आ जाओ, मुझे वापस चलना है!मैंने पूछा भी- इतनी जल्दी? क्या हुआ?पर अंजलि ने कहा- कुछ नहीं, बस आप आ जाओ और मुझे ले चलो!मुझे लगा कुछ गड़बड़ है तो मैं तुरंत वहां से निकल कर होटल पहुंचा तो देखा कि अंजलि बाहर ही लॉबी में मेरा इंतज़ार कर रही थी और अपसेट भी लग रही थी, वो चुपचाप गाड़ी में आकर बैठ गई और मैंने गाड़ी चला दी.

सेक्सी वीडियो भेजो अंग्रेजीएंड्री- वॉट हॅपन रीतिका, ऐनी प्रॉब्लम्स? इस इट स्माल?मैं- नो नथिंग… इट्स वेरी ह्यूज वन. वो कुंवारी नहीं थी इसलिए मैंने उसको सही पोज़ में लेकर एक जोरदार झटका उसकी चूत पर मार दिया और लंड आधे से ज्यादा उसकी गीली चूत में फंस गया.

आदिवासी गान

रिया ने मुझे बताया- इतना लंबा टाइम मैं पहली बार चुदी हूँ और इतना जोरदार पहली बार झड़ी हूँ, वाकई बसंत क्या मजा दिया है तुमने मुझे आज!मैंने कहा- अभी तो शुरुआत हिया, अभी पूरी रात बाकी है. हर झटके में भूमि की हल्की चीख निकलने लगी- भाईईए…मैं काफी देर तक चोदता रहा. बड़े ही तने हुए और लंड खड़ा कर देने वाले थे।मेरे दोस्त मुझसे अक्सर कहा करते थे कि तू भाभी के इतना क्लोज़ है तो उनको चोद क्यों नहीं देता?पर सच बताऊं तो मुझे कभी चान्स ही नहीं मिल रहा था।एक दिन अंकल मेरे घर आए और उन्होंने मेरे पापा से कहा- हम लोग 2 हफ्ते के लिए तीर्थ यात्रा पर जा रहे हैं। आप घर का ख्याल रखिएगा, घर में निशा बहू अकेली ही है।पापा ने कहा- कोई बात नहीं.

इनका नाम हमारे यहाँ पूछा जाए, तो कोई भी बता देगा तुझे कि ये कौन हैं।मैंने उसकी बात काटते हुए कहा- क्या यार, दोस्त बन के आया हूँ यहाँ और तुम क्या लेकर बैठे हो. तो मैंने उससे कहा- तू मेरा लौड़ा चूस और मैं तुम्हारी बुर को जीभ से चोदता हूँ।पहले तो वो नानुकुर करने लगी. 5 इंच का लंड देख कर चौंक गई और बोली- इतना बड़ा लंड मेरी छोटी सी चूत में कैसे जाएगा?और वो उसे अपने हाथ में लेकर सहलाने लगी.

सभी बैठ कर बातें कर रहे थे। उस वक्त निशा और मैं भी वहीं पे थे। बातों का सिलसिला चलता रहा।तभी भाई ने कहा- लो जी मेरी तो एक भी साली नहीं है।मैंने कहा- लो भाई तुम्हारी तो किस्मत फूटी निकली. मेरा तो लंड आन्दोलन करने लगा।कुछ सेकंड मैंने मामी को इस स्थिति में देखा और झट से पलट गया। शायद मामी को भी इसका अहसास हो गया था. यूँ अचानक लंड को उस अवस्था में छोड़े जाने की वजह से मैं लगभग चौंक सा गया था और अपनी आँखें खोलकर वंदु की तरफ़ यूँ देखने लगा मानो मैं उससे पूछ रहा होऊँ कि लंड को इतना तड़पा कर यूँ छोड़ क्यूँ दिया!हमारी नज़रें मिलीं और वंदु ने अपने चेहरे पर उत्तेजना से भरे भाव के साथ मुस्कुराते हुए मेरी आँखों में देखा जो उससे बिना कुछ कहे सवाल किए जा रही थीं.

