एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,सेक्सी बफ दिखाइये

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वॉलपेपर फोटो: एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी, भाभी ने मुझे भी बैठने के लिए इशारा किया, तो मैं भाभी के बराबर में बैठ गया.

बीएफ फिल्म दीजिए बीएफ फिल्म

मैं भी ये नजारा देखकर खुद को रोक नहीं पाई और वहीं पर अपनी चूत को सहलाने लगी. होम मेड जॉबचूंकि मुझेरफ सेक्सकरना बहुत पसंद है और इन ताबड़तोड़ शॉट्स से उसकी चुत एकदम खुल गई थी.

मैं रात में सिर्फ निक्कर ही पहनता था … निक्कर के अन्दर चड्डी नहीं पहनता था. क्सक्सक्स होमपर क्या करूं मुझे ऐसा मौका नहीं मिल रहा था, जब उसकी कमसिन लड़की की चुदाई कर सकूं.

मैंने बीच में कहा- तुम कुछ लोगी?सिमरन ने कहा- क्या मतलब?मैंने कहा- मैं जब मूवी देखता हूं, तो मुझे कुछ पीने का लेता हूँ.एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी: उसकी पतली कमर के नीचे बड़ी बॉम्ब जैसी गांड देख लो, या तनी हुई मस्त चुचियां हों, या स्लिम पेट हो.

उनके निप्पल इस समय भी एकदम कड़क थे और नाइटी के ऊपर से ही दिख रहे थे.मुखिया सामने ध्यान रख रहा था कि सुरेश ना आ जाए, मगर सुमन बेफ़िक्र लंड को खीर में डुबो डुबो कर चूस रही थी और मज़ा ले रही थी.

एक्स एक्स एक्स में बीएफ - एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी

फिर मैंने पीछे होकर अपनी फ्रेंची को भी निकाल दिया और मेरा मोटा लम्बा लौड़ा उसके सामने झूल गया.चूंकि प्रशांत के साथ मैं ज्यादा समय बिताता था तो वो भी मुझसे बहुत जुड़ा हुआ था और मेरे बगैर कई बार रोने लगता था.

देसी लंड की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे डॉक्टर की बीवी को नए देहाती लंड से चुदाई का मजा लेने का शौक चढ़ा था. एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी अभि- हां, लेकिन मैं आज तक जिससे भी मिला हूँ, सबसे चुदवा भी चुका हूँ और सबको चोद भी चुका हूँ.

सुरेश जिस तरह बोल रहा था, उससे रघु का लंड टन टन करने लगा और साथ ही दो चूतें गीली होने लगीं.

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी?

अब आगे की रोमांटिक सेक्स स्टोरी:टीवी पर न्यूज देखते हुए उसने कहा- अब मैं 21 दिन तक क्या करूं?मैंने कहा- अभी सो जाते हैं, कल बात करेंगे. मैंने उसे मना कर दिया क्योंकि मैं हमारी क्लास की एक लड़की प्रियंका से प्यार करता था. मुझे तो सिर्फ उसके रसीले फूले होंठ ही दिख रहे थे।वह आगे बोली- अपनी पैंट-शर्ट को खोल लीजिए.

मैंने अपनी शर्ट-पेंट नीचे जमीन पर डाल दी और भाभी को पैर फैला कर लिटा दिया. फिर भी मैंने उनके ब्लाउज के बटन खोल दिए और ब्रा को ऊपर उठाकर उनके निप्पल चूसने लगा. संगीता- वो सब जाने दो, कौन हो तुम और किस काम से आए हो?मैं- जी आप शायद रवि की पत्नी हो!संगीता- हां तो?मैं- जी, मैं रवि के दूर के रिश्ते का चचेरा चाचा लगता हूँ और यहां अपने गांव में होने वाली शादी का कार्ड देने आया हूँ.

सुरेश- तो कोई बाहर से आता है क्या!मीता- पता नहीं वो कौन है … ये कैसे पता लगेगा! आप ही कोई उपाय बताओ. इस तरह की बात शैतानियां और मस्ती करके स्कूल वालों की गांड में उंगली करते हुए धीरे धीरे मैं और मेरे हरामी दोस्त स्कूल में फेमस होने लगे. मैंने ब्रा नहीं पहनी थी, तो मेरे दोनों मम्मे नंगे होकर उनकी आंखों में वासना दिखाने लगे.

