बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी

छवि स्रोत,सगी माँ की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

पति और पत्नी की सुहागरात: बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी, मीना समझ गयी कि आज तो उसकी चूत फटने वाली है, पर उसे अमेरिका जाने का लालच था, उसे मालूम था कि आज अगर उसने कुणाल के लंड को खुश कर दिया तो लंड अपनी चूत को साथ लेकर ही जाएगा.

बड़े बड़े लंड

”राजे सील टूटने की बात से शर्म आ गयी न … इतना नाराज़ क्यों हो रहा तू?”मैंने गुड्डी रानी को बाँहों में समेट लिया- जान गुड्डी रानी नाराज़ तो मैं हो ही नहीं सकता … यूँही कुछ कुछ बोलता रहता हूँ. ब्लू पिक्चर चोदा चोदी चोदा चोदीथोड़ी देर बाद वो उठी और प्रियंका … जो कि ये सब देख कर अपनी चूत में एक उंगली घुसाकर अन्दर बाहर कर रही थी, को बोली- सॉरी यार मैं कुछ समझ नहीं पा रही थी, इसलिए ऐसा किया.

चूमाचाटी के बाद मैंने नताशा का नाइट ड्रेस निकाल दिया और उसे घुमाकर पीछे से उसके कातिलाना मम्मों को दबाने लगा. चोदी चोदा भेजोउनके पेटीकोट का नाड़ा खुला हुआ था और कमर से नीचे यूं ही छितरा पड़ा था.

मेरा बैलेंस बिगड़ने लगा और मैंने अपनी चूचियों को छोड़ कर पास की अलमारी को पकड़ कर खुद को संभाला.बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी: फिर पट्टी को गांठ के नीचे फंसाया और दोबारा से लंड पर नीचे की तरफ ले जाते हुए पीछे अपनी गांड की ओर पीछे ले जाकर लंगोट को फिक्स कर दिया.

मैंने कहा तो गुज्जु ने मेरे लंड पकड़ा और अपनी फुद्दी पर रखा और बोली- भाईजान, आराम से, आज तक फटी नहीं है, आराम से फाड़ना, अपनी छोटी बहन समझ कर फाड़ना.फिर मुझे नीचे झुका कर बोले- बन जा कुतिया, देख कुत्ते के लंड का कमाल.

दीपिका पादुकोण की सेक्सी पिक्चर - बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी

मैंने जिस भी लेखक से कहानी के बारे में पूछने के लिए ईमेल किया, तो उन्होंने अपनी उक्त कहानी को उनके जीवन की एक सच्चाई बताई, साथ ही ये भी कहा कि शब्दों को बदला गया है, मगर सच्ची घटना को ही लिखा है.वह होंठों को चूसते हुए अपना हाथ उसके एक चुचियों पर रख कर मसलने लगा.

राहुल ने अलग वाली टिकट आदी की दे दी और हम दोनों साथ वाली सीट पर बैठ गए. बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी मुझे बस उस वक्त यही दिमाग में आया कि शायद वो इस वक्त मेरी ब्रा पेंटी वाली छवि को याद करते हुए ऐसा कर रहे हैं.

मैंने ये बात अपनी गर्ल फ्रेंड अंशी को बताई, तो वो एक बार तो खुश हो गई.

बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी?

जीजा जी- रुको उस रात को उन तीनों ये हमारा वीडियो रिकॉर्ड किया था, जो एक पेनड्राइव में है और वो यहां पर मौजूद होगा. ये बोल कर वो मुझे खींच कर किस करने लगा और एक हाथ से मेरे मम्मों को दबाने लगा. आज की शाम वसुंधरा दो बार स्खलित हुई थी और मैं भी अपनी मंज़िल से कोई ख़ास दूर नहीं था.

नेहा- आह … अमित उह … जब से तू शादी में आया, तेरे अलावा मुझे कुछ नहीं दिख रहा है. इसके बाद उसके दोनों हाथ साइड में बांध कर उसके ऊपर बैठ गई और उसे किस करने लगी. वहाँ हमने 2 लड़कियों को देखा जो हमारे सामने वाली टेबल पर बैठी हुई थी.

वे चुत चोदने में माहिर खिलाड़ी हैं … वरना उनके लंड की फोरस्किन इतनी पीछे कैसे हो गई थी. मैंने तत्काल वसुंधरा के दोनों पैर अपने कन्धों पर टिकाये और अपने लिंग-मुण्ड को अपने दाएं हाथ में ले कर वसुंधरा की योनि की बाहरी पंखुड़ियों को ज़रा सा खोल कर, योनि के ऊपर भगनासे तक घिसने लगा. मेरा हाथ उसके निप्पल को दो उँगलियों में फंसा कर मसल रहा था, खींच रहा था.