मैंने 15 मिनट तक उसके दुग्ध कलशों और उसके होंठों को गर्दन को पेट को चूमा और चूसा. अब मुझे भी मजा आ रहा था आंटी की क्लीन शेव चूत को चाट कर…आंटी सेक्स के लिए बेचैन थी, मैंने आंटी को बेड पर लिटा दिया और आंटी की चूत में लंड लगा कर एक ज़ोर का झटका मारा, आधा लंड आंटी के चूत में गया.

अब चोट मार ही देना चाहिए।मैंने पास रखी टेबल से वैसलीन उठाई और थोड़ी उसकी चुत के मुँह पर और थोड़ी अपने लंड के सुपारे पर लगा ली।मैंने लंड डालने की थोड़ी कोशिश की तो वो चिल्ला पड़ी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआअहह.

उसको चोदना चाहता था, उसकी जवानी को लूटना चाहता था।कुछ दिन बाद मैं अपने घर वापस आ गया।दो महीने बाद माँ ने बोला- जाओ कविता को ले आओ।मैंने पूछा- क्यों?तो माँ ने कहा- वो अब यहीं पढ़ेगी।यह सुन कर मेरी तो जैसे लॉटरी लग गई… मैं उसे लेने दीदी के घर तुरंत चला गया। उधर पहुँचते ही वो भी फट से तैयार हो गई. सनी लियोनी सेक्सी video‘हाआँ जान… ऐसे ही अंदर तक पेलओ… ओह आआआअ…’मेरा भी अब निकलने वाला था पर मैं माही की चूत में नहीं छोड़ सकता था क्योंकि मैं माही को लेकर किसी भी प्रकार का रिस्क नहीं ले सकता था। मैंने अपनी प्यारी बहना के चूतड़ों पर एक थथप्पड़ मारा और उससे कहा- मैं अपना वीर्य तुम्हारे मुँह में छोड़ना चाहता हूँ. हॉट सेक्सी चुदाई वाली फिल्मएक उसने बताया- आज ऑफिस की पार्टी है, मैं घर से से आऊंगी तो रात को हम बात नहीं कर पाएँगे. इसी बीच मैंने सुपारे के खोल को नीचे किया और प्रिया से उस पर अपनी जीभ चलाने को कहा.

मैंने उसके होंठों को होंठों में लिया और उसकी ज़ोरदार चुदाई चालू कर दी.

मैं हिम्मत करके खेत की तरफ बढ़ा… कल की तरह वो आज भी मेरी तरफ पीठ किए हुए था. अच्छा लगा तो फिर धीरे-धीरे चूसने लगी।करीब 5 मिनट तक वो मेरा लंड चूसती रही और मेरा लंड उसके मुँह में ही झड़ गया।इसके बाद मैंने उसकी चूत में उंगली डाली. फिर मैंने उसकी टांगें खोल कर लंड पेल दिया… फॅक फॅक की आवाजें… उसकी मदहोश ‘उऊहह आहह…’ की आवाज़े कमरे को और गर्म कर रही थी.

मेरा नाम तारिक है, बिहार का रहने वाला हूँ, मेरा कद 5’5″ है, देखने में मैं गोरा हूँ, मेरा शरीर पूरा जवान मर्द जैसा भरा हुआ है, उम्र लगभग 26 साल है. रोहित ने धीरे धीरे सुनीता के जिस्म से उसके कपड़े अलग करने शुरू कर दिए, सबसे पहले उसने सुनीता का टॉप उतारा और उसकी ब्रा के अंदर हाथ डाल कर उसके दोनों मम्मों को दबा दिया, और साथ ही दोनों उभारों के बीच अपने होंठों से किस कर दी. मैं दीवार की तरफ लेटा था, मेरे साथ अर्चना और उसके साथ उससे छोटी…नींद आ गई सबको… सो गए तीनों!रात के करीब डेढ़ बजे मेरी नींद खुली.