अबकी बार मैंने उसके हाथ को लंड पर दबा लिया और पीछे नहीं खींचने दिया. उसने उन्हें मेरा परिचय देते हुए कहा कि हम दोनों इंडिया में एक साथ काम करते थे.

भैया का लंड इतना अच्छा खड़ा है, उसको कैसे भूल जाऊं … अब जो होगा देखा जाएगा.

फिर हमारी मुलाक़ात जर्मनी में कैसे हुई और कैसे मैंने उसकी गर्म प्यासी फुद्दी और गांड की ठुकाई की.

इसके साथ ही मैंने नीला को भी बता दिया था कि हमारे पास एक हफ्ता है … तुम रेडी रहना. इस भाई ने बहन को चोदा सेक्स कहानी के प्रति अपनी राय, सुझाव मुझे जरूर मेल करें. मैं उसके सुपारे के ऊपर की पतली चमड़ी को हटा कर उसे जीभ से छेड़ देता था और फिर पूरा लंड मुंह में भर लेता था.

फिर मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया और धीरे धीरे उसकी चूत में लंड को चलाने लगा. मैंने मन में सोचने लगा कि इसका मतलब ये हुआ कि या तो मेरी अम्मी या बहन को ही ये रंडी कह रहा है. पानी निकल जाने के बाद उसने अपना लंड निकाला और बाथरूम में साफ़ करने चला गया.

मैं उसे चूमता हुआ जितना नीचे बढ़ता, उसकी कामुक आवाजें उतनी ही तेज होती जा रही थीं.

उसके बाद जब कासिब तेरी चूत की सील तोड़ कर तेरी चुदाई करेगा, तब तुझे भी दिलकश जैसे मजा आएगा. फिर उसके दिमाग़ में एक आइडिया आया … और वो दरवाजे की तरफ़ देखने लगा कि मीता अब तक आई क्यों नहीं. मैंने बहुत ही अच्छे अंकों से पास कर लिया और फिर वापिस घर आकर कम्पटीशन की तैयारियां करने लगी.

आप यकीन नहीं मानोगे मेरा यह सेक्स का पहला अनुभव था और मेरी सील टूटी नहीं थी. फिर मैंने उससे उसके ब्वॉयफ्रेंड के बारे में पूछा, तो बोली- मैंने अभी तक किसी को हां नहीं बोली. मुझे लंड लेने में दर्द तो हुआ लेकिन उसके आगे जो मजा आने वाला था उसको सोचकर मैं सारा दर्द बर्दाश्त कर गयी.

नीचे से ऊपर की तरफ ओर लंड के सुपारे ने मेरी चुत में आग सी लगा दी थी.

आह्ह … उसकी बड़ी सी गांड पर मेरा लंड लग गया था और मेरे लंड में झटके लगने लगे. अब मैंने उसकी चूत पर लंड के टोपे को सेट किया और उसके ऊपर लेटकर उसके होंठों से अपने होंठों को सटा दिया.

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी मुझे मेल भेजते रहिये, इस सेक्स कहानी को आगे लिखने के लिए आपके मेल मुझे टॉनिक देते हैं. शाम तक हम दोनों कार से ही शहर में घूमते रहे, फिर मैंने उसे उसके घर छोड़ दिया.

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी वो उससे कह रहे थे- अब तू वहीं मर जा … तेरी वजह से हम लोग भी परेशान हो गए हैं. कपड़े लपकने के लिए चाची एकदम से पीछे मुड़ी और उसके मोटे चूचों के दर्शन मुझे हो गये.

मैंने कहा- भाई, कल सुबह सबसे पहले मैं अपनी चूत के बाल साफ कर लूंगी.

