बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो

छवि स्रोत,ब्लू पिक्चर दिखाओ नंगी वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

एचडी ब्लू मूवी: बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो, इधर मेरी काम वासना भी इतनी बढ़ती जा रही थी कि मैं सुखबीर के आगे झुकती जा रही थी.

सेक्सी वीडियो सील तोड़ने वाली

मैंने कहा- साली रंडी, चूस… बहन की लौड़ी… तुझे ऐसा ही लंड चाहिए था न. पुरानी दिल्ली सट्टामैंने अब उनकी मेक्सी को उतार दिया जिसकी वजह से अब वो सिर्फ़ काली ब्रा और पेंटी में मेरे सामने थी.

जेठ जी ने फिर से अपने लंड को मेरी चुत के अन्दर डाल दिया और जोश से धक्के देने लगे. देसी मामी की चुदाईमैंने जरा हैरत भरे स्वर में उनको सुना और धीरे से कहा- ठीक है मम्मी.

”खाना परोसने के दौरान मेरा सारा ध्यान कौशल्या की बड़े बड़े रसीले स्तनों पर ही था.बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो: मैं बिस्तर पर लेटी थी और उसने एक बार मुठ मार कर सारा माल बिस्तर पर गिरा दिया.

कुछ ही देर में उसने मेरी पेंटी को खींच कर निकाल दिया और मुझे पूरी नंगी कर दिया.मेरा दोस्त भी तैयार हो गया और यह बात उसने जीजाजी को बताई और बाकी सब भी दारू पार्टी के लिए तैयार हो गये.

वॉलपेपर वॉलपेपर फोटो - बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो

वो रात को अनिल को देखने के लिए आती और कहती कि आपके लिए चाय बना कर लाती हूँ.दरवाज़ा बंद करते ही राहुल मुझसे लिपट गया और मेरी गर्दन पर ज़ोर-ज़ोर से किस करने लग गया.

ओह्ह्ह्हह … मां … मुझे कुछ हो रहा है महेश्श्श … प्लीज कुछ करो … मैं मरर … जाऊंगी. बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो मैंने उसके हाथ को अपने हाथ में ले लिया और वह मेरे गले लगकर नीचे से मेरे लंड को सहलाने लगी.

अब मुझसे भी नहीं रहा गया तो मैंने भी उसके कपड़े निकालने शुरू कर दिए ताकि मैं भी उसके दूध पी सकूं.

बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो?

नेहा के घुटनों को मोड़कर उसके पैरों को मैंने ऊपर हवा में उठाया हुआ था, मगर फिर भी मेरे धक्कों के साथ साथ वो नीचे से धीरे धीरे अपनी कमर को उचकाने लगी थी. पर हां … लालच मेरे भी मन में था, वो भी सिर्फ और सिर्फ अच्छे अच्छे स्टाइलिश कपड़ों को लेने की लालच थी. कई बार ऐसा मौका पड़ा कि मेरे पति मेरे घर पर नहीं रहते और मेरी सहेली का पति मेरे घर खाना खाने के लिए आता था.

जगत अंकल बोले- अरे वह लेट कर चुदवा रही है … तुम्हें थोड़ी ना देखेगी. दादाजी ने उसकी कमर को जोर से पकड़ कर उसके दाने को मींजना चालू कर दिया. फिर उसने कहा- मैंने एक कहानी पढ़ी थी, उसमें एक आदमी अपनी बीवी को दूसरे मर्द से चुदवाता है.

जरा रुक मुझे अपना वीडियो कैमरा लाने दे, तेरी इस सुंदरता का वीडियो बनाता हूँ. उसने अपनी मॉम की चुदाई के बारे में मुझे बताया कि वो अपनी मॉम को चोद चुका है. थोड़ी देर बाद मैंने देखा तो औरत बेबी को छोड़ बाथरूम गयी, फिर कुछ 10 मिनट बाद आई लेकिन परेशान थी.

अचानक मुझे अपनी योनि की फांकों के बीच उनका लंड गड़ता हुआ महसूस हुआ, समझ में आते ही मैं हड़बड़ा गयी और इसी हड़बड़ाहट में टेबल पर गिर गयी. मैं बाथरूम जाने के लिए उठा और नीचे उतरा तो देखो वो औरत बेबी को लेकर बैठी थी.

आपको मेरी सेक्सी कहानी कैसी लगी? मुझे जरूर बताइये।मेरा ईमेल आई डी है[emailprotected].