होंठों पर गुलाबी लिपस्टिक हाथों और पाँव पर लाल रंग की नेल पॉलिश लगा रखी थी. करीब पांच मिनट बाद मैंने दीदी को घुमाकर उनकी ब्रा को निकाल दिया और दीदी के कातिलाना मम्मों को पीछे से दबाने लगा, जिससे दीदी सीत्कार करने लगीं.

खैर … अगर वो हमारी उम्र के भी होते, तब भी हमारा व्यवहार वैसा ही होता जैसा उनके साथ था, रूखा और काम से काम रखने वाला.

पीठ के निचले हिस्से पर नितम्बों की फांक के ऊपरी सिरे को छूते ही वसुंधरा का न सिर्फ़ पूरा जिस्म थरथरा गया बल्कि वसुंधरा मुझ से और भी कस कर लिपट भी गयी और मेरे होंठों पर एक चुम्बन भी जड़ दिया.

उसने मुझे जंगलियों की तरह चोदा और मेरी चूत और गांड को चोद कर फाड़ ही दिया. इधर एक बात देखने वाली थी कि मेरे हाथ पकड़ने पर चाची ने मुझसे कुछ भला बुरा नहीं कहा था, बल्कि वो बस तेज क़दमों से अन्दर कमरे में चली गई थीं. इसके बाद मैंने शैम्पेन की बोतल, जो मैं अपने साथ लेकर आया था, उसको खोला और शैम्पेन का एक गिलास बेबी रानी और एक गुड्डी को दिया.

मेरे मन में अभी भी अजीब उधेड़बुन चल रहा था … जैसे कि क्या ये जो कुछ हो रहा है, वो सही है! मुझे जेठजी को रोकना चाहिए या नहीं … और इसके बाद क्या होगा?दोस्तो, यहां मैं आप सबको एक बात बताना चाहूंगी कि मेरे पति और श्वेता भाभी के बीच भी शारीरिक संबंध थे और ये बात मेरे पति ने मुझे शादी से पहले ही बता दिया था. तभी पता नहीं क्या हुआ, बाबू ने एकदम से अपना लंड निकाल लिया और पीठ के बल लेट गए. दीदी ने पहले मेरे लंड को सहलाया, बाद में लंड को मुँह में लेकर चूसने लगीं.

तभी मैंने नाईट बल्ब को ऑन कर दिया बल्ब की लाल रोशनी में उसका जिस्म अंगारे की तरह लग रहा था.

नमस्कार दोस्तो,कैसे हो आप लोग! सभी मित्रों को और गर्म चुत वाली लड़कियों को मेरे खड़े लंड का प्रणाम. वो लंड के पानी को निगल गयी और उसने मेरे लंड को चाट चाट कर साफ कर दिया. अब मैं चाहती थी कि आदी मेरे सामने अपनी सारी बातें करे, मुझे मेरे ब्वॉयफ्रेंड से चुदाई में मदद करे … और किसी से न बताए.

मैंने लंड की तरफ उसे इशारा किया, तो जैसे वो मेरे इशारे का ही इन्तजार कर रही थी. मैंने अपने एक दो दोस्तों को कॉल किया और थोड़ा घूमकर आया, तब जाकर मेरा मूड सही हो सका. फिर चाची ने मेरी चड्डी उतारी तो मेरा छह इंच लंबा और दो इंच मोटा लंड उनके मुँह के सामने सलामी दे रहा था.

सिल्क के मुँह से जोर जोर से ईइ इशशश्श शश … अआआह्ह … ईइशश्श शश … अआआहह … की आवाजें निकलने लगी.

गुर्र … !”अचानक ही मेरे लिंग पर वसुंधरा योनि की पकड़ बहुत ही सख़्त हो गयी और फिर वसुंधरा की योनि में जैसे काम-ऱज़ की ज़ोरदार बारिश होने लगी और इस के साथ ही वसुंधरा की आँखें उलट गयी और वो बेहोश सी हो गयी. फिर वो मुझसे पूछने लगे- आप कहां रहते हो? क्या करते हो?उनके इन सब सवालों का मैंने जबाब दिया.

बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी वो आह हहह उहह हह उई की आवाज़ निकाल रही थी मगर लगातार वो अक्षय के लंड को देख रही थी और मैं नंगी पड़ी सरीना को!मैंने नीलू से पूछा- अक्षय से भी चुदने के मन है क्या?तो वो बस मुस्कुरा दी. और मैंने उसके लिप्स को अपने लिप्स में कैद कर लिया एक लम्बे स्मूच के बाद मैंने सिल्क को गुड मॉर्निंग बोला.

बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी मैं भी आगे पीछे करके उनके मुँह में लंड पेल रहा था और जिंदगी का असली मजा ले रहा था. वो अपने घर में मेरी बीवी से शादी से पहले एकाध साल धंधा भी करवा चुकी है.

शर्ट के बटन खुले हुए, ढीली ब्रा, बिखरे बाल, आँखों में लाली, लिपस्टिक तो मैं खा ही चुका था.

चोदने वाली सेक्सी मारवाड़ी

तभी विक्की ने मुझे बताया कि मास्साब मैडम जी के चूतड़ दबा रहे थे और लेटकर देने को कह रहे थे. परमीत ने कहा- सरप्राइज कहां है?संजय ने उन दोनों की ओर दिखाते हुए कहा- ये क्या हैं … यही तो सरप्राइज़ हैं. हम दोनों वापस अपने रोमांस में लग गए और आलिया फोन का इस्तेमाल कर रही थी.

मम्मे चूसते चूसते मेरा लण्ड मूसल की तरह टाइट हो गया तो मैंने सुमन को लिटाकर उसकी टांगें फैला दीं जिससे चूत पूरी तरह से खुल गई. जाते जाते उसने रवि को प्यार से धमका दिया कि कोई भी नया बिजनेस किसी और के अकाउंट में न जाए. अब मैं आलिया की कमर को पकड़ कर तेजी से उसकी गांड चोदने लगा, जिससे आलिया की आवाजें बढ़ गईं, लेकिन वो बस दर्द को सहते हुए मजा ले रही थी.

मैंने उस लड़के को गाली देते हुए कहा कि मादरचोद बोट पर तो तेरे लंड की प्यास बुझाई थी.

मनु बेचारी नई जवानी लिए दीदी के अनुभवी हाथों और मोटे डिल्डो के सामने कब तक टिक पाती. इसके बाद मैंने शैम्पेन की बोतल, जो मैं अपने साथ लेकर आया था, उसको खोला और शैम्पेन का एक गिलास बेबी रानी और एक गुड्डी को दिया. मैं भैया को मना करने लगी लेकिन तब तक भैया का लंड खड़ा हो चुका था और मेरी गांड की दरार में चुभना शुरू हो गया था.

सिल्क अपनी चूत मेरे मुँह में रख कर झुक गई और मेरे लण्ड को चूसने लगी. राहुल ने तो बमुश्किल ही कुछ लिया, वो तो बहक रहा था और जल्दी ही अपने रूम में चला गया. 8 दिन तक मैं रूपाली भाभी के घर पर रहा और पूरे 8 दिन तक ही मैंने उसकी चूत को जमकर चोदा.

मैं बस उनकी चुत तक पहुंचने ही वाला था कि तभी अचानक स्वीटी आंटी उठीं और बोलीं- मुझे एक जरूरी कॉल करना है, मैं अभी आती हूं. शुरूआती दौर में उसने मुझसे मेरा नाम आदि पूछा, मेरे पति का नाम पूछा और मेरे बच्चों आदि के बारे में पूछा.

अगले ही शॉट में मेरे लंड से भी पिचकारी छूट गयी और सुरभि की चूत भर गयी. मैं अब नीचे से संजू की गांड को चोदने लगा, पर संजू ने कराहते हुए बोली- प्लीज जानू रहम करो … अब मुझमें जरा सा भी शक्ति नहीं है. कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि दोस्त के ज़ोर देने पर मैं उसके साथ जिम में जाने के लिए तैयार हो गया.

फिर चुदास बढ़ने लगी, तो हम सभी धीमे धीमे करके अपने कपड़े निकालने लगे.

उन्होंने तो जाने से मना कर दिया क्योंकि उनको काम से छुट्टी मिलना मुश्किल था। तो तय ये हुआ कि वो मेरा ट्रेन में सीट बुक करवा दिया और मुझे अकेले जाने की इजाजत दे दी।मेरा घर यहाँ से 700 किलोमीटर दूर है और इटारसी से मुझे ट्रेन भी बदलनी होगी।पर मैंने हाँ कह दिया।7 दिसंबर को मुझे जाना था, मैंने सभी तैयारी कर ली और मेरे पति ने मुझे रेलवे स्टेशन जाकर मुझे ट्रेन में बैठा दिया. मैंने उसके कपड़े उतारे और अपने से चिपका कर मैं उसके होंठों को चूसने लगा. वह जैसे मुझे अपने आगोश में लेना चाहता था या मुझमें समा जाना चाहता था.

तब चाची कह रही थी- अनिकेत, तुम्हें पता है, मेरा बच्चे बंद होने का ऑपरेशन नहीं हुआ है. अनिषा बोली- भाभी जी चलो आज दोपहर में इसके तबेले से दूध और चीक ले आते हैं.

