बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर

छवि स्रोत,सेक्सी मूवी देसी हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी पिक्चर सेक्स: बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर, अपनी जीभ से नीता की चूत चाट कर, नीता की चूत का पूरा पूरा मजा लेने के बाद नीता की चूत को उंगली से खोल कर अपनी जीभ नीता की चूत में डाल कर, पप्पू जीभ से नीता की चूत चोदने लगा.

हिंदी में सेक्सी ब्लूटूथ

जैसे ही पप्पू झड़ने लगा, उसने अपना लंड नीता की चूत में दबाया और वैसे ही दबा कर रख कर झड़ने लगा. सेक्सी वीडियो चूत को चोदते हुएफिर हम अलग हुए और मैंने एक-एक करके उसके पूरे कपड़े उतार कर उसे बिस्तर पे लिटा दिया.

चार घंटे कार चलाने के बाद ससुर जी को नींद आने लगी तो उन्होंने कहा- चाय पी लेते हैं, फिर आगे चलते हैं. ब्लू फिल्म सेक्सी आ जाएसच बोलो अंकल, मेरे और मम्मी के जिस्म में सबसे अच्छा किसका जिस्म है? वेल… मम्मी का किसी के साथ पोस्ट मैरिटल लफ़ड़ा है… यह तो मैं मान नहीं सकती.

मैंने फटाक से उसके बाल पकड़े और अपने होटों को उसके होटों से मिला दिया.बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर: तेरे लंड की कसम पप्पू भड़वे… ये इतने तने हुए निप्पल मेरे कभी नहीं हुये.

उसने अपने हाथ से चैक की- वाउ…मैं- अब मेरी बारी…मैंने उसकी गांड के सहारे घुटनों के बाल खड़ा हुआ और उसकी चूत में से उसका जूस अपने हाथों से निकाला और अपने लंड पर लगाया ताकि स्मूद हो जाए…मैं- आज ये लंड तेरी गांड में जाएगा…इतना कह कर ही मैंने लंड को उसकी गांड पे टिका दिया और धीरे-धीरे धक्के मारने लगा.साथ ही एक हाथ से भाभी की ब्रा को उतार दिया, अब उनके दोनों संतरे आजाद थे.

देसी सेक्सी वीडियो भाई बहन का - बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर

मैंने कहा- तुमने एक ‘किस’ कहा था, अब तो तुम्हारा पानी भी निकल चुका है, मैं चलूँ?उसने न में गर्दन हिला दी, कहने लगी- वैसे तो मेरी चूत दुःख रही है परंतु आपका साथ मुझे अच्छा लगा.मैं धीरे-धीरे उसके नंगे जिस्म पे चढ़ता गया और फाइनली उसके होंठों पर मैंने अपने होंठ रखे.

मैं किचन में ऐसे ही नंगा ही लंड हिलाता हुआ चला गया और दीदी को पीछे से जाकर पकड़ लिया. बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर रश्मि ने मुझे एक स्पेशल फ्रेंच किस की जिसमें उसने अपनी जीभ से मेरी जीभ के नीचे गुदगुदी की और अपना गर्म थूक मेरे मुख में भर दिया.

बस यही बता दो कि कभी कोई लंड देखा भी है तुमने?सहेलियों के मुँह से लंड का नाम सुनते ही मैं चौंक जाती थोड़ी गर्म होने लगती, मेरा चेहरा लाल होने लगता और मेरी चुत में खुजली होने लगती.

बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर?

अब उसके हाव भाव देख कर संजय को शक हुआ कि ये कुछ ज़्यादा फास्ट हो गई है. लीजिये मैं आप सब को अपना परिचय दे कर आपकी नाराज़गी को दूर कर देती हूँ. सुमन ने फ्लॉरा को पटा लिया कि वो टीना को उसके पापा के बारे में कुछ ना बताए तो फ्लॉरा भी मान गई.

मैं उनकी बात मान कर, रेड शर्ट में अमदाबाद की एक चर्चित जगह पर चला गया. वो मुझे एक हफ्ते से ज्यादा अपने पास नहीं रखेगा क्योंकि उसे हमेशा नई नई लड़की चाहिए. बहनचोद तुझे तो वक्त का अंदाज़ा भी नहीं होगा कि पूरे दस मिनट से चूस रही हूँ तेरा लंड… देख कितना गीला हुआ है.

मुझे ये सोच कर ही मजा आ रहा था कि मैंने उसकी बुर का उदघाटन किया है. बोली- एक टूटा फूटा घर है, उसमें रहती हूँ, कभी कोई आता है… चोदता है कुछ पैसे दे देता है और चला जाता है. मैंने उसके हाथों को उसके सिर के ऊपर कर दिया और मेरे हाथों से उसे दबा दिया.