मेरी सहेली का पति मुझसे बात करते करते मेरे जिस्म को छूने लगा और उसके बाद वो मुझे अपनी बाँहों में लेकर मुझे किस करने लगा.

वो जब रात को अनिल से चाय के लिए पूछने आती तो खूब छोटे कपड़े पहन के आती थी. उसने डरती सी आवाज में मुझसे पूछा- आप कब आए?मैंने कहा- जब तुम बाथरूम में थीं, पर तुम बिना कपड़ों के कैसे? बाहर गांड मरवा के आ रही हो क्या?उसने कहा- नहीं वो बस कोई घर पर नहीं था. करीब 10 मिनट के बाद मेरा माल झड़ने को आया तो मैंने उसके सर पर हाथ फेर कर इशारा किया, तो वो थोड़ा तेज़ गति से लंड चूसने लगी.

मेरा जोश बढ़ता ही जा रहा था। बहुत दिनों बाद मुझे इतना मस्त माल हाथ लगा था, इसलिए मैं उसका पूरा मज़ा ले रहा था. जवान कुंवारी लड़की की चूत चुदाई की यह कहानी आपको कैसी लगी आप मुझे अपने मैसेज के ज़रिए बताना ताकि जल्दी ही मैं आप सबके लिए अपनी अगली कहानी पेश कर सकूं. उम्म्ह… अहह… हय… याह…तब महेश बोला- कुछ नहीं होगा, दो मिनट सब्र रख ले.

अब मैंने रॉकी से बोला कि भाई ये कस्टमर बिरजू करता क्या है?तो उसने बताया कि वो ड्राइवर है.

मैंने सोचा कि मेरी बहन तो बहुत बड़ी चुदक्कड़ है, इसे तो थोड़ी भी शर्म नहीं है. मैं उस पल को एहसास को कभी नहीं भूलना चाहता जब मैंने धीरे धीरे अपने लंड को आंटी की चूत की गहराई में उतारा था; मानो मैंने लंड चूत में नहीं किसी गर्म भट्टी में झोंक दिया हो!जैसे ही मैंने लंड अंदर किया, एक आह चाची के मुख से निकली जिसमें सुकून भरा दर्द था. कुछ टाइम के बाद मामी बोली- आप बेडरूम में आ जाओ, मैं अभी आती हूँ।मामी मुझे देखने के लिए आई, मैं आंख बंद करके लेट गई थी.

इसलिए एक दूसरे की बांहों में चिपक कर लेट गए और थोड़ी देर तक आराम किया. रात को जब मैं पानी पीने के लिए उठा तो मैंने उनके कमरे में जाकर देखा कि उनकी मेक्सी उस समय उनकी गोरी जांघों से ऊपर आ गई थी और मैं उनकी गोरी गोरी जांघें वहां पर खड़ा होकर देखने लगा. मालती बहुत हैरान हो गई और बोली- मेरे पास कहां से आया तुम्हारा पति?तब मैंने कहा- मेरी चूत से किसने खून निकाल कर मुझे लड़की से औरत बनाया था?मालती ने कहा- मेरे डिल्डो ने?मैंने कहा- तब मेरा पति हुआ ना वो?मालती हंस पड़ी और बोली- क्या बात है डार्लिंग.

अब मॉम सिर्फ ब्रा में थी क्योंकि जीचे उन्होंने पैन्टी नहीं पहनी हुई थी.

रवि करीब 6-7 मिनट तक मेरी जम के चुदाई करते रहे और फिर एकदम से बोले कि वन्द्या पोजीशन चेंज कर ले. मैंने भी अब नेहा का जोश बढ़ाने के लिए उसके होंठों को चूसते हुए धीरे से अपनी जुबान को उसके मुँह में घुसा दिया.

बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो उसने अपने होंठों को मेरी गर्दन पर रखा और मेरी एक चूची को दबा दिया जिससे मैं और ज्यादा मदहोश होने लगी. मेरी सेक्सी कहानी के पहले भागकोटा कोचिंग की लड़की का बुर चोदन-1में अब तक आपने पढ़ा कि एक ईमेल के माध्यम से नूपुर जैन ने मुझे बताया कि वह मुझसे चुदवाना चाहती थी, उसने मुझे अपने पास कोटा बुला लिया था.

बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो मैंने तुरन्त उसकी चूचियों को दबोच लिया और उसके होंठों का रसपान करते हुए बारी बारी से उसकी दोनों चूचियों को भी मसलने‌ लगा. उसने मेरे वहां से जाते समय मुझसे बस एक ही बात कही- बस धोखा मत देना.