जेल की डिब्बी से जेल निकाल कर अपने लण्ड पर मला और सुमन की चूत के लबों को फैला कर धीरे धीरे पूरा लण्ड सुमन की चूत में पेल दिया. थोड़ी ही देर में रानी भी दुबारा से कामवासना की मार से घायल हो गयी और लगी सीत्कार भर भर के चुदवाने. वो नीचे से अपनी चुत उठा उठा कर चुदवाने लगी और मैंने भी अपनी स्पीड और बढ़ा दी.

गांव की देसी चुदाई वीडियो सेक्सी

वो दूध का कार्ड हाथ में देते हुए बोला- हिसाब अभी करोगी या बाद में?तब अनिषा बोली- भाभी जी से पूछ लो.

उसने स्खलन के वक्त मेरी घुंडियों को कसके मरोड़ दिया, जिससे मैं और तड़प गई. बहुत सारे लोगों ने मुझसे हमेशा सत्य घटना वाली सेक्स कहानी लिखने का मशविरा दिया है. इरफ़ान अपने सामने टेबल पर व्हिस्की का पैग खींच रहा था और सिगरेट के छल्ले उड़ा रहा था.

फिर उसने मेरे बालों को पकड़ कर पीछे खींच लिया और बोला- साली रंडी, तू तो ढीली हो गयी लेकिन मेरा अभी होना बाकी है. मैंने उनको अपनी बांहों में लेकर जबरदस्ती सेक्स वीडियो दिखाया और साथ में जोरदार किस भी किया. देसी baba comसुपारे पर अलौकिक चमक थी और चमड़ी की परत, जो सुपारे को ढकती है, वह लंड की जड़ पर कहीं खो गई थी.

मैंने कहा- ठीक है, चलो!मेरी आँखों में तो वही बस वाला ही लम्हा आए जा रहा था कि कैसे मैं आंटी के इतने करीब था यार!पूरे रास्ते मेरे दिल में सिर्फ और सिर्फ आंटी ही का ख्याल रहा. तो प्रियंका ने उसे हटने नहीं दिया बल्कि उसकी चूत को अपने मुँह से सटाकर अपनी जीभ संजू के चूत में घुसाकर सारा का सारा अन्दर का वीर्य चाट गई.

शुरू में हम दोनों कुछ हिचकिचाहट महसूस कर रहे थे क्योंकि हमारी पहली मुलाकात थी. संजू उठ कर बैठ गई और उसने एक जोरदार अंगड़ाई ली, जिससे उसकी गदराई चुचियों का पूरा उभार सामने आ गया. थोड़ी देर में ही मीना मछली की तरह तड़पने लगी क्योंकि ऊपर तो कुणाल ने बारी बारी से उसके मम्मे चूस चूस कर लाल कर दिए थे और नीचे रवि ने अपनी जीभ से उसकी चूत को अंदर तक छोड़ दिया था.

इस पोजीशन में एक ही शॉट में पूरा लण्ड उसकी छोटी सी गांड में सूत दिया. इसके अलावा और भी बहुत सारी जगह हैं लेकिन टॉयलेट तो शत प्रतिशत प्रमाणित जगह है. मैं किसी भी महिला या लड़की को देख कर बता सकता हूं कि वो चुदक्कड़ है या नहीं.

मैंने कहा- ठीक है, चलो!मेरी आँखों में तो वही बस वाला ही लम्हा आए जा रहा था कि कैसे मैं आंटी के इतने करीब था यार!पूरे रास्ते मेरे दिल में सिर्फ और सिर्फ आंटी ही का ख्याल रहा.

मैंने पूरी उंगली उसकी चूत के अन्दर डाल दी और उसको अन्दर बाहर करने लगा. वो कहने लगा- जीतू यार, किसी भी तरह इस लड़की से मेरा पीछा छुड़वा दे.

चूत के रस और लौड़े केलावा का मिला जुला एक तरल चूत से निकल निकल कर उसकी जांघों और मेरी झांटों को भिगोने लगा. साली छिनाल कच्छी उतार के आ!”मैंने पैंटी उतारी और उसने मुझे खींच लिया अपनी जांघों पे, लौड़ा मेरे चूतड़ों के बीच में सही जगह पे दस्तक दे रहा था।अरबाज़, तुम मुझे गालियां क्यों दे रहे हो?”उसने मेरी चूचियाँ पकड़ीं और मींजते हुए बोला- मुझे मज़ा आता है, मैं तो अपनी बीवी को भी देता हूँ और साली तू तो है ही मेरी रंडी मादरचोद. कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि दोस्त के ज़ोर देने पर मैं उसके साथ जिम में जाने के लिए तैयार हो गया.