पानी निकलने के बाद फ्लॉरा को अपने पापा से बहुत शर्म आई, उसने सर झुका लिया और धीरे से ‘सॉरी’ कहा. तेरी माँ भी इतनी चुदक्कड़ है कि मुझे कहा कि जब मैं शॉर्ट्स में झड़ जाऊँ तब मैं शॉर्ट्स ना धोऊँ ताकि बाद में तेरी माँ मेरी शॉर्ट्स चाट सके और इसी वजह से यह दाग है.

कई बार उन्होंने भीड़ में मेरा पूरा जिस्म मसला है, वो चारों एक साथ आगे पीछे और साईड में आते हैं और मेरे जिस्म का जो हिस्स जिसे मिले, वो मसलने लगते हैं.

कुछ देर के लिए मैं इन्हीं विचारों से जूझ रही तभी मेरे मस्तिष्क में एक मुहावरा स्मरण हुआ कि ‘झाड़ी में बैठे दो पक्षियों से बेहतर तो हाथ में पकड़ा हुआ एक पक्षी ही होता है.

तभी अचानक दरवाजे की घंटी बजी, मैं हड़बड़ाहट मैंने सब ठीक किया और दरवाजा खोलने चला गया. इसके बाद तरुण वहाँ से चला गया और मैं वहीं बैठी उसके प्रस्ताव के बारे में विचार करते हुए सोच रही थी कि शायद मेरी प्राथना सुन कर ईश्वर ने तरुण को मेरे बच्चे का सहारा बनने के लिए भेजा है. आशीष ने मेरी गांड को सहलाने लगे, मेरे को थोड़ा पीछे खींचा और मेरी बुर पे अपनी जीभ रगड़ने लगे.

क्या तुम्हें मन नहीं करता?मैंने ये पूछा ही था कि वो मेरे करीब आकर मुझसे लिपट गई और मेरे होंठों को चूमने लगी. यकीन मानिए कि इस गाउन में आप हूबहू सेक्स की देवी वीनस की तरह दिखेंगी। आपके क्लब में कदम रखते ही सारे मर्द आपको ही ताकते रहेंगे ये मेरा दावा रहा. दीपिका की टी-शर्ट में गले के पास तीन बटन थे, उसने अपने तीनों बटन खोल दिए, फिर वो बोली- तुम मेरे दोस्त हो राजीव, अगर तुम ये चाहते हो तो मैं मना नहीं कर सकती.

चूंकि रात भर का सफ़र था तो मैंने सिर्फ एक वाइट ब्रा और वाइट टी-शर्ट और बिना पैंटी के ब्लैक ट्राउज़र पहना था.

किसी ने सच ही कहा है कि इस सम्भोग नाम का वर्जित फल जिसने एक बार खाया उसका दिल बार बार उसको खाने का करेगा. फिर मैं लंड को बाहर से ही चाटने लगी, मुझे यश के गर्म लौड़े का स्वाद बहुत भाया और मैं मजा लेकर उसे चाटने लगी. ये अनायास ही होने लगा था तो सुमन चौंक उठी क्योंकि उसे चुदवाना नहीं था.

मुझे ऐसा लगा कि जैसे कोई मुझे बीच में से फाड़ रहा है, लेकिन मैं कुछ नहीं बोली और वो धीरे से मेरी गांड में लंड डालता रहा… रुकता, फिर डालता और बीच मैं मेरे मम्मों को भी मसलता. कुछ देर बाद मैं परीक्षित की गोदी में बैठ गई और उन्हें मेरे बूब्स चुसवाने लगी तो चिंटू उठकर मुझे किस करने लगे. मुझे जीवन में पहली बार अपनी योनि के अन्दर का हर कोना पूरी तरह से ठूस कर भरा हुआ महसूस हुआ.

थोड़ी देर बाद उनका दर्द कम हुआ तो वो भी अपनी गांड हिलाने लगीं, ‘अहह अहह अम्म्म्म.

दोस्तो अब यहा से जाना पड़ेगा क्योंकि यहाँ जो भी खेल होने वाला है, वो रात को होगा. हम गीली चुत लेकर रूम पहुंची तो रिया ने तुरंत मेरी को बुलाया।जैसे मेरी ने रूम में कदम रखा तो रिया ने कहा- मेरी, अभी मुझे एकदम जंगली चुदाई चाहिए.

बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर जब तक मुझे जगह नहीं मिलती तो क्या मैं तुम्हारे यहाँ रह सकती हूँ?मैं- देख रिया, मुझे तो कोई प्रॉब्लम नहीं. मैं अपनी चाची का साइज़ आपको नहीं बता सकता क्योंकि मुझे इसका कोई अंदाजा नहीं है, पर इतना जरूर बता सकता हूँ कि वो प्रियंका चोपड़ा की बिल्कुल कॉपी हैं.

बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर बहुत बड़ी हो गई है… बहुत आग भारी हुई है तेरे बदन में? मैं तेरी सारी आग निकालती हूँ कमीनी… हरामजादी. वहाँ जो नज़ारा देखा, उसे देख कर तो मानो मेरे दिल की ख्वाहिश पूरी हो गयी.

उनके फैमिली में एक लड़का अंकित था, दोनों बहनों का भाई, वो हमसे उम्र में बड़ा था, मैं उससे भी कभी कभी बातें करती थी.

एक्स एक्स एक्स तमिल बीएफ

एक के बाद ना जाने ऐसी कितनी धारें निकलीं, जिसे सुमन ने गटक लिया और आख़िरी बूँद तक सुपारे से निचोड़ डाली. तभी मैंने उसके गाल पे एक चांटा जमाया और कहा- और तू कमीनी मुझे अकेली छोड़कर इनके नीचे बिछने जा रही थी?कातिल अदा के साथ मेरी जांघे दबाते हुए रिया ने कहा- ऐसे मौके पर तू नहीं आए, ये हो सकता है क्या?तब तक राजीव और उसके दोस्त भी आ धमके, हम दोनों उन्हें पहचान गयी. मैंने रजनी के जाने के बाद गेट बन्द कर रसोई से चाय बना के उनको आवाज़ लगाने की बजाए खु्द ही उपर चली गई, दरवाज़ा खड़काया तो उनमे से सुमित ने दरवाज़ा खोला मुझे देख वो खुश हो गया, बोला- भाभी आप! चाय?मैंने कहा- जी हाँ जनाब! सासू मां मेरी ड्यूटी लगा के गई हैं!उसने टी-शर्ट और नीचे सिर्फ़ कच्छा पहन रखा था मेरी नज़र बार बार उसके फ़ूले हुए आधे जगे लंड पे चली जाती.

फिर विनय से बोली- विनय, इसको चूत चटवाना बहुत अच्छा लगता है… ध्यान रखना. अंकल और कुछ करो जिससे मुझे और मजा आए, कुछ भी करो पर और मजा दो मुझे. फिर वो रुका और बोला- हिमानी अभी आधा गया है… सहन कर लेगी तो पूरा डाल देता हूँ… नहीं तो रहने देता हूँ.

उसने मेरे कपड़े उतारे और हम दोनों बेड पर नंगे ही लेट कर साँप की तरह एक दूसरे से लिपटे रहे.

वो पहाड़ सी सख्त दिखने वाली चोटियां इतनी नरम होंगी, मैंने सोचा ही ना था. दोनों चुदाई की मस्ती में खो गए और जैसा कि गुलशन जी ने कहा था, अबकी बार फ्लॉरा को ऊपर कुदवाया. नीता, सच बोलूँ… जान तो तेरी माँ से अच्छी तू है क्योंकि तू कमसिन चूत है, तेरी माँ ने ना जाने कितने लंड लिए होंगे पर तू पहला लंड लेने वाली है… वो भी मेरा लंड.

अब तो जैसे अनु को पता नहीं क्या मिल गया हो… वो ‘आई लव यू… आई लव यू…’ बोलने लगा. लड़कियों के नखरे, क्या करें? चूत पाने के लिए तो करना ही पड़ता है।फिर रात को करीब 12. जब उसने नाम बताया तो मैं समझ गया एक छोटा सा, मरियल सा आदमी था, जिसकी कोई पर्सनॅलिटी नहीं थी, बातों में भी वह साधारण ज्ञान वाला आदमी था.

इसके बाद मैं कॉलेज आया हुआ था तो टीचर ने मुझे फोन करके बुलाया कि वो ऑफिस में हैं और उन्हें कुछ काम है. मैं दिल से लोलीपॉप की तरह लंड चूस रही थी तो वहीं आशीष मेरी बुर को चाट रहे थे.

मेरी सासों अस्त व्यस्त हो रही थी, हर साँस में मेरी चूचियाँ उठ और गिर रही थी. पार्क बगल में ही थी थोड़ी दूर पर…मैं कपड़े पहनने लगी तो सब लड़कों ने मना कर दिया बोला- रहने दे, आज रात तू कपड़े नहीं पहनेगी, नंगी ही चल पार्क!मैं बोली- कपड़े तो उठा लेने दो!इतने में एक लड़के ने मेरे कपड़े उठा लिये. तभी मेरे दिमाग़ में आया तो मैंने पूछा- दीदी अब तो बताओ कि वो नींद की गोलियाँ किस लिए मँगवाई थीं आपने?दीदी- अंजलि आज अचानक आ गई थी और उसको देर रात तक पढ़ने की आदत है, अगर वो जागती रहती तो तू मुझे कैसे चोद पाता इसीलिए उसके और अपनी सास के दूध के गिलास में मिला कर दे दी, ताकि हम दोनों पूरी रात बिना किसी रुकावट के मज़े कर सकें माई डार्लिंग संचू.