ஆன்ட்டி சூத் செக்

मुखिया की तेज आवाज़ सुनकर सुलक्खी भाग कर अन्दर आई और मुखिया से पूछने लगी- सरकार क्या हो गया है?मुखिया- होना क्या था … ये लड़की किसी काम की नहीं है. अब्बू अम्मी के पास जाकर उनकी गांड की तरफ बैठ गए और अम्मी का पेटीकोट धीरे से उठा कर उनकी पूरी गांड को नंगा कर दिया. फिर वो सिसकारते हुए बोली- अब डाल दे हरामी मादरचोद … कर ले अपनी हसरत पूरी … तूने मुझे भी आज चुदने पर मजबूर कर दिया है … जल्दी से चोद दे अब मुझे … कई दिन से तेरे पापा के लंड को मिस कर रही थी.

मैंने उन्हें घोड़ी बना कर उनकी गांड पर साबुन लगाया और अपने लंड पर भी काफी सारा साबुन लगा लिया. आपने पिछले भागदोस्त की पड़ोसन भाभी की वासना- 1में पढ़ा था कि मैं सुमन भाभी का देवर बन कर उनकी सहेली की शादी में मेरठ जा रहा था. मैं कुछ कह पाता, इसके पहले ही उसने मेरी गांड में दोबारा से लंड पेल दिया.

मैंने उसको सीधी खड़ी किया और उसके गले के पसीने को चाटकर साफ कर दिया.

मैंने मौसी के कंधों को पकड़ा और लंड को चूत में डालकर ऐसा झटका मारा कि लंड से वीर्य की धार सीधे मौसी की बच्चेदानी तक पहुंच गयी. फिर उसको मैंने अपना अदालती कार्ड दिखा दिया और उससे कहा कि ये मेरी भाभी है. वो मुझे चाहती थी और मैं उसे चाहता था मगर हम दोनों के बीच में हमारा स्टेटस आ रहा था.

तभी विक्रम ने मुझे बुलाया और कहा- चल लोंग ड्राइव पर चलते हैं।मैंने ओके कहा।फिर हम वहाँ से निकल गये। विक्रम ने अपनी मर्सडीज़ एसयूवी निकाली. मैं घर की ओर अपने चरमसुख की लालसा में बिना कहीं रुके पहुंचना चाहता था। परंतु समय ने करवट ली और बीच रास्ते मेरे पास मेरी माँ का फ़ोन आया।माँ बोली- तेरी मामी भी आएंगीं, उनसे बात कर कि तू उनको कैसे और कहां मिलेगा?सुनकर मेरा माथा ठनक गया. इसके बाद राहुल ने कहा- जान, कैसा लगा सरप्राइज … काट दूँ केक!मैंने कहा- राहुल जो भी करना है, जल्दी से करो … मुझे तड़पाओ मत प्लीज.

मैंने फिर से उनकी चूत को होंठ लगाकर चूमा और एक बार फिर से उनकी चूचियों को दबाता हुआ ऊपर की ओर चला गया. मैंने कहा- चलो अब मेरा भी चूस दो तो तुम्हारी नदी को मैं साफ़ कर दूं.

मैंने देखा, तो हम दोनों का माल उनकी चूत से निकलकर उनकी टांगों से चिपककर नीचे आ रहा है. इसलिए किसी न किसी चैप्टर में सेक्स से संबंधित कोई न कोई टॉपिक आ ही रहा था. मैं- हाय दीदी, आज तू बड़ी सेक्सी लग रही है … क्या बात है किसी पर दिल आ गया है क्या?दीक्षा- हां यार, पर आज तू भी बड़ा मस्त लग रहा है.

वो सालापहली बार चुत चुदाईकर रहा था, तो उसका लंड चुत के अन्दर ठीक से जा ही नहीं पा रहा था.

मैंने अपना हाथ उनके गाउन के अन्दर डाला और उनके निप्पलों को उंगलियों से मसलने लगा. भाभी की चुदाई की वजह से पूरे कमरे में फच फच फच की आवाज़ गूंज रही थीं और मुझे इस समय एक ही बात दिख रही थी वो थी अपनी भाभी की चुदाई. मेरी नज़र मेरी तीसरी मामी पर पड़ी। उनका नाम सीमा था।सीमा मामी 32 साल की हैं। उनके दो बच्चे हैं। वो एकदम मस्त माल है.