हमारे यहाँ नारी के बहुत से रूप हैं एक निधि का तो दूसरा सिल्क का!फैसला आपका है कि आपको कौन सा रूप पसंद है. वो चारों अपनी गांड उछालकर चुद रही थीं, तभी मैं और जीजा जी ने अपनी जगह बदल ली और उन दोनों ने भी अपनी जगह बदल ली. शायद ये मेरे अन्दर की वासना थी, जिसे मैं अब तक समझ ही नहीं पा रही थी.

बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी मैं जोरों से आलिया की गांड मारने में लगा था, जिससे वो बहुत ज्यादा कामुक आवाजें करने लगी थी. ना चाहते हुए भी बार बार उसके जिस्म को ऊपर से नीचे से तक निहार रहा था.

सभी हीरोइन की सेक्सी पिक्चर

इस सेक्स कहानी को लाइव देख कर लिख कर भी मैं ज़िंदा हूँ यारो … क्योंकि मुझमें ताक़त थी … वरना ऐसा हुस्न … वो भी नंगा माल देख कर कोई भी मर जाता. जो आपकी गर्लफ्रेंड बनने का मौका मिला वरना कुछ लोग तो किसी और से चुदवाने का मजा लेने में लगे हैं. तो कहानी पढ़ने के बाद आप सभी से विनती है कि मुझसे सेक्स करने के लिए न कहें क्यूंकि ये किसी भी कीमत पर मुमकिन नहीं है।चलिए अब कहानी पर आते हैं.

मेरे अधसोये हुए लंड को अपने हाथ में लेकर खेलने लगी, बोली- यार अजय, तुम तो बहुत ही मस्त चुदाई करते हो. मेरा पति रात को मुझे अपने नीचे लेता और पांच छह धक्के लगाकर निढाल हो जाता. गुड़िया हमारी सब पर भारीमैं उनके घर जैसे ही पहुंची, उन्होंने मुझे अन्दर खींच लिया और दरवाजा बंद करके मेरी कमर में हाथ डाल कर मुझे अपनी ओर खींच लिया.

लड़का- हां यार, तुम हो ही इतनी मस्त कि तुम्हें देखते ही मेरा लंड खड़ा हो जाता है.

वो मुझे पानी के टंकी के पास ले गया, वहाँ एक ओर दीवार थी और दूसरी और टंकी! दीवार और एक तरफ ग्रिल लगी हुई थी। टंकी के बीच में जगह थी।वहां पर किसी को भी दिखाई नहीं दे सकता था. मैंने प्रीति से पूछा- क्या बात है जान … आज बड़ी हॉट लग रही हो … तुमने इतना हॉट कपड़े क्यों पहने हैं? मैं तुम्हारे मुँह से सुनना चाहता हूं.

अरे! अभी तो दस ही बजे हैं … ! ” हैंड-टॉवल से हाथ पोंछते हुए वसुंधरा ने अविश्वास से वाल-क्लॉक पर नज़र मार कर बिस्तर के पास आकर अपना नाईट-गाऊन कुर्सी की पुश्त पर टाँगते हुए कहा. फिर मैंने उसे अपने गोद में ले लिया और उसे लंड पर झूला झुलाते हुए चोदने लगा. इस बार उसने मेरे हाथ चपत लगाई कहा- मान जाओ भइया।फिर कुछ देर बाद मैंने फिर से चुंटी काटी.

अं अअ ह्ह्ह … संदीप … हह हय … ऐईईईइ … कुछ करो … उफ्फ क्यों तड़पा रहे हो?”और फिर एक झटके में मैंने अपने लण्ड को चूत में उतार दिया.

मेरे गुलाबी निप्पलों को बारी बारी से अपने मुँह में डाल कर मस्ती से चूसने लगे. मैं आपको यहां एक बात बताना चाहता हूँ कि इस पार्क में ज्यादातर ‘गे’ लोग शाम के समय घूमने आते हैं. अभय ने सामने से मेरे एक पैर को पकड़ कर थोड़ा सा ऊपर की तरफ उठाकर चौड़ा किया और अपने हाथ से अपना लौड़ा पकड़ कर मेरी चूत में एक हाथ लगाया और अपने लन्ड का सुपारा जैसे ही मेरी चूत में टच कराया तो मैं बिल्कुल उछल सी गई.

मां शेरावाली फोटोमैं लॉन में टहल रहा था कि एक बच्चे के शोर के कारण मैं सड़क पर दौड़ कर आया, तो देखा कि एक लड़की भागती हुयी मेरी तरफ आ रही थी और दो कुत्ते उसका पीछा कर रहे थे. मैंने नीचे से एक जोरदार धक्का दिया, जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया.