अतुल- अरे अरे ये क्या मुझे ऐसे ही अधूरा छोड़कर जाओगी क्या? मुझ पर नहीं तो कम से कम मेरे लंड पर तो रहम करो यार.

ये भी कोई नाम हुआ रानी?”मेरा नाम शीला है, मैं वसंत कॉलोनी में रहती हूँ. मैंने उसकीगीली चूत पर लंडरखकर दबाया तो वो उछल पड़ी और थोड़ा डर भी गई. थोड़ी देर में भाभी नार्मल हो गईं, मैं अब लंड को अन्दर-बाहर करने में लग गया.

फिर उसने मेरे लंड को बाहर निकाला तो उसे देख कर बोली- सर जी आज 5 साल के बाद मैं किसी लंड का प्यार करूँगी. उन लड़कों को तूने अच्छा जवाब दिया रानी और यह भी अच्छा हुआ कि उन लड़कों ने तुम बहनों को अपने लौड़े दिखाये.

एक अजीब मस्ती के आलम में मैं जोरदार झटके लगाए जा रहा था, धक्के पे धक्का लगता जा रहा था. कविता बाहर आई तो विनय ने उसके पास जाकर उसे भी किस किया तो कविता झेंप कर विनय से लिपट गयी. गुलशन जी शुरू हो गए मगर सुमन को सर थोड़ी दबवाना था, वो तो आज कुछ और ही दवबाने के मूड में थी.

औरत की चुदाई की बीएफ

उस समय उनकी शादी हो चुकी थी, उनके कोई बच्चे नहीं थे और वो लोग किराये के फ्लैट में चौथी मंजिल पर रहते थे.

वो अभी चीख पाती, उससे पहले उसके होंठ अंकल ने दबा लिए और उनको चूसने लगे. सॉरी दोस्तो मेरी तबीयत इन दिनों खराब चल रही है, लेकिन अब कहानी के अंत तक कोई देरी नहीं होगी, अब नियमित रूप से आपको मेरी इस सेक्स स्टोरी का मजा मिलता रहेगा. मैंने शावर ऑन किया लेकिन शावर में पानी नहीं आया, शायद टंकी खाली हो गई थी.

दूसरे कमरे में जाकर सविता भाभी और अमन की जो जबरदस्त चुदाई हुई, उसकी चित्रकथा देख कर आप अपने गुप्तांग को छेड़े बिना नहीं रह पाएंगे. वो भी मेरे चूचे दबाती, मेरे निप्पल चूसती, मैं मना करती रह जाती लेकिन वो मुझसे ज्यादा ताकतवर थी तो मैं उसके सामने हार मान जाती और वो मेरे साथ अपनी मनमानी करके छोड़ती. गाना भोजपुरी सेक्सी गानासोनिया बोली- अरे यार सम्भल कर जरा, बस बस इतना आगे मत बढ़ो… चलो अब उठो मेरे ऊपर से…तभी मैंने देखा, मुझे पता भी नहीं चला कि कब नेहा वाशरूम से निकल कर हमारे पास आकर खड़ी हो गई थी.

रूपा के लाल मम्मों को अब और बेरहमी से मसलते हुए और निप्पल खींच कर उसे दर्द और मजा देते हुए नीचे से गांड उठा कर उसके धक्कों का जवाब पप्पू देने लगा. तो चलो ये राज भी खुल गया, अब आगे देखते हैं कि फ्लॉरा अपने इरादे में कामयाब होती है या नहीं.

उधर रिया की चीखें बढ़ती जा रही थी और उनकी साथ मेरी चुदास भी बढ़ती जा रही थी. मैं कुछ पल निढाल पड़ा रहा… फिर मैंने उसके मम्मों को दबा-दबा कर चूसा तो मेरा लंड फिर से एक बार खड़ा हो गया. फिर मैंने उसके मम्मों को चूसना शुरू किया तो साली सिसकारती हुई कहने लगी- उह उन्ह जीजू अहह आपकी इसी अदा पर हम फ़िदा हैं.

शुरू में तो दर्द से जान निकल गई थी मगर बाद में ऐसा मज़ा आया कि क्या बताऊं आपको. मेरी उतरी सूरत देखकर मेरी बहन बोली- का हेगो (क्या हो गया) भैया?मैं बोला- कुछ नहीं. फिर मैंने उसकी मैक्सी निकाल दी, उसने ब्रा पहनी ही नहीं थी, उसकी चूचियां माध्यम आकार की थी, मैं उनको अपने दोनों हाथों से सहलाने लगा, कुछ देर बाद मैंने उसकी चूची मुंह में ले ली और चूसने लगा.