उसने ब्लाउज़ और साड़ी पहनी और ब्रा-पैन्टी व पेटीकोट दूसरे कपड़ों के साथ ले लिए। फिर मैंने उसे पलंग के पास बुलाया और पलंग पर खड़ा हो गया।अपना लन्ड मैंने आंटी के मुंह में दे दिया. इस बार वो आराम से चूत चुदवा रही थी। मैं भी पूरी ताकत और जोश से सीमा मामी की चूत चोद रहा था। जोर से चुदते हुए मामी एक बार फिर से झड़ गयी.

सेक्स कहानी में आपको विभिन्न किस्म की चुदाईयों का रस मिल रहा है, जिसको लेकर आपके मेल भी काफी संख्या में मिल रहे हैं. यहां मैं एक बात बताना चाहता हूँ कि जब भाई-भाभी दो दिन के लिए भाभी के घर पर गए थे, जो दिल्ली में है. फिर जब वो वहीं पर खड़ी रही और मेरी तरफ देखती रही तो मैंने उनको अपनी बर्थ पर बैठने की जगह दे दी.

ब्लू सेक्सी नंगी पिक्चर वीडियो में

अब जल्दी से अपना लंड डालकर मेरी चूत की चुदाई कर दो।फिर मैं उठा और उनकी चूत पर थोड़ा सा थूक दिया और अपने लंड को उनकी चूत पर रख दिया.

वो मुझे हटाने लगी तो मैंने उसके होंठों पर होंठों को लॉक कर लिया और उसके कोमल होंठों को चूसने लगा. लेकिन पास के गांव से यहां क्यों आए हो … और जब तुम्हें सारी बीमारी का पता है, तो मेरे पास क्यों आए हो?रवि- अब आप सब समझ गए हो, तो मैं साफ साफ बता देता हूँ. अब सुनो दवाई के नाम तो तुम्हें समझ नहीं आएंगे, इसलिए मैंने डिब्बों पर अलग अलग कलर के निशान लगा दिए हैं.

मगर घर में मर्यादा का पालन करते हुए दूरी भी बनाकर रखनी पड़ती है और ऐसे में गुप्तांगों की कशिश दबी दबी सी रहती है. उन्होंने कुछ न कहते हुए मेरी दोनों टांगों को फैला दिया और मेरी चूत पर अपने मुँह को लगा दिया. एक्स एक्स एक्स बीएफ फुल एचडी हिंदीमां छटपटाने लगी- ओह मादरचोद … निकाल बाहर … दर्द हो रहा है!मैं उनकी चूचियों को दबाने लगा.

निप्पलों को चुटकी से दबा कर मसलने लगा और उसके कड़क मम्मों को मस्ती से मसलने लगा. मेरा लिंग बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया था, इसलिए एक मिनट तक हिलाते ही मेरे लिंग ने पानी छोड़ दिया.

उसकी लम्बाई, मोटाई और तनाव भांपकर मैं जान गयी कि आज मेरे मन की सारी मुराद पूरी होने वाली है. उसकी पेशाब की धार की तेजी देखी तो मैं सोचने लगा कि इसका लन्ड कितना मज़बूत है! इतना तेज़ धार मार रहा है. चूँकि मैं अपनी मौसी का लाडला बेटा था इसलिए मौसी मुझे बहुत मानती थी.

पानी निकलने के बाद सुरेश वहीं लेट गया और उसने सुमन को बांहों में भर लिया. हमने सेक्स के खूब मजे लिये लेकिन मैं आशीष सर को नहीं भुला पा रही थी. अगर वो यहां होती तो बांहों में भर लेता और खूब मज़े करता।फिर मैं नीचे जाकर खाना खाने लगा।जब वह लड़की खाना परोस रही थी तब मुझे उसके फूले हुए स्तनों को पहली बार नजदीक से देखने का अवसर मिला.

मैंने बीच में कहा- तुम कुछ लोगी?सिमरन ने कहा- क्या मतलब?मैंने कहा- मैं जब मूवी देखता हूं, तो मुझे कुछ पीने का लेता हूँ.

फिर आगे कहानी में क्या हुआ और मैंने सर से किस तरह और कहां पर चूत मरवाई वो मैं अगले भाग में बताऊंगी. मेरे देवर ने पहली बार उन दोनों को पार्क में चूमा-चाटी करते हुए पकड़ा था.