सेक्सी पिक्चर मुसलमानी की

मैंने उसकी बाजू पर वोलीनी लगाई। हालांकि कोई सूजन नहीं थी।फिर मैंने उससे पूछा- कमर पर कहाँ लगी? वहाँ भी लगा दूँ।तो उसने अपनी कमर पर छू कर बताया. उम्मीद है मेरी सेक्स कहानी पढ़ कर आपने अपने लंड और औरतों ने अपनी चूत का पानी भी जम के निकाला होगा. वो जाने के लिए पलटा, फिर रुक गया और संजू की तरफ देख कर बोला- भाभी एक बात बोलूं … आप प्लीज बुरा मत मानना … प्लीज आज एक बार फिर!इतना सुनना था कि संजू गुस्सा हो गई और बोली कि तुमको हम लोगों ने उसी दिन समझाया था ना … अपनी औकात में रहो समझे … मैं कोई ऐसी वैसी औरत नहीं हूँ … भागो यहां से.

ताकि वो पैंट के अंदर ही हिलता रहे और ज़ायरा बड़े अच्छे से उसको देख ले. बाबू अपनी एक उंगली को मेरी चूत में घुसाते हुए किसी एक जगह पर ले जाते, तो मैं चिहुँक जाती, वे उसी जगह पर सहलाने लगते. उसने मूतने के बाद टॉयलेट पेपर से अपनी चूत साफ की और हाथ धोकर बाहर आ गयी.

फिर बातें करते करते अंकल ने रजाई के अन्दर मेरा लंड पकड़ लिया और बोले- तुम्हारा तो बहुत बड़ा है यार, इससे तो मेरी फट जाएगी. उसकी टांगें काँप रहीं थीं और मुझे भी अंदाजा हो गया था कि अब ज्यादा देर नहीं टिक पाऊँगा इसलिए मैंने ताबड़तोड़ धक्के देने शुरू कर दिए।रोजी के मुँह से मम्म्म उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआह्ह ह्ह्ह की आवाजें निकलने लगीं थीं. उसने अपनी चुचियों को नीरज के मुँह में दे दीं और अपने हाथ से नीरज का लंड मसलती रही.

कुणाल जैसे ही अपना सर ऊपर उठाया, मीना ने उसके होंठों पर एक चुम्बन जड़ दिया. पहले अपने उंगलियों से गाजर मूली से अपनी कुंवारी चूत को शांत कर लेती थी, पर लंड … उफ कितना मजा आया.

मैंने बड़ा डिल्डो खुद पकड़ कर चूत में डालना जारी रखा और मनु को पतला डिल्डो गांड में डालने के लिए कहा.

मैंने रानी को और ज़ोर से आलिंगन में कसा और एक गुलाटी मार के मैं नीचे हो गया और रानी ऊपर आ गई. अब तक छप्पनफेरी के एक केबिन में मैं अपनी बहन चित्र को अपना लंड चुसवा रहा था और मेरे सामने जीजा जी अपनी बहन आलिया से अपने लंड को चुसवाने का मजा ले रहे थे. चूत मारी मेरामैं- क्या हुआ बस लड़कों का ही रस पीते हो … दीदी का पानी नहीं पी सकते थे क्या?इस पर वो हंस दिया. ”और मेरी डबल चुदाई शुरू हो गयी। घोड़ी बनी हुई थी, सुलेमान का चूस रही थी और अरबाज़ से मरवा रही थी। सच में बड़ा मज़ा आ रहा था। मेरी गांड और मुंह दोनों मस्त थे।और फिर दोनों लौंडों ने एक साथ मुझे दोनों जगह मर्द जल से भर दिया।तबियत प्रसन्न हो गयी।चार दिन की बेकरारी को आराम मिल गया।जाने से पहले सुलेमान ने मुझे अपना फ़ोन नंबर दिया- जब भी दिल करे, बुला लेना.

अपने लंड को हाथ में लेकर मेरी नाक और माथे पर पटकते हुए वो पट-पट की आवाज करने लगा.

मैंने उसकी टीशर्ट को बिल्कुल ऊपर कर दिया और उसकी ब्रा को भी ऊपर करके उसकी चूचियों को मुंह में लेकर पीने लगा. अब तनु बोली- यार, तुझे अगर यहाँ काम करना है तो उसके साथ सेक्स करना पड़ेगा. और जो समझ आ रही थी, वो मेरे मन में भी डर पैदा कर रही थी क्योंकि फैजल ने कुछ दिन मुझे सेक्स करने के लिए बोला हुआ था.