अनुराधा- तो हम यहाँ से करते हैं ना!उसने अपनी राइट हैंड की उंगली अपनी चुत पर रखी और बताने लगी.

अब मैं उसे चाहता था, तो मैंने उसकी बात मान कर उस लड़की को ना बोल दिया. पप्पू ने गुजराती भाभी रूपा की चिकनी चूत चाट कर बाहर से पूरी गीली कर दी थी.

दवा की धमकी देकर फ्लॉरा ने जॉय से चूत में उंगली भी करवाई और उसी टाइम जॉय को पता चला कि फ्लॉरा अपने भाई से चुदवा चुकी है. बस पूरी रात प्रिया की बातों को सोचता रहा और दो बार मुठ मारी, पर तब भी ये लंड शांत ही नहीं हो रहा था. अब तो मुझसे रहा नहीं गया और मैंने पीछे से ही उसके कड़क मजबूत डोले को पकड़ लिया.

फ्लॉरा- हैलो महारानी उठो तुम यहाँ चैन की नींद ले रही हो और वहां तुम्हारे पापा ख़ूँख़ार जानवर बने हुए हैं. इस वक्त पूरे कमरे में सिर्फ़ हमारी चुदाई की आवाजें ही गूँज रही थीं. मोटा भी खूब है और मेरा लंड किसी भी चुत को देख कर सलामी मारने लगता है.

बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर कुछ मिनट के बाद जब मैं उसके ऊपर से उठा तो मैंने देखा मेरा लंड पूरी तरह से खून में भीगा हुआ है. वो मुझसे उम्र में करीब दस साल बड़ी थीं तो मेरी उनसे ऐसी-वैसी बात करने की हिम्मत न होती थी.

बीएफ पिक्चर चोरी चोरा

बताओ ना मम्मी आपकी गिरफ्त में कैसे आईं?हल्के से निप्पल मसलते हुए पप्पू ने शुरू से नीता को उसकी माँ की चुदाई की पूरी दास्तान सुनाई. मैंने अब अपने होंठों से उसके मम्मों छोड़ कर उसके होंठों को पकड़ लिया, उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चुदाई कर रहा था. शायद कोई भी होता वो ये सब करता और मैं तो एक लड़की हूँ और एक लड़की या स्त्री जो अपने से ज्यादा दूसरों के सेवा में अपना जीवन निकल देती है.

हालाँकि बाहर कोई भूकंप नहीं था पर चाची के माथे का पसीना देखकर ये जरूर अंदाजा लगाया जा सकता था कि उनकी चूत का क्या हाल हो रहा था. उसने धीरे से अपना हाथ मेरी चूची पर रखा और धीरे-धीरे उसे सहलाने लगा. सेक्सी भाभी हिंदी व्हिडिओमैंने उससे कहा- क्या तू जानती है कि बच्चे कैसे पैदा होते हैं?हर बच्चे की तरह उसे भी बकवास बातें बताई गई थीं.

रात को सोते वक्त वो मेरे साथ सेक्सी हरकतें करती, मुझ से अपने बोबे दबवाती, निप्पल चुसवाती थी.

जब मैं सर्फ़ का पैकेट लेकर घर पहुँचा तो मैं तुरंत बाथरूम में पेशाब करने चला गया जब पेशाब कर रहा था, तब रह-रह कर मुझे वो माँ के सीन याद आ रहे थे. वो भागते हुए कमरे में आई, मुझे नहीं पता था कि इसे मेरे बारे में पता चल गया है कि अन्दर मैं हूँ.

हमने सैफिना को पूरा आराम देना शुरू कर दिया और उसके खाने-पीने दवाइयों आदि का पूरा ध्यान रखा. नीता का चेहरा सहलाते और उसके बालों में हाथ घुमाते हुए पप्पू उसका मुँह चोदते हुए बोला- आहहह साली… रंडी रूपा की छिनाल बेटी, बड़ा अच्छा लग रहा है मुझे तेरा मुँह चोदना. मैं परीक्षित के साथ ज्यादा क्लोज़ हूँ तो मैं उनसे ही मस्ती कर रही थी और चिंटू और रोस्टन के साथ भी.

”उसकी ये बातें सुनकर मेरा लंड जैसे किसी नागराज की तरह फुंफकारने लगा.

तुम्हें कोई प्राब्लम तो नहीं है?उसने हैरत से कहा- आप ड्रिंक करते हो?मैंने कहा- कभी-कभी. उस टाइम मैं बिल्कुल सिंपल दिखने वाला और बिल्कुल शरीफ लड़का था और लड़कियों के बारे में कोई गंदी सोच नहीं रखता था. दूर से देखने पर, काले रंग की प्लेन शर्ट और जीन्स में एक नया नवेला थोड़े गठीले बदन वाला जवान लौन्डा दिख रहा था जिसके बारे में कुछ और जान पाना मेरे लिये मुश्किल था लेकिन दूर से ही उसकी भुजायें काफ़ी मोटी और मजबूत लग रही थी.