उसके बाद मेरा देवर मेरे ऊपर आ गया और अपना लंड मेरी चूत में डाल कर मुझे चोदने लगा.

நடிகை அனுஷ்கா செக்ஸ் வீடியோ

फिर वो अचानक से चिल्ला भी नहीं सकीं, क्योंकि उनका मुँह मेरे मुँह से दबा था और मैं उनको ज़ोर-ज़ोर से किस करता गया और धक्के लगाते गया. मैंने भी अब फिर से धक्के लगा‌कर अपने‌ लंड को‌ सुलेखा‌ भाभी‌ की चुत के अन्दर बाहर करना‌ शुरू कर दिया, जिससे अब फिर से भाभी के मुँह से‌ सिसकारियां फूटनी शुरू हो गईं. जब मैं वापसी अपने घर पहुंचा तो मैंने घर से बाहर ही वियाग्रा की गोली कर अपने मुँह में रख ली और घर में घुसने के बाद पानी पीकर खा ली.

ले लंड खा मादरचोदी!सबीना आंटी भी रंडीपने पर उतर चुकी थीं- चोद न दल्ले … चोद अपनी शेख रांड को … भैन के लौड़े तुम साले हमें चोदने को ही बैठे रहते हो. मैं उसके पटों को सहलाता रहा और हाथ फिराते हुए जब मेरा हाथ उसकी चूत पर पहुंचा तो सोनू ने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- यह नहीं करना. यह सुनकर वो चौंक गयी और कहने लगी- नहीं आप सो जाओ, मुझे आपकी मदद नहीं चाहिए.

अभी आँख लगी ही थी कि तभी एक सुंदर सी और बहुत ही खूबसूरत लड़की मेरे पास आई और उसने मेरी नींद खराब कर दी.

फिर किसी तरह पापा का पूरा लण्ड मॉम की चूत में घुस गया और पापा मॉम की चूत में धक्के मारने लगे. मैं उत्तरायण स्नान के एक दिन पहले दोस्त के घर गया, तो उसने मुझे सबसे मिलाया. मैंने अनु से लगभग चिल्लाते हुए पूछा- इतना टाइम कैसे लगा?उसने कहा कि मैं तो कपड़े धो रही थी, करण पाल जी बैठे थे.

ओह्ह्ह्हह … मां … मुझे कुछ हो रहा है महेश्श्श … प्लीज कुछ करो … मैं मरर … जाऊंगी. मैं पूरे जोश के साथ ब्रा में छुपे मम्मों पर टूट पड़ा और ब्रा के ऊपर से ही गुड़िया के मम्मों चूसने व काटने लगा. उसको चोदने की फिराक में तो हम सारे ही दोस्त रहते थे लेकिन मैंने अपनी तरफ से प्लानिंग शुरू कर दी थी.

इसके बाद उन्होंने अपने दांए हाथ से मेरी गांड को फैलाकर अपना लंड बांए हाथ में पकड़ कर गांड के छेद पर सैट कर लिया. चाची ज़ोर ज़ोर से सिसकारियाँ लेने लगी थी, जोश में आकर मेरा सर अपनी चूत में पूरा अंदर देना चाहती थी.

तो उन्होंने नामित से पूछा- ये दोनों कहां हैं?नामित बोला- विराट तो रेडी होकर निकल गया, उसे कोई काम था, वो कह गया है कि रात में लेट आएगा और मेरी मॉम एक सहेली के यहां गयी हैं. जिससे ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह… इइईईई … श्श्शशश … ओय्य्येऐऐऐ …’ की आवाज के साथ प्रिया के मुँह से सिसकारी निकल गयी और उसने दोनों‌ हाथों‌ से मेरे हाथ को पकड़ लिया. कुछ देर के बाद मेरे जेठ ने अपना हाथ मेरे सीने पर रखा, कुछ देर मेरे ब्लाउज के ऊपर से मेरे मम्मे मसलने के बाद उन्होंने मेरे ब्लाउज के हुक खोलना शुरू कर दिए.

मैंने पूछा- भाभी मैं समझ नहीं पाया कि मजबूत हो जाएंगे से क्या मतलब हुआ है?भाभी ने मुझे सब बताते हुए कहा- मेरे पति मुझे खुश नहीं कर सकते और मेरी भूख नहीं मिटा सकते.