सुमन- मुझे बहुत दुख हुआ सुनकर वैसे उसका बच्चा भी उसके साथ ही …कालू- नहीं नहीं मैडम जी उसने चाँद जैसी बेटी को जन्म दिया था. दोस्तो, मैं शिल्पा अपने सर और अपने पति के साथ नंगी लेडी की मस्त थ्रीसम चुदाई का अन्तिम भाग लेकर आई हूं. फिर उसने मेरी गांड को कैसे रगड़ा?दोस्तो, मैं प्रेम शर्मा अपनी गांड चुदाई की कहानी के पहले भागगांड मरवाने का नशा- 1में मैं घर में बोर हो रहा था और मेरा मन लंड लेने के लिए कर रहा था.

सन्नो- राम राम मुखिया जी … कैसे हो आप!मुखिया- हां ठीक है, जाओ अन्दर काम करो. मुझे बहन की चूत कैसे चोदी?नमस्कार मित्रो, मेरा नाम जय है और मैं उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले का रहने वाला हूं. फिर मौका मिलते ही मैंने सीमा मामी को पकड़ लिया और पूजा भाभी का ख्याल करते हुए उसकी चूत जमकर रगड़ दी.

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी इस सबमें एक बात ऐसी थी, जिसने मुझे अब तक नहीं छुआ था और वो था सेक्स. वो पूरी कोशिश कर रहा था कि उसका लंड मीता को ना दिखे, मगर चोट ऐसी जगह लगी थी कि लंड को छुपाना नामुमकिन था.

हिंदी सेक्सी मैसेज

मीता- बाबूजी आप क्या सोचने लगे?सुरेश- मीता अब बार बार चुदाई की बात करके तूने मुझे पागल कर दिया है. उस वक्त जवानी मेरे तन बदन को खूब उकसा रही थी कि मैं भी किसी चूत को चोदकर अपने सेक्स जीवन का उद्घाटन करूं. मैंने उससे पूछा कि तुमको मेरा नंबर कहां से मिला?तो बोली- क्यों मेरे कॉल करने से कोई दिक्कत हुई क्या?मैं बोला कि नहीं मुझे भला क्या दिक्कत होगी … फिर भी मैंने यूं ही पूछा.

मैंने उनकी ब्रा में मुंह देकर उनकी चूचियों की घाटी को जीभ से चाटना शुरू कर दिया. मेरी मेल आईडी है[emailprotected]जल्द ही एक नई सेक्स कहानी के साथ हाजिर होऊंगा, तब तक के लिए अलविदा. উলঙ্গ বিএফचूंकि मेरी एक गर्लफ्रेंड है, इसलिए में दूसरी लड़कियों पर ध्यान नहीं देता हूँ.

मैंने जोर से एक आखिरी धक्का मारा और पूरा का पूरा लंड अपनी भांजी की चूत में घुसा दिया.

राहुल बेड पर बैठ कर पढ़ रहा था और रूचि ठीक उसके सामने बैठकर पढ़ रही थी, मगर वो थोड़ी झुकी हुए थी. मैंने उसको कूदने का इशारा किया तो वो ऊपर नीचे होने लगी लेकिन वो पूरा अंदर नहीं ले रही थी.

इस देसी विर्जिन सेक्स स्टोरी के बारे में आप सभी पाठक अपने सुझाव मुझे जरूर भेजें. मैं बोला- बेटा असली मजा तो अभी लेना बाकी है, नेक्स्ट राउंड में तू उसकी चुत मारेगा. इतना मोटा काला लंड था कि सुहानी के हाथ में आने के बाद उसकी उंगलियां और अंगूठा आपस में मिल नहीं पा रहे थे.

मुनिया- ये आप क्या बोल रही हो … क्या आपने भी मुखिया को खुश किया है!सन्नो- हां मेरी प्यारी ननद … अपनी इस चुत में मैं उनका लंड कई बार ले चुकी हूँ.