खचाखच सेक्सी वीडियोउधर शोभा भी अमन का ठोस शरीर देख कर मस्त हो गई और उसने सविता भाभी से अमन के मस्त शरीर की तारीफ़ की. जॉय ने फ्लॉरा को बहुत समझाया मगर वो बिल्कुल नहीं मानी और मजबूरन जॉय को उसकी बेटी की चूत में उंगली करके चूत रगड़नी पड़ी और उसका पानी निकाला.

बीएफ 17 साल

जब उसकी चुत के पानी की आख़िरी बूँद भी फ्लॉरा ने चूस ली, तब उसने आँखें खोलीं- ओह दीदी थैंक्स. इसको थोड़ा साइड में कर के कर दूँ क्या??सुमन की सारी शर्मोहया अब हवा हो गई थी. वहां शानू के गर्लफ्रेंड के ज़िद करने पर हम लोग अगले दिन पिक्चर के लिए तैयार हो गए.

एक बार जब मैं अपने रूम से ड्यूटी के लिए निकला तो मेरी नज़र भाभी के ऊपर पड़ी, मैं तो कुछ मिनट यूं बुत बना उन्हें देखता ही रह गया मानो किसी परी के दर्शन हो गए हों. उसने विनय की ओर मुँह किया तो विनय ने अपने होंठ मिला दिए उसके होंठों से. टीना- एक साल तक मेरी चुत को मजा देकर उनका दिल भर गया तो वो कहीं और मुँह मारने लगे और ऐसे ही एक दिन ज़्यादा चुत लेने से उनका हार्ट फेल हो गया और वो भगवान को प्यारे हो गए.

तो घर वालों ने ये फ़ैसला किया कि दादी की सेवा के लिए किसी को रखा जाए. मैं कभी जीभ को बुर के छेद में डालता और कभी गांड के छेद को चाटता जा रहा था. ***अन्तर्वासना की पाठिकाओं एवं पाठकों मैंने इस रचना को लगभग एक माह पहले लिख तथा सम्पादित कर के सरिता को भेजा था लेकिन उसकी ओर से स्वीकृति नहीं मिलने के कारण इसे जल्दी प्रेषित नहीं कर सकी.

मैंने आव न देखा ताव, और सारा जोर लगाकर अपनावाइब्रेटर उसकी चुत में घुसा दिया. फिर उसने एक प्लान किया और बाजार से कुछ जरूरी चीजें लाकर अपने बैग में रख दीं.

वो बहुत जोर से चीखना चाहती थी लेकिन मैंने उसका मुँह मेरे मुँह से बंद कर दिया था.

मैंने उसे उठा कर बिस्तर पर रखा और रूम में जाकर अपनी अंडरवियर निकाल कर सिर्फ़ पेंट पहन कर आ गया ताकि बिना अंडरवियर के मेरा लंड उसे अपनी गांड पे साफ महसूस हो. बीजापुर सेक्सी वीडियोतभी 3 लेडीज जिनकी उम्र लगभग 35-40 के अराउंड होगी, मेरी बगल वाली सीट पर आकर लाइन से बैठ गईं. कुंवारी चूत की सेक्सी चुदाईमैं भी उसके पीछे गया और उसे पेशाब करते देखता रहा… फिर हमने एक-दूसरे को हग किया और वो अपने रूम में जाकर सो गए. मैंने कहा- बुरा मत मानना, ऐसा लगता है जैसे बंगाली रसगुल्ले को चूहा खा रहा है.

इस दौरान हमने जिस तरीके से सोचा जा सकता है उन सब तरीकों से सेक्स का मज़ा लिया.

वो बोलीं- क्या तुम अपने दोस्त रामू की गांड मेरे सामने मार सकते हो? और अपनी गांड मेरे सामने रामू से मरवा सकते हो?मैंने कहा कि मुझे तो आपके सामने गांड मारने में या मरवाने में कोई एतराज़ नहीं है, पर रामू से पूछना पड़ेगा कि वो इसके लिये तैयार होगा कि नहीं. अब मैंने एक तरकीब निकाली और पायल से कहा- अबकी बार तू भाभी के घर पर सोये तो मुझे रात में भाभी के घर बुला लेना. यही होता है जब इंसान कोई गुनाह करता है और टीना अपने बीएफ संजय के साथ मिलकर जो खेल सुमन के साथ खेल रही थी, वो सिर्फ़ गुनाह नहीं बहुत बड़ा गुनाह है.