राजधानी नाइट एंड कल्याण चार्ट

उनकी चुत एकदम गीली हो गई थी। मैंने उन्हें सोफे पर ही लिटा दिया और उनके सारे कपड़े उतार दिए। उन्होंने भी मेरे कपड़े उतार दिए।अब मैंने अपना मुँह उनकी चुत में लगा दिया और चुत को चाटने लगा।भाभी ने कहा- मैं भी आपका लंड चूसना चाहती हूँ।अब हम दोनों 69 की स्थिति में आ गए और लंड चुत को चूसने लगे।वो बोल रही थीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आपका लंड कितना बड़ा और मोटा है. अब मैं उनके लंड पर अपनी चुत ऊपर नीचे करने लगीं और और नीचे से धक्के लगने लगे. मैंने चड्डी निकालने की कोशिश की और भाई ने मदद करके चड्डी निकाल दी। अब पहली बार भाई का लिंग मेरी आँखों के सामने था हाय.

चाय पीकर जाओ ना।अंजलि भी कहने लगी- आ जाओ दस मिनट तो ही लगेंगे।अब मैं उनके साथ आंटी के आ घर में आ गया और आंटी किचन में चली गईं। इस वक्त हम दोनों हॉल में थे, तभी अंजलि शरारती मूड में मेरे बगल में चिपकी हुई बैठी थी.

बस उससे बहन की तरह ही बुलाता रहता था। निशा घर के काम-काज में बहुत तेज है.

अनातोली ने 2-4 धक्के चूत में मारने के उपरांत पुनः अपने खूंटे को अपनी रूसी बहन की गांड में स्थानांतरित कर दिया. टाइम बहुत हो गया है।जाते-जाते वो मेरे को एक स्मूच और करके गई।इसके बाद हमें जब भी मौका मिलता है. सेक्सी सलमानमैं मौसी की चुदाई किये जा रहा था और मैंने अपना माल मौसी की चूत में ही छोड़ दिया.

मैंने नीचे सिर झुकाया तो पाया कि भाभी मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूस रही थी. इस बार मैंने खुद अपने हाथों से अपने शोर्ट को निकल फेंकने का निश्चय किया और वंदना के सर से थोड़ा दूर होकर बड़ी कठिनाई से अपने शॉर्ट्स को निकल फेंका…आज़ाद होते ही मेरे लंड ने ठुमक कर वंदना को सलामी दी और वंदना ने भी इस सलामी को जवाब लंड के बिल्कुल करीब आकर उसे अपने हाथों में पकड़ कर दिया. अब उसके हाथ मेरे सीने पे इधर उधर घूमने लगे और उसके दोनों पैर मेरे पैरों के बराबर में एक दूसरे से रगड़ खाने लगे.

यह आंटी सेक्स की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!वो एकदम पागल होने लगी, कहने लगी- आज कस के चुदाई कर दो मेरी… मेरे बरसों की प्यास को बुझा दो प्लीज!मैं उसको किस करने लगा. मैं भी उसे प्यार करने लगा था पर उसकी मज़बूरी को देखते हुए हमेशा उसका साथ देने का वादा किया.

‘बेटी, जितना दर्द होना था, हो लिया, अब तो तेरी मजा लेने की बारी है!’ बापू ने मेरे होंठों को अपने होंठों से चूम लिया.

रात के एक बजे मैं पानी पीने के लिए उठी तो देखा रेहान और हिना सोए थे पर बुआ नहीं थी. मुझे लगा कि मैंने कोई गर्म लोहे का रॉड पकड़ा है… उसका लिंग इतना कड़क था और बहुत मोटा था, मेरे हाथ में नहीं बैठ रहा था, लंबे लंड पर मेरा एक हाथ काम पड़ने लगा, तो मैंने दूसरे हाथ की मदद ली, बायें हाथ से लिंग के जड़ को पकड़ा और दायें हाथ से आगे की ओर पकड़ कर मैं दोनों हाथ से उसका लिंग हिलाने लगी. मैं घुटनों के बल बैठ कर उसके पैर दबाने लगा। उसी बीच उसने मुझसे ड्रिंक माँगा और मैंने उसको वियाग्रा वाला ड्रिंक दे दिया।बस 5 मिनट बाद ही वो गरम होने लगी। उसने मुझे जाँघों तक दबाने के लिए कहा.