बहरहाल प्रशांत ने नीना का मन टटोला- आज क्या इरादा है मैडम?इस बात पर प्रशांत को उलाहना देते हुए नीना बोली- आज न तो बारिश हो रही है और न बाइक धोने की जरूरत है. रुबीना मेरे सामने अपनी दो उंगलियों में अपने गुलाबी निप्पल को दबा दबा कर अपनी बेटी को दूध पिला रही थी. उसने बड़े प्यार से मुझे उठाया, मेरा लंड कपड़े से साफ किया … फिर मुझे जोरदार किस किया.

मैं पूरी मस्ती में था, तो मैंने उसका सिर पकड़ा और आधा लंड उसके मुँह में घुसेड़ दिया. मैंने उसे हमारा नया घर दिखाया जिसे देख कर वो बहुत ही खुश हुई और उसने मुझे गले लगा लिया.

नाइटी पहनते वक्त मैंने ब्रा पैंटी भी नहीं पहनी थी, उसके चलते मेरा पूरा शरीर लगभग नंगा दिख रहा था. मुझे डर था कि कहीं वंदना अपने नीचे खून देकर डर ना जाए, इसीलिए मैं उसको किस करने लगा. फिर मैंने उसके टॉप को ऊपर करवा दिया और उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके बड़े-बड़े सॉफ्ट बोबों को दबाने लगा.

நைட் செக்ஸ் வீடியோ

शशश … आआह्ह्ह … महेश्श्शश …” प्रिया ने जोरों से सुबकते हुए कहा और अपनी कमर को ऊपर हवा में उठा लिया.

इस तरह कभी भी मूड बन जाने पर अपने पति से चुदवाने में मुझे बहुत मजा आता था. इतने में उन्होंने मेरे टॉप को लेटे लेटे ऊपर किया और मेरी नाभि पर उंगली फेरने लगे. कुछ देर बाद अंकल ने अपना लंड निकाला और अरुणा के मुँह को पकड़कर उस पर सारा माल झड़ा दिया.

दस-बारह अप-डाउन के बाद प्रशांत को शरारत सूझी और बात नीना के कंट्रोल से बाहर हो गई. तभी महेश ने फिर से मेरे मुँह में अपना लंड डाल दिया और बोला- साली चिल्ला मत कुतिया … अभी ठीक हो जाएगा, नई नवेली है इसलिए अभी एक दो साल थोड़ा दर्द होगा, पर मजा भी उतना ही मिलेगा. रेप वीडियो रेप वीडियोकहीं से लग नहीं रहा था कि कुछ घंटे पहले हम दोनों एक दूसरे के लिए अजनबी थे.

मैंने भी अपना मुँह खोलकर उसका स्वागत किया और उसे होंठों से दबाकर जोरों से चूसने लगा‌ जिससे सुलेखा भाभी के मुँह का मीठा‌ मीठा व चिकना‌ सा स्वाद अब‌ मेरे मुँह में घुल गया. उसके बाद स्वीटी टांगें फैलाते हुए बोली- जानू अब नीचे भी कुछ करो न!मैं स्वीटी की चूत को चाटने लगा और स्वीटी बड़ी जोर-जोर से चिल्लाने लगी- आह … रॉकी और तेज से चूसो …कुछ देर उसकी चूत चूसने के बाद मुझे एक आईडिया आया.

मेरे पति ने मुझे एक दो बार अपने बॉयफ्रेंड्स से बात करते हुए देख लिया था, इसलिए हम दोनों लोग के बीच झगड़ा होने लगा था. सुबह 11:00 बजे मेरी आंख खुली तो मैंने देखा कि वंदना मेरे लिए चाय बना कर लेकर आयी थी और उसी ने मुझे जगाया था. उन लोगों की भी नाईट हमारे जैसे ही होती थी 3 नाईट उसके बाद 2 छुट्टी। पहली रात तो मैं नर्स रोजी को देखता ही रहा क्या गदर माल थी। यूं तो हम पहले भी मिल चुके थे जब मैं दिन में ड्यूटी करता था.

अन्तर्वासना की कहानियों को मैं चार साल से पढ़ रहा हूँ और मैं समझता हूँ कि अपनी बात शेयर करने की इससे अच्छी साइट नहीं है. मेरे पति यह नजारा देखकर एकदम भौचक्के से रह गए क्योंकि आज से पहले मैं इतने जोश में कभी नहीं चुदी थी।लेकिन वो जानते थे कि यह सारा खेल उन्होंने ही रचा है तो अब एतराज भी क्या करना!वे सब देख रहे थे कि कैसे उनकी प्रिय पत्नी को कोई कोई गैर मर्द नोच रहा था. यह मेरी पहली सेक्स स्टोरी है, यह एक सच्ची घटना है, जो मेरी मॉम के साथ की है.