अब वह चाहती थी कि मैं उसको अलग अलग आसनों से चोदूँ, जैसे डॉगी स्टाइल में, बैठ के, खड़े होकर…उसकी ये बेताबी देखकर मुझे मेरी औरत ध्यान आई. करीब 20 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद गोपाल का लावा बह गया और उसने नीतू की चुत को रस से भर दिया. मैं शाम को सोने जाने लगा तो चाची ने आवाज दी और कहा- आज हमारे रूम में ही सो जाओ क्योंकि तेरी मम्मी भी आज मेरे रूम में ही सो रही हैं.

बीपी सेक्सी पिक्चर बीएफ

खैर मम्मों की चूसा चासी और होंठों के मिलन के बाद जल्दी ही दोनों सो गयीं. मैंने अपना लंड रखा ही था कि उसने रोका और बोली- बच्चा, प्लीज रेनकोट पहन कर भीगो ना!उसकी बात मस्त लगी, मैंने जल्दी से कंडोम लगाया और फिर अपना लंड पीछे से उसकी चूत पर रखा, उसने धीरे से जोर लगाया और घप से मेरा लंड अपने अंदर ले लिया ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ मैंने उसके गर्दन पर किस करना शुरू किया और धीरे धीरे उसको चोदने लगा. अगर सबको रिश्ता पसंद है तो अगले हफ्ते ही कोई रस्म कर देंगे और अगले महीने शादी.

उसके मुँह से ऐसा सुन के मैं डर गया और मैंने बोला- प्लीज़ आप अपनी सीट पर बैठ जाओ.

मैं- तो आप कैसे मेरी सारी विश पूरी कर सकती हैं?चाची- सबसे पहले तो तू मुझे चाची नहीं बल्कि मेरा नाम लेकर बोला कर.

मैंने जाकर देखा तो वो सही था, मतलब वो मुझे रोज नंगी नहाते हुए देखता था. घी से चिकनी हुई पड़ी चुत मेंलंड चुत को चीरता हुआ पूरा अन्दर घुस गया. सेक्सी नंगे पिक्चर व्हिडिओफिर तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड क्यों नहीं है?बस ऐसे बात करते करते पता ही नहीं चला कि कब हम दोनों होंठों पर किस करने में लग गए.

अनिता कुछ सामान लेने मार्केट जाती है वहाँ उसका सामना संजय से हो जाता है. थोड़ी देर में उसने अपने होंठ खोल दिए और मैंने अपनी जीभ उसके मुंह में डाल दिया. सुबह को राज के ऑफिस जाने के बाद जय ने फिर से मेरी चुदाई शुरू कर दी.

रूपा की उंगली पूरी चाट कर हल्के से चबाते हुए पप्पू बोला- क्या बोलती है यार? तेरी जैसी गर्म रंडी औरत को भीड़ में जाना पसंद नहीं? अरे तेरी जैसी औरत को ही तो मैं भीड़ में ढूँढ कर गर्म कर कर चोदता हूँ, तू मेरी ज़िंदगी में बस में मिली वैसे तीसरी चूत है. इतनी मस्त कि पहली नजर में ही कोई भी उसे देखे तो दुबारा देखे बिना नहीं रहे.

मैंने आंटी को कुछ देर यूं ही चोदने के बाद घोड़ी बना दिया और करीब दस मिनट तक हचक कर चोदा.

तभी डोरबेल बजी, वो बाहर गए और जब अंदर आए तो उनके हाथ में खाने के पैकेट थे. कभी-कभी तो घर से बोल कर जाती थी कि आज पूरी रात सहेली के यहां पढ़ाई करूँगी. नमस्कार दोस्तो चाची के संग मेरी हिंदी में देसी सेक्स स्टोरी की पिछली कड़ी में आपने पढ़ा था कि कैसे मैं अपनी सोती हुई चाची के साथ वासना का खेल खेल रहा था.

सेक्सी मराठी व्हिडिओ बीपी मैंने पूछा- और कुछ करना है?वह बोली- बस एक ‘किस’ करना है और कुछ नहीं. करके चिल्लाया और अपना लण्ड मेरे मुँह से निकाल कर अलग किया जिसमें से एक लंबी पिचकारी निकली… शायद वह अपना वीर्य मेरे मुँह में गिराना नहीं चाहता था लेकिन यह तो मेरे लिए अमृत था, मैंने तुरंत उसका लण्ड अपने मुँह में गले तक भर लिया जिससे बाकी कि 4 पिचकारियों से निकला ढेर सारा काम रस मेरे मुँह में भर गया और वह निढाल हो गया.