वसुंधरा के जिस्म में देवी रति अपने पूरे जलाल के साथ आसन्न थी और मेरे शरीर में विराजमान कामदेव के स्वागत में कामोत्सव मनाने को कमर कसे बैठी थी. वहां कोई नहीं था, तो वो मेरे रूम से बात करने की आवाज़ सुनकर मेरे रूम की तरफ आ गया. गांड को चीरता हुआ हसन का लंड अन्दर तक जा बैठा और उन्हें देखकर मेरे मन में भी उत्तेजना की लहरें हिलोरें मारने लगीं.

छोटे वाली सेक्सी वीडियो

मैंने नीचे से एक जोरदार धक्का दिया, जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया. लेकिन वो जिद कर बैठी और बोली- नहीं … जब माँ इतने छोटे केले से संतुष्ट हो सकती हैं … तो मैं भी संतुष्ट हो जाऊंगी. इसके बाद उसने मुझे टेबल के सहारे घोड़ी बना दिया और मेरी चुत में पीछे से पिल पड़ा.

काश मैं चाची की चुत भी देख पाता, पर चाचा चढ़े थे इसलिए नहीं देख सका.

अपने बदन को उसके बदन से रगड़ते हुए उसको बॉडी टू बॉडी मसाज देने लगा.

मैं लगातार उसकी गांड में धक्के लगाते हुए उसके छेद में लंड को पेलता रहा. तभी ममा बाहर जा ही रही थी कि तरुण आ गया और बोला- आंटी थोड़ी सब्जी मिलेगी क्या? मैंने बनाई नहीं और आज सुखमीत भी घर गया है।ममा ने बोल दिया- मोनी, सब्जी दे भईया को।और ममा चली गयी. अमृता राव xxxवो जैसे जैसे कुछ उठाने के लिए इधर उधर होतीं तो उनकी मस्त गाण्ड मटक-मटक कर मुझे अपनी और आकर्षित करने लगी।इतनी उठी हुई और सेक्सी गांण्ड मैंने पहले कभी नहीं देखी थी।फिर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने जाकर पीछे से आंटी को जोर से हग कर लिया जिसकी वजह से उनकी आअह ह की आवाज निकल गई.

मेरी पहली कहानी थीकिस्मत से मिली दीदी की चुदाईदोस्तो माफ़ करना, बहुत दिनों के बाद सेक्स कहानी लिख पा रहा हूं. अब वो भाभी का बहाना करके अपनी जिंदगी के राज और मन में छुपे अरमानों के बारे में मुझे बताने लगी, फिर कुछ दिनों बाद कहने लगी- भाभी के साथ वो लैसबियन भी करती है. इसके बाद मैंने उसे अपने घर बुलाकर भी उससे चुदवाया, आपको मेरी देसी सेक्स की कहानी कैसी लगी, ये आप[emailprotected]पर मेल करके बता सकते हैं.

इस मस्त सेक्स कहानी को अगले भाग में आगे की सेक्स कहानी को विस्तार से लिख कर आपके आइटम गरम करूंगा. राज से प्रीति के बारे में पूछता रहता था तो राज बोलता था कि प्रीति एकदम सही है और अपनी पढ़ाई में लगी रहती है.

ऐसी नशीली दारू का क्या कहना! जिसमें वाइन भी हो और रानियों के मुंह का जूस भी.

उस दिन हम दोनों ही बहुत खुश थे और हम दोनों ने एक दूसरे को बहुत प्यार किया. विशाल रोज रिंकी को दिखाकर मुठ मारता और रिंकी भी रोज विशाल को दिखाकर अपनी चूत में डिलडो करती. वसुंधरा की टांगों ने मेरी पीठ पर कैंची सी कस ली थी और इस से मुझे अपना लिंग वसुंधरा की योनि में से वापिस खींचने में थोड़ी दिक़्क़त हो रही थी तदापि अभी तक तो मैं डटा ही हुआ था.

ब्लू पिक्चर दिखा दो वीडियो मैं उसे और ज्यादा गर्म करना चाहता था ताकि वो चुदाई में मेरा पूरा साथ दे सके. मैंने उसका टॉप ऊपर किया और उसकी खूबसूरत चूचियों के निप्पल को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

आलिया- किस लिए जान?अविनाश- मुझे तुम्हारा ब्वॉयफ्रेंड बनने का मौका जो मिला. बाइसेप्स और ट्राइसेप्स करने के दौरान उसने लगातार अपना लंड उस लड़की की गांड पर सटाये रखा. राहुल- क्या हुआ … तुम भी तो अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुदाना चाह रही थी न … अब क्या फर्क पड़ता है, ब्वॉयफ्रेंड हो या मैं.