आज नहीं तो कल बुला लेगा, चल एक बात बता, अगर आज मैं तुझे तेरे भाई का चुसवा दूं, तो कैसा रहेगा?मुनिया- सच भाभी, लेकिन ये कैसे होगा!उसका चेहरा शर्म से लाल हुआ जा रहा था, जिसे देख कर सन्नो मुस्कुरा रही थी. जहां कल तक भाभी अपनी चूत पर हाथ नहीं लगाने दे रही थी, आज मैं उसी सेक्सी भाभी के जिस्म को नंगा किये हुए था और उसके गर्म बदन के हर एक अंग को सहला सहला कर उसके मजे लूट रहा था. मुझे गोदी में लिये सर मेरी एक चूची को पी रहे थे और दूसरी को सोनू दबा दबा कर पी रहे थे.

बंगाली सेक्सी पिक्चर बीएफमैंने उनका कामरस पूरा चाटा और जोर जोर से जीभ चलाते हुए उनकी चूत को चोदने लगा. नीचे टाईट शॉर्ट्स में गांड और कमर तो ऐसी लग रही थी, कसम से पकड़ कर दबाते हुए चूत में मुँह डालने का दिल कर रहा था.

रियल सेक्सी रियल सेक्सी

सुरेश- हां ये ठीक रहेगा … मगर आज नहीं क्योंकि मीनू की चुत पर आज सूजन है. मगर मैं अभी भी उसकी बुर को किस करता रहा और साथ ही बुर में उंगली डाल कर उसको फैलाता रहा ताकि जब मैं उसे चोदूं, तो उसे ज्यादा दर्द न हो. मगर मैं तो समझ चुका था कि मोनिषा नीचे क्यों सोने के लिए बोल रही थी … क्योंकि कल रात को मैंने मोनिषा की पैन्टी में हाथ डालकर उसकी चूत मैं उंगली डाल दी थी.

मैं बोला- कोई बात नहीं, रात में तो ज्यादा आसान होता है ड्यूटी करना. पांच मिनट चुदाई के बाद भाभी को यकीन हो गया था कि अब मैं झड़ने के बाद ही शांत होऊंगा, इसलिए वो मेरी पीठ को पकड़कर मेरे झटके झेल रही थीं. मेरे हाथ उसकी चूचियों पर पहुंच गये और मैं उसकी चूचियों को किस करते हुए जोर जोर से दबाने लगा.

जैसे ही हम शहर से बाहर सुनसान सड़क पर पहुंचे मौसा जी ने मुझे छेड़ना सताना शुरू कर दिया. सेक्सी मौसी को चोदने के लिये मैंने क्या किया? कैसे अपने लंड की प्यास बुझायी?कैसे हो मेरे प्यारे पाठको? सभी के लौड़े फनफना रहे होंगे? पाठिकाओं की चूतों को भी मेरे लंड का सलाम। मेरा नाम दीक्षांत है. जिस सेक्सी चाची की चुदाई का सपना मैं देख रहा था, आज वो पूरा हो गया था.

बलराम- हम्म … लगता है मुझे ही अब इस भूत को पकड़ने की कुछ प्लानिंग करनी होगी … मगर दिमाग़ हल्का हो तो कुछ सोचूं ना. फिर मैंने मौसा जी के लंड की लम्बाई का अनुमान कर अपनी कमर को इतना ऊपर उठा उठा कर चुदाई की कि वो मेरी चूत से बाहर न निकलने पाए.

फिर विक्रम से बोलीं- मैं बुरा नहीं मान रही विक्रम, तुम रंग लगाना जारी रखो.

मैंने दरवाजे खोल कर दरवाजे की झिरी से देखा, तो पति महोदय आए हुए थे. इंडिया बीएफ इंडिया बीएफधीरज ने मेरे मुँह से जब ये सुना कि मैं पहले बार गांड में लंड ले रही हूँ, तो वो खुश हो गया और उसने एकदम से मेरी गांड में लंड पेल दिया. सेक्सी मूवी वीडियो बीएफगांव में मुझे भांग खाने की आदत पड़ गई थी, तो मैं अपने साथ गांव से भरपूर मात्रा में भांग लाया था. जैसे ही उन्हें लंड का अहसास हुआ, उन्होंने खुद हाथ से उसे चूत के मुहाने पर सैट कर लिया.

अगले पांच मिनट तक मैंने इसी स्पीड से उसको चोदा और वो एक बार फिर से झड़ गयी.