फिर मैंने सोचा मोनिका को बाहर किसी होटल में ले चलता हूं, जहाँ हम दिल खोल कर जितना टाइम चाहें, मिल सकें. उसके लगातार हाथ फेरने से मेरी भी काम वासना जाग गई थी और मैंने भी बोल दिया- लो जल्दी से देख लो, मुझे दर्द हो रहा है. मेरी इच्छा होती थी की तरुण अपना लिंग को योनि में डाल कर मेरी उत्तेजना को शांत करे लेकिन ऐसा कैसे सम्भव हो यह नहीं जानती थी.

रीना कपूर के बीएफ

फिर खुद लेट गई और घुटनों को मोड़ कर चुत को फैला दिया और मॉंटी को पैरों के पास बैठने को कहा, मगर मॉंटी तो अनाड़ी था उसको समझ ही नहीं आ रहा था कि कैसे बैठे, तो सुमन ने उसको समझाया कि कैसे बैठना है, तब कहीं मॉंटी सही पोज़िशन में आया. मैंने उसको अपनी तरफ घुमाया और पैरों से लेकर सर तक उसके हर अंग को चूमने लगा. मेरी बड़ी जोर की चीख निकली… इतना ज्यादा दर्द… मेरी जान ही निकल गई, मेरी चूत चिर गई जैसे, मेरी आँखों से झर झर आंसू बहने लगे, मेरी चूत से बहुत खून निकलने लगा, मैं घबरा गयी तो मॉम ने कहा- डर मत बेटी, ये खून तेरी चूत की सील टूटने की वजह से निकला है.

घड़ी में 4 बज चुके थे, इसका मतलब उन्हें एक दूसरे की बाँहों में खोए हुए लगभग आधा घंटे से ज्यादा हो गया था. खड़ा लंड देखकर रतना मुस्कुराई, उसने कहा- बाबू तुम्हारा तो अन्दर जाने के लिए एकदम तैयार है.

तो दोस्तो, अगली कहानी में जानेंगे कि क्या हुआ कुशाग्र और कविता के रिश्ते का!और क्या गुल खिलाये रीना और कविता ने साथ मिल कर.

वो मेरे वजन से छटपटाने लगी और अपने आपको फ्री करवाने की कोशिश करने लगी. अब मैं अपने लंड को उसके चूत के छेद पर टिका कर अंदर डालने की कोशिश करने लगा और एक जोरदार धक्का लगाने पर मेरा आधा लंड अंदर चला गया और उसकी एक जोर की चीख निकल गयी. क्या करती… पहली बार था! और पहला पुरुष स्पर्श सब कुछ उत्तेज़ना से भरा था, मैं कमज़ोर पड़ रही थी.

com/bhai-bahan/bahan-fati-salwar-chut-dekh-gand-mari/ अब मैं रागिनी की गांड में लंड धीरे धीरे डालने लगा. उस दिन अचानक काले काले बादल घिर आए, बरसात के बादल तो नहीं थे… वो कुछ अनचाहे से बादल भटकते हुए जैसे इस ओर आए थे. उनके पूरे शरीर पर किस करता जा रहा था और भाभी की कामुक सिसकारियां धीरे-धीरे बढ़ती जा रही थीं ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैं भाभी की पैंटी के ऊपर से ही चूत पे किस करने लगा तो भाभी आहें भरने लगीं और मेरा सर पकड़ कर कसके अपनी चूत में दबाने लगीं.

यह लंड चुत की चुसाई काफी देर तक चलती रही, इतने में वो एक बार झड़ चुकी थी.

बीएफ इंडियन सेक्सी पिक्चर: अनुराधा- इसस्सस्स…स… आअहह… उफफ्फ़…गर्म पानी उसकी चूत में से होता हुआ उसकी गांड से टपकने लगा. यह देख कर मैंने ऐसा महसूस किया जैसे कोई गुलाब की कलि खिल कर फूल बन गयी हो.

वो मेरे वजन से छटपटाने लगी और अपने आपको फ्री करवाने की कोशिश करने लगी. चुदाई का तूफानथम गया था मगर संजय को ये पता नहीं था कि सुमन चली गई है. ये कह कर आंटीमेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगींऔर बोलीं- तुम भी मेरी चाट लो.

मुझे हॉस्टल में रहना पसन्द नहीं है, मैंने एक फ्लैट रेंट पर लिया हुआ है.

वो ‘आआहह…’ निकालते हुए अब नहीं रहा जा रहा है… आआआअ…मैं उसकी गर्दन चाटने लगा, मम्मों को दबाने लगा और पूरा लंड बाहर निकाल कर चुत में पूरा अन्दर घुसेड़ने लगा. ऐसा लग रहा था कि आज रागिनी पूरी मस्ती में है और पूरी तृप्ति पा चुकी है. और मैं उस भीड़ को मानो भूल सा गया, मुझे बस हम दोनों और हमारी कामुकता में डूबी हुई मानो सुहागरात लग रही थी.