इसके बाद तो हमारी रोज़ घंटों फ़ोन पर बातें होने लगी और मुझे भी उससे बातें करना बहुत अच्छा लगता था.

मैं डर गया, मामा का मोटा लंड बिल्कुल खुला हुआ बाइक की टंकी से बैठकर आसमान को सलामी दे रहा था और हम लोग अभी भी रोड पर ही थे. एक तरफ ये भी ख्याल आया कि अगर नैना खुद ही मेरे साथ सोना चाहती है, तो क्या दिक्कत है.

तुम मुझे फ्रेंड मानती हो?उसने कहा कि कल जब हम चले जाएंगे तब क्या करोगे?मैंने उससे कहा- मैं तुमको बहुत चाहता हूं और जिंदगी भर चाहूंगा. फिर कुछ 20-25 दमदार शॉट लगाने के बाद, वो भी फिर से चार्ज हो गई और गांड को उछाल उछाल कर मेरा साथ देने लगी. इसी मजे के कारण मैंने अब नेहा की चूची को छोड़ दिया और अपनी गर्दन उठा कर उसके चेहरे की तरफ देखने लगा … वो भी मेरी तरफ ही देख रही थी.

इस बार मैंने उसके सारे कपड़े नहीं खोले बल्कि उसकी साड़ी को नीचे से ऊपर किया और उसे बेड पे हाथ रखकर आगे की तरफ झुका दिया मतलब डॉगी स्टाइल! पहले मैं उसकी गांड के छेद पे जीभ रखकर चाटा और वहाँ पर खूब गीला किया. मैंने उसको रोने से मना किया और उसको बोला- मैं हूँ ना!और वो मेरे सीने से लिपट गयी. उसकी चूत चुसाई से मेरी चूत ने एकदम से पानी छोड़ दिया और मेरी चूत का सारा पानी मेरे देवर ने पी लिया.

बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो मैंने तुरंत उसका यूजर नाम पढ़ लिया और आंटी को थैंक्यू बोल कर सिलिंडर लेकर घर आ गया. थोड़ी देर बाद जब मैं झड़ने ही वाला था, तो मैंने उनसे कहा- मेरा होने वाला है.

आदिवासी फुल सेक्सी

सुलेखा भाभी मेरे ऊपर निढाल होकर ढेर हो गयी थीं, मगर मेरे धक्के लगाने से वो अब फिर से कराहने‌ लगी थीं. भाभी ने भी अपना सर मेरी छाती में छिपा दिया और अपनी गर्म सांसें मेरे सीने में छोड़ने लगीं और इसी के साथ उन्होंने भी मुझे अपनी बांहों में भरके ऐसा जताया जैसे वे भी मुझसे चिपक कर चुप होने का बहाना कर रही हैं. मैंने पॉंड्स क्रीम निकाली और सन्नी की गांड के गुलाबी छेद पर धीरे धीरे मलने लगा.

”मैंने कौशल्या के मुँह में अपना लंड दे दिया, शायद उसने अपने पति का लंड भी कभी नहीं चूसा था. उसको पॉर्न फिल्मों के बारे में कोई नॉलेज नहीं थी, मैंने उसे ऐसी फ़िल्में दिखाना शुरू किया. दिसावर का चार्ट दिखाएंएक बार तो अब मैं भी घबरा गया कि इसको‌ कैसे पता चल गया कि मेरे और सुलेखा भाभी के बीच कुछ हुआ है.

वो ड्राइवर को बोला- तुम गाड़ी सीधे बंगले तरफ ले लो और पीछे क्या हो रहा है, उसे भूल जाओ.

हमने फटाफट खाना खाया, बल्कि भाभी ने पहला कौर मेरे मुंह में अपने हाथ से दिया और मैंने भी वैसे ही किया. मैंने सोनू को गोद से नीचे उतारा और सोनू को पीछे से बांहों में भरा और उसके चूतड़ों के ऊपर अपना लंड रख कर खड़ा हो गया.

उसका क्या मस्त दूध जैसा सफेद शरीर … क्या शानदार तने हुए बोबे और सबसे शानदार उसकी उठी हुई गांड … मैं तो उसकी गांड का ही दीवाना था. वैसे तो मेरी शादी हो चुकी है लेकिन मेरे पति हमेशा काम से बाहर रहते हैं. अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी चूत को अनवर जोर जोर से चोद रहा था, धक्के मार रहा था.