सेक्सी पिक्चर एचडी साड़ी वाली

आपकी कांखों से आती मादक खुशबू मुझे पागल बनाती थी। आप के बदन की खुशबू लेने के लिए मैं आपके पीछे बैठता था।छीईई …”इसमें छी क्या दीदी, आपकी गर्म जवानी थी ही ऐसी!”और क्या क्या किया है तूने मेरे पीठ पीछे?”आपके चूचे आपकी उम्र की लड़कियों से काफी बड़े थे। स्कूली ड्रेस में आपके तने हुए चूचों को देख कर मेरा लन्ड खड़ा हो जाता था।”अच्छा जी!” मैंने कहा. मैं बोला- फिल्म में अभी एक घंटा बाकी है … हम लोग कुछ मिनट बाद निकलेंगे. मेरी पहली सेक्स कहानीमैं कैसे बन गई चुदक्कड़को लेकर आप सबके बहुत सारे सन्देश मुझे प्राप्त हुए.

प्रीति को ऊपर से नीचे तक बड़ी गौर से निहार रहा था और फिर प्रीति की चूत में अपनी 2 ऊंगली डालने लगा. … ये तो मुझे नहीं पता था, पर उसके बाद जेठजी खुद ही शर्म महसूस करने लगते और मुझसे नजरें चुराने लगते, जिससे मुझे लगता कि शायद गलती से हो गया होगा.

माई के जाते ही घर पूरा खाली था, सो मैं माई का साड़ी ब्लाउज पहन कर इतरा रही थी.

एक मीठा सा दर्द और इसके साथ जो आनन्द मिल रहा था, शायद दुनिया में वो आनन्द मुझे कहीं और नहीं मिल सकता था. सिल्क- आह्ह् रु…रुको!पर अब तो मेरा दिल मान ही नहीं रहा था … मैंने उसको गोद में उठाया और नर्म बिस्तर पे पटक दिया. उसका इतना कहना था कि मैंने गाड़ी कार्नर लेन में लेकर उसकी रफ्तार बहुत धीरे कर दी और अपने होंठों अलका के होंठों पर रख दिए.

अब मैंने रजत को नाचने के लिए कह दिया और हसन को पैर दबाने के काम में लगा दिया. उसकी भीगी हुई नंगी चूचियों को देख कर मेरे लौड़े में फिर से तनाव आना शुरू हो गया. कभी कहीं कोई मुलाकात हो भी गयी तो ऐसे होगी जैसे किसी रेलवे स्टेशन या एयरपोर्ट पर अलग-अलग दिशाओं से आकर, अलग-अलग दिशाओं को जाने वाले दो अजनबी यात्री बेसाख़्ता आमने-सामने आ गए हों.

यह सुनकर मेरी चूत से फिर से पानी आने लगा तो मैंने उनको सोचकर बताने को बोला.

बीएफ सेक्सी एचडी वीडियो फुल एचडी: और ज़ायरा तो बहुत ही शानदार औरत है। उसका कद थोड़ा कम था, मगर गोरी चिट्टी, भरपूर बदन की खूब सेक्सी औरत है। दो बच्चों की माँ है, मगर आज भी फंटास्टिक लगती है।उसके जिस्म पर सबसे खूबसूरत चीज़ उसके भारी मम्मे हैं। हर कोई उसके मम्मों को ही घूरता रह जाता है। उसको भी पता है कि हर कोई उसके गोरे मोटे मम्मों का दीवाना है. दूसरी तरफ लंड पेवस्त होते अलका की चीख निकल गयी और उसका रोना शुरू हो गया.

मेरी जीभ ने जैसे ही उसके लंड के सुपारे को टच किया, उसकी सिसकारी निकल गई. इतनी चूतों की चुदाई के बाद भी लंड को देख कर कोई ये नहीं बता सकता कि इसने इतनी चूतों को खुश किया हुआ है. मैं दिल्ली में रहता हूँ। मेरा एक वाइफ स्वापिंग क्लब भी था जैसा कि में आपको अपनी पुरानी कहानीबाली उम्र की मीठी चुदासमें बता चुका हूं क्लब के चलते मेरा डिवोर्स हुआ; यह भी मैं आपको बता चुका हूं.

मेरे ससुर का समाज में बहुत नाम है, इसलिए मैं इज्जत रखने के लिए किसी को कुछ नहीं बताती हूं.

संजू नीरज के लंड चूसने के क्रम में वहां पर जितना भी वीर्य गिरा था, उस सबको चाट गई. मुझे तो अब खुद ही कपड़ों से परेशानी होने लगी थी, सो मैंने कपड़े निकाल कर सोफे पर रख दिए. मैंने जैसे तैसे छोटे मोटे कामों को खत्म किया और घड़ी की तरफ देखा, तो 10 बजने वाले थे.