राजस्थान विलेज सेक्सी वीडियो अब मैं रोज उसको देखता और उसके नाम की मुठ मारता था, मेरे कमरे मैं पीने का पानी नहीं होता था, तो रोज उनसे लेने जाता था. आज मेरा मन नहीं है।इधर मेरा लंड टाइट हो गया था। मैंने नंबर तो दे दिया लेकिन बोला- प्लीज़ अभी करते हैं.

इससे माँ को मौका मिल जाता अपने आशिक को बुला कर चूत चुदाई का और मैं माँ की चुदाई की वीडियो बनाना चाहता था. वो तुरंत अपनी चूत को मेरे मुँह से रगड़ने लगी और ‘आह आह आह स्स्स्स्स् स्सस्स…’ करने लगी. !उसके मुँह से ‘लंड’ सुन कर अजीब भी लगा और अच्छा भी लगा।तभी भाभी ने लंड को अपने मुँह में लेने का इशारा किया और हम दोनों ने 69 की पोज़िशन बना ली।थोड़ी देर बाद भाभी और मैं लंड चुत को चूसते हुए दोनों झड़ गए। हम दोनों ने एक-दूसरे का कामरस पी लिया।तभी भाभी ने फिर से मेरा लंड मुँह में भर लिया और चूसने लगी.

తెలుగు సెక్స్ వీడియోస్ హెచ్ డి

मैंने आंटी का हाथ पकड़ कर रोका, तो वो तो बस गुस्से से लाल हो गईं और मुड़ कर मुझे एक और थप्पड़ मार दिया, जिससे मुझे गुस्सा आ गया।आज तक मेरे पापा ने मुझे नहीं मारा और इस साली ने मुझे दो झापड़ मार दिए।अब मैंने सोच लिया कि मरना तो है ही. कभी गर्दन पर, कभी गाल पर, कभी पीठ पर तो कभी-कभी होंठ पर भी चूमता रहा. तू इतनी ज़ोर से मत चिल्ला!उसने कहा- ठीक है, मगर भैया थोड़ी धीरे डालना!मैंने फिर से अपना लंड उसकी चूत में डाला तो वह जैसे ही चिल्लाई, मैंने अपना मुँह उसके मुँह पर रख दिया और उसके होंठों को चूसने लगा.

कह कर रवि ने ड्रेसिंग टेबल से मसाज आयल की शीशी उठा ली।सपना बोली- अरे यहाँ नहीं, तुम तो सब बेड शीट चिकनी कर दोगे।रवि तो पूरी तैयारी से था, उसने बाथरूम से दो बड़े टॉवल उठा लिए और सपना से उन पर लेटने को कहा।सपना उन पर खिसक गई।रवि ने आशु से कहा- चल भाई, हो जा शुरू!कह कर उसने अपने हाथ में तेल लिया और सपना की बाँहों को मलना शुरू कर दिया. लेकिन ये हवस है… बुझने के बाद फिर जग जाती है… अगली सुबह फिर घूमने निकला और उसी जगह उसका इंतजार करने लगा… कुछ देर बाद बाइक आई और वो मुस्कुराता हुआ मेरी तरफ देखकर निकल गया.

नेहा चली गई तो मैंने सुमन से कहा- यार, अगर नेहा भी साथ रहती है तो हम रोज मिल सकते हैं.