वो मुझे इतना महान आदमी मान रहे थे मगर ये नहीं सोच रहे थे कि मैं कर क्या रहा हूँ. झुककर उसने मेरी चूत पकड़ ली और तेजी से मेरे मुंह में लंड पेलता हुआ मेरे मुंह को चोदने लगा. कहानी में मैं बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी बहन की चूत की आग को ठंडा किया.

अब मैंने हाथों को पीछे पीठ पर ले जाकर उनके ब्लाउज को खोलना शुरू कर दिया. अपनी मस्त जवानी की सेक्स कहानी के पहले भागपति ने मुझे मेरे बॉस से चुदवा दिया- 1में मैंने आपको बताया था कि शादी के बाद मैं और मेरे पति सोनीपत चले गये थे. मीनू की चुत के पानी से लंड की फिसलन अच्छी तरह होने लगी थी और मीनू भी उत्तेजना में कमर हिला कर चुद रही थी.

देसी वाली सेक्सी वीडियो

मैंने सोनू से कहा- अगर आपको कोई ऐतराज न हो तो हम नीरज को अपने साथ ही रख लेंगे. मैं बोला- ठीक है मम्मी।मम्मी फिर सोने चली गई। थोड़ी देर बाद उनके बारे में सोच सोचकर मेरा लंड खड़ा हो गया. कुदरत का बनाया करिश्मा है उसका जिस्म।पेट और कमर दोनों मिली हुईं और गांड बाहर की ओर निकली होती है उसकी.

फिर मैं अपना खड़ा लंड उसकी गांड में डालने की कोशिश करने लगा, पर उसकी गांड बहुत टाइट थी.

उनको मैं अपनी बाइक पर बिठा कर बाजार ले जाने लगा, ऐसे ही चार दिन बीत गए.

मैंने जल्दी से बैग से व्हिस्की की बोतल निकाली और दो पटियाला पैग खींच लिए. इसको तो बड़े प्यार से धीरे धीरे खेलना चाहिए, तभी इसका असली मज़ा आता है. बफ देहाती हिंदीमैंने बैठे बैठे ही दरवाजे की ओर देखा कि संगीता मुश्किल से रवि को संभाल पा रही थी.

मेरी रियल आंटी सेक्स स्टोरी आपको पसंद आ रही हो तो मुझे अपने फीडबैक जरूर भेजें. कालू की बात सुनकर मुखिया गुस्से में आ गया और ज़ोर से झल्ला कर बोला- अरे कुत्ते, ऐसी कौन सी बात है, जो तू मुझे नहीं बता सकता. वो जानबूझ कर मेरे सामने दो बार अपने दूध दिखाने झुकी भी थी, मगर मैं सीधा बना रहा.

उनको दबोच कर उनके गुलाबी, रसीले, फूल की पंखुड़ी जैसे होंठों पर किस करने लग गया।वो नखरे करते हुए कहने लगी- छोड़ो मुझे, कोई आ जायेगा।अब मैं पीछे हटने वाला नहीं था. मैंने उसको जल्दी से नंगी किया और शेल्फ पर बिठाकर उसकी चूत में मुंह दे दिया.

उसके बाद मेरा जब भी मन करता, मैं उस फोरेनर गर्ल के कमरे पर चला जाता और उसकी चुदाई के मज़े ले लेता.

उसके कहने पर मैंने बैग से क्रीम निकाल ली और उसके पास बेड पर वापस आया. मगर मैंने हाथ कसकर फंसाया हुआ था और मैं जोर लगाकर हाथ को बाहर नहीं आने दे रहा था. अभि- हां, लेकिन मैं आज तक जिससे भी मिला हूँ, सबसे चुदवा भी चुका हूँ और सबको चोद भी चुका हूँ.

ब्लू देहाती फिल्म मैं फिलहाल लेटे हुए ही चुदाई की मूवी देख रहा था और अपने लंड को सहला रहा था. मुझे आपके सुझाव और प्रतिक्रियाओं का इंतजार है।अपना ईमेल आईडी मैंने नीचे दिया हुआ है।[emailprotected].

दो मिनट बाद जब उससे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था, तो वो मुझे अपने ऊपर खींचने लगी. दो दो मर्दों का ये हमला मेरे रोम रोम में वासना की आग लगा चुका था और मेरा रोम रोम सम्भोग के लिए गुहार लगा रहा था. इस बार जब मैंने लंड डालने की कोशिश की, तो सीधे अन्दर तक घुसता चला गया.

2021 की सेक्सी वीडियो नई

सुजाता घर में नॉर्मल कपड़ों में रहती थी लेकिन आज उसने एक टाइट सूट पहना हुआ था जिसके नीचे एक फिट पजामी थी. इसके बाद होंठ छोड़कर कर अब्बू अम्मी को देखते हुए उनके दूध मसलने लगे. दिन में कई बार हम एक दूसरे की ओर देख कर मुस्कुरा देते; चुदाई की चाहत में मैं बोल्ड और बेशर्म सी होती जा रही थी.

मैंने उससे कहा- तो फिर मुझे आगे करने से क्यों मना कर रही हो?इस पर उसने कहा कि नहीं तुम सिर्फ मेरी गांड मार सकते हो, चुत नहीं. कुछ देर बाद मां ने कहा- चलो बेटा बहुत देर हो गई, अब तुम अपने रूम में जाकर पढ़ाई करो.

मेरी ये बात सुनकर नीला बाहर आ गई और बोली- मुझे और कितना चोदोगे हरामजादो, जो भी करना है, करो … पर शाम को मुझे टाइम से घर छोड़ देना, नहीं तो फिर कभी ऐसा मजा नहीं दूँगी.

जोर जोर से उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके निप्पलों को चूसने काटने लगा. विक्रम का काम रोज रात को 9 से 10 के बीच कमरे में आकर सबकी हाजिरी लेना होता था. समधी जी ने अपनी बलिष्ठ भुजाओं में मुझे अपनी गोद में उठा लिया और मैं सिर्फ सलवार में उनके कमरे में आ गयी.

मुझे मेरी ईमेल पर संपर्क करें अथवा नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें. मैंने उसे गाली देते हुए कहा- मादरचोदी साली रांड, कल क्यों नहीं आई!वो हंस दी- बताया तो था यार. मैंने पूछा- भाभी जी, अब बताइए आपका क्या इरादा है?उसने कहा- यार पहले तो तुम मुझे भाभी मत कहा करो, जानू कहो.

उस समय के मीठे दर्द से मैं भी उसे ज़ोर से अपने दांतों से उसके होंठ पर काट देता.

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी: मैंने उससे अशोक के सामने खड़ी कर दिया और कहा- जान, अन्दर से पानी ले आओ. कोरोना वायरस के चलते फिर लॉकडाउन हो गया तो मुझे कहानी लिखने का समय मिला और अब मेरी कहानी आप सबके सामने है.

मैं- तो फिर रसिक भाई और भाभी उसको कुछ कहते नहीं है?संगीता- रवि की इन्हीं हरकत से तंग आ कर वो दोनों वापिस गांव रहने चले गए. अम्मी ने अब कासिब से कहा- साले मादरचोद … पहले मेरा बेटा बना, फिर शौहर बना और अब साले मेरी सौतन बनी बेटी को चोद कर मेरा जमाई भी बन गया. करीब पांच मिनट तक उसके मुँह में पूरा लंड घुसा होने से सिर्फ ‘घुउन … घुऊंटट घुंट …’ की ही आवाज़ आती रही.

उस समय बुआ ने फिर से मुझसे अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा … और इस बार थोड़ा जोर देकर पूछा.

कॉलेज गर्ल सेक्सी चूत स्टोरी में पढ़ें कि मेरी क्लास में आयी नयी लड़की मेरे पीछे पड़ गयी. हाय रे … मैं सच में जन्नत की सैर कर रही थी … जी कर रहा था कि बस वो ऐसे मुझे चोदते रहें और मैं जिंदगी भर ऐसे ही चुदवाती रहूँ। उनकी गर्म गर्म सांसें मेरे मुँह में गयीं तो मैं भी बहुत उत्तेजित हो गयी और उनके साथ फिर एक बार झड़ गयी।झड़ने के बाद पांडेय सर निढाल होकर लेट गए. उसने नीच बड़ी सेक्सी लाल रंग की ब्रा और पैन्टी पहन रखी थी, जिसमें वो बड़ी सेक्सी लग रही थी.