उसने अपना लंड मेरी गांड के छेद में लंड टिकाया और जोर का धक्का मारा.

पिघलता भी क्यों नहीं … मनीषा का फिगर था ही ऐसा 34-30-36मैंने भी उसको किस किया और फिर समझाकर नीचे भेज दिया कि यहाँ कोई देख लेगा. मैंने रमेश की ओर देखते हुए- क्यों काका मज़ा आया?रमेश बोलता उसके पहले ही रूपा बोली- मालिक इसका तो पता नहीं, पर मुझे बहुत मज़ा आया. अन्दर पुनीत समझ गया कि बाहर लोग आ गए हैं तो उसने मेरा मुँह दबा लिया और बोला- साली इतना रोती है.

करते हुए दिखाइए2 मिनट बाद मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और मनीषा मेरा सारा पानी पी गयी और मैं बेड पे उसके पास लेट गया. मैंने उसके दोनों हाथ जो मेरे घुटनों पर थे, उसको पकड़ कर अपनी जांघों के बीच लौड़े को ना छुए, ऐसे रख दिये.

बिहार का सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स

मैं बोला- दीदी उससे मुझे मेरी किताब वापिस लेनी है, आप जरा निकाल दोगी?वो बोली- रुको … तुम्हारे जीजा को टिफ़िन पैक करके दे दूँ, फिर तुम्हें दे दूँगी. मैंने मना किया तो कहने लगी- अभी भैया को आने में बहुत समय है और तुम थक भी गए होगे. अब मुझमें इतनी भी हिम्मत नहीं बची थी कि मैं उठ कर बाथरूम में जाकर अपनी चूत को साफ़ करके अपने कपड़े पहन सकूं.

इस बार मैंने उसके होंठों को मुँह में दबा दिया और एक हाथ से बोबे दबाने लग गया. रूपा ने अपने हाथ बढ़ाए और मेरे लंड को अपनी मुट्ठी में लेकर सहलाने लगी. मैंने अपनी बीवी और साली को बुर की दरार और फैलाने के लिए बोला और अपने लंड का सुपारा कुछ आगे दबाया.

मैंने शिवा से आवाज लगाते हुए कहा- ज़रा नयी मैडम को कहो कि वो मुझे रिपोर्ट करें. मैंने कहा- हां पता तो है, मगर जो तुम्हारे पास वो तो मुझे भी नहीं पता. सोनाली देखने में बहुत खूबसूरत लग रही थी, बिल्कुल हीरोइन की तरह स्टाइलिश थी.

मेरी सहेली की एक भाभी भी है और उसके मुँह से ये सुनकर मुझे बहुत अजीब लग रहा था क्योंकि भाभी तो दिखने में बहुत सीधी शालीन लगती थी. दस बजे पूजा का फोन आया और उसने बताया कि मैं ट्रेन सही समय से है और मैं आधा घंटे में पहुंच जाऊंगी.

अब मैंने मौका देख पायल की बुर पर अपना लंड सेट किया और नीरू को इशारा किया कि तू इसके होंठों को मुंह में ले ताकि इसकी चीख ना निकले.

अपनी उंगलियों से नेहा की मुनिया को मसलते हुए मैंने फिर से उसकी चूची को मुँह में भर लिया. खलीफा की वीडियोअब इधर उधर की बात करते करते मैंने बोला- आप भी बहुत सेक्सी दिख रही थीं. प्रीति सेक्समैं अभी नहीं रुका और मेरा मन था कि मैं भाभी को डॉगी स्टाइल में भी चोदूँ. तब मूछों वाले अंकल ने फिर राज अंकल को बोला- राज भाई, आप होके आ जाओ, मेरा अभी मन नहीं है, मैं यहीं कार में बैठा हूं.

मैंने भाभी की चूत के पास लंड को रगड़ना शुरू किया और भाभी मस्त होने लगी.

हां … ऐसे … शाबाश … अब टाँग चौड़ी करके अपने चूतड़ पीछे निकाल ले!” सर ने उत्तेजित स्वर में कहा. मुझे खुद पर बहुत शर्म आयी और जब वो मेरी तरफ आयी तो मैं उनसे नज़र नहीं मिला पा रहा था. तभी अरुणा की नजर अंकल के लोअर में तगड़े लंड पर पड़ी, जो अकड़ कर बाहर आ रहा था.

मैंने उनसे कहा- आंटी, आज मैं आपसे अपने मन की सच्ची बात कहना चाहता हूँ. वो सोती हुई भी बहुत मासूम लग रही थी। उसके मासूम चेहरे को देखकर मेरा लण्ड टाइट होना शुरू हो गया था लेकिन अभी मैं उसके साथ कुछ भी नहीं कर सकता था क्योंकि मुझे नहीं पता था कि उसके मन में क्या चल रहा है. फिर रात को 9 बजे मुझे नेहा ने जगाया और बोला- चलो खाना खा लेते हैं, नामित और विराट भी आ गए हैं.

श्रेया सेक्स वीडियो

उसने मुझे अपनी ओर खींच कर मेरे मुलायम होंठों पर अपने होंठ रखे और मैं कुछ भी रोकने की स्थिति में नहीं थी. कौशल्या दर्द से चीख उठी- आहह्ह्ह … मर गई …वो मुझे धक्का देकर फट से थोड़ा पीछे हो गयी. पर तब तक वो भी डाउन हो चुका था, मैंने और मेरे दोस्त ने सहारा देकर उसे कमरे तक छोड़ा और हम अपने अपने कमरे में चले गये.

चूंकि सोहन के घर के सभी सदस्य कहीं गए हुए थे और उसका घर खाली था इसलिए उन दोनों ने जमकर चुदाई की.

आह्ह्ह्ह… भाभी के होठों की छुअन से मेरे लंड में जैसे बिजली सी दौड़ गई और मेरा लंड दोगुनी शक्ति के साथ झटके देने लगा.

उसके शरीर के अंदर जो चीज़ मुझे सबसे ज्यादा पसंद आई वह थी उसके मोटे-मोटे हिप्स. इसके बाद मैं जल्दी से कोई सुराख देखने लगा ताकि सुनीता को देखकर मुठ मार सकूं. पुरानी ब्लू फिल्ममैंने उसकी टांगों को फैलाकर उसकी चूत को पैंटी के ऊपर से ही रगड़ दिया.

मैं उठने को तैयार थी और जैसे ही उठने लगी कि अब मुझसे बिल्कुल दर्द बर्दाश्त नहीं हो रहा था. फिर मैंने उसकी गुदा पे जीभ फिराई, तो वो पागल हो गयी और गुदा चाटने के कारण वो मस्ती से गांड ऊपर नीचे करने लगी. मैंने सोचा अगर ये पट जाए, तो चूत का जुगाड़ यहीं हो जाए … और ये कितना अच्छा रहेगा.

मैंने देखा बाहर कोई नहीं है तो मैंने दोबारा लिफ्ट को 9वें फ्लोर के लिए चलाया जैसे ही दरवाजा बंद हुआ हम फिर एक दूसरे को किस करने लगे. सच में मेरे देवर ने आज मेरी चूत को चोद कर मेरी प्यास को शांत कर दिया था.

उसके कुछ लड़कों के साथ की चुदाई के वीडियो पूरे कॉलेज में वायरल हो गए थे.

जैसे ही पूरा डिल्डो मेरी चूत में तो अन्दर जाता था तो उसका जिस्म मेरे जिस्म से लगता था. इस तरह थोड़ी देर तक लिंगदेव को धन्यवाद देते हुए मेरी नीना रानी ने चुदाई के इस सेशन की धमाकेदार शुरुआत की, जिसमें बेचारा प्रशांत क्लीन बोल्ड हो गया. इससे नेहा के मुँह से अब मस्ती भरी ‘उऊऊ … ह्हहुँहुँहंउ … उऊऊ … ह्हहुँहुँ हंउ …’ आवाजें निकलने लगीं.

बी ऍफ़ हिंदी में मेरे गोरे गोरे गोल गोल स्तन उनके सामने नंगे हो गए, पूरा खजाना उनके सामने खुल ही गया था. मेरी नज़रें बार-बार उन दोनों की तरफ जा रही थीं क्योंकि कब से वो देखे ही जा रहे थे।अभी कुछ ही देर हुई होगी कि राहुल और अमित हमारी तरफ आए और पूछने लगे कि उन्हें भी हम लोगों के साथ खेलने को मिल सकता है क्या?मैं कुछ बोलती उससे पहले रजनी ने बोल दिया- हां क्यों नहीं.

मैंने जेठ जी की तरफ देखा, तो वह मेरी उस अवस्था पर मुस्कुरा रहे थे, मुझे बहुत शर्म महसूस हो रही थी. बिल्कुल वैसा ही काला लंड जैसे किसी ने ब्लेक एशियन कलर लेकर ब्रश से उसके लंड को पेंट कर दिया हो. स्टेशन पहुंचने पर देखा कि सुखबीर अपनी मोटर साईकल पर मेरा इन्तजार कर रहा था.

सेक्सी मराठी वाइफ

सुशीला- हमें मत समझाओ … तुम इस का गलत फायदा उठा रहे हो … हम गाँव में जाकर सब बता देंगे।वो फिर गुस्से से चिल्ला कर बोली।मैं गुस्से में- बोलिये क्या बोलोगी? जानती हो हम यहीं पर तुम दोनों को अगर रंडीखाने में छोड़ के चले जायेंगे … तो कोई पूछने वाला नहीं होगा। गाँव में बोल देंगे कि मेले में दोनों माँ बेटी खो गई. उनकी धमकियों से एक टाइम तो मेरी गांड फट गई थी, लेकिन फाइनली वो मान गईं. मेरी बात भैया ने आगे पहुंचाई और मैंने अरुणा की फोटो देख ली, अरुणा की फोटो को देखा, तो बस देखता ही रह गया.

वो जरा बिंदास बोलती थीं तो खुल कर कहने लगीं- ऐसा कौन होगा, जो किसी से भी चुदवा ले. दोस्तो, यह मेरी पहली चुदाई की पहली स्टोरी है जो मैं आपको बताने जा रहा हूँ.

एक दिन मेरी कामवासना बहुत बढ़ी हुई थी, मुझे मेरे लंड के लिए छेद की सख्त जरूरत थी, तभी मेरे सामने से सरोज चाची निकलीं और मैंने उनको देख कर लंड सहलाना शुरू कर दिया.

उसके बाद मैंने बाजू वाली की आँखों में देखा तो वाकई मैं बयान नहीं कर सकता कि वो कितनी सुंदर थी. अगले ही झटके में मेरा 6 इंच का मोटा लंड उसकी चूत में पूरा अन्दर चला गया था. पूजा चिल्ला रही थी- सालो … मेरी चूत फाड़ दी मादरचोद!उसकी चूत दो लंड के हिसाब से बहुत टाईट थी.

मैंने भी नुपूर को अपने ओर करीब पास खींच लिया और उसके रसीले नर्म होंठों को चूमने लगा. मैं- बस आज कुछ ज्यादा उत्तेजित हो रहा हूँ जानू!यह कह कर मैंने उसे गोद में उठा लिया और बेड पे पटक दिया. मैं आज तुझे ऐसी दुनिया की सैर कराता हूं, जिसे तुम अब तक नहीं देखी होगी.

चाची मेरा लंड लेने के बाद पागल हुई जा रही थी, मेरे होठों को चूस रही थी, मेरी कमर को नोच रही थी.

बीएफ बीएफ फिल्म वीडियो: ”कोई परेशानी नहीं है, आप फ्रेश होके आइए, मैं खाना गर्म करती हूँ, वरना फिर कभी चाय नहीं पिलाऊंगी. आप सब लोग मुझे मेरे ईमेल करके मेरी लेस्बियन कहानी पर अपनी प्रतिक्रिया दे सकते हैं.

मैं भी कम नहीं थी, मैंने भी उनको गालियां देना शुरू कर दीं- चोद भैन के लंड साले हरामी मार ले मेरी…तभी मेरी बहन टॉयलेट के बाहर आ गयी और उसने दरवाजे में धक्का दिया, तो भूल से गेट खुला रह जाने दरवाजा खुल गया. मेरे पति अपना आधा लंड ही मेरी गांड में अन्दर बाहर करके मेरी गांड चोदने लगे. उसको चोदने की फिराक में तो हम सारे ही दोस्त रहते थे लेकिन मैंने अपनी तरफ से प्लानिंग शुरू कर दी थी.

मैंने उसको पकड़ कर ज़ोर से एक धक्का मारा तो पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया.

कुछ देर मैम की गांड मारने के बाद मेरा काम होने वाला था, तो मैं उनकी गांड में ही झड़ गया. इस बीच अमित ने कितनी बार ही मेरे खेल की तारीफ की। फिर हम बाहर आये और चेंज कर लिया. ये बात करीब डेढ़ साल साल पहले की है, मेरी छोटी बहन, जिसका नाम मालिनी है, उसने अपनी बारहवीं पास की, उस वक्त उसकी उम्र 18 साल से ऊपर थी.