अब वो मुझे गालियां देने लगी।मुझे उस पर गुस्सा आ गया, मैंने एक हाथ से उसका मुँह दबाया और ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारने लगा। ऐसा करने पर उसका चेहरा लाल पड़ गया और उसकी आँखों से आंसू आ गए।लेकिन कुछ देर बाद सब शांत हो गया और वो भी अब मुझे अन्दर लेने लगी. अगले दिन मैंने उसे दवाई लाकर दी, फिर मैंने तो कई बार मैंने अपनी बहन की चूत चुदाई की. ये सब बताते हुए मेरा मन भी थोड़ी खुली सेक्सी बातें करने का हो गया।मैंने उससे पूछा- तेरा लंड कितना बड़ा है?वो बोला- साढ़े आठ इंच का है.

मुझसे अब अपने आप पर काबू नहीं हुआ और मैं जोर से अपनी कमर को हिलाते हुए संगीता भाभी के मुँह में ही अपना वीर्य उगलने लगा. क्योंकि उसके मम्मी-पापा उसकी शादी करवाना चाहते हैं।तो दोस्तो, कैसे लगी मेरी गर्लफ्रेंड के साथ सुहागरात की चुदाई की कहानी. उसके बाद पजामे के नाड़े को खोलकर पजामा और चड्डी दोनों को ही मुझसे जुदा कर दिए और लंड को अपनी मुट्ठी में भर लिया.

यह हिंदी चुदाई की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!वह मुदस्सर की बड़ी बहन थी इसलिए मैं भी उसको बहन ही मानता था लेकिन उसको यूं सबसे चुदवाता देखकर मैंने पक्का उसको ठोकने का सोच लिया था.

सेक्स वीडियो चोदा चोदी बीएफ: और क्या बताऊँ कि सुनीता क्या गदर माल लग रही थी।मेरा लंड तो जीन्स के अन्दर से तंबू के बम्बू की तरह खड़ा हो गया। सुनीता का पूरा बदन एकदम गोरा था और उसके चूचे इतने रसीले थे कि मेरा जी कर रहा था कि अजीत को हटा कर सुनीता की चूचियों का सारा रस पी जाऊँ।फिर नीचे देखा तो उसकी चुत भी इतनी गुलाबी थी. फिर अंजलि ने अपने कूल्हों को गोल गोल घुमा कर लंड की चक्की चलाई और फिर ऊपर नीचे हो कर चुदाई के मज़े लूटने लगी।मैं भी अपनी गांड ऊपर उछाल उछाल कर अंजलि के धक्कों का जवाब देने लगा।अंजलि की चुची मस्ती में उछल रही थी और उसके चेहरे पर एक मादक मुस्कान थी।मैंने देर न करते हुए उसकी चुची को मुँह में भर लिया और चूसने लगा.

भाभी ने अन्दर ब्रा बहन रखी थी।कसम से भाभी की क्या मस्त रसभरी चुची थीं. कुछ देर बाद भाभी बोली- रुक…!मुझे लगा कि फिर से सज़ा मिलेगी लेकिन भाभी मेरे पास आई और मेरे लंड पर अपना थूक थूका और बोली- ले, इसे अपने पूरे लंड पर मल और फिर हिला!मैंने वैसा ही किया और मुझे और आनन्द मिला. हमने भी उसे रोकने की कोशिश नहीं की, और कुछ देर बाद मैंने चोर रास्ते से राजू को उसके कमरे में भेज कर खुद भी नताशा की बगल में लेट कर सो गया.

अब जितना लंड अन्दर गया था उसी को मैं थोड़ा-थोड़ अन्दर बाहर करने लगा, इसी बीच उसने अपना हाथ कूल्हे से हटा लिया.

हम दोनों न्यूड ही थे, उसको देखकर मेरा भी मन फिसल गया और वो भी मुझे बांहों में लेकर किस करने लगा. आपका ये बहुत अच्छा है, गणेश (उसका पति) का आप जैसा ही है पर काफी काला है, आपका ऊपर का गुलाबी सा देख कर ही मेरा हो गया. फिर मैंने उसे अपने ऊपर आने को बोला तो वो ऊपर आ गई और जैसे घुड़सवारी करने